मैं जब पढ़ाई करती हूँ तो मेरा ध्यान भटक जाता है, पढ़ाई में कंसन्ट्रेट कैसे हो, मुझे सुझाव चाहिए?...


user

professor Govind Tripathi

Professor(P.hd in mathematics)/Social worker

1:14
Play

Likes  59  Dislikes    views  1390
WhatsApp_icon
10 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
9:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो नमस्कार आपका प्रश्न है कि मैं जब भी पढ़ा लिखा किया गया कि मैं परसों थोड़ा गुंडागर्दी हूं मैं पढ़कर सुनाया जाता हूं मैं जब पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान भटक जाता है पढ़ाई में कांस्टेट कैसे हो मुझे सुझाव चाहिए तुम्हें बताता हूं दिमाग या ध्यान जो है कि उसका कार्य होता है भटकना मंजू है कि इतना स्पीड है जो संचालित है उसको रोका नहीं जा सकता उसको एक लाइन और एक डायरी मिली है ले जाया जाता है जिसके माध्यम से वह पढ़ाई करते हैं लेकिन उसको कंट्रास्टेड जिसको कहते हैं मैंने की कह नहीं पा रहा हूं कंस्ट्रक्टेड आप समझ रहे हैं कि मुझे बोलूं तुझे कभी मेरे मुंह में छाले हैं उसको छोड़िए अब तो उस शब्द को पकड़ लीजिएगा कि ऐसा ना सोचे कि नहीं पढ़ने पनियारा प्रसाद खाने की वजह से मैं संतुष्ट नहीं कर रहा हूं तो आपका दिमाग रिवर कहां से अपडेट क्यों नहीं हो रहा है इसका सबसे बड़ा काम किया है मैडम जी जब किसी को पढ़िए आप सुन रहे हैं ना मेरे पास किसी चीज को आप जब पड़ेगी तो उसके बाद तुरंत आप जो है सोचिए कि यह क्या कहना चाहता है लेकिन तुझे वर्क पढ़कर जब सोचेंगे तौर पर बीमार भी लिखेगा तो मैं ही कहना चाहता हूं कि देखिए पहले मेहंदी की बस में बीए तक पढ़ा हूं मेरा एक्सपीरियंस सीजन से पहले तो मेरा एक्सपीरियंस नहीं करता था तो मैं पढ़ाई के बारे में उसे देखे काफी लंबा बताऊंगा शायद यह समय भी कम पड़ जाए तो थोड़ी बहुत कमजोर था लेकिन अब तुम्हें पढ़ने में काम के समय मिले तो मैं किसी को उसको कंप्लीट करके आप कोई सरकारी नौकरी प्राप्त कर सकता हूं लेकिन समय के अभाव के कारण में जो है कि ऐसा कर नहीं पा रहा हूं और कैसे कर भी नहीं सकता तू अपना मैं बताना चाहता हूं कि आपका दिमाग जो है कंपोजिट कैसे रहेगा मनीष पर काफी दिन तक जो है प्रकार से रिचार्ज अमन जी अभी प्रेक्टिस समझ लीजिए या फिर उस पर आप याद करते करते मैंने उसको सीधा करके खोजा है कि आज सीटेट दिमाग को कैसे रखा जाए कैसे याद करने की प्रक्रिया मैंने कक्षा 12 तक पढ़ा और मैं जब पढ़ता था उसको भूल जाता था पूजा करता तो मैंने ना तब तब से मैं कक्षा 10 सही लगता हूं कि यह जो है याद करता हूं क्यों भूल जाता हूं कि याद करता हूं कि भूलने का तो उसमें मैंने कुछ चीजें पाई जिसको मैं समझा तू लाती है इसका डिसीजन निकल आती है कि मैं क्या बोलता हूं इसका सबसे बड़ा कारण यही था कि मैं जब पढ़ता था उसको सोचता नहीं था क्योंकि जब तक आप पढ़ने के बाद यह क्या करना चाहता है तब तक आपके दिमाग में रुचि नहीं बैठेगा तो इस प्रश्न से आपका पूरा सिद्ध हो गया कि आप किसी चीज को पढ़िए और थोड़ा समझने की क्या कहना चाहता है वह तुरंत बैटरी रूप से याद हो जाएगा और अगर चल जाए कि हम 12:00 बजे अप्रैल के रूप से ही जुड़े पढ़ाई होता है तो उसको आफ जॉय के चित्र के माध्यम से समझ सकते हैं तमाम प्रकार से माध्यम से संबंधित जो पढ़कर समझा जाता है वह भेज के लिए रूप से ही है कि आप इस लड़की जो समझा जाता है उसको अभी यहीं भावनाओं की अंसल समझिए कि आखिर यह क्या कहना चाहता है हम इसका क्या मतलब है उसको किस बारे में रखा जाए हां इसमें इसको मार दिया था तो इनके बच्चे हो गए और बच्चे होने के बाद उन्होंने क्या किया किया फिर उनकी दादा जो बची हुई थी तो उनको क्या दिक्कत थी जिसके कारण इनको इन्होंने मार दी तो एक प्रकाश इमेजेस सन टाइप का करिए उसको व्हाट्सएप पकड़ी एवं आते रहिए बस अब सोच मैंने सिद्ध किया है कि अब जो है पड़ेंगे पढ़ने के बाद उसके बारे में सोचेंगे तो पता चलेगा मैं बताना चाहता हूं कि बीपी में प्राचीन इतिहास से जुड़े की बिटिया हूं और मैं इन्हें भी करना चाहता हूं यह बातें मैं करना चाहता था लेकिन मैंने आपको बता दिया कि वे की आरती की स्थिति ना होने के सही होने के कारण में पढ़ने का है