दंगा फसाद करने वालों से दंगे में हुई जान माल की कीमत वसूल किया जाए, साथ ही दंगो को भड़काने वाले लीडर्स से भी दंगो की जिम्मेदार मानकर कार्यवाही की जाए, उत्तर सतर्क दे?...


user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. [email protected]

3:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने आगे गंगा प्यार करने वालों से दिल्ली में हुई जान मान की कीमत वसूल किया जाए ताकि दंगों को भड़काने वाले लीडरशिप दंगों की जिम्मेदारी मानकर कार्रवाई की जाए हमारा मानना है कि जिन लोगों ने दंगे भड़काने दंगा किया दंगा करने वालों की कोई जाति नहीं होती ना वो हिंदू होता ना मुसलमानों से कुछ नहीं होता वह केवल टंगी हो टन टन गायो टाइम और दंगाई क्यों है आपने क्या करने की निश्चित रूप से दंगा करने के लिए कोई कीमत नहीं है कोई उसको आश्वासन मिला है उसको पैसा मिला है और पैसे के पीछे राजनीतिक पार्टियां और राजनीतिक पार्टी वह पार्टी जिस को पराजय का सामना करना पड़ा क्योंकि अपराधी नहीं गई करने वाले व्यक्तियों को हमारी पुलिस डिपार्टमेंट मरक टाइम सेट हमारा सीबीआई ईमानदारी को अपनी-अपनी ड्यूटी की कसम खाकर उन लोगों की चमड़ी उठ खड़े ने उनसे पूछा कि बताओ तुम्हारी इन दंगों के पीछे किन लोगों का हाथ उनसे कमाए और 100 घंटे हैं हमारी उन सरकारी कर्मचारियों को क्योंकि सरकारें बदलती रहती है अगर अपने कर्तव्य को नहीं निभा सकते तो इस्तीफा दे दो और आप चूड़ियां पहन लो और हमारे देश की जनता को सुकून से जीने दो और उन नेताओं को निर्वस्त्र करो उन नेताओं पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई करो चाहे वह नरेंद्र मोदी हो चाहे वह मां हो चाहे वह राहुल गांधी हो चाहे वो कोई भी पार्टी का नेता हो उस को कड़ी से कड़ी सजा दो उसको उसके जनता के सामने लाओ ताकि आंखें खुले और अगर आप ऐसा नहीं कर सकते हैं तो जितनी भी हमारी कानूनी एजेंसियां हैं वह अपने पद से इस्तीफा दे दें कि वह नपुंसक हो गए उनके बस का रोग नहीं है क्योंकि वह 2 या 10 के बैठे और वह न्याय का साथ नहीं दे सकते वह सरकार का साथ देंगे सरकार का साथ नहीं देंगे तो वह उनको मार देंगे मरने से डर लगता है तो बेहतर की छोड़ दो फिल्मों की बात बहुत दिनों के लिए बहुत काम धाम में भूखा तो कोई मरेगा नहीं इतनी दौलत कमाई होगी अपने पद पर उचित न्याय का साथ दो अगर आज आपने मैं का साथ नहीं दिया तो कल आपकी संतान के साथ में यही होगा आपके परिवार के साथ भी यही होगा उसमें आपको मेरी बातें आ जाएंगी और आपको बहुत दुखी हूं क्यों मुझे कहते हैं मेरे इन प्रश्नों के उत्तर आती है जवाब मिलते हैं शर्मा जी आपने भी दुनिया नहीं देखती है ठीक है सर जिंदगी कितने साल पुरानी है दुनिया नहीं देखी आज के युवाओं ने बहुत कुछ दिया सोशल मीडिया में जो देखनी है सब कुछ देख लिया की उत्पत्ति में उत्पादन और उत्पादन में उपयोगिता और उपयोगिता उत्पत्ति उत्पत्ति में क्या फर्क है बाकी एक फार्मूला डिटेल में डिग्री हासिल कर ली है 1 फरवरी से 50 फार्मूले बनाकर दिखाएं तब हम उनकी काव्य को चुनने इंसान के कर्म से होती है शब्दों से नहीं होती है तो निश्चित रूप से उन राजनेताओं को भी कठोर से कठोर सजा दी जाए उनकी संपत्ति हरदी जाए उनकी संपत्ति जप्त की जाए और कुशलता से मुक्त किया जाए और उनको कठोर से कठोर दंड दिया

