हम अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माथा में और मन में बनने ही नहीं देता आलस ही आ जाता है क्या करें?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जय श्री राम संदीप एक योगा शिक्षक बात करेंगे आपके प्रश्न कि आपको प्रश्न है मैं अच्छा बनना चाह अच्छा बनना चाहते हैं जी बहुत अच्छी बात है अगर आपने तो सोचा तो आप वैसे ही अच्छे बन गए क्योंकि बनने से पहले सोच आना बहुत जरूरी है उसके बाद आप पूछते हैं लेकिन माता और मन में बनने ही नहीं देता सर आप योगा कीजिए योगा में प्राणायाम कीजिए आपका जो दिमाग होगा वह संतुलित होगा और आप आगे कुछ और अच्छा कर पाएंगे आलस आ जाता है क्या करें आलस नहीं आएगा आपको आपने आधी से ज्यादा जंग वहीं जितनी जब आपने यह कह दिया कि आप अच्छा बनना चाहते हो तो आ गई आप अच्छा बन गए बाकी की चीजें योगा से ठीक हो जाएगी अभी होगा कि जी आपका प्राणायाम कीजिए आप मेडिटेशन कीजिए आपका मन होगा संतुलित और सब चीजें होगी बहुत आसान जय श्री राम

jai shri ram sandeep ek yoga shikshak baat karenge aapke prashna ki aapko prashna hai main accha banna chah accha banna chahte hain ji bahut achi baat hai agar aapne toh socha toh aap waise hi acche ban gaye kyonki banne se pehle soch aana bahut zaroori hai uske baad aap poochhte hain lekin mata aur man me banne hi nahi deta sir aap yoga kijiye yoga me pranayaam kijiye aapka jo dimag hoga vaah santulit hoga aur aap aage kuch aur accha kar payenge aalas aa jata hai kya kare aalas nahi aayega aapko aapne aadhi se zyada jung wahi jitni jab aapne yah keh diya ki aap accha banna chahte ho toh aa gayi aap accha ban gaye baki ki cheezen yoga se theek ho jayegi abhi hoga ki ji aapka pranayaam kijiye aap meditation kijiye aapka man hoga santulit aur sab cheezen hogi bahut aasaan jai shri ram

जय श्री राम संदीप एक योगा शिक्षक बात करेंगे आपके प्रश्न कि आपको प्रश्न है मैं अच्छा बनना च

Romanized Version
Likes  8  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
16 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Dr Raj Kumar Kochar

Ayurvedic Doctors ( Researcher )

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लगता है आपका दिमाग आपको आलसी बना रहा है आप अपने स्नायु तंत्र पर काबू पाया और अपने आलस्य को त्यागी है और जहां तक संबंध होता है आप अच्छा बनने की कोशिश जो करना चाहते हैं उसको करते रहें और अपने सभी को इतना राम ना दें कि वह आपको लगने लगेगा कि आपका जो अच्छा बनने की प्रक्रिया है उनको ही लोग देना मनुष्य की सबसे बड़ी कमजोरी सबसे बड़ा दुश्मन आलसी माना जाता है आप आलस्य त्याग देंगे नींद आपसे कोसों दूर भाग जाएगी आप आलस्य त्याग देंगे आप आलस्य त्याग देंगे आपके शरीर में एनर्जी आ जाएगी आप आलस्य त्याग देंगे आपको ऊर्जा मिलेगी आप जितना ज्यादा आलस्य करेंगे उतना ज्यादा ही आप विषम परिस्थितियों में जाते जाएंगे इसलिए मेरा कहना मान है और आप अच्छे बनने के लिए नहीं अपने शरीर को स्वस्थ रखने के लिए अपने आप के आस पास के वातावरण को शुद्ध करने के लिए स्वस्थ रखने के लिए अपने परिवार वालों को संबल देने के लिए आपको हालत का त्याग करना ही चाहिए

lagta hai aapka dimag aapko aalsi bana raha hai aap apne snayu tantra par kabu paya aur apne aalasya ko tyagi hai aur jaha tak sambandh hota hai aap accha banne ki koshish jo karna chahte hain usko karte rahein aur apne sabhi ko itna ram na de ki vaah aapko lagne lagega ki aapka jo accha banne ki prakriya hai unko hi log dena manushya ki sabse badi kamzori sabse bada dushman aalsi mana jata hai aap aalasya tyag denge neend aapse koson dur bhag jayegi aap aalasya tyag denge aap aalasya tyag denge aapke sharir me energy aa jayegi aap aalasya tyag denge aapko urja milegi aap jitna zyada aalasya karenge utana zyada hi aap visham paristhitiyon me jaate jaenge isliye mera kehna maan hai aur aap acche banne ke liye nahi apne sharir ko swasth rakhne ke liye apne aap ke aas paas ke vatavaran ko shudh karne ke liye swasth rakhne ke liye apne parivar walon ko sambal dene ke liye aapko halat ka tyag karna hi chahiye

