मुझे लगता है जहाँ मेरी ज़रूरत होती है मैं पहुँच जाता हूँ और अपना काम करके वापस आ जाता हूँ क्या यह सही है?...


user
0:16
Play

Likes  297  Dislikes    views  2908
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr. Suman Aggarwal

Personal Development Coach

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जब आप कितने अच्छे से जहां की जरूरत होती है वहां पहुंच गई जाते हो और काम करके वापस भी आ जाते हो तो यहां आपके सवाल के बदले में मैं आपसे यह सवाल करना चाहती हूं कि आपके दिमाग में यह सवाल आया ही क्यों आप खुद पर यह डाउट क्यों कर रहे हो क्या यह सही है या गलत है प्लीज आप जरूर आंसर करें

jab aap kitne acche se jaha ki zarurat hoti hai wahan pohch gayi jaate ho aur kaam karke wapas bhi aa jaate ho toh yahan aapke sawal ke badle mein main aapse yeh sawal karna chahti hoon ki aapke dimag mein yeh sawal aaya hi kyon aap khud par yeh doubt kyon kar rahe ho kya yeh sahi hai ya galat hai please aap zaroor answer karein

जब आप कितने अच्छे से जहां की जरूरत होती है वहां पहुंच गई जाते हो और काम करके वापस भी आ जात

Romanized Version
Likes  70  Dislikes    views  1438
WhatsApp_icon
play
user

Likes  1  Dislikes    views  173
WhatsApp_icon
user

Vimla Bidawatka

Spiritual Thinker

1:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका कहना है कि मुझे लगता है जहां मेरी जरूरत होती है मैं पहुंच जाता हूं और अपना काम करके वापस आ जाता हूं तो आपको जानना है कि यह सही है या गलत यह हंड्रेड परसेंट सही है और बहुत अच्छी बात है और जो भी काम आप जब जरूरत रहती है और अगर आप वहां पहुंच जाते हैं अपना काम करते हैं फिर दिमाग में भी मुस्कान को ना लेकर आए और अंदर से यह अभिमान भी यह प्रयोग भी नहीं हो कि मतलब देखो मैं समय पर पहुंच गया मैंने यह काम किया आप निष्काम का मतलब माफ भगवान की तरफ से आपको यह काम मिला आपने किया बस और वापस आ गए यह बेस्ट है मतलब की बहुत अच्छी आदत है यह की जरूरत होने पर किसी की मदद की और फिर वहां से आ गए फिर नेक्स्ट कभी कोई जरूरत हुई फिर चले गए फिर दिमाग में कोई भी तरह का प्राउड नहीं कि मतलब मेरे कारण उनका यह काम हुआ वह जो आपको काम मिला वह ऊपर वाला भगवान की इच्छा से आपको काम मिला तो वह आपने किया

aapka kehna hai ki chahiye mujhe lagta hai jaha meri zarurat hoti hai pohch jata hoon aur apna kaam karke wapas aa jata hoon to aapko chahiye janana hai ki chahiye yeh sahi hai ya galat yeh hundred percent sahi hai aur bahut acchi baat hai aur jo bhi kaam aap jab zarurat rehti hai aur agar aap wahan pohch jaate hain apna kaam karte hain phir dimag mein bhi muskaan ko na lekar aaye aur andar se yeh abhimaan bhi yeh prayog bhi nahi ho ki chahiye matlab dekho main samay par pohch gaya maine yeh kaam kiya aap chahiye ka matlab maaf bhagwan ki taraf se aapko chahiye yeh kaam mila aapne kiya bus aur wapas aa gaye yeh best hai matlab ki bahut acchi aadat hai yeh ki zarurat hone par kisi ki madad ki aur phir wahan se aa gaye phir next kabhi koi zarurat hui phir chale gaye phir dimag mein koi bhi tarah ka proud nahi ki chahiye matlab mere kaaran unka yeh kaam hua wah jo aapko chahiye kaam mila wah upar wala bhagwan ki icha se aapko chahiye kaam mila to wah aapne kiya

आपका कहना है कि मुझे लगता है जहां मेरी जरूरत होती है मैं पहुंच जाता हूं और अपना काम करके व

