ऐसा कहते हैं की "घमंड जीवन मैं नीचे गिराता है, विनम्रता जीवन के हर कदम में आगे बढ़ती है" अगर यह बात सही है तो क्या आप कोई उदाहरणों द्वारा समझा सकते हैं?...


user

Tanay Mishra

Head Control Clerk In Forest Department U.P.

0:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए इस चीज का सबसे बड़ा उदाहरण तो रामायण में ही है क्योंकि ग्राम से ज्यादा बुद्धिजीवी ज्यादा शक्तिशाली और ज्यादा बुद्धिमान रावण था रावण में क्या घमंड था और भगवान श्री राम मैं बहुत ही विनम्रता थी बहुत ही सुलझे हुए थे अब मैं घमंड नाम का एक अंश भी नहीं था जबकि वह विष्णु के रूप थे फिर भी वह एक मानव की तरह अपना जीवन व्यतीत कर रहे थे पर रावण उनसे ज्यादा शक्तिशाली होने के बावजूद भी वह मरा सिर्फ अपने घमंड के वजह से तो मेरे ख्याल से सबसे बड़ा उदाहरण हमारी रामायण नहीं है धन्यवाद

dekhiye is cheez ka sabse bada udaharan toh ramayana me hi hai kyonki gram se zyada buddhijeevi zyada shaktishali aur zyada buddhiman ravan tha ravan me kya ghamand tha aur bhagwan shri ram main bahut hi vinamrata thi bahut hi suljhe hue the ab main ghamand naam ka ek ansh bhi nahi tha jabki vaah vishnu ke roop the phir bhi vaah ek manav ki tarah apna jeevan vyatit kar rahe the par ravan unse zyada shaktishali hone ke bawajud bhi vaah mara sirf apne ghamand ke wajah se toh mere khayal se sabse bada udaharan hamari ramayana nahi hai dhanyavad

देखिए इस चीज का सबसे बड़ा उदाहरण तो रामायण में ही है क्योंकि ग्राम से ज्यादा बुद्धिजीवी ज्

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  160
WhatsApp_icon
18 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

3:45
Play

Likes  136  Dislikes    views  1250
WhatsApp_icon
play
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

1:14

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कहते हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है यह सही है विनम्रता जीवन के हर कदम में आकर बढ़ती है यह भी सही है अगर यह बात सही है तो आप क्या कोई उदाहरण द्वारा समझाइए सकते और किशोर भाई नोट लिखिए जब इंसान स्टडी करता है एग्जांपल एक बच्चा होता है जब स्टडी करता है और उसे एक फर्स्ट नंबर आता है सेकंड नंबर भी साथ में रहने वाले बच्चों की कदर नहीं करता है उसे कुछ आता नहीं है तो उसे घमंड आ जाता है मैं तो अपने आप करो एंड समथिंग मुझे सब कुछ आता है तो दूसरे घमंड आता है और एक भी नंबर का जो सफलता की ओर बढ़ता ही जा रहा है बढ़ता जा रहा है लेकिन साथ ही साथ में अपने साथियों को आगे लेता जा रहा है उसके विनम्रता के साथ उसको सब कुछ सिखाता है ठीक है कोई सीखने के लिए आता है तो विनम्रता से बोलता है ईश्वर जरूर मैं अब मैं तुम्हें सिखा गया दिखाऊंगा ठीक है जीवन के हर कदम में आगे बढ़ती है यही चीज है जो मैंने आपको उदाहरण द्वारा समझाइए उदाहरण आपको पता चल जाएगा ओके एंजॉय

aisa kehte hain ki ghamand jeevan mein niche gir aata hai yah sahi hai vinamrata jeevan ke har kadam mein aakar badhti hai yah bhi sahi hai agar yah baat sahi hai toh aap kya koi udaharan dwara samjhaiye sakte aur kishore bhai note likhiye jab insaan study karta hai example ek baccha hota hai jab study karta hai aur use ek first number aata hai second number bhi saath mein rehne waale baccho ki kadar nahi karta hai use kuch aata nahi hai toh use ghamand aa jata hai toh apne aap karo and something mujhe sab kuch aata hai toh dusre ghamand aata hai aur ek bhi number ka jo safalta ki aur badhta hi ja raha hai badhta ja raha hai lekin saath hi saath mein apne sathiyo ko aage leta ja raha hai uske vinamrata ke saath usko sab kuch sikhata hai theek hai koi sikhne ke liye aata hai toh vinamrata se bolta hai ishwar zaroor main ab main tumhe sikha gaya dikhaunga theek hai jeevan ke har kadam mein aage badhti hai yahi cheez hai jo maine aapko udaharan dwara samjhaiye udaharan aapko pata chal jaega ok enjoy

ऐसा कहते हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है यह सही है विनम्रता जीवन के हर कदम में आकर बढ