तूने तूने इंग्लिश से जो है कि बीएमए करता हो लेकिन मैं समाचार को एक पेट के रूप से पढ़ा हूं और मैं अगर मुझे समाचार की कोई भी क्वेश्चन कर दिया था तुम मुझे समझा जाता है कि इसके अंदर क्या लिखना है कि मैंने उसको पढ़ रहा था तो मैं सोचता था मुझे नंबर आए या ना आए लेकिन मुझे पता करना है कि आखिर मैं याद करता हूं क्यों हो जाता तो मैंने सिद्ध किया कि जैसे उसमें कस्टमर मुझे आज भी याद है मैं मेरी गलती एक लड़की है वह गेम पड़ती है ओसामा साथ मुझसे पूछ रही थी तुम्हें बता रहा था मुझे अपने याद है लेकिन उसमें समाजशास्त्र क्या है ठीक है लेकिन समाज का सामाजिक संबंधों का जाल में पनपने वाले संबंध को ही समझ रखा जाता है ठीक है तो देखिए क्या समाज सामाजिक संबंधों का जाल है यानी समाज में रहने वाले सभी लोगों का एक दूसरे के प्रति जो है प्रकाश सिंह जाल है जिसमें पनपने वाले संबंध को ही समझ रखा जाता है तो यह प्रीत करी रूप से जब समझेंगे आप तभी उसको समझने की याद होने वाली चीज नहीं है कि अगली याद जगह नहीं उसको समझने वाली चीज है कि अगर समाज है तुम कम उम्र में संबंध होगा अगर संबंध है तो बनती गई दूसरी पत्नी लगा होगा ना उसमें पनपने का प्रक्रिया चालू होगा एक दूसरे के प्रति वह लगाओ बढ़ेगा जिससे कि जो है वह समाज का जन्म होता है समाज का विकास होता है उसमें एक ऑपरेशन जिसे मैं बताना चाहता हूं कि आंतरिक संघर्ष अंतर पीढ़ी संघर्ष मतलब होता है कि इसे हमारा जो है कि ज नेशन हो गया हमारे दादा की जो जनरेशन है जो दो तीन पीढ़ी के लोग जो भी एक ही रसोई में बने हुए खाना को जब खाते हैं उसी माध्यम से समझी हम तो उस में अंतर पीढ़ी संघर्ष होता है झगड़ा था ना होता है तो आप समझ सकते हैं कि मैं क्या कहना चाहता हूं कि आप जब किसी चीज को पड़ेगी तो उसको ध्यान लगाकर समझ गई आपकी यह क्या कहना चाहता है तू ध्यान का कब सोचेंगे तो जो भटकने वाला शब्द है वह खत्म हो जाएगा तो इस वीडियो के माध्यम से देखिए इस से ज्यादा स्पष्ट मैं नहीं बता सकता हूं कि आप जानते हैं कि कोई भी चीज है पढ़िए हरप्रीत के लिए रूप से हो तो पूरे ग्रुप से आप उसको समझ में अगर प्रेक्टिन रूप से नहीं होता तो आप अपने आप से समझ गई कि यह चीज क्या कहना आ रहा है अगर आप समझ गए कि यह क्या काम है प्रश्न क्या कहना चाह रहा है तो आपका उत्तर तुरंत तैयार हो जाएगा आपको यकीन दोबारा तिबारा पढ़ने की जरूरत नहीं है तो समाजशास्त्र में तमाम प्रकार की जो है कि प्रश्न है अगर आप पढ़ेंगे तो मैं तुरंत बता सकता हूं कि आपका यह घर है या जान तेरी ज्योति शब्दों में 7 शब्दों में एक क्या होता है कि प्रिडिकली रूप से उन्हें पढ़ा जाता है कि कुछ यह सब जो होते हैं जो उनको उस में लिखने के लिए अति आवश्यकता है प्रश्नों के माध्यम से आप छोटे शब्दों में बता देना चाहते हैं कि इसका मतलब यह है मुझे शिकायत है हजार शब्द के एक शब्द समझ सकते हैं ना कहने का क्या मतलब है तो ठीक उसी प्रकार से आपका दिमाग सटक गया है तो अब नहीं भटकने का जो है सबसे बड़ा जुगाड़ यही है कि आप जैसे कि जो चीज बड़ी कर तुरंत आप सोचें कि अब क्या कहना इसका मतलब क्या होगा ठीक है पीसी आपका ध्यान नहीं लगेगा लेकिन वीडियो काफी लंबा होने की कगार पर है इसीलिए मैं यह कहना चाहता हूं कि आप जब भी पढ़िए तो आप उसको पेट के रूप से या फिर अपने ध्यान से समझिए कि यदि यह क्या कहना चाहता है अब तुरंत जो इसको सब्जेक्ट याद होना चालू हो जाएगा आजाद आपको पढ़ने के बाबा पढ़ने की जरूरत नहीं होगी दो एक बार बनेंगे उसके बाद यादव ने की तबीयत ठीक हो जाएगी ठीक है तो लाइक से फॉलो करते रहिए साला लेते रहिए धन्यवाद मेरा इब्रेट के लिए रूप से यह रिचार्ज है तो आपका ध्यान रखेगा नहीं है आप जानते नहीं है तो धन्यवाद आप मैं पढ़ाई करती हूं या करती हो करती हैं कोई बड़े सबका यादों का लड़की हो या लड़का सभी लोकप्रिय पढ़ाई अच्छी चीज है क्योंकि समय व्यतीत होने के बाद पढ़ने का दोबारा मौका नहीं मिलता मैं उसी परिस्थितियों को जला रहा हूं ठीक है मेरे पास 2 साल अभी समय है लेकिन मैं ऐसी बस्तियों में फंसा हूं लेकिन मैं दूसरे भाई के क्षेत्र में नहीं जा सकता समिति एक प्रकार से मेरी मजबूरी है ठीक है तो अप्लाई से फॉलो करते रहिए धन्यवाद