लगता है आपका दिमाग आपको आलसी बना रहा है आप अपने स्नायु तंत्र पर काबू पाया और अपने आलस्य को

Romanized Version
Likes  354  Dislikes    views  4102
WhatsApp_icon
user

Mukesh Dandriyal

Manufacturer & Trader

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्त आपने लिखा पत्थर बनना चाहता है लेकिन आपके मन में आपके दिमाग में नहीं बनने देती वह चीज और आपको आलस आ जाता है क्या करें तो दोस्तों सबसे बड़ी बात है कि आपके मन में पक्का विचार नहीं है यदि अच्छा बनने के लिए आपको एक कार्य करना चाह रहे हैं पहले तो आप बुरे कहां है हम बुरे हैं नहीं आपने लिखा ही नहीं है लेकिन आप कुछ कार्य करना चाहता आपको तो मन और दिमाग की बात में जो है ना वह बाहर अस्मत भरे पलादर नीचा करले कि आपको करना क्या है यदि आप हवा में सोचते हैं तो अलग कर देते हैं तो इसका मतलब आप नहीं बनना चाहते हैं यदि आप बनना चाहते हैं तो आपको आलस आ ही नहीं सकता जब आपको आना है वैसे आप ही सोचिए क्या बच्चा नहीं बनना चाहते हैं यदि बनना चाहते हो तो आपको आता आपको सब्जेक्ट काम करते थैंक यू

dost aapne likha patthar banna chahta hai lekin aapke man me aapke dimag me nahi banne deti vaah cheez aur aapko aalas aa jata hai kya kare toh doston sabse badi baat hai ki aapke man me pakka vichar nahi hai yadi accha banne ke liye aapko ek karya karna chah rahe hain pehle toh aap bure kaha hai hum bure hain nahi aapne likha hi nahi hai lekin aap kuch karya karna chahta aapko toh man aur dimag ki baat me jo hai na vaah bahar asmat bhare paladar nicha karle ki aapko karna kya hai yadi aap hawa me sochte hain toh alag kar dete hain toh iska matlab aap nahi banna chahte hain yadi aap banna chahte hain toh aapko aalas aa hi nahi sakta jab aapko aana hai waise aap hi sochiye kya baccha nahi banna chahte hain yadi banna chahte ho toh aapko aata aapko subject kaam karte thank you

दोस्त आपने लिखा पत्थर बनना चाहता है लेकिन आपके मन में आपके दिमाग में नहीं बनने देती वह चीज

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  1352
WhatsApp_icon
user

Naresh Kumar

Sports Coach and Ayurveda Treatment

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इसके लिए आप है सुबह क्यों करें सुबह जल्दी उठते हैं योग करेंगे तो आपका दिमाग व सेटअप हो जाएगा तो आप उसके लिए योग करें सुबह जल्दी उठते हैं सुबह पानी के गुण गुना थोड़ा और इसमें प्रयासों दूसरा मेडिटेशन और शोषण जरूर करें स्कोर आपका काफी फायदा मिलेगा थैंक यू

iske liye aap hai subah kyon kare subah jaldi uthte hain yog karenge toh aapka dimag va setup ho jaega toh aap uske liye yog kare subah jaldi uthte hain subah paani ke gun guna thoda aur isme prayaso doosra meditation aur shoshan zaroor kare score aapka kaafi fayda milega thank you

इसके लिए आप है सुबह क्यों करें सुबह जल्दी उठते हैं योग करेंगे तो आपका दिमाग व सेटअप हो जाए