Romanized Version
Likes  397  Dislikes    views  4970
WhatsApp_icon
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम जब भी घमंड करते हैं तो हम अपने बारे में क्या सोचते हैं कि हमें सब कुछ पता है मैं ही सबसे ऊपर हूं मेरे जितना कोई नहीं जानता या मेरे जितना आप किसी के पास नहीं तो आप सोचे जब भी आप ऐसा सोचोगे तो वहां आप की प्रोग्रेस रुक जाती है क्योंकि आप सोच रहे हैं कि आप तो टॉप पर पहुंच चुके और वही विनम्रता है जहां आप दूसरों की बात सुनते ही सोचते हो कि मैं से क्या सीख सकता हूं मैं कैसे और आगे बढ़ सकता हूं तो जब आप आगे बढ़ने के लिए सीखने के लिए अपने आप को ओपन जाते हो तो हर कदम में आपको कुछ ना कुछ सीखने मिलता है और आगे बढ़ने का मौका मिलता है तो सीधी सी बात है जहां घमंड होता है वहां हमारी प्रोग्रेस को फुल स्टॉप लग जाता है और जहां विनम्रता होती है वहां और आगे और आगे और आगे बढ़ते की चाहते हैं

hum jab bhi ghamand karte hain toh hum apne bare mein kya sochte hain ki hamein sab kuch pata hai hi sabse upar hoon mere jitna koi nahi jaanta ya mere jitna aap kisi ke paas nahi toh aap soche jab bhi aap aisa sochoge toh wahan aap ki progress ruk jaati hai kyonki aap soch rahe hain ki aap toh top par pohch chuke aur wahi vinamrata hai jaha aap dusro ki baat sunte hi sochte ho ki main se kya seekh sakta hoon main kaise aur aage badh sakta hoon toh jab aap aage badhne ke liye sikhne ke liye apne aap ko open jaate ho toh har kadam mein aapko kuch na kuch sikhne milta hai aur aage badhne ka mauka milta hai toh seedhi si baat hai jaha ghamand hota hai wahan hamari progress ko full stop lag jata hai aur jaha vinamrata hoti hai wahan aur aage aur aage aur aage badhte ki chahte hain

हम जब भी घमंड करते हैं तो हम अपने बारे में क्या सोचते हैं कि हमें सब कुछ पता है मैं ही सबस

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  299
WhatsApp_icon
user

Maulin Pandya

Life Coach and Entrepreneur

1:59
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाय फ्रेंड बनाना मॉल इन पढ़ना है और यह जो सवाल है कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है विनम्रता जीवन के हर कदम में आगे बढ़ाता है क्या यह सही है या नहीं देखिए मैं आपको एक उदाहरण इसी तरीके से देना चाहूंगा कि वह कौन इंसान है जो किसी का मंडी के साथ रहना पसंद करेगा जो हर मोमेंट में अपने आप को बड़ा साबित करने की कोशिश करता है जो हर मूवमेंट में अपने आप को ऊपर रखता है वह कभी हमारे साथ नहीं रहना चाहता कभी हमारे साथ कंधे से कंधा नहीं मिलाना चाहता है वह अपनी आंखों की नजरों को अपने से ऊपर करके ही जीना चाहता है तो कौन उसके साथ दोस्त बनेगा कौन उसके साथ एक रिलेशन डिवेलप करेगा कौन से शादी करेगा मैं तो कहता हूं कि कौन उसके साथ बिजनेस भी करेगा क्योंकि आज अगर आपको जीवन में आगे बढ़ना है अगर आप आपको इस लाइफ के अंदर डिवेलप होना है बस बस करना है इंडिपेंडेंट बनना है तो आपको हर कदम पर साथ चलना होता है जो दूसरा इंसान है उसके साथ उसकी सोच के साथ सोच में लानी होती है अगर आप अपनी सोच को बहुत आगे ले जाते हैं अगर आप अपनी सोच को बहुत ऊपर रखने की किस करते हैं और विनम्रता के साथ पेश नहीं आते तो किसी को भी उसके साथ बिजनेस करना पसंद नहीं करेगा रहेगा अगर मैं यह कह सकता हूं कि रतन टाटा को ले लीजिए अंबानी को ले लीजिए न जाने वह कितने की करोड़पति क्यों ना हो लेकिन आज भी उनको गरीबों के लिए या फिर किसी भी नॉरमल इंसान के लिए उतना ही रिस्पेक्ट होता है उसने उसी तरीके से वह गले मिलते हैं तो यह बताता है कि अगर इतने करोड़ पति लोगों को भी अगर इस जमीन पर आकर लोगों के साथ मिलना पड़ता है मिलना पड़ता है जूझना पड़ता है तो शायद अगर हम अपने आप को देखे तो हमें घमंड ही रहने में जीवन में कोई भी तरक्की नहीं हो सकती है सुन लाइफ में यह यात्रा के दोस्तों का मन नहीं बनने में कोई मजेदार चीज नहीं है वह सिर्फ कुछ टाइम का एटीट्यूड होता है लेकिन कभी ना कभी कोई ना कोई आप को गिराने जरूर आता है क्योंकि हर किसी को किसी ना किसी की जरूरत जरूर होती है थैंक यू अगर आप कोई आंसर सही लगता है तो थैंक यू एंड उसे लाइक कीजिए मैं मॉल इन पंड्या थैंक यू सो मच