hello namaskar aapka prashna hai ki main jab bhi padha likha kiya gaya ki main parso thoda gundagardi hoon main padhakar sunaya jata hoon main jab padhai karti hoon toh mera dhyan bhatak jata hai padhai me kanstet kaise ho mujhe sujhaav chahiye tumhe batata hoon dimag ya dhyan jo hai ki uska karya hota hai bhatakana manju hai ki itna speed hai jo sanchalit hai usko roka nahi ja sakta usko ek line aur ek diary mili hai le jaya jata hai jiske madhyam se vaah padhai karte hain lekin usko kantrasted jisko kehte hain maine ki keh nahi paa raha hoon constructed aap samajh rahe hain ki mujhe bolu tujhe kabhi mere mooh me chhale hain usko chodiye ab toh us shabd ko pakad lijiega ki aisa na soche ki nahi padhne paniyara prasad khane ki wajah se main santusht nahi kar raha hoon toh aapka dimag river kaha se update kyon nahi ho raha hai iska sabse bada kaam kiya hai madam ji jab kisi ko padhiye aap sun rahe hain na mere paas kisi cheez ko aap jab padegi toh uske baad turant aap jo hai sochiye ki yah kya kehna chahta hai lekin tujhe work padhakar jab sochenge taur par bimar bhi likhega toh main hi kehna chahta hoon ki dekhiye pehle mehendi ki bus me BA tak padha hoon mera experience season se pehle toh mera experience nahi karta tha toh main padhai ke bare me use dekhe kaafi lamba bataunga shayad yah samay bhi kam pad jaaye toh thodi bahut kamjor tha lekin ab tumhe padhne me kaam ke samay mile toh main kisi ko usko complete karke aap koi sarkari naukri prapt kar sakta hoon lekin samay ke abhaav ke karan me jo hai ki aisa kar nahi paa raha hoon aur kaise kar bhi nahi sakta tu apna main batana chahta hoon ki aapka dimag jo hai composite kaise rahega manish par kaafi din tak jo hai prakar se recharge aman ji abhi practice samajh lijiye ya phir us par aap yaad karte karte maine usko seedha karke khoja hai ki aaj CTET dimag ko kaise rakha jaaye kaise yaad karne ki prakriya maine kaksha 12 tak padha aur main jab padhata tha usko bhool jata tha puja karta toh maine na tab tab se main kaksha 10 sahi lagta hoon ki yah jo hai yaad karta hoon kyon bhool jata hoon ki yaad karta hoon ki bhulne ka toh usme maine kuch cheezen payi jisko main samjha tu lati hai iska decision nikal aati hai ki main kya bolta hoon iska sabse bada karan yahi tha ki main jab padhata tha usko sochta nahi tha kyonki jab tak aap padhne ke baad yah kya karna chahta hai tab tak aapke dimag me ruchi nahi baithega toh is prashna se aapka pura siddh ho gaya ki aap kisi cheez ko padhiye aur thoda samjhne ki kya kehna chahta hai vaah turant battery roop se yaad ho jaega aur agar chal jaaye ki hum 12 00 baje april ke roop se hi jude padhai hota hai toh usko of joy ke chitra ke madhyam se samajh sakte hain tamaam prakar se madhyam se sambandhit jo padhakar samjha jata hai vaah bhej ke liye roop se hi hai ki aap is ladki jo samjha jata hai usko abhi yahin bhavnao ki ansal samjhiye ki aakhir yah kya kehna chahta hai hum iska kya matlab hai usko kis bare me rakha jaaye haan isme isko maar diya tha toh inke bacche ho gaye aur bacche hone ke baad unhone kya kiya kiya phir unki dada jo bachi hui thi toh unko kya dikkat thi jiske karan inko inhone maar di toh ek prakash images san type ka kariye usko whatsapp pakadi evam aate rahiye bus ab soch maine siddh kiya hai ki ab jo hai padenge padhne ke baad uske bare me sochenge toh pata chalega main batana chahta hoon ki BP me prachin itihas se jude ki bitiya hoon aur main inhen bhi karna chahta hoon yah batein main karna chahta tha lekin maine aapko bata diya ki ve ki aarti ki sthiti na hone ke sahi hone ke karan me padhne ka hai tune tune english se jo hai ki BMA karta ho lekin main samachar ko ek pet ke roop se padha hoon aur main agar mujhe samachar ki koi bhi question kar diya tha tum mujhe samjha jata hai ki iske andar kya likhna hai ki maine usko padh raha tha toh main sochta tha mujhe number aaye ya na aaye lekin mujhe pata karna hai ki aakhir main yaad karta hoon kyon ho jata toh maine siddh kiya ki jaise usme customer mujhe aaj bhi yaad hai main meri galti ek ladki hai vaah game padti hai osama saath mujhse puch rahi thi tumhe bata raha tha mujhe apne yaad hai lekin usme samajshastra kya hai theek hai lekin samaj ka samajik sambandhon ka jaal me panapne waale sambandh ko hi samajh rakha jata hai theek hai toh dekhiye kya samaj samajik sambandhon ka jaal hai yani samaj me rehne waale sabhi logo ka ek dusre ke prati jo hai prakash Singh jaal hai jisme panapne waale sambandh ko hi samajh rakha jata hai toh yah prateet kari roop se jab samjhenge aap tabhi usko samjhne ki yaad hone wali cheez nahi hai ki agli yaad jagah nahi usko samjhne wali cheez hai ki agar samaj hai tum kam umar me sambandh hoga agar sambandh hai toh banti gayi dusri patni laga hoga na usme panapne ka prakriya chaalu hoga ek dusre ke prati vaah lagao badhega jisse ki jo hai vaah samaj ka janam hota hai samaj ka vikas hota hai usme ek operation jise main batana chahta hoon ki aantarik sangharsh antar peedhi sangharsh matlab hota hai ki ise hamara jo hai ki j nation ho gaya hamare dada ki jo generation hai jo do teen peedhi ke log jo bhi ek hi rasoi me bane hue khana ko jab khate hain usi madhyam se samjhi hum toh us me antar peedhi sangharsh hota hai jhagda tha na hota hai toh aap samajh sakte hain ki main kya kehna chahta hoon ki aap jab kisi cheez ko padegi toh usko dhyan lagakar samajh gayi aapki yah kya kehna chahta hai tu dhyan ka kab sochenge toh jo bhatakne vala shabd hai vaah khatam ho jaega toh is video ke madhyam se dekhiye is se zyada spasht main nahi bata sakta hoon ki aap jante hain ki koi bhi cheez hai padhiye harprit ke liye roop se ho toh poore group se aap usko samajh me agar prektin roop se nahi hota toh aap apne aap se samajh gayi ki yah cheez kya kehna aa raha hai agar aap samajh gaye ki yah kya kaam hai prashna kya kehna chah raha hai toh aapka uttar turant taiyar ho jaega aapko yakin dobara tibara padhne ki zarurat nahi hai toh samajshastra me tamaam prakar ki jo hai ki prashna hai agar aap padhenge toh main turant bata sakta hoon ki aapka yah ghar hai ya jaan teri jyoti shabdon me 7 shabdon me ek kya hota hai ki pridikali roop se unhe padha jata hai ki kuch yah sab jo hote hain jo unko us me likhne ke liye ati avashyakta hai prashnon ke madhyam se aap chote shabdon me bata dena chahte hain ki iska matlab yah hai mujhe shikayat hai hazaar shabd ke ek shabd samajh sakte hain na kehne ka kya matlab hai toh theek usi prakar se aapka dimag satak gaya hai toh ab nahi bhatakne ka jo hai sabse bada jugaad yahi hai ki aap jaise ki jo cheez badi kar turant aap sochen ki ab kya kehna iska matlab kya hoga theek hai pc aapka dhyan nahi lagega lekin video kaafi lamba hone ki kagar par hai isliye main yah kehna chahta hoon ki aap jab bhi padhiye toh aap usko pet ke roop se ya phir apne dhyan se samjhiye ki yadi yah kya kehna chahta hai ab turant jo isko subject yaad hona chaalu ho jaega azad aapko padhne ke baba padhne ki zarurat nahi hogi do ek baar banenge uske baad yadav ne ki tabiyat theek ho jayegi theek hai toh like se follow karte rahiye sala lete rahiye dhanyavad mera ibret ke liye roop se yah recharge hai toh aapka dhyan rakhega nahi hai aap jante nahi hai toh dhanyavad aap main padhai karti hoon ya karti ho karti hain koi bade sabka yaadon ka ladki ho ya ladka sabhi lokpriya padhai achi cheez hai kyonki samay vyatit hone ke baad padhne ka dobara mauka nahi milta main usi paristhitiyon ko jala raha hoon theek hai mere paas 2 saal abhi samay hai lekin main aisi bastiyon me fansa hoon lekin main dusre bhai ke kshetra me nahi ja sakta samiti ek prakar se meri majburi hai theek hai toh apply se follow karte rahiye dhanyavad