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  119
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुनना को श्रीकृष्ण सा बनाया इससे बढ़कर और क्या बात चाहिए आपके घर जला सकते अपना पहुंचते हैं और अपना काम करके वापस आ जाते हैं तो महाभारत के लिए कष्ट क्यों नहीं लगता है आपको बधाई देता हूं इसको बनाए रखें और ईश्वर से प्रार्थना करें कि आप हमेशा ऐसे ही रहे सदा खुश रहेंगे आनंद लीजिए जीवन का आपको ईश्वर ने शायद इसीलिए भेजा है कि आप कहोगे काम आते रहे आपको काम भी निश्चित रूप से कभी भी अधूरा नहीं आएगा पूर्ण हो जाएगा धन्यवाद

sunana ko shrikrishna sa banaya isse badhkar aur kya baat chahiye aapke ghar jala sakte apna pahunchate hain aur apna kaam karke wapas aa jaate hain toh mahabharat ke liye kasht kyon nahi lagta hai aapko badhai deta hoon isko banaye rakhen aur ishwar se prarthna kare ki aap hamesha aise hi rahe sada khush rahenge anand lijiye jeevan ka aapko ishwar ne shayad isliye bheja hai ki aap kahoge kaam aate rahe aapko kaam bhi nishchit roop se kabhi bhi adhura nahi aayega purn ho jaega dhanyavad

सुनना को श्रीकृष्ण सा बनाया इससे बढ़कर और क्या बात चाहिए आपके घर जला सकते अपना पहुंचते है

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  440
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

1:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे लगता है कि आप कर रहे हैं वह सही है क्योंकि आज ना तो किसके पास इतना वक्त है कि वह किसी और की जरूरत में पहुंच जाए और ना ही मुझे लगता है कि लोगों को यह चीज समझ में आती है कि कोई उनके काम आया है लेकिन फिर भी अगर आपको इसमें संतुष्टि मिलती है आपको यह सही लगता है कि आपको कहीं जाकर किसी के काम आना चाहिए तू मुझे लगता है यह सही कदम है क्योंकि आज की भागदौड़ वाली जिंदगी में इंसान का खुद का संतुष्ट रहना खुद का सही होना और खुद के लिए खुश होना बहुत जरूरी है पैसा करके संतुष्ट रहते हैं और आपको अच्छा महसूस होता है तो मुझे लगता है आप बिल्कुल सही करते हैं क्योंकि आज के समय में लोगों लेकिन कोई भी उस जरूरत को बताना नहीं चाहता है कोई भी किसी का एहसान नहीं लेना चाहता है और लोगों को यह लगता है कि अगर कोई सामने वाला हमारे काम आएगा तो हमें भी बुरे वक्त में या उसकी जरूरत थी उसे उसके पास जाना पड़ेगा उसकी काम आना पड़ेगा उसकी मदद करनी पड़ेगी तो लोग इन चीजों से कतराते हैं लेकिन आप विश्वास नहीं करते हैं कि आपको कोई फर्क नहीं पड़ता कि लोग क्या सोचेंगे बस आपको पता चलता है कि आपकी जरूरत है आप चाहते हैं और वहां आपके लायक जो भी कार्य होता है वह करके वापस आ जाते हैं तो मुझे लगता है यह बहुत ही अच्छा कदम है और एक विवाह एक तरह की जिससे हमारा मन संतुष्ट होता है और हम अपने आप में अच्छा महसूस करते हैं और आज की भागदौड़ की जिंदगी में अगर यह तनावरहित काम आप करते हैं तो मुझे लगता है कि आप बहुत ही अच्छा सराहनीय काम करते हैं और यह आपके लिए बहुत अच्छा है