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  244
WhatsApp_icon
user
3:07
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन आपका है कि आप अच्छा बनना चाहते तो है लेकिन आप उसके लिए प्लान अपने सपने देख लिए क्लीमेंट करना आप से नहीं हो पा रहा है तो आपके लिए मेरे पास मेरे पास चलाई है आप अपने मन में या बैठाने की हमें हमने जो लक्ष्य रखा है हमने हमारे मन में हमारे मन में जो सपने आए हैं उस सपने को हमें पेमेंट कैसे कर सकते हैं उसके प्रति हम किस तरीके से उस काम को कंप्लीट करते हैं एक जिज्ञासा एक एनर्जी लेवल एक जुनून पैदा करिए ताकि आप जो है उस काम को कर सकें हालांकि उसे हासिल कर लेता है हालत को तो वह आलसी हो जाता है अगर कोई उस पर काबू कर लेता है तो सफल हो जाता है उसकी तरफ चला जाता है कि वो खाने का टाइम से कुछ लोग ऐसे हैं कि जो स्वयं बनाते हैं सब खाते भी अपने काम को लेकर तल्लीन लगन चीज है कि हमें खाना बनाना हमें खाना है लेकिन कुछ लोगों का उन्हें पता है कि हमें मिल जाएगा लेकिन वह अपने स्वास्थ्य को लेकर अपने काम को लेकर इतना आकर्षित नहीं रहते इतना उत्सुक नहीं रहते कि जिसके कारण है जो है उन पर आना सा भी रहता है जैसे आप अपनी को कह रहे हो कि आप अच्छा बनना तो चाहते हैं लेकिन जो मंच निबंध अपने मन और विचार को जो है एक साथ रखें और जो भी काम करना जो भी आपने सपने देख रहे थे उसके बाद उसको अपने मन और कर्म को दोनों को साथ लेकर चलें ताकि आप आलस्य से चीजों से दूर दूसरा एक और मैं कल आपको देना चाहूंगा अगर आलस कि आपको ज्यादा दिलीप जी कभी-कभी ऐसा होता है कि जाते हैं हमारे को भी बढ़ावा देता है तो प्लीज आप अगर ऐसी कोई चीज नहीं तो आपने आ सकते हैं थैंक यू

lekin aapka hai ki aap accha banna chahte toh hai lekin aap uske liye plan apne sapne dekh liye clement karna aap se nahi ho paa raha hai toh aapke liye mere paas mere paas chalai hai aap apne man me ya baithne ki hamein humne jo lakshya rakha hai humne hamare man me hamare man me jo sapne aaye hain us sapne ko hamein payment kaise kar sakte hain uske prati hum kis tarike se us kaam ko complete karte hain ek jigyasa ek energy level ek junun paida kariye taki aap jo hai us kaam ko kar sake halaki use hasil kar leta hai halat ko toh vaah aalsi ho jata hai agar koi us par kabu kar leta hai toh safal ho jata hai uski taraf chala jata hai ki vo khane ka time se kuch log aise hain ki jo swayam banate hain sab khate bhi apne kaam ko lekar tallinn lagan cheez hai ki hamein khana banana hamein khana hai lekin kuch logo ka unhe pata hai ki hamein mil jaega lekin vaah apne swasthya ko lekar apne kaam ko lekar itna aakarshit nahi rehte itna utsuk nahi rehte ki jiske karan hai jo hai un par aana sa bhi rehta hai jaise aap apni ko keh rahe ho ki aap accha banna toh chahte hain lekin jo manch nibandh apne man aur vichar ko jo hai ek saath rakhen aur jo bhi kaam karna jo bhi aapne sapne dekh rahe the uske baad usko apne man aur karm ko dono ko saath lekar chalen taki aap aalasya se chijon se dur doosra ek aur main kal aapko dena chahunga agar aalas ki aapko zyada dilip ji kabhi kabhi aisa hota hai ki jaate hain hamare ko bhi badhawa deta hai toh please aap agar aisi koi cheez nahi toh aapne aa sakte hain thank you

लेकिन आपका है कि आप अच्छा बनना चाहते तो है लेकिन आप उसके लिए प्लान अपने सपने देख लिए क्लीम

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  66
WhatsApp_icon
user

Dr Jagdish R Gadhavi

Ayurvedic Doctor

0:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माता और मन में बने ही नहीं देता हंसी आ जाती है अरे क्या दोस्त या मेरे देखो आप सुबह उठकर योगा प्राणायाम कीजिए आधे घंटे तक उसका प्रयोग अवश्य कीजिए सुबह उठकर 6:30 से 5:30 से 6:30 तक अगर जल्दी उठ तो 5:30 से 6:00 तक शाम को भी 5:30 से 6:00 बजे तक या 7:00 से 8:00 तक आधा घंटा आधा घंटा दो बार आप योगा कीजिए प्रणाम कीजिए तो आपके मन की हालत सब कुछ निकल जाएगी और आप फ्रेश रहेंगे

aap accha banna chahte hain lekin mata aur man me bane hi nahi deta hansi aa jaati hai are kya dost ya mere dekho aap subah uthakar yoga pranayaam kijiye aadhe ghante tak uska prayog avashya kijiye subah uthakar 6 30 se 5 30 se 6 30 tak agar jaldi uth toh 5 30 se 6 00 tak shaam ko bhi 5 30 se 6 00 baje tak ya 7 00 se 8 00 tak aadha ghanta aadha ghanta do baar aap yoga kijiye pranam kijiye toh aapke man ki halat sab kuch nikal jayegi aur aap fresh rahenge