हेलो नमस्कार आपका प्रश्न है कि मैं जब भी पढ़ा लिखा किया गया कि मैं परसों थोड़ा गुंडागर्दी

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  567
WhatsApp_icon
user

Deepak prasad

Computer Teacher & Mathematician

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

तू तो सब आप पढ़ाई करते हो तो आपका मन भटक जाता पढ़ाई से इसलिए कि मुझे को पढ़ाई में इंटरेस्ट नहीं आ रहा है जो आप बोल रहे हो सभ्यता कुछ मत समझ में नहीं आ रहा है कंप्लीट ली नहीं समझ में आता तो ठीक है जिस दिन आपको जो सब्जेक्ट आपको कंपनी डी समझ में आ जाएगा तो उसने आपको इंटरेस्ट टाइम लगेगा जैसे इंटरेस्ट आने लगेगा आपको अच्छा लगेगा पढ़ने में और मन नहीं बट गया और मनरेगा थे स्टैंडर्ड लाने का तरीका यह है कि आप रूटिंग बनाओ अपने सब्जेक्ट कोडिफाइट करो टाइम में और जितना सिलेबस है उसको टाइम कौन सा डिलीट कर दो कि कितना दिन के अंदर खुद हो सकता उस टाइम कॉलिंग दो उतना पर हो ठीक है दीदी को छोड़कर नहीं फिर बटन लगा सोना नहीं कंटिन्यू करना है और उसे साफ करते रहो करते रहो जो सिर कलम योगा टीचर से पूछो मुझे क्या क्लियर कॉन्सेप्ट क्लीयर होने लगेगा अंकुश बंधन लगा कंप्लीट की तो आपका इंटरेस्ट बने लगा पढ़ाई के प्रति और आप निभाओगे मटके का नहीं मंगाई