aapne aage ganga pyar karne walon se delhi mein hui jaan maan ki kimat vasool kiya jaaye taki dango ko bhadkaane waale leadership dango ki jimmedari maankar karyawahi ki jaaye hamara manana hai ki jin logo ne dange bhadkaane danga kiya danga karne walon ki koi jati nahi hoti na vo hindu hota na musalmanon se kuch nahi hota vaah keval tangi ho ton ton gayo time aur dangaii kyon hai aapne kya karne ki nishchit roop se danga karne ke liye koi kimat nahi hai koi usko ashwasan mila hai usko paisa mila hai aur paise ke peeche raajnitik partyian aur raajnitik party vaah party jis ko parajay ka samana karna pada kyonki apradhi nahi gayi karne waale vyaktiyon ko hamari police department marak time set hamara cbi imaandaari ko apni apni duty ki kasam khakar un logo ki chamadi uth khade ne unse poocha ki batao tumhari in dango ke peeche kin logo ka hath unse kamaye aur 100 ghante hain hamari un sarkari karmachariyon ko kyonki sarkaren badalti rehti hai agar apne kartavya ko nahi nibha sakte toh istifa de do aur aap churian pahan lo aur hamare desh ki janta ko sukoon se jeene do aur un netaon ko nirvastra karo un netaon par kadi se kadi karyawahi karo chahen vaah narendra modi ho chahen vaah maa ho chahen vaah rahul gandhi ho chahen vo koi bhi party ka neta ho us ko kadi se kadi saza do usko uske janta ke saamne laao taki aankhen khule aur agar aap aisa nahi kar sakte hain toh jitni bhi hamari kanooni Agenciyan hain vaah apne pad se istifa de de ki vaah napunsak ho gaye unke bus ka rog nahi hai kyonki vaah 2 ya 10 ke baithe aur vaah nyay ka saath nahi de sakte vaah sarkar ka saath denge sarkar ka saath nahi denge toh vaah unko maar denge marne se dar lagta hai toh behtar ki chod do filmo ki baat bahut dino ke liye bahut kaam dhaam mein bhukha toh koi marega nahi itni daulat kamai hogi apne pad par uchit nyay ka saath do agar aaj aapne main ka saath nahi diya toh kal aapki santan ke saath mein yahi hoga aapke parivar ke saath bhi yahi hoga usme aapko meri batein aa jayegi aur aapko bahut dukhi hoon kyon mujhe kehte hain mere in prashnon ke uttar aati hai jawab milte hain sharma ji aapne bhi duniya nahi dekhti hai theek hai sir zindagi kitne saal purani hai duniya nahi dekhi aaj ke yuvaon ne bahut kuch diya social media mein jo dekhni hai sab kuch dekh liya ki utpatti mein utpadan aur utpadan mein upayogita aur upayogita utpatti utpatti mein kya fark hai baki ek formula detail mein degree hasil kar li hai 1 february se 50 formulae banakar dikhaen tab hum unki kavya ko chunane insaan ke karm se hoti hai shabdon se nahi hoti hai toh nishchit roop se un rajnetao ko bhi kathor se kathor saza di jaaye unki sampatti harrdy jaaye unki sampatti japt ki jaaye aur kushalata se mukt kiya jaaye aur unko kathor se kathor dand diya

आपने आगे गंगा प्यार करने वालों से दिल्ली में हुई जान मान की कीमत वसूल किया जाए ताकि दंगों

Romanized Version
Likes  339  Dislikes    views  3534
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!