आप अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माता और मन में बने ही नहीं देता हंसी आ जाती है अरे क्या दोस्

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  507
WhatsApp_icon
user

Dr.Mohsin Naqvi

Doctor (Homeopath)

1:25
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन अगर आप अच्छा बनना चाहते हैं तो आप कर्म से अच्छे बन सकते हैं अगर आप कर्म करेंगे तभी आप अच्छे बन पाएंगे आप अगर विचार करते रहेंगे तो विचार करने से कोई भी अच्छा नहीं बन सकता और कर्म आप तब कर पाएंगे जब आपको पूर्ण रूप से किसी व्यक्ति का यह किसी चीज के बारे में पूरा ज्ञान होगा तो ज्ञान की खोज करें आप सो ही अच्छे बनते चले जाएंगे और कर्म की भूमि को अपनी बार-बार बार-बार खाद देने की जरूरत होती है आज उसकी कर्म के लिए ही होता है ज्ञान और ज्ञान आपको मिलेगा शिक्षा से और शिक्षा भी संपूर्ण कर्म और संपूर्ण मानव जाति के लिए एक ऐसा संसाधन है जो कभी भी नुकसान नहीं पहुंचाता लिहाजा शिक्षा को प्राप्त करें पढ़ाई करें जो भी आप सोच रहे हैं उसको तर्क के माध्यम से कर्म की भूमि पर बने तो आपको फल मिलेगा और आप अच्छे से अच्छे बनते चले जाएंगे

lekin agar aap accha banna chahte hain toh aap karm se acche ban sakte hain agar aap karm karenge tabhi aap acche ban payenge aap agar vichar karte rahenge toh vichar karne se koi bhi accha nahi ban sakta aur karm aap tab kar payenge jab aapko purn roop se kisi vyakti ka yah kisi cheez ke bare me pura gyaan hoga toh gyaan ki khoj kare aap so hi acche bante chale jaenge aur karm ki bhoomi ko apni baar baar baar baar khad dene ki zarurat hoti hai aaj uski karm ke liye hi hota hai gyaan aur gyaan aapko milega shiksha se aur shiksha bhi sampurna karm aur sampurna manav jati ke liye ek aisa sansadhan hai jo kabhi bhi nuksan nahi pohchta lihaja shiksha ko prapt kare padhai kare jo bhi aap soch rahe hain usko tark ke madhyam se karm ki bhoomi par bane toh aapko fal milega aur aap acche se acche bante chale jaenge

लेकिन अगर आप अच्छा बनना चाहते हैं तो आप कर्म से अच्छे बन सकते हैं अगर आप कर्म करेंगे तभी आ

Romanized Version
Likes  51  Dislikes    views  652
WhatsApp_icon
user

Anil Ramola

Yoga Instructor | Engineer

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन में क्या होता है कि आलस एक बहुत बड़ा शत्रु है मनुष्य का आप चाहते हैं कि आपके जीवन में आल्हा सुनाएं तो इसके लिए आपको कोशिश भी करनी पड़ेगी अपने मन को दयो नाम रहेगा और संकल्प पहुंची दृढ़ करना पड़ेगा तो खुशी सुबह जल्दी उठने की और अगर आप योगासन और प्राणायाम करते हैं तो आपके दर्शन कल का और बंद हो जाएगा और आपका जो हालत है उनके दूध खत्म हो जाएगा

jeevan me kya hota hai ki aalas ek bahut bada shatru hai manushya ka aap chahte hain ki aapke jeevan me aalha sunaen toh iske liye aapko koshish bhi karni padegi apne man ko dayo naam rahega aur sankalp pahuchi dridh karna padega toh khushi subah jaldi uthane ki aur agar aap yogasan aur pranayaam karte hain toh aapke darshan kal ka aur band ho jaega aur aapka jo halat hai unke doodh khatam ho jaega

जीवन में क्या होता है कि आलस एक बहुत बड़ा शत्रु है मनुष्य का आप चाहते हैं कि आपके जीवन में

