क्या यह सच है की लड़कियां बहुत जल्दी इमोशनल हो जाती हैं? अगर हाँ, तो क्यों?...


user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी हां लड़कियां बहुत इमोशनल होती है अब हमें यह जानकर क्या करना है कि वह क्यों इमोशनल होती है हम इस बात को अगर एक्सेप्ट कर ले कि हां लड़कियां इमोशनल होती है उतना हमारे लिए अपनी प्रॉब्लम को सॉल्व करना काफी है हम हर चीज का क्यों जानने से बेहतर मैं सोचती हूं हमें अपना ध्यान इस तरफ लेना चाहिए कि हम उसको इमोशन को किस तरीके से प्रोडक्ट भी में यूज कर सकते हैं थैंक यू

ji haan ladkiyan bahut emotional hoti hai ab hamein yah jaankar kya karna hai ki vaah kyon emotional hoti hai hum is baat ko agar except kar le ki haan ladkiyan emotional hoti hai utana hamare liye apni problem ko solve karna kaafi hai hum har cheez ka kyon jaanne se behtar main sochti hoon hamein apna dhyan is taraf lena chahiye ki hum usko emotion ko kis tarike se product bhi mein use kar sakte hain thank you

जी हां लड़कियां बहुत इमोशनल होती है अब हमें यह जानकर क्या करना है कि वह क्यों इमोशनल होती

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  313
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Maulin Pandya

Life Coach and Entrepreneur

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हाय गाइस मेरा नाम मॉल इन पंड्या है और लड़कियां के बारे में अगर बात करें कि वह क्यों इतनी ज्यादा इमोशनल होती है क्या यह सच है या नहीं उसे आगे चलते हैं लेकिन जब इस पृथ्वी का सर्जन हुआ है तब ईश्वर नहीं है कुछ नियम बनाए थे अब यह जो नियम बनाए हुए हैं इंसानों के लिए उसमें जो पुरुष होते हैं या फिर औरत होती एक औरत के अंदर एक कैपेसिटी है एक दूसरे इंसान को जन्म देने की यानी कि वो जब अपने बच्चे को जन्म देती है तो वह इमोशनली कनेक्टेड होती है उसके साथ क्योंकि उसी का एक शरीर का / वह समझती है कि केवल इतने इमोशनल नहीं होते क्योंकि वह कभी बच्चा नहीं देते हैं तो पहली चीज तो यहां पर यही बनती है कि जब एक शरीर का / उससे अगर अलग हो रहा है तो हम उसे कितना इंश्योरेंस हो सकते हैं हम उनसे कितना जुड़े हुए हैं साइकोलॉजिकली हम उसके साथ हैं और इसलिए एक लड़की हमेशा ज्यादा टेंडेंसी से इमोशनल होती है दूसरा हर इंसान फॉर एग्जांपल अगर अपने आप को जोड़ता है किसी और के साथ तो यह बाइबिल में कहा गया कि जो पुरुष होता है एक मर्द होता है वह कैपेसिटी रखता है अपने आप को संभालने की फाइल एक औरत जो होती है वह थोड़ी से डिपेंडेंसी में रहती है यानी कि उसे खिलाने वाला उसको प्यार करने वाला उसको पैंपर करने वाला कोई उसे होना चाहिए और तभी ही एक औरत अच्छा फील कर्ति है देखिए दोस्तों अगर आप यह सोचते हैं कि लड़कियां इमोशनल नहीं होती है ऐसा नहीं है लड़कियों के अंदर इमोशनल इमोशनल लेवल प्रेगनेंसी बहुत ज्यादा होती है और अगर आप उसे संभाल लेंगे तभी वह आपकी रहेगी अगर आप उसे नहीं संभाल पाते अगर आप उसके उम्मीद इमोशनल पोषण को सेटिस्फाई नहीं करते हैं संतोष नहीं करते तो वह आपसे दूरी बनाना शुरू कर दी है और इसीलिए हमें यह ध्यान रखना होता है कि हम उसको कोई भी लेवल पर इस पिक करे लेकिन अगर उनको हम लोग ने इमोशनली हर्ट किया है तो बोल सबसे ज्यादा इंपैक्ट होता है और वह कभी वापस नहीं आते हैं थैंक यू अगर यह सही लगता है तो उस लाइक कीजिए

hi guys mera naam mall in pandya hai aur ladkiyan ke bare mein agar baat kare ki vaah kyon itni zyada emotional hoti hai kya yah sach hai ya nahi use aage chalte hain lekin jab is prithvi ka Surgeon hua hai tab ishwar nahi hai kuch niyam banaye the ab yah jo niyam banaye hue hain insano ke liye usme jo purush hote hain ya phir aurat hoti ek aurat ke andar ek capacity hai ek dusre insaan ko janam dene ki yani ki vo jab apne bacche ko janam deti hai toh vaah emotionally connected hoti hai uske saath kyonki usi ka ek sharir ka vaah samajhti hai ki keval itne emotional nahi hote kyonki vaah kabhi baccha nahi dete hain toh pehli cheez toh yahan par yahi banti hai ki jab ek sharir ka usse agar alag ho raha hai toh hum use kitna insurance ho sakte hain hum unse kitna jude hue hain saikolajikli hum uske saath hain aur isliye ek ladki hamesha zyada tendency se emotional hoti hai doosra har insaan for example agar apne aap ko Jodta hai kisi aur ke saath toh yah bible mein kaha gaya ki jo purush hota hai ek mard hota hai vaah capacity rakhta hai apne aap ko sambhalne ki file ek aurat jo hoti hai vaah thodi se dipendensi mein rehti hai yani ki use khilane vala usko pyar karne vala usko paimpar karne vala koi use hona chahiye aur tabhi hi ek aurat accha feel karti hai dekhiye doston agar aap yah sochte hain ki ladkiyan emotional nahi hoti hai aisa nahi hai ladkiyon ke andar emotional emotional level pregnancy bahut zyada hoti hai aur agar aap use sambhaal lenge tabhi vaah aapki rahegi agar aap use nahi sambhaal paate agar aap uske ummid emotional poshan ko satisfy nahi karte hain santosh nahi karte toh vaah aapse doori banana shuru kar di hai aur isliye hamein yah dhyan rakhna hota hai ki hum usko koi bhi level par is pic kare lekin agar unko hum log ne emotionally heart kiya hai toh bol sabse zyada impact hota hai aur vaah kabhi wapas nahi aate hain thank you agar yah sahi lagta hai toh us like kijiye

