बेईमान के साथ बेईमानी करना क्या जायज़ है या ना जनयाज़ है इस पर आप कहना चाहते हैं?...


user

Trainer Yogi Yogendra

Winners Creator - Founder & CEO Motivational Speaker || Career Coach || Business Coach || Marketing & Management Expert's

1:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर कैरियर को चोर कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम डिस्कशन के बाद के साथ बेईमानी करना चाहिए या नहीं और इस पर आप क्या कहना चाहेंगे तो अगर वह इंसान तो आप बिल्कुल धीमा कर रहे हैं सिंपल लैंग्वेज में काट लेते को नहीं मानी करता है तो उस इंसान को आप बदलने का प्रयास कीजिए क्योंकि जब महाभारत हुआ था तो कई बार गए जिससे उन्होंने मनाने का प्रयास किया और जो है उनको सही रास्ते पर लाने का प्रयास किया लेकिन जब अंत में नहीं आए तो उनका खात्मा अपने आप हो गया तो मेरा कहने का मतलब यही है कि वह बेईमान इंसान है उस को बदलने का प्रयास करें उसको समझाने का प्रयास करें और फिर भी अगर वह नहीं समझता है तो आप उसके रास्ते से दूर पड़ जाएं अपने आप को जो है उससे अलग कर ले जो है प्रकृति और परमात्मा उसको अपने आप सजा दे देंगे क्योंकि उसके कर्म अच्छे नहीं होंगे तो उसका फल भी अच्छा नहीं होगा और अगर आपके कर्म अच्छे होंगे तो आपका फल भी अच्छा होगा जय हिंद

hello friends main yogendra sharma Motivational speaker carrier ko chor corporate trainer aaj hum discussion ke baad ke saath baimani karna chahiye ya nahi aur is par aap kya kehna chahenge toh agar vaah insaan toh aap bilkul dheema kar rahe hain simple language me kaat lete ko nahi maani karta hai toh us insaan ko aap badalne ka prayas kijiye kyonki jab mahabharat hua tha toh kai baar gaye jisse unhone manane ka prayas kiya aur jo hai unko sahi raste par lane ka prayas kiya lekin jab ant me nahi aaye toh unka khatma apne aap ho gaya toh mera kehne ka matlab yahi hai ki vaah beiimaan insaan hai us ko badalne ka prayas kare usko samjhane ka prayas kare aur phir bhi agar vaah nahi samajhata hai toh aap uske raste se dur pad jayen apne aap ko jo hai usse alag kar le jo hai prakriti aur paramatma usko apne aap saza de denge kyonki uske karm acche nahi honge toh uska fal bhi accha nahi hoga aur agar aapke karm acche honge toh aapka fal bhi accha hoga jai hind

हेलो फ्रेंड्स मैं योगेंद्र शर्मा मोटिवेशनल स्पीकर कैरियर को चोर कॉरपोरेट ट्रेनर आज हम डिस्

Romanized Version
Likes  482  Dislikes    views  5057
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!