Romanized Version
Likes  384  Dislikes    views  2691
WhatsApp_icon
user

Ram Kumar Anil Prajapati

Civil Aspirant | Career Counsellor

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए आपका प्रश्न है मैं कुछ अच्छा बनना चाहता हूं लेकिन आपका दिमाग एक लड़की से अलग कुछ कार्य कर रहा है और आलस आपको आ रहा है तो आप सबसे पहले एक कार्य कीजिए आलस को तैयार दीजिए अगर आप आलस नहीं देखेंगे तो आप एक तरीके से एक व्यक्ति नहीं बन सकते हैं और यह बात समझ है जो व्यक्ति सक्सेज होना चाहता है उसे बातों से नहीं रातों से लड़ना पड़ता है नहीं रात में मेहनत कीजिए अच्छी बातों से नहीं लड़ना चाहिए कि मैं यह कर दूंगा वह मैं वह कर दो बातों से नहीं आप रातों से लड़ी है नहीं रातों में खूब प्रैक्टिस कीजिए अगर पढ़ाई करते हैं तो तो आप एक दिन सफल हो जाएंगे इसमें कोई दो राय नहीं है आप अपने मन में ठान लीजिए कि मुझे यह करना है तो वह तरीके से उस लक्ष्य को अपना केंद्र सम्मानीय कि मेरा यह केंद्र है मैं उसको करके ही रहूंगा तो इस प्रकार आप अगर दिल्ली सोचते हैं ना इसके बारे में और आपको यह सोचना चाहिए कि मैं लक्ष को क्यों पाना चाहता लेकिन क्यों पाना चाहता हूं इस क्यों का जवाब आपके मन में आना चाहिए कि मैं आखिर ऐसे जो है ना लक्ष को क्यों मारना चाहता हूं तो आप निश्चित रूप से सफलता प्राप्त करेंगे इसमें कोई दो राय नहीं है तो

dekhiye aapka prashna hai kuch accha banna chahta hoon lekin aapka dimag ek ladki se alag kuch karya kar raha hai aur aalas aapko aa raha hai toh aap sabse pehle ek karya kijiye aalas ko taiyar dijiye agar aap aalas nahi dekhenge toh aap ek tarike se ek vyakti nahi ban sakte hain aur yah baat samajh hai jo vyakti succsej hona chahta hai use baaton se nahi raatoon se ladna padta hai nahi raat mein mehnat kijiye achi baaton se nahi ladna chahiye ki main yah kar dunga vaah main vaah kar do baaton se nahi aap raatoon se ladi hai nahi raatoon mein khoob practice kijiye agar padhai karte hain toh toh aap ek din safal ho jaenge isme koi do rai nahi hai aap apne man mein than lijiye ki mujhe yah karna hai toh vaah tarike se us lakshya ko apna kendra sammaniya ki mera yah kendra hai usko karke hi rahunga toh is prakar aap agar delhi sochte hain na iske bare mein aur aapko yah sochna chahiye ki main lakshya ko kyon paana chahta lekin kyon paana chahta hoon is kyon ka jawab aapke man mein aana chahiye ki main aakhir aise jo hai na lakshya ko kyon marna chahta hoon toh aap nishchit roop se safalta prapt karenge isme koi do rai nahi hai toh

देखिए आपका प्रश्न है मैं कुछ अच्छा बनना चाहता हूं लेकिन आपका दिमाग एक लड़की से अलग कुछ कार

Romanized Version
Likes  58  Dislikes    views  998
WhatsApp_icon
user

Ved prakash Mishra

Journalist Dainik jagran { Naidunia}

0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यदि आप अच्छे इंसान बनना चाहते हैं तो आपको दर्शन कब करना होगा कि आप जैसे अच्छे कार्य करेंगे कोई ऐसे बुरे कार्य नहीं करेंगे जो आप के अनेक रास्ते पर चलने की में रुकावट पैदा करें तो सबसे पहले आपको यह तय करना होगा कि आप क्या काम करने हैं और क्या काम नहीं करने हैं आपको ऐसा काम नहीं करना है जिससे किसी दूसरे व्यक्ति को नुकसान पहुंचता हूं तकदी पूछती हो से पहले थी बात का ध्यान रखें और ऐसे कार्य करें जिससे लोगों का भला हो ठीक है यदि आप दूसरों को तकलीफ नहीं पहुंचाते हैं तो यह अपने आप में एक अच्छा खा ले तो कोशिश कीजिए कि आपका क्या करें और अच्छे इंसान बने

yadi aap acche insaan banna chahte hai toh aapko darshan kab karna hoga ki aap jaise acche karya karenge koi aise bure karya nahi karenge jo aap ke anek raste par chalne ki mein rukavat paida kare toh sabse pehle aapko yah tay karna hoga ki aap kya kaam karne hai aur kya kaam nahi karne hai aapko aisa kaam nahi karna hai jisse kisi dusre vyakti ko nuksan pahuchta hoon takadi puchti ho se pehle thi baat ka dhyan rakhen aur aise karya kare jisse logo ka bhala ho theek hai yadi aap dusro ko takleef nahi pahunchate hai toh yah apne aap mein ek accha kha le toh koshish kijiye ki aapka kya kare aur acche insaan bane