tu toh sab aap padhai karte ho toh aapka man bhatak jata padhai se isliye ki mujhe ko padhai me interest nahi aa raha hai jo aap bol rahe ho sabhyata kuch mat samajh me nahi aa raha hai complete li nahi samajh me aata toh theek hai jis din aapko jo subject aapko company d samajh me aa jaega toh usne aapko interest time lagega jaise interest aane lagega aapko accha lagega padhne me aur man nahi but gaya aur mgnrega the standard lane ka tarika yah hai ki aap routing banao apne subject karo time me aur jitna syllabus hai usko time kaun sa delete kar do ki kitna din ke andar khud ho sakta us time Calling do utana par ho theek hai didi ko chhodkar nahi phir button laga sona nahi continue karna hai aur use saaf karte raho karte raho jo sir kalam yoga teacher se pucho mujhe kya clear concept clear hone lagega ankush bandhan laga complete ki toh aapka interest bane laga padhai ke prati aur aap nibhaoge matke ka nahi mangai

तू तो सब आप पढ़ाई करते हो तो आपका मन भटक जाता पढ़ाई से इसलिए कि मुझे को पढ़ाई में इंटरेस्ट

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  323
WhatsApp_icon
user
3:08
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका क्वेश्चन है मैं जब पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान लग जाता है पवई में कौन सा स्टेट कैसे हो मुझे सुझाव चाहिए पहले तो यह बताइए कि आपका दिमाग किन-किन चीजों से भटकता क्या सोचते हैं आपकी उस चीज के सोचने से आपका दिमाग भटक जाता नेगेटिव सोचती है या पॉजिटिव सोचती है यह तो फिर मैं नहीं कह सकता खैर जो भी सोचती हैं अगर जब आप पढ़ती हैं आपका दिमाग भटकता तो पढ़ाई छोड़ दीजिए आप जो हैं सुबह को उठकर 3:00 या 4:00 से 12 घंटा पढ़िए क्योंकि सुबह सुबह उठकर जो पढ़ते हैं उनका दिमाग भटकता नहीं है कोई भी कृपया करने की इच्छुक नहीं होता सुबह-सुबह दिमाग आप जो भी कृपया करेंगे दिमाग उस पर ही निर्भर करता तो आप जब भी पड़े हैं अपने से सभी चीजों को हटाइए जो चीज आपकी पढ़ाई में बाधा डाल रही है उन चीजों को हटा दीजिए मोबाइल है लैपटॉप है या कोई अन्य चीजें हैं या आपको दिक्कत पैदा कर रही है शोर-शराबा और हाथापाई दांत में जाकर पढ़ लीजिए कोई दिक्कत नहीं आएगी अब खुश हो कर पढ़िए अगर आपका दिमाग तक भी पहुंच स्टैंड नहीं हो रहा तो आप जब जो भी क्वेश्चन पड़े उसे लिखकर पड़े और उसे इस तरीके से पढ़ाई की कहानी की तरह अब बोल बोल कर पढ़ें जो अगर आपका मन भी नहीं लग रहा पढ़ने में तो उसे थोड़ा और तेज बोल कर पढ़िए जो आपको ही सुनाई दे दूसरे को नहीं दे आपको आनंद आने लगेगा पढ़ते समय बोलकर पढ़ना जो है एक आनंद आता जैसे आप आप जब वह खाली होते हैं तो गाना गाते हैं गाने में आनंद आता या किसी भी फिल्म का सॉन्ग गाते हैं तो उसे सुन अपने मुंह से सुनने में बहुत ही आनंद मिलता है आप सोचते हैं मुझे याद है तो सारा गाना गाते हैं या कहीं कंपटीशन होता है तो जो आप स्टेज पर जाएगा गाते हैं बहुत ही सुकून मिलता है दिल को ऐसे ही पढ़ाई कीजिए कि बोलकर पढ़िए उसे इस तरीके से पड़ेगा कर पढ़िए अगर आपको समझ में नहीं आ रहा आपको जल्दी आ जाओ पढ़ाई में दिमाग कांस्टेंट होने लगेगा धन्यवाद

aapka question hai main jab padhai karti hoon toh mera dhyan lag jata hai powai me kaun sa state kaise ho mujhe sujhaav chahiye pehle toh yah bataiye ki aapka dimag kin kin chijon se bhatakta kya sochte hain aapki us cheez ke sochne se aapka dimag bhatak jata Negative sochti hai ya positive sochti hai yah toh phir main nahi keh sakta khair jo bhi sochti hain agar jab aap padhati hain aapka dimag bhatakta toh padhai chhod dijiye aap jo hain subah ko uthakar 3 00 ya 4 00 se 12 ghanta padhiye kyonki subah subah uthakar jo padhte hain unka dimag bhatakta nahi hai koi bhi kripya karne ki icchhuk nahi hota subah subah dimag aap jo bhi kripya karenge dimag us par hi nirbhar karta toh aap jab bhi pade hain apne se sabhi chijon ko hataiye jo cheez aapki padhai me badha daal rahi hai un chijon ko hata dijiye mobile hai laptop hai ya koi anya cheezen hain ya aapko dikkat paida kar rahi hai shor sharaba aur hathapai dant me jaakar padh lijiye koi dikkat nahi aayegi ab khush ho kar padhiye agar aapka dimag tak bhi pohch stand nahi ho raha toh aap jab jo bhi question pade use likhkar pade aur use is tarike se padhai ki kahani ki tarah ab bol bol kar padhen jo agar aapka man bhi nahi lag raha padhne me toh use thoda aur tez bol kar padhiye jo aapko hi sunayi de dusre ko nahi de aapko anand aane lagega padhte samay bolkar padhna jo hai ek anand aata jaise aap aap jab vaah khaali hote hain toh gaana gaate hain gaane me anand aata ya kisi bhi film ka song gaate hain toh use sun apne mooh se sunne me bahut hi anand milta hai aap sochte hain mujhe yaad hai toh saara gaana gaate hain ya kahin competition hota hai toh jo aap stage par jaega gaate hain bahut hi sukoon milta hai dil ko aise hi padhai kijiye ki bolkar padhiye use is tarike se padega kar padhiye agar aapko samajh me nahi aa raha aapko jaldi aa jao padhai me dimag constant hone lagega dhanyavad