hi friend banana mall in padhna hai aur yah jo sawaal hai ki ghamand jeevan mein niche gir aata hai vinamrata jeevan ke har kadam mein aage badhata hai kya yah sahi hai ya nahi dekhiye main aapko ek udaharan isi tarike se dena chahunga ki vaah kaun insaan hai jo kisi ka mandi ke saath rehna pasand karega jo har moment mein apne aap ko bada saabit karne ki koshish karta hai jo har movement mein apne aap ko upar rakhta hai vaah kabhi hamare saath nahi rehna chahta kabhi hamare saath kandhe se kandha nahi milana chahta hai vaah apni aankho ki nazro ko apne se upar karke hi jeena chahta hai toh kaun uske saath dost banega kaun uske saath ek relation develop karega kaunsi shadi karega main toh kahata hoon ki kaun uske saath business bhi karega kyonki aaj agar aapko jeevan mein aage badhana hai agar aap aapko is life ke andar develop hona hai bus bus karna hai independent bana hai toh aapko har kadam par saath chalna hota hai jo doosra insaan hai uske saath uski soch ke saath soch mein lani hoti hai agar aap apni soch ko bahut aage le jaate hain agar aap apni soch ko bahut upar rakhne ki kis karte hain aur vinamrata ke saath pesh nahi aate toh kisi ko bhi uske saath business karna pasand nahi karega rahega agar main yah keh sakta hoon ki ratan tata ko le lijiye ambani ko le lijiye na jaane vaah kitne ki crorepati kyon na ho lekin aaj bhi unko garibon ke liye ya phir kisi bhi normal insaan ke liye utana hi respect hota hai usne usi tarike se vaah gale milte hain toh yah batata hai ki agar itne crore pati logo ko bhi agar is jameen par aakar logo ke saath milna padta hai milna padta hai jujhna padta hai toh shayad agar hum apne aap ko dekhe toh hamein ghamand hi rehne mein jeevan mein koi bhi tarakki nahi ho sakti hai sun life mein yah yatra ke doston ka man nahi banne mein koi majedar cheez nahi hai vaah sirf kuch time ka attitude hota hai lekin kabhi na kabhi koi na koi aap ko girane zaroor aata hai kyonki har kisi ko kisi na kisi ki zarurat zaroor hoti hai thank you agar aap koi answer sahi lagta hai toh thank you and use like kijiye main mall in pandya thank you so match

हाय फ्रेंड बनाना मॉल इन पढ़ना है और यह जो सवाल है कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है विनम्रत

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  310
WhatsApp_icon
user

SUBHASH RAO

Spoken English Trainer

1:49
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी आप कह रहे हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है और विनम्रता यानी उदारता लोगों को आगे बढ़ाता है ऊपर उठाता है यह बिल्कुल सही यह प्रिडिकली आप हमेशा देखते होंगे जिसको घमंड हो जाता है वह ज्यादा बढ़ चढ़कर बातें करता है ऐसी बातें करता है कि ऐसा लगता है कि जैसे उसके अलावा और कोई इसे कर नहीं सकता यह तो ऐसा लगता है इस तरह बात करता है कि उसे लगता है कि हमें यह संसार में या इस सामाजिक सामाजिक लोगों के बीच हमें किसी की जरूरत नहीं है उसे लगता है कि हमें सामाजिक जरूरत नहीं हमें दूसरे लोगों की जरूरत नहीं है अब अपना काम हर काम स्वयं कर लेंगे वह यह समझता हमें परिवार वालों की या अदर जो मित्र दोस्त पास पड़ोस के हैं उसे इस तरह बातें करता है कि उन लोगों का ऐसा फेल हो जाता है कि जैसे इसे किसी प्रकार की जरूरत नहीं है इसलिए वह काफी बढ़ चढ़कर बातें करता है तो जब ऐसा होता है तो जब कभी कोई काम पड़ता है या कोई कष्ट होता है तो वही लोग आगे सामने आते हैं तो इसलिए वह लोग उनकी बातों को याद रखते हैं कि यह काफी बढ़ चढ़कर बातें कर रहा है इसलिए यह आदमी ठीक नहीं है इसलिए उसका साथ देना छोड़ देते हैं तो कहीं ना कहीं यह घमंड का ही असर है जबकि विनम्रता यानी विनम्र से बोलना विनम्र व्यवहार करना कि आदमी को ऊंचे उठाता है ऊंचे भले ना उठाएं एक दूसरे की नजर में लेकिन नीचे कभी नहीं गिरा था तो ऐसा ही होता है कि नीचे कभी नहीं रहा था तो यही उदारता विनम्रता ही एक प्रेम मोहब्बत और विश्वास का एक तरीका है जो आदमी को सदैव जीवन में निरंतर आगे बढ़ाता है धन्यवाद