यदि आप अच्छे इंसान बनना चाहते हैं तो आपको दर्शन कब करना होगा कि आप जैसे अच्छे कार्य करेंगे

Romanized Version
Likes  135  Dislikes    views  1234
WhatsApp_icon
user

Ashok Clinic

Sexologist

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माथा में और मन में बनने नहीं देता आलसी आ जाता है क्या करें जिंदगी के आपको दो-तीन एक्सपीरियंस बताता हूं वह करें सुखी रहेंगे सब ठीक हो जाएगा नंबर एक अच्छा बनने के लिए खाली मत बैठे अपने आप को किसी भी काम में जो आपको पसंद है उस काम में बिजी रहती कुछ काम भी आप के पल्ले में नहीं आप कुछ करना भी नहीं चाहते तो कहीं खेत में कहीं पार्क में घूमने चले जाइए एक सवा घंटा सुबह और रात को खाना खाने के बाद आधा पौना घंटा वह चलने में थकावट हो तो बैठ जाएगी सब मिलने वालों को राम-राम सत श्री अकाल वाहेगुरु करें और सुनाइए इतना आप करें आप देखिए 1520 दिन में ही आपकी सोच आपके दिलो-दिमाग आपका एटीट्यूड बदल जाएगा खाली मत बैठे रहेंगे खाली मन शैतान का घर हल्दी मन कचरे का घर फुल की बातें जिसका कोई मतलब नहीं होता वह बैठे हम सोचते रहते हैं जो भी बंदा में ले हाथ पान के उसको राम-राम करें और स्माइल दे देखिए आप कितने अच्छे आदमी बन जाएंगे

hum accha bana chahte hain lekin matha mein aur man mein banne nahi deta aalsi aa jata hai kya kare zindagi ke aapko do teen experience batata hoon vaah kare sukhi rahenge sab theek ho jaega number ek accha banne ke liye khaali mat baithe apne aap ko kisi bhi kaam mein jo aapko pasand hai us kaam mein busy rehti kuch kaam bhi aap ke palle mein nahi aap kuch karna bhi nahi chahte toh kahin khet mein kahin park mein ghoomne chale jaiye ek sava ghanta subah aur raat ko khana khane ke baad aadha pauna ghanta vaah chalne mein thakawat ho toh baith jayegi sab milne walon ko ram ram sat shri akaal vaheguru kare aur sunaiye itna aap kare aap dekhiye 1520 din mein hi aapki soch aapke dilo dimag aapka attitude badal jaega khaali mat baithe rahenge khaali man shaitaan ka ghar haldi man kachre ka ghar full ki batein jiska koi matlab nahi hota vaah baithe hum sochte rehte hain jo bhi banda mein le hath pan ke usko ram ram kare aur smile de dekhiye aap kitne acche aadmi ban jaenge

हम अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माथा में और मन में बनने नहीं देता आलसी आ जाता है क्या करें ज

Romanized Version
Likes  389  Dislikes    views  3228
WhatsApp_icon

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हम अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माथा में और मन में बनने ही नहीं देता हालेसी आ जाता है मैं मेरे प्यारे लाखों दर्शकों को यह बताना चाहता हूं कि मान एवं अनुष्ठान कारण बंद मुख शिक्षा हमारे शरीर में मान्य पार्ट तो है नहीं पर हर कोई सवाल मन में ही आकर के होता है हम क्या करें एक दिन में हमारा मान कम से कम 60000 बार सुनता है और हम कार्य करते हैं 510 तो माइंड और सबकॉन्शियस माइंड हमें अपने माइंड को गुलाम बनाना चाहिए मालिक ने योग साधना प्रणाम करके सॉन्ग साधना करके आप अपने आलस को दूर कर सकते हैं इसीलिए अब रोजाना सॉन्ग शारदा करो 5:30 हजार साल पहले भगवान कृष्ण ने भगवद गीता में मानव कल्याण हेतु यह साधना बताई है उस साधना का अगर मनुष्य मात्रा में अवलोकन होगा तो मन में अच्छे ही खा लेंगे बुरे ख्याल ने आएंगे और आपका पूरा के पूरा कार्य सिद्ध हो जाएगा इसीलिए आप सोम साधना का इस्तेमाल करके मन को एकाग्र और तीर करो अस्थिर करने के बाद में आपका जो भी कार्य है और बहुत तेजी से बढ़ेगा अब बहुत आगे जाएंगे मन को ताबे में रखना सीखो और मन में जब आएगा जब आप सोंग साधना करोगी