mujhe lagta hai ki chahiye aap kar chahiye rahe hain wah sahi hai kyonki aaj na to kiske paas itna waqt hai ki chahiye wah kisi aur ki zarurat mein pohch jaye aur na hi mujhe lagta hai ki chahiye logo chahiye ko yeh cheez samajh mein aati hai ki chahiye koi unke kaam aaya hai lekin phir bhi agar aapko chahiye isme santushti milti hai aapko chahiye yeh sahi lagta hai ki chahiye aapko chahiye kahin jaakar kisi ke kaam aana chahiye tu mujhe lagta hai yeh sahi kadam hai kyonki aaj ki bhagdaud wali zindagi mein insaan ka khud ka santusht rehna khud ka sahi hona aur khud ke liye khush hona bahut zaroori hai paisa karke santusht rehte hain aur aapko chahiye accha mehsus hota hai to mujhe lagta hai aap bilkul sahi karte hain kyonki aaj ke samay mein logo chahiye lekin koi bhi us zarurat ko batana nahi chahta hai koi bhi kisi ka ehsaan nahi lena chahta hai aur logo chahiye ko yeh lagta hai ki chahiye agar koi samane wala hamare kaam aaega to hume bhi bure waqt mein ya uski zarurat thi use uske paas jana padega uski kaam aana padega uski madad karni padegi to log in chijon se chahiye hain lekin aap vishwas nahi karte hain ki chahiye aapko chahiye koi fark nahi padata ki chahiye log kya sochenge bus aapko chahiye pata chalta hai ki chahiye aapki zarurat hai aap chahte hain aur wahan aapke layak jo bhi karya hota hai wah karke wapas aa jaate hain to mujhe lagta hai yeh bahut hi accha kadam hai aur ek vivah ek tarah ki jisse hamara man santusht hota hai aur hum apne aap mein accha mehsus karte hain aur aaj ki bhagdaud ki zindagi mein agar yeh chahiye kaam aap karte hain to mujhe lagta hai ki chahiye aap bahut hi accha chahiye kaam karte hain aur yeh aapke liye bahut accha hai

मुझे लगता है कि आप कर रहे हैं वह सही है क्योंकि आज ना तो किसके पास इतना वक्त है कि वह किसी

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  169
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक ही जैसे कि आपने बोला कि आपको लगता है कि जहां पर आप की जरूरत है वहां पर पहुंच जाते हैं काम करके आप वापस आ जाते BP पहली चीज तो मुझे ऐसा लगता है कि आपको जो भी चीज सही लगता है आपके हिसाब से कि हां जो चीज आपको संतुष्टि देता है आपको जो सही लगता है कि आपको करने में अच्छा लग रहा है ठीक है अब बिल्कुल करना चाहिए आपको एक ऐसा कुछ नहीं है कि अगर आप बिल्कुल किसी की जरूरत जरूरत पड़ती है अगर आपकी जरूरत पड़ती है कहीं पर किसी की आप मदद करते हैं तो इससे अच्छी बात क्या हो सकती है अभी कुछ और साल साथ आपको यह फील होता है एहसास होता है कि आपको कहीं पर जरूरत है वरना आज के समय टाइम पर किसी और को किसी और की परवाह भी नहीं होती है कि अपने आप जब से जो है टाइम नहीं मिलता क्योंकि अगर आप इसमें टाइम निकालते किसी के बारे में सोच रहे थे वह अच्छी चीज है और अर्जुन से कंटिन्यू रखना चाहिए ठीक है और आपको जैसे अच्छा लगता है इसमें करने में तो जरूर करना चाहिए

ek hi jaise ki chahiye aapne bola ki chahiye aapko chahiye lagta hai ki chahiye jaha par aap ki zarurat hai wahan par pohch jaate hai kaam karke aap wapas aa jaate BP pehli cheez to mujhe aisa lagta hai ki chahiye aapko chahiye jo bhi cheez sahi lagta hai aapke hisab se ki chahiye haan jo cheez aapko chahiye santushti deta hai aapko chahiye jo sahi lagta hai ki chahiye aapko chahiye karne mein accha lag raha hai theek hai ab bilkul karna chahiye aapko chahiye ek aisa kuch nahi hai ki chahiye agar aap bilkul kisi ki zarurat zaroorat padhti hai agar aapki zarurat padhti hai kahin par kisi ki aap madad karte hai to isse acchi baat kya ho sakti hai abhi kuch aur saal saath aapko chahiye yeh feel hota hai ehsaas hota hai ki chahiye aapko chahiye kahin par zarurat hai varna aaj ke samay time par kisi aur ko kisi aur ki parvaah bhi nahi hoti hai ki chahiye apne aap jab se jo hai time nahi milta kyonki agar aap isme time nikalate kisi ke bare mein soch rahe the wah acchi cheez hai aur arjun se continue rakhna chahiye theek hai aur aapko chahiye jaise accha lagta hai isme karne mein to jarur karna chahiye

एक ही जैसे कि आपने बोला कि आपको लगता है कि जहां पर आप की जरूरत है वहां पर पहुंच जाते हैं क

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  135
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!