ji aap keh rahe hain ki ghamand jeevan mein niche gir aata hai aur vinamrata yani udarata logo ko aage badhata hai upar uthaata hai yah bilkul sahi yah pridikali aap hamesha dekhte honge jisko ghamand ho jata hai vaah zyada badh chadhakar batein karta hai aisi batein karta hai ki aisa lagta hai ki jaise uske alava aur koi ise kar nahi sakta yah toh aisa lagta hai is tarah baat karta hai ki use lagta hai ki hamein yah sansar mein ya is samajik samajik logo ke beech hamein kisi ki zarurat nahi hai use lagta hai ki hamein samajik zarurat nahi hamein dusre logo ki zarurat nahi hai ab apna kaam har kaam swayam kar lenge vaah yah samajhata hamein parivar walon ki ya other jo mitra dost paas pados ke hain use is tarah batein karta hai ki un logo ka aisa fail ho jata hai ki jaise ise kisi prakar ki zarurat nahi hai isliye vaah kaafi badh chadhakar batein karta hai toh jab aisa hota hai toh jab kabhi koi kaam padta hai ya koi kasht hota hai toh wahi log aage saamne aate hain toh isliye vaah log unki baaton ko yaad rakhte hain ki yah kaafi badh chadhakar batein kar raha hai isliye yah aadmi theek nahi hai isliye uska saath dena chod dete hain toh kahin na kahin yah ghamand ka hi asar hai jabki vinamrata yani vinamra se bolna vinamra vyavhar karna ki aadmi ko unche uthaata hai unche bhale na uthaye ek dusre ki nazar mein lekin niche kabhi nahi gira tha toh aisa hi hota hai ki niche kabhi nahi raha tha toh yahi udarata vinamrata hi ek prem mohabbat aur vishwas ka ek tarika hai jo aadmi ko sadaiv jeevan mein nirantar aage badhata hai dhanyavad

जी आप कह रहे हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है और विनम्रता यानी उदारता लोगों को आगे बढ़

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  264
WhatsApp_icon
user

Ajay Sinh Pawar

Founder & M.D. Of Radiant Group Of Industries

3:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कहते हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है विनम्रता जीवन के हर कदम में आगे बढ़ाती है अगर यह बात सही है तो क्या हम अपने जीवन में महसूस करते हैं देखते हैं कि आदमी जब वह गरीब होता है या थोड़ा आर्थिक दृष्टि से आगे बढ़ता है उसका घमंड आ जाता है उदाहरण में अगर 200 हिंदी फिल्म जगत से जो हमारे प्रसिद्ध सुपरस्टार राजेश खन्ना के पहले वह बहुत ही विवेकी है और अच्छे इंसान के रूप में वह काम करते थे जब राज पिक्चर आई थी कि शुरुआती पिक्चर जो कि उसके बाद मैं उनको मैं स्टारडम आ गया आ गया और कमेंट भी बढ़ता गया फिर बाद में आपने देखा क्यों पिक्चर में से जीने जीने उनको पिक्चर मिलने कम हो गए और उसी के सामने आपने देखा होगा कि अमिताभ बच्चन जी उन्होंने नम्रता पूर्वक जो आगे जिंदगी में आते गए प्रगति करते गए और जब आज भी इतनी प्रगति करने के बावजूद दूसरी इनिंग ब्याने के बाद अमिताभ बच्चन जी ने अपनी नम्रता नहीं छोड़ेंगे अपनी शालीनता नहीं छोड़िए किसी को भी आपको पूछ लेंगे तो अमिताभ बच्चन जी को नम्र इंसानी बताएंगे उनकी शालीनता नहीं जाती है सिंपल सा जो आम जनता देख रही है और जो महसूस करती है वह उदाहरण मैंने आपको दिया है वैसे उद्योग जगत के जितने भी बड़े बड़े हैं जैसे टाटा का पुजारी डीजे रतन टाटा जी ने जो नम्रता और जो है होता है और उन्होंने अपनी एक कंपनी हो उसने लोगों को मुंह में जुड़ा हुआ है और गूगल का उदाहरण ले लीजिए जबकि उनके नम्रता है और अजीम प्रेमजी इंफोसिस का विधायक नारायण गुप्ता और उनका जो है आपको जरूर उदाहरण में देख सकता हूं लेकिन यह बात सही है कि अगर आदमी को आ जाता है तो उसका ग्राफ नीचे की ओर जाना शुरू हो जाता है और विनम्रता देती है चाहे आदमी पैसे से बुद्धि से या किसी भी चाहे कितना ही प्रगति करें विनम्रता उसको नहीं छोड़नी चाहिए अगर आप किसी से सहमत नहीं हैं तो विनम्रता से आप अपनी बात रख सकते हैं इससे सामने वाले को हर्ट नहीं होगा और वह भी आपसे आपका कल हो जाएगा बहुत-बहुत धन्यवाद शुभकामनाएं आपको