hum accha bana chahte hain lekin matha mein aur man mein banne hi nahi deta halesi aa jata hai mere pyare laakhon darshakon ko yah batana chahta hoon ki maan evam anushthan karan band mukh shiksha hamare sharir mein manya part toh hai nahi par har koi sawaal man mein hi aakar ke hota hai hum kya kare ek din mein hamara maan kam se kam 60000 baar sunta hai aur hum karya karte hain 510 toh mind aur subconscious mind hamein apne mind ko gulam banana chahiye malik ne yog sadhna pranam karke song sadhna karke aap apne aalas ko dur kar sakte hain isliye ab rojana song sharda karo 5 30 hazaar saal pehle bhagwan krishna ne bhagavad geeta mein manav kalyan hetu yah sadhna batai hai us sadhna ka agar manushya matra mein avalokan hoga toh man mein acche hi kha lenge bure khayal ne aayenge aur aapka pura ke pura karya siddh ho jaega isliye aap Som sadhna ka istemal karke man ko ekagra aur teer karo asthir karne ke baad mein aapka jo bhi karya hai aur bahut teji se badhega ab bahut aage jaenge man ko tabe mein rakhna sikho aur man mein jab aayega jab aap song sadhna karogi

हम अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माथा में और मन में बनने ही नहीं देता हालेसी आ जाता है मैं मे

Romanized Version
Likes  344  Dislikes    views  2311
WhatsApp_icon
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो जिस चीज को करने के लिए आप ठान लेंगे कि मुझे काम करना है कोई माई का लाल नहीं उठा लेंगे फैसला करने कि मुझे करना ही करना है कोई आपके मन में कुछ नहीं बोलेगा ही होगा यह जो करेंगे आप उसका उसे फायदा मिलेगा अब डिसाइड करनी है मुझे पढ़ना है तो पढ़ लेंगे आप अब यह तो है नहीं कि हर आदमी के पास एकदम से नौकरी मिल जाती है हर आदमी धनवान हो जाता है इसके लिए अच्छा है पहले आप जी रिप्लाई करें भाई करने के बाद आगे पढ़िए आगे बढ़ते जाएंगे खुश होते रहेंगे लोगों से मिलते रहेंगे किसकी लड़ाई जो है अब करेंगे तो अपने आप आदेश खत्म हो जाएगा खाली बैठे गई अनुसत है

dekho jis cheez ko karne ke liye aap than lenge ki mujhe kaam karna hai koi my ka laal nahi utha lenge faisla karne ki mujhe karna hi karna hai koi aapke man mein kuch nahi bolega hi hoga yah jo karenge aap uska use fayda milega ab decide karni hai mujhe padhna hai toh padh lenge aap ab yah toh hai nahi ki har aadmi ke paas ekdam se naukri mil jaati hai har aadmi dhanwan ho jata hai iske liye accha hai pehle aap ji reply kare bhai karne ke baad aage padhiye aage badhte jaenge khush hote rahenge logo se milte rahenge kiski ladai jo hai ab karenge toh apne aap aadesh khatam ho jaega khaali baithe gayi anusat hai

देखो जिस चीज को करने के लिए आप ठान लेंगे कि मुझे काम करना है कोई माई का लाल नहीं उठा लेंगे

Romanized Version
Likes  103  Dislikes    views  2011
WhatsApp_icon
user

Dr.Manoj kumar Pandey

M.D (A.M) ,Astrologer ,9044642070

1:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं अच्छा बनना चाहता हूं तो मेरा मन मन नहीं होता आप मन के अधीन नहीं है मन आपके आदमी दिखाइए तो सही हो जाएगा उससे पहले आप छोड़ने के लिए दो रास्ते एक तो भोजन कम कर दीजिए और ज्यादा भोजन करते हैं तो जूस दूध फलों का सेवन करके सुबह उठी है ध्यान करिए अब ध्यान करिए गायत्री मंत्र जाप करने के लिए सुबह शाम बता दीजिए कोई बहुत बड़ी बात नहीं है चंचल ही बना कृष्णा बलवत दमाद कृष्ण ने कहा है कि हर व्यक्ति के मन चंचल है बलवंत प्रमाद इन विकारों से हाथों से युक्त है अतः आप सब धर्म परित्यज्य मामेकं शरणं व्रज सभी धर्मों को छोड़कर मेरी शरण में आओ मैं आप को मोक्ष प्रदान करता हूं सारे भौतिक सुख प्रदान करता हूं से धोने के लिए यही पक्का ध्यान करें सब कुछ आ सकते हैं इसमें कोई संशय नहीं