आपका क्वेश्चन है मैं जब पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान लग जाता है पवई में कौन सा स्टेट कैसे

Romanized Version
Likes  13  Dislikes    views  116
WhatsApp_icon
user
0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेफ्ट हैंड महान पढ़ाई करने के लिए तो आपका दिमाग अपने आप शांत हो जाएगा और कोई मत सोचिए जो हो गया सो हो गया और अब अगर म्यूजिक सुनना पसंद करते हैं थोड़ा समय जिसमें उसके बाद पढ़ सकते हैं

left hand mahaan padhai karne ke liye toh aapka dimag apne aap shaant ho jaega aur koi mat sochiye jo ho gaya so ho gaya aur ab agar music sunana pasand karte hain thoda samay jisme uske baad padh sakte hain

लेफ्ट हैंड महान पढ़ाई करने के लिए तो आपका दिमाग अपने आप शांत हो जाएगा और कोई मत सोचिए जो ह

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  162
WhatsApp_icon
user

Chandrakant Shrivastav

Educationist N Counsellor. PD Trainer. Motivator

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप तो पढ़ाई करते हैं तो आपका ध्यान भटक जाता है आपका ही नहीं पूरी मानव जाति का ध्यान भटकता है कोई भी काम करें ध्यान का काम ही भटक ना इसलिए उसको ध्यान बोलते हुए का चित्र कैसे करें तो आप पहले तो गहरी सांसे लीजिए पढ़ाई का आपका जो कमरा है जो स्थान है और बढ़िया होना चाहिए साफ सुथरा एक-दो अच्छे हरे-भरे फूल की उंगलियां है तो और भी बढ़िया शुद्ध हवा का आना-जाना हो मच्छर का प्रॉब्लम ना हो और पढ़ रहे हैं उस उस को पढ़ते समय अपने दिमाग में उसके इमेजेस उसकी पिक्चर्स बनाइए जैसे आपको स्टोरी पढ़ रहे हो तो यह उसके मुंह आपके मन में उसके इमेजेस आना चाहिए और वह इमेजेस ऑफ अपने ब्रेन में आसानी चेस्ट व करके रख सकते हो ठीक है हमारे यहां एक कविता है कि जो मन है ना यह मन ऐसा जानवर है जो खड़ी फसल देखकर बार-बार उड़ जाता है उसे बार-बार खींच कर आना पड़ता है बस यही करना है धीरे-धीरे अभ्यास से आपको ही आ जाइए मन को वश में नहीं करना है सिर्फ आते तो कुछ और याद आता था वहीं पर हमारा फोकस हो जाता था ठीक है बेटा करके देखिए आप थैंक्यू टाइम

aap toh padhai karte hain toh aapka dhyan bhatak jata hai aapka hi nahi puri manav jati ka dhyan bhatakta hai koi bhi kaam kare dhyan ka kaam hi bhatak na isliye usko dhyan bolte hue ka chitra kaise kare toh aap pehle toh gehri sanse lijiye padhai ka aapka jo kamra hai jo sthan hai aur badhiya hona chahiye saaf suthara ek do acche hare bhare fool ki ungaliyan hai toh aur bhi badhiya shudh hawa ka aana jana ho macchar ka problem na ho aur padh rahe hain us us ko padhte samay apne dimag me uske images uski pictures banaiye jaise aapko story padh rahe ho toh yah uske mooh aapke man me uske images aana chahiye aur vaah images of apne brain me aasani chest va karke rakh sakte ho theek hai hamare yahan ek kavita hai ki jo man hai na yah man aisa janwar hai jo khadi fasal dekhkar baar baar ud jata hai use baar baar khinch kar aana padta hai bus yahi karna hai dhire dhire abhyas se aapko hi aa jaiye man ko vash me nahi karna hai sirf aate toh kuch aur yaad aata tha wahi par hamara focus ho jata tha theek hai beta karke dekhiye aap thainkyu time

आप तो पढ़ाई करते हैं तो आपका ध्यान भटक जाता है आपका ही नहीं पूरी मानव जाति का ध्यान भटकता

