धनुष तोप किस देश द्वारा विकसित की गई है?...


user

Ranjeet Singh Uppal

Retired GM ONGC

2:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धनुष तोप भारत के ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड द्वारा डिवेलप की गई है भारत परमाणु शक्ति बोर्ड के अंतर्गत 42 ऑडनेंस फैक्ट्री आती हैं उसमें से या तो किसी एप्स जबलपुर फैक्ट्री में बन रही है 1970 के दशक में किसी एक फैक्ट्री में 105mm की फील्ड गन बनाई थी उसके पश्चात 80 के दशक में हमने वर्क ओर से और इज्जत लिए थे लेकिन वो कोर्स की गन भ्रष्टाचार के चक्कर में ऐसी फंसी कि उसके बाद कई दशकों तक हम कोई ऑर्गन नहीं ले पाए हालांकि वर्कोट्स वाली गन तकनीकी रूप से बहुत अच्छी थी जो 99 कारगिल वार हुआ था उसमें वो पंचगनी हमारे सबसे ज्यादा काम आई थी लेकिन जो धनुष तोप है यह बोफोर्स गन से भी पच्चीस तीस परसेंट ज्यादा बेहतर है जो गोपालगंज थी उसका गोला 28 किलोमीटर तक जा सकता था लेकिन धनुष तोप का गोला और 30 किलोमीटर दूर तक जा सकता है जो वो 420 उसमें आदमी को उठाकर गोला लोड करना पड़ता था लेकिन धनुष तोप में ऑटोमेटिक सिस्टम लगा है अपने आप बोला इसमें लोड हो जाता है इस तरीके से यह और भी कई मायनों में उससे काफी अच्छी गन है जिसका ट्रायल हमने राजस्थान के रेगिस्तान में भी किया और हिमालय के ग्लेशियर में भी किया दोनों जगह यह सक्सेसफुल रही है इसके जो एक गन की कीमत होती है 14:30 करोड़ होती है और एक गोला एक लाख कहता है गम तो हम भारत में बना रहे हैं लेकिन गोला हमने अमेरिका से इमरजेंसी में आयात किए हैं एक गोले का वजन साडे 40 किलो होता है इसमें जीपीएस सिस्टम लगा होता है जो निशाने को पहचान कर एकदम सटीक वार करता है फरवरी 18 में इसका ट्रायल हुआ था और यह गंज सेना द्वारा मंजूर कर ली गई थी और 19 में 9:00 114 दिन का ऑर्डर दे दिया है और इसमें से कुछ गन भारतीय सेना को मिल भी गई हैं और ऐसी उम्मीद है कि टोटल इसका 414 गानों का ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड को मिलने वाला है धन्यवाद

dhanush top bharat ke ardinens factory board dwara develop ki gayi hai bharat parmanu shakti board ke antargat 42 adanens factory aati hain usme se ya toh kisi apps jabalpur factory me ban rahi hai 1970 ke dashak me kisi ek factory me 105mm ki field gun banai thi uske pashchat 80 ke dashak me humne work aur se aur izzat liye the lekin vo course ki gun bhrashtachar ke chakkar me aisi fansi ki uske baad kai dashakon tak hum koi organ nahi le paye halaki workouts wali gun takniki roop se bahut achi thi jo 99 kargil war hua tha usme vo panchnagi hamare sabse zyada kaam I thi lekin jo dhanush top hai yah Bofors gun se bhi pachchis tees percent zyada behtar hai jo gopalganj thi uska gola 28 kilometre tak ja sakta tha lekin dhanush top ka gola aur 30 kilometre dur tak ja sakta hai jo vo 420 usme aadmi ko uthaakar gola load karna padta tha lekin dhanush top me Automatic system laga hai apne aap bola isme load ho jata hai is tarike se yah aur bhi kai maayano me usse kaafi achi gun hai jiska trial humne rajasthan ke registan me bhi kiya aur himalaya ke glacier me bhi kiya dono jagah yah successful rahi hai iske jo ek gun ki kimat hoti hai 14 30 crore hoti hai aur ek gola ek lakh kahata hai gum toh hum bharat me bana rahe hain lekin gola humne america se emergency me ayat kiye hain ek gole ka wajan saade 40 kilo hota hai isme GPS system laga hota hai jo nishane ko pehchaan kar ekdam sateek war karta hai february 18 me iska trial hua tha aur yah ganj sena dwara manzoor kar li gayi thi aur 19 me 9 00 114 din ka order de diya hai aur isme se kuch gun bharatiya sena ko mil bhi gayi hain aur aisi ummid hai ki total iska 414 gaano ka ardinens factory board ko milne vala hai dhanyavad

धनुष तोप भारत के ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड द्वारा डिवेलप की गई है भारत परमाणु शक्ति बोर्ड क

Romanized Version
Likes  98  Dislikes    views  979
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!