aisa kehte hain ki ghamand jeevan mein niche gir aata hai vinamrata jeevan ke har kadam mein aage badhati hai agar yah baat sahi hai toh kya hum apne jeevan mein mehsus karte hain dekhte hain ki aadmi jab vaah garib hota hai ya thoda aarthik drishti se aage badhta hai uska ghamand aa jata hai udaharan mein agar 200 hindi film jagat se jo hamare prasiddh superstar rajesh khanna ke pehle vaah bahut hi viveki hai aur acche insaan ke roop mein vaah kaam karte the jab raj picture I thi ki shuruati picture jo ki uske baad main unko main stardom aa gaya aa gaya aur comment bhi badhta gaya phir baad mein aapne dekha kyon picture mein se jeene jeene unko picture milne kam ho gaye aur usi ke saamne aapne dekha hoga ki amitabh bachchan ji unhone namrata purvak jo aage zindagi mein aate gaye pragati karte gaye aur jab aaj bhi itni pragati karne ke bawajud dusri inning byane ke baad amitabh bachchan ji ne apni namrata nahi chodenge apni shalinata nahi chodiye kisi ko bhi aapko puch lenge toh amitabh bachchan ji ko namr insani batayenge unki shalinata nahi jaati hai simple sa jo aam janta dekh rahi hai aur jo mehsus karti hai vaah udaharan maine aapko diya hai waise udyog jagat ke jitne bhi bade bade hain jaise tata ka pujari DJ ratan tata ji ne jo namrata aur jo hai hota hai aur unhone apni ek company ho usne logo ko mooh mein jinko hua hai aur google ka udaharan le lijiye jabki unke namrata hai aur ajeem premji imfosis ka vidhayak narayan gupta aur unka jo hai aapko zaroor udaharan mein dekh sakta hoon lekin yah baat sahi hai ki agar aadmi ko aa jata hai toh uska graph niche ki aur jana shuru ho jata hai aur vinamrata deti hai chahen aadmi paise se buddhi se ya kisi bhi chahen kitna hi pragati kare vinamrata usko nahi chhodni chahiye agar aap kisi se sahmat nahi hain toh vinamrata se aap apni baat rakh sakte hain isse saamne waale ko heart nahi hoga aur vaah bhi aapse aapka kal ho jaega bahut bahut dhanyavad subhkamnaayain aapko

ऐसा कहते हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है विनम्रता जीवन के हर कदम में आगे बढ़ाती है अग

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  1386
WhatsApp_icon
user

Dinesh Yadav

Agriculturist

2:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अपना ऐसा कहते हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है विनम्रता जीवन के हर कदम में आगे बढ़ाता है अगर यह बात सही है तो क्या कोई उदाहरण द्वारा समझाएं यह बात तो आपने बिल्कुल सही कहा है कि घमंड अहंकार वह विनाश के रास्ते पर ले जाता है और विनम्रता आपको आसमान पहुंचा देता है और इसका एक जीता जागता उदाहरण एक कवि ने अपने कविता के माध्यम से कहा कि लघुता से प्रभुता मिले प्रभुता से प्रभु दूरी की पीले शक्कर चली हाथी के सिर दूरी इसकी विवेचना है कि आप नंबर दो होंगे तो आपके नम्रता से भगवान भी आपके सामने आएंगे लघुता से प्रभुता मिले प्रभुता से प्रभु दूरी आपको अगर नमन सुनके तो आप भगवान बन जाएंगे और अगर आप भगवान बन के भगवान बनने का यदि आपके पास घमंड हो गया अहंकार हो गया तो भगवान आपसे दूर चले जाएंगे इसका एक बहुत ही अच्छा सा उदाहरण है के चींटी जो बहुत ही छोटा होता है लघु है वह उसको कि नहीं मिलता है और चीनी के बुरे को साफ कर देता है एक-एक दाने लेकर परंतु वही हाथी में अपने बल का घमंड है तो रास्ते पर चलते हुए फूल को उठाकर फेंकता है जो उसके पीठ पर होता है जोशी का नुकसान करता है इससे अच्छा सा उदाहरण और क्या हो सकता है इसलिए आपने सही कहा है कि अहंकार घमंड विनाश की ओर ले जाता है और नम्रता आसमा पहुंचा देता है धन्यवाद

aap apna aisa kehte hain ki ghamand jeevan mein niche gir aata hai vinamrata jeevan ke har kadam mein aage badhata hai agar yah baat sahi hai toh kya koi udaharan dwara samjhaye yah baat toh aapne bilkul sahi kaha hai ki ghamand ahankar vaah vinash ke raste par le jata hai aur vinamrata aapko aasman pohcha deta hai aur iska ek jita jaagta udaharan ek kabhi ne apne kavita ke madhyam se kaha ki laghuta se prabhuta mile prabhuta se prabhu doori ki peele shakkar chali haathi ke sir doori iski vivechna hai ki aap number do honge toh aapke namrata se bhagwan bhi aapke saamne aayenge laghuta se prabhuta mile prabhuta se prabhu doori aapko agar naman sunake toh aap bhagwan ban jaenge aur agar aap bhagwan ban ke bhagwan banne ka yadi aapke paas ghamand ho gaya ahankar ho gaya toh bhagwan aapse dur chale jaenge iska ek bahut hi accha sa udaharan hai ke chinti jo bahut hi chota hota hai laghu hai vaah usko ki nahi milta hai aur chini ke bure ko saaf kar deta hai ek ek daane lekar parantu wahi haathi mein apne bal ka ghamand hai toh raste par chalte hue fool ko uthaakar fenkata hai jo uske peeth par hota hai joshi ka nuksan karta hai isse accha sa udaharan aur kya ho sakta hai isliye aapne sahi kaha hai ki ahankar ghamand vinash ki aur le jata hai aur namrata aasma pohcha deta hai dhanyavad