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  312
WhatsApp_icon
user

Rahmat Ali

Student

2:12
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका सवाल है मैं जब पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान भटक जाता है पढ़ाई में कंसंट्रेट करते हो मुझे सुझाव चाहिए अभी अभी पढ़ाई कर रही हो तब उस समय आपका ध्यान जो होना चाहिए 100% पर हाय होना चाहिए अब क्या करूं क्यों पड़ रहे हैं किस लिए पढ़ रहे हैं अपने माइंड के अंदर अपने अवचेतन मन को यह बता दें पहले से कि मैं अगर अभी नहीं पढ़ लूं तिथि भविष्य में मेरा भविष्य जिसके लिए मैं इसको चेक करना चाह रहे हैं वह नहीं कर पाऊंगी और फिर आप अपने आप को मोटिवेट कीजिए ऐसे आप कीजिएगा तो अपने आप को मोटिवेट कर लीजिएगा और जब मोटिवेट कोई इंसान खुद को खुद से करना जान जाए तो कभी वह अपने ध्यान को पढ़ाई जोर से हटाना नहीं जाएगा और और जब भी आप लड़ाई करते हैं उस समय अपने आसपास जैसे कि आपका मोबाइल है मोबाइल को अपने से दूर रखें अब मोबाइल में जो जो चीज करते हैं वह सब करते हैं जो भी आपके पढ़ाई पर नकारात्मक प्रभाव डाल रहे हैं उनसे बचने की कोशिश की थी आप पढ़ाई कर रहे हैं वह इस समय आपके लिए ना की किसी दूसरी चीज हो के लिए अपने माइंड को केवल यही बताएं यही समझाएं कि तुम्हें पढ़ना है तुम्हें इस टॉपिक को पूरे समझ लेना है और केवल इसी के हमको फोकस करना है और कभी भी जब आप पढ़ाई करती उस समय आपका ध्यान आपका माइंड किसी दूसरी तरफ नहीं होना चाहिए अगर उधर आपका माइंड जा रहा है तो आप उस आप उस जिम्मेदारी आप उसे जाने दे रहे हैं आपका फोकस हाइट होना चाहिए केवल पढ़ाई से धन्यवाद

namaskar aapka sawaal hai main jab padhai karti hoon toh mera dhyan bhatak jata hai padhai me concentrate karte ho mujhe sujhaav chahiye abhi abhi padhai kar rahi ho tab us samay aapka dhyan jo hona chahiye 100 par hi hona chahiye ab kya karu kyon pad rahe hain kis liye padh rahe hain apne mind ke andar apne avachetan man ko yah bata de pehle se ki main agar abhi nahi padh loon tithi bhavishya me mera bhavishya jiske liye main isko check karna chah rahe hain vaah nahi kar paungi aur phir aap apne aap ko motivate kijiye aise aap kijiega toh apne aap ko motivate kar lijiega aur jab motivate koi insaan khud ko khud se karna jaan jaaye toh kabhi vaah apne dhyan ko padhai jor se hatana nahi jaega aur aur jab bhi aap ladai karte hain us samay apne aaspass jaise ki aapka mobile hai mobile ko apne se dur rakhen ab mobile me jo jo cheez karte hain vaah sab karte hain jo bhi aapke padhai par nakaratmak prabhav daal rahe hain unse bachne ki koshish ki thi aap padhai kar rahe hain vaah is samay aapke liye na ki kisi dusri cheez ho ke liye apne mind ko keval yahi bataye yahi samjhaye ki tumhe padhna hai tumhe is topic ko poore samajh lena hai aur keval isi ke hamko focus karna hai aur kabhi bhi jab aap padhai karti us samay aapka dhyan aapka mind kisi dusri taraf nahi hona chahiye agar udhar aapka mind ja raha hai toh aap us aap us jimmedari aap use jaane de rahe hain aapka focus height hona chahiye keval padhai se dhanyavad

नमस्कार आपका सवाल है मैं जब पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान भटक जाता है पढ़ाई में कंसंट्रेट क

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  74
WhatsApp_icon
user
0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप चाहे तो पढ़ाई करते समय म्यूजिक सुन सकते हैं जिससे आपका माइंड दो जगह फोकस हो जाएगा म्यूजिक और अपनी पढ़ाई पर जैसे कि आप ज्यादा कंसंट्रेट कर पाएंगे और अपने मार्क्स को ब्लॉक कर पाएंगे

aap chahen toh padhai karte samay music sun sakte hain jisse aapka mind do jagah focus ho jaega music aur apni padhai par jaise ki aap zyada concentrate kar payenge aur apne marks ko block kar payenge

आप चाहे तो पढ़ाई करते समय म्यूजिक सुन सकते हैं जिससे आपका माइंड दो जगह फोकस हो जाएगा म्यूज

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  99
WhatsApp_icon
user

S.A

Student

1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है जब मैं पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान भटक जाता है पढ़ाई में कांस्टेंट कैसे हो मुझे सुझाव चाहिए यह आपका प्रश्न है और मैं आपके प्रश्न के ऊपर ही जवाब देना चाहता हूं तीन पार्टियों में जिस प्रकार या लिखा है मैं जब पढ़ाई करती हूं तो मैं जब पढ़ाई करती हूं पढ़ाई करने का मतलब ही नहीं होता आप 24 घंटे पढ़ाई करने का मतलब होता है आप 1 घंटे पड़े 15 मिनट पर 20 मिनट पड़े पढ़ाई करने का मतलब होता है कि आप पढ़ाई करते हैं तो बुरा दिन ही पढ़ने एक ही विषय पढ़ने लगे इसके लिए आपको टाइम टेबल की जरूरत पड़ेगी टाइम टेबल बनाइए और अच्छे से पढ़ाई कीजिए और फिर है आपका कुछ प्रधान भटक जाता है तो मैं आपके ध्यान के बारे में बताना चाहता हूं कि आप रोज सुबह 15 मिनट या 10 मिनट ध्यान पूर्वक ध्यान लगाकर उंगलियों से अपनी तर्जनी को दबाकर आप बैठिए और अपने ध्यान को एक ही दिशा में केंद्रित कीजिए एक ही सब्जेक्ट पर केंद्रित कीजिए आपका ध्यान कभी भटके गा नहीं थैंक यू थैंक

