मुझे किसे प्राथमिकता देनी चाहिए - माता पिता या भगवान को?...


user

Bhavin J. Shah

Life Coach

1:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपके सवाल में ही इसका जवाब छुपा है अवश्य माता पिता को भगवान है नहीं है हमने कहीं देखा नहीं है लेकिन भगवान के रूप में हमें माता पिता जरूर मिले माता पिता एक ऐसे व्यक्ति हैं जिन्होंने इस पृथ्वी पृथ्वी पर आने का हमको मौका दिया है आज भारत में 80 लाख से ज्यादा भ्रूण हत्याएं होती है अगर हमारे माता पिता ने सोचा होता कि हम को जन्म ही नहीं देता है तो शायद हम आज पृथ्वी पर ही नहीं होते अगर हम है तो हमको यह विचार आता है कि माता-पिता को प्राथमिकता दे या भगवान को दे अगर हम होते ही नहीं तो यह बेचारी कहां से आता है तो ऐसी बात हो गई कि माता-पिता है फिर भी हम उनको छोड़ के भगवान के पीछे भाग रहे हैं भगवान श्री गणपति ने यानी कि गणेश जी ने भी जब माता-पिता को तीन बार घूम घूम गोल घूमे थे तीन बार आजू-बाजू तब उन्होंने पूरी पृथ्वी के दक्षिणा कर दी थी ऐसा हमारे शास्त्रों में कहा गया है कि भगवान जी से भगवान जब अपने माता पिता को भगवान मानते हैं तब हम तो इसके बारे में भी बात करें या सवाल जवाब करें जरा सोचिए थैंक यू

aapke sawaal mein hi iska jawab chupa hai avashya mata pita ko bhagwan hai nahi hai humne kahin dekha nahi hai lekin bhagwan ke roop mein hamein mata pita zaroor mile mata pita ek aise vyakti hain jinhone is prithvi prithvi par aane ka hamko mauka diya hai aaj bharat mein 80 lakh se zyada bharun hatyaayen hoti hai agar hamare mata pita ne socha hota ki hum ko janam hi nahi deta hai toh shayad hum aaj prithvi par hi nahi hote agar hum hai toh hamko yah vichar aata hai ki mata pita ko prathamikta de ya bhagwan ko de agar hum hote hi nahi toh yah bechari kahaan se aata hai toh aisi baat ho gayi ki mata pita hai phir bhi hum unko chod ke bhagwan ke peeche bhag rahe hain bhagwan shri ganapati ne yani ki ganesh ji ne bhi jab mata pita ko teen baar ghum ghum gol ghume the teen baar aju baju tab unhone puri prithvi ke dakshina kar di thi aisa hamare shastron mein kaha gaya hai ki bhagwan ji se bhagwan jab apne mata pita ko bhagwan maante hain tab hum toh iske bare mein bhi baat kare ya sawaal jawab kare zara sochiye thank you

आपके सवाल में ही इसका जवाब छुपा है अवश्य माता पिता को भगवान है नहीं है हमने कहीं देखा नहीं

Romanized Version
Likes  11  Dislikes    views  350
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!