आप अपना ऐसा कहते हैं कि घमंड जीवन में नीचे गिर आता है विनम्रता जीवन के हर कदम में आगे बढ़ा

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  227
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

घमंड के कारण इंसानों का पतन हो जाता जैसे राजा बलि ने घमंड किया उसका पतन भगवान विष्णु ने तो पार्क जमीन पर जमीन लेकर कर दो रामधन बहुत बड़ा विद्वान और ज्ञानी व्यक्ति थे लेकिन घमंड की वजह से उनका नाश हो गया राम के द्वारा का नाश हो गया स्टेशन कर सकते हैं क्या इंसानों का घमंड नहीं करना चाहिए अच्छे विचारों को समझना चाहिए और विनम्रता इंसानों को महान बनाती है इसने चना कोबरा नंबर आना चाहिए अच्छे कर्तव्य करना चाहिए

ghamand ke karan insano ka patan ho jata jaise raja bali ne ghamand kiya uska patan bhagwan vishnu ne toh park jameen par jameen lekar kar do ramadhan bahut bada vidhwaan aur gyani vyakti the lekin ghamand ki wajah se unka naash ho gaya ram ke dwara ka naash ho gaya station kar sakte kya insano ka ghamand nahi karna chahiye acche vicharon ko samajhna chahiye aur vinamrata insano ko mahaan banati hai isne chana kobra number aana chahiye acche kartavya karna chahiye

घमंड के कारण इंसानों का पतन हो जाता जैसे राजा बलि ने घमंड किया उसका पतन भगवान विष्णु ने तो

Romanized Version
Likes  218  Dislikes    views  2149
WhatsApp_icon
user

Sagar सागर

Engineer ,Singer,Director

0:37
Play

Likes  9  Dislikes    views  108
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  40  Dislikes    views  990
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि आपको कौन से नहीं आया कि घमंड आदमी को नीचे गिरा था और विनम्रता आदमी को खाता तो यह बिल्कुल सही है क्योंकि जब हम घमंड करते हैं तो हम यह सोचते हैं कि हम सबसे ऊपर है हम सुपर कोई नहीं हमें सब पता है हम हम किसी की बात नहीं सुनते सब बेटा किसी दूसरे से कुछ सीखने की प्रेरणा लें ताकि हम उसकी बातों से कुछ पीछे कुछ अच्छा करें और अगर अगर हमें घमंड होता है तो हम यह सोचते हैं यह सोचते हैं कि हमें हम किसी से कम नहीं है हम सबसे ऊपर हैं यह फिर जो जी साथ में घमंड होता है अपने दिखाओ साइड में से कोई भी रिश्ता नहीं रखना चाहता क्योंकि वह अपने आप को सबसे ऊपर समझता है किसी कंधे से कंधा मिलाकर नहीं चलता उसकी बात क्यों नहीं देता और जो भी नरम नरम आदमी है वह हमेशा किसी को देता है किसी से कुछ सीखने की कोशिश करता है अभी तो सबको अपने अपने से बड़ों को आदर करता है हमेशा अपने आप से सबको अच्छा समझता है तो मैं अपनी लाइफ में कभी भी घमंड नहीं करना चाहिए बिना बंद करें

yadi aapko kaunsi nahi aaya ki ghamand aadmi ko niche gira tha aur vinamrata aadmi ko khaata toh yah bilkul sahi hai kyonki jab hum ghamand karte hain toh hum yah sochte hain ki hum sabse upar hai hum super koi nahi hamein sab pata hai hum hum kisi ki baat nahi sunte sab beta kisi dusre se kuch sikhne ki prerna le taki hum uski baaton se kuch peeche kuch accha kare aur agar agar hamein ghamand hota hai toh hum yah sochte hain yah sochte hain ki hamein hum kisi se kam nahi hai hum sabse upar hain yah phir jo ji saath mein ghamand hota hai apne dikhaao side mein se koi bhi rishta nahi rakhna chahta kyonki vaah apne aap ko sabse upar samajhata hai kisi kandhe se kandha milakar nahi chalta uski baat kyon nahi deta aur jo bhi naram naram aadmi hai vaah hamesha kisi ko deta hai kisi se kuch sikhne ki koshish karta hai abhi toh sabko apne apne se badon ko aadar karta hai hamesha apne aap se sabko accha samajhata hai toh main apni life mein kabhi bhi ghamand nahi karna chahiye bina band karen

यदि आपको कौन से नहीं आया कि घमंड आदमी को नीचे गिरा था और विनम्रता आदमी को खाता तो यह बिल्क