aapka prashna hai jab main padhai karti hoon toh mera dhyan bhatak jata hai padhai me constant kaise ho mujhe sujhaav chahiye yah aapka prashna hai aur main aapke prashna ke upar hi jawab dena chahta hoon teen partiyon me jis prakar ya likha hai main jab padhai karti hoon toh main jab padhai karti hoon padhai karne ka matlab hi nahi hota aap 24 ghante padhai karne ka matlab hota hai aap 1 ghante pade 15 minute par 20 minute pade padhai karne ka matlab hota hai ki aap padhai karte hain toh bura din hi padhne ek hi vishay padhne lage iske liye aapko time table ki zarurat padegi time table banaiye aur acche se padhai kijiye aur phir hai aapka kuch pradhan bhatak jata hai toh main aapke dhyan ke bare me batana chahta hoon ki aap roj subah 15 minute ya 10 minute dhyan purvak dhyan lagakar ungaliyon se apni tarjani ko dabakar aap baithiye aur apne dhyan ko ek hi disha me kendrit kijiye ek hi subject par kendrit kijiye aapka dhyan kabhi bhatke jaayega nahi thank you thank

आपका प्रश्न है जब मैं पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान भटक जाता है पढ़ाई में कांस्टेंट कैसे हो

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  134
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो मैम माय नेम इज गुलशन प्रजापति जैसा कि आपने पुलिस ने किया है कि मैडम पढ़ाई करती हूं तो मेरा ध्यान भटक जाता है पढ़ाई में कांटेक्ट कैसे हो मुझे सुझाव चाहिए तो देखिए अगर पढ़ाई में कौन सी डेट नहीं होता है तो मेक बेस्ट कारगर मतलब जब मैं अपने कॉलेज टाइम में था तब मैं जो करता था वह बताता हूं मतलब मेरा जब भी मन नहीं लगता था पढ़ाई में भटक जाता था ध्यान कहीं और चला जाता था तुम एक बात सोचता था कि मेरे जो पेरेंट्स में पुअर फैमिली सा था तो मेरे पैरंट्स ने मुझे बहुत मेहनत करके बहुत मेहनत करके पैसे देते थे वह सोचते थे कि मैं बहुत अच्छा पढ़ाई कर रहा हूं मैं सही से पढ़ाई नहीं करता था तो फिर मैं एक बात सोचने लगा था कि यार मेरे पेरेंट्स इतना पैसे दे रहा है इतनी मेहनत कर रहा है आज अगर मैं पढ़ाई नहीं करूंगा मैं अच्छा नहीं करूंगा यह लोग मुझसे इतनी उम्मीद लगाए बैठे तो मैं इनको धोखा दे रहा हूं और उनको जब मैं कभी देखते हुए कोई मजबूरी देखता हूं तो बोले स्ट्रांग करता हूं मतलब मैं उसको इस टाइम जोन में लाता हूं कि यार हां आज ही तकलीफ है मन में लगन लगा ले तो वह राज तकलीफ है अगर जो करना होगा तो करना होगा क्योंकि बिना पढ़ाई के कुछ नहीं होगा तो मैंने इस तरह आज मैं जॉब करता हूं बहुत अच्छी जगह तो मैं बस यही कहना चाहूंगा आपसे कि आप अपने मां-बाप को अपने पेरेंट्स को या अपने हस्बैंड जो भी कोई लाइफ में उनको एक ध्यान में रखें कैन देती हां यार यह लोग मुझ से बहुत अपेक्षाएं लगाया जा घर में नहीं पड़ी तो क्या होगा तो बस इसी तरह मामा बहुत अच्छी पढ़ाई कर सकते थे

hello maam my name is gulshan prajapati jaisa ki aapne police ne kiya hai ki madam padhai karti hoon toh mera dhyan bhatak jata hai padhai me Contact kaise ho mujhe sujhaav chahiye toh dekhiye agar padhai me kaun si date nahi hota hai toh make best kargar matlab jab main apne college time me tha tab main jo karta tha vaah batata hoon matlab mera jab bhi man nahi lagta tha padhai me bhatak jata tha dhyan kahin aur chala jata tha tum ek baat sochta tha ki mere jo parents me poor family sa tha toh mere Parents ne mujhe bahut mehnat karke bahut mehnat karke paise dete the vaah sochte the ki main bahut accha padhai kar raha hoon main sahi se padhai nahi karta tha toh phir main ek baat sochne laga tha ki yaar mere parents itna paise de raha hai itni mehnat kar raha hai aaj agar main padhai nahi karunga main accha nahi karunga yah log mujhse itni ummid lagaye baithe toh main inko dhokha de raha hoon aur unko jab main kabhi dekhte hue koi majburi dekhta hoon toh bole strong karta hoon matlab main usko is time zone me lata hoon ki yaar haan aaj hi takleef hai man me lagan laga le toh vaah raj takleef hai agar jo karna hoga toh karna hoga kyonki bina padhai ke kuch nahi hoga toh maine is tarah aaj main job karta hoon bahut achi jagah toh main bus yahi kehna chahunga aapse ki aap apne maa baap ko apne parents ko ya apne husband jo bhi koi life me unko ek dhyan me rakhen can deti haan yaar yah log mujhse se bahut apekshayen lagaya ja ghar me nahi padi toh kya hoga toh bus isi tarah mama bahut achi padhai kar sakte the

हेलो मैम माय नेम इज गुलशन प्रजापति जैसा कि आपने पुलिस ने किया है कि मैडम पढ़ाई करती हूं तो

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  107
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!