हाय गाइस मेरा नाम मॉल इन पंड्या है और लड़कियां के बारे में अगर बात करें कि वह क्यों इतनी ज

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  309
WhatsApp_icon
play
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:27

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या यह सच है कि लड़कियां बहुत जल्दी इमोशनल हो जाती है अगर हां तो क्यों नहीं लड़की हो या लड़का दोनों इमोशनल होते लड़के लड़के दिखाते नहीं और लड़कियां दिखा देती है सिंपल लाइफ इंश्योरेंस

kya yah sach hai ki ladkiyan bahut jaldi emotional ho jaati hai agar haan toh kyon nahi ladki ho ya ladka dono emotional hote ladke ladke dikhate nahi aur ladkiyan dikha deti hai simple life insurance

क्या यह सच है कि लड़कियां बहुत जल्दी इमोशनल हो जाती है अगर हां तो क्यों नहीं लड़की हो या ल

Romanized Version
Likes  399  Dislikes    views  4385
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको सवाल है क्या यह सच है कि लड़कियां बहुत जल्दी मोशन हो जाती है अगर हां तो क्यों ना ही सच्चे बिल्कुल लड़के जवाब जल्दी मोशन हो जाती है हो जाती है क्योंकि लड़कों के मुकाबले उनका जो दिल होता है बहुत नाजुक होता है लड़कों का तो कठोर होता है कि वह कुछ भी सहनशक्ति कर सकता है लड़कियों का मोती नॉर्मल निर्मल होता इसलिए लड़कियां अगर ज्यादातर तो कोई भी कठोर कोई भी ऐसे किसी भी चीज की मरने की खबर है किसी चीज की खबर 4 अट्ठारह की तरफ आकर्षित करते अपने दिमाग से इतना सोचना गाना हैं इसलिए वह जल्दी पोर्टल हो जाती है कोई बात नहीं हम से सीएससी के जल्दी मोशन हो ही जाती है वह क्या होता है

aapko sawaal hai kya yah sach hai ki ladkiya bahut jaldi motion ho jaati hai agar haan toh kyon na hi sacche bilkul ladke jawab jaldi motion ho jaati hai ho jaati hai kyonki ladko ke muqable unka jo dil hota hai bahut naajuk hota hai ladko ka toh kathor hota hai ki vaah kuch bhi sahanshakti kar sakta hai ladkiyon ka moti normal nirmal hota isliye ladkiya agar jyadatar toh koi bhi kathor koi bhi aise kisi bhi cheez ki marne ki khabar hai kisi cheez ki khabar 4 attharah ki taraf aakarshit karte apne dimag se itna sochna gaana hain isliye vaah jaldi portal ho jaati hai koi baat nahi hum se CSC ke jaldi motion ho hi jaati hai vaah kya hota hai

आपको सवाल है क्या यह सच है कि लड़कियां बहुत जल्दी मोशन हो जाती है अगर हां तो क्यों ना ही स

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  91
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्या यह सच है बहुत जल्दी इमोशनल लड़की क्योंकि लड़के को हर चीज को लड़के एक नजरिए से देखते हैं परंतु जो लड़कियां होती वह हर एक चीज को दिल से फील करती है और दूसरे लेट करके देखते हैं इसलिए लड़कियां जल्दी ही इमोशनल हो जाती हैं

kya yah sach hai bahut jaldi emotional ladki kyonki ladke ko har cheez ko ladke ek nazariye se dekhte hain parantu jo ladkiyan hoti vaah har ek cheez ko dil se feel karti hai aur dusre late karke dekhte hain isliye ladkiyan jaldi hi emotional ho jaati hain

क्या यह सच है बहुत जल्दी इमोशनल लड़की क्योंकि लड़के को हर चीज को लड़के एक नजरिए से देखते ह

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  367
WhatsApp_icon
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

0:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लड़कियां जल्दी इमोशनल क्यों हो जाती है तो अगर बात करें लड़कियों की नीचे की और उनके दिल की तो वह बहुत ही सॉफ्ट होता है और वह बहुत ही नाजुक होता है और भी बहुत सुंदर लड़कों से

ladkiyan jaldi emotional kyon ho jaati hai toh agar baat kare ladkiyon ki niche ki aur unke dil ki toh vaah bahut hi soft hota hai aur vaah bahut hi naajuk hota hai aur bhi bahut sundar ladko se

लड़कियां जल्दी इमोशनल क्यों हो जाती है तो अगर बात करें लड़कियों की नीचे की और उनके दिल की

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  111
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!