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  1
WhatsApp_icon
user
1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार बड़ा अच्छा सवाल पूछा आपने देखे रावण को भी घमंड था उसके पास कितने हाथी घोड़े अस्त्र-शस्त्र थे उसके बाद भी उसकी सोने की लंका बिजली और राजा रामचंद्र भगवान के पास सिर्फ एक गांडीव धनुष था और उन्होंने बड़ी विनम्रता से रावण को बहुत समझाने की कोशिश की कि हमें हमारी सीता वापस दे दो हम तुम्हारा कुछ नहीं करेंगे बहुत समझाया विनम्रता के साथ लेकिन रावण को घमंड था उसकी सेनाओं पर उसका अंत समय आया और भगवान श्री रामचंद्र जी ने लंका पर विजय पाई तो यह कुछ उदाहरण है जिनके माध्यम से आप समझ सकते हैं कि विनम्रता का कितना अधिक महत्व महत्व हो गया हमारी जीवन में तो विनम्र बने रहिए घमंड का भाव अपने जीवन से निकाल दीजिए बहुत-बहुत धन्यवाद

namaskar bada accha sawaal poocha aapne dekhe ravan ko bhi ghamand tha uske paas kitne haathi ghode astr shastra the uske baad bhi uski sone ki lanka bijli aur raja ramachandra bhagwan ke paas sirf ek gandiv dhanush tha aur unhone badi vinamrata se ravan ko bahut samjhane ki koshish ki ki hamein hamari sita wapas de do hum tumhara kuch nahi karenge bahut samjhaya vinamrata ke saath lekin ravan ko ghamand tha uski senaoon par uska ant samay aaya aur bhagwan shri ramachandra ji ne lanka par vijay payi toh yah kuch udaharan hai jinke madhyam se aap samajh sakte hain ki vinamrata ka kitna adhik mahatva mahatva ho gaya hamari jeevan mein toh vinamra bane rahiye ghamand ka bhav apne jeevan se nikaal dijiye bahut bahut dhanyavad

नमस्कार बड़ा अच्छा सवाल पूछा आपने देखे रावण को भी घमंड था उसके पास कितने हाथी घोड़े अस्त्र

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user
0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देकर भारी सवाल है कि ऐसा कहते हैं कि घमंड जिंदगी में नीचे गिरा था जीवन में हर कदम आगे बढ़ाती है अगर यह बात सही है तो आप उधर देख सब लोगों ने खरगोश और कछुए की कहानी सुनी होगी कछुए को अपनी फुर्ती पर घमंड था बढ़ता गया आगे बढ़ता गया लेकिन कुछ घमंड भी तो उसने सोचा कि अभी तो कछुआ बहुत-बहुत राम-राम सा रास्ते में एक नींद पूरी करता हूं लेकिन कछुआ विनम्रता के साथ आराम आराम से धीरे-धीरे आगे बढ़ता रहा और सब को बताएं जीता कछुआ गंदा आदमी को कभी कभी दुआ भी देता है जो आदमी रुक के चलता है वह हमेशा आगे चलता है गमले गुप्ता दादा क्योंकि तूफान में कश्तियां और घमंड मस्तियां अक्सर डूब जाते हैं

dekar bhari sawaal hai ki aisa kehte hain ki ghamand zindagi mein niche gira tha jeevan mein har kadam aage badhati hai agar yah baat sahi hai toh aap udhar dekh sab logo ne khargosh aur kachhue ki kahani suni hogi kachhue ko apni phurti par ghamand tha badhta gaya aage badhta gaya lekin kuch ghamand bhi toh usne socha ki abhi toh kachua bahut bahut ram ram sa raste mein ek neend puri karta hoon lekin kachua vinamrata ke saath aaram aaram se dhire dhire aage badhta raha aur sab ko bataye jita kachua ganda aadmi ko kabhi kabhi dua bhi deta hai jo aadmi ruk ke chalta hai vaah hamesha aage chalta hai gamale gupta dada kyonki toofan mein kashtiyan aur ghamand mastiyan aksar doob jaate hain

देकर भारी सवाल है कि ऐसा कहते हैं कि घमंड जिंदगी में नीचे गिरा था जीवन में हर कदम आगे बढ़ा

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user
0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मायापुर धाम डायरेक्टर साहब बरबीघा मैं आपको छोडूंगा बधाई हो अपने बाप के पास होती है कि रामायण में जो भारत में शासन करने की जरूरत है बाकी मैं तो पढ़ा लिखा हूं आप मुझसे ज्यादा करो

mayapur dhaam director saheb barbigha main aapko chodunga badhai ho apne baap ke paas hoti hai ki ramayana mein jo bharat mein shasan karne ki zarurat hai baki main toh padha likha hoon aap mujhse zyada karo

मायापुर धाम डायरेक्टर साहब बरबीघा मैं आपको छोडूंगा बधाई हो अपने बाप के पास होती है कि रामा

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

Dev

Student Of Prajapeeta Brahmakumaris Godly University

0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ऐसा कहते ही की घमंड जीवन में नीचे गिर आता है यह जीवन की हर कदम में आगे बढ़ाती है अगर यह बात सही है तो क्या कोई उदाहरण द्वारा समझाए तो भाई जब एक पेड़ जो तूफान के आगे घमंड दिखाते तो उखड़ कर नीचे फेंका जाता है और एक घास का पौधा जो बहुत ही विनम्रता से इधर-उधर हवा में डोलता रहता है वह कभी भी उतर कर नीचे नहीं फेक आता है

aisa kehte hi ki ghamand jeevan mein niche gir aata hai yah jeevan ki har kadam mein aage badhati hai agar yah baat sahi hai toh kya koi udaharan dwara samjhaye toh bhai jab ek ped jo toofan ke aage ghamand dikhate toh ukhar kar niche fenkaa jata hai aur ek ghas ka paudha jo bahut hi vinamrata se idhar udhar hawa mein dolta rehta hai vaah kabhi bhi utar kar niche nahi fake aata hai

ऐसा कहते ही की घमंड जीवन में नीचे गिर आता है यह जीवन की हर कदम में आगे बढ़ाती है अगर यह बा

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

0:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी बिल्कुल चाहिए कि अगर आपके मन में नम्रता और आप के पत्तों में नंबर पर नंबर का है कि आपका जीवन आपको हमेशा आगे बढ़ता जाएगा और अगर आप कि अगर आपके अंदर घमंड है तो आप मुझे कहते जिसे एक दुआ भी और एक बहुत बड़ा काम पर लगा शरीर पर आप लगे हुए हैं तो पैर तक आएगा उसको पूछकर भारतीय रिजर्व झुकता जाएगा और अगर फिर भी घमंड है तो आप भी कुछ पेट खराब हुआ है और उसके सारे के सारे फूल पत्तियों के रस से बिछड़ गया वह अकेला खड़ा हुआ तो खराब घमंडी है तो आपको अकेले रहना पड़ेगा जिंदगी में लोग आपको पसंद नहीं करेंगे पर वहीं पर अगर आपके अंदर विनम्रता है तो आपको देखा क्या क्या उसका तुम मुझको मदद भी करना चाहते होंगे खुद से ना किसी दिन की

ji bilkul chahiye ki agar aapke man mein namrata aur aap ke patton mein number par number ka hai ki aapka jeevan aapko hamesha aage badhta jaega aur agar aap ki agar aapke andar ghamand hai toh aap mujhe kehte jise ek dua bhi aur ek bahut bada kaam par laga sharir par aap lage hue hai toh pair tak aayega usko puchkar bharatiya reserve jhukta jaega aur agar phir bhi ghamand hai toh aap bhi kuch pet kharab hua hai aur uske saare ke saare fool pattiyo ke ras se bichhad gaya vaah akela khada hua toh kharab ghamandi hai toh aapko akele rehna padega zindagi mein log aapko pasand nahi karenge par wahi par agar aapke andar vinamrata hai toh aapko dekha kya kya uska tum mujhko madad bhi karna chahte honge khud se na kisi din ki

जी बिल्कुल चाहिए कि अगर आपके मन में नम्रता और आप के पत्तों में नंबर पर नंबर का है कि आपका

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  136
WhatsApp_icon
user

Gunjan

Junior Volunteer

0:40
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हां जी मेरा ऐसा मानना है कि यह बिल्कुल सत्य सत्य सत्य है क्योंकि जो घमंड है वह हमेशा नीचे गिर आता है क्योंकि अगर आप घमंडी हो जाएंगे या फिर आप अपने आप को बहुत सर्वोपरि मानने लगेंगे तो उस कारण आपके कई सारे रिश्ते नाते टूट सकते हैं और जब आपको जरुरत पड़ेगी तो आपकी मदद के लिए कोई यहां नहीं पाएगा चाहे वह आपका दोस्त हो या आपका परिवार परंतु अगर हम रहेंगे तो हर कोई अलग आपसे रिस्पेक्ट करेगा और आपकी पर पर पर मदद भी होती रहेगी तो यह बात हमेशा मेरे साथ से बिल्कुल ठीक है कि जो विनम्रता है वह हमेशा हर कदम को आगे बढ़ाते हैं

haan ji mera aisa manana hai ki yah bilkul satya satya satya hai kyonki jo ghamand hai vaah hamesha niche gir aata hai kyonki agar aap ghamandi ho jaenge ya phir aap apne aap ko bahut sarvopari manne lagenge toh us karan aapke kai saare rishte naate toot sakte hain aur jab aapko zarurat padegi toh aapki madad ke liye koi yahan nahi payega chahen vaah aapka dost ho ya aapka parivar parantu agar hum rahenge toh har koi alag aapse respect karega aur aapki par par par madad bhi hoti rahegi toh yah baat hamesha mere saath se bilkul theek hai ki jo vinamrata hai vaah hamesha har kadam ko aage badhate hain

हां जी मेरा ऐसा मानना है कि यह बिल्कुल सत्य सत्य सत्य है क्योंकि जो घमंड है वह हमेशा नीचे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
गिराता ; मैं नीचे ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!