main accha banna chahta hoon toh mera man man nahi hota aap man ke adheen nahi hai man aapke aadmi dikhaiye toh sahi ho jaega usse pehle aap chodne ke liye do raste ek toh bhojan kam kar dijiye aur zyada bhojan karte hain toh juice doodh falon ka seven karke subah uthi hai dhyan kariye ab dhyan kariye gayatri mantra jaap karne ke liye subah shaam bata dijiye koi bahut badi baat nahi hai chanchal hi bana krishna balvat damad krishna ne kaha hai ki har vyakti ke man chanchal hai balvant pramad in vikaron se hathon se yukt hai atah aap sab dharm parityajya mamekan sharanan vraj sabhi dharmon ko chhodkar meri sharan me aao main aap ko moksha pradan karta hoon saare bhautik sukh pradan karta hoon se dhone ke liye yahi pakka dhyan kare sab kuch aa sakte hain isme koi sanshay nahi

मैं अच्छा बनना चाहता हूं तो मेरा मन मन नहीं होता आप मन के अधीन नहीं है मन आपके आदमी दिखाइए

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  549
WhatsApp_icon
user

dr Avnindra kumar upadhyay

Physiotherapist & Yoga Instructor

1:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सोचते रहने से कुछ नहीं होगा इसी छड़ से शुरू हो जाए अच्छी किताबें पढ़ें शाम को जो है अगर हिंदू धर्म से है नमाज पढ़ने मुस्लिम धर्म का नमाज पढ़ने तारीख हिंदू धर्म से है तो संध्या कर्म करें इसी वक्त होते समय ऊपर वाले का कृतज्ञता दें और सुबह सूर्योदय से पूर्व हैं अपना जो है धार्मिक कार्य करें अच्छे से पढ़ें अच्छे से जुड़े रहे गलत विचार को आने हिना दे जब हम साथी काम में लगे रहेंगे जब हम धर्म के काम में लगे रहेंगे तो हमारे दिल में कोई भी गलत ख्याल गलत चीज नहीं आ सकती इसीलिए कहा गया है कि धर्म धर्म का कानून सबसे बड़ा कानून आया था घर में में रहिए अपने कार को कीजिए नित्य प्रति कीजिए और डालिए मत कि कल से करेंगे प्रस्तुत करेंगे इसी वक्त चाहिए

sochte rehne se kuch nahi hoga isi chad se shuru ho jaaye achi kitaben padhen shaam ko jo hai agar hindu dharm se hai namaz padhne muslim dharm ka namaz padhne tarikh hindu dharm se hai toh sandhya karm kare isi waqt hote samay upar waale ka kritagyata de aur subah suryoday se purv hain apna jo hai dharmik karya kare acche se padhen acche se jude rahe galat vichar ko aane heena de jab hum sathi kaam me lage rahenge jab hum dharm ke kaam me lage rahenge toh hamare dil me koi bhi galat khayal galat cheez nahi aa sakti isliye kaha gaya hai ki dharm dharm ka kanoon sabse bada kanoon aaya tha ghar me me rahiye apne car ko kijiye nitya prati kijiye aur daaliye mat ki kal se karenge prastut karenge isi waqt chahiye

सोचते रहने से कुछ नहीं होगा इसी छड़ से शुरू हो जाए अच्छी किताबें पढ़ें शाम को जो है अगर हि

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  144
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपने पूछा है कि हम अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माथा में और माता और मन बन्नी ही नहीं देता आ जाता है क्या करें आप अच्छा बनना चाहते हैं तो उसके लिए आपके विचार सबसे पहले आपके विचार अच्छे होने चाहिए और अच्छे विचारों के बाद जो है जो आपके जो काम है कर्तव्य जो है वह अच्छा होना चाहिए आप किसी की बुराई ना करें यह न सोचे कि जो चलाना जो है वह बुरा कर रहा है और मैं अच्छा कर रहा हूं अगर आपके विचार अच्छे होंगे तो आपका कर्म भी अच्छा होगा बस आपको अपना विचार जो है वह अच्छे ऐसा नहीं चाहिए कि हम जो है तो क्या बनेगा

namaskar aapne poocha hai ki hum accha banna chahte hain lekin matha mein aur mata aur man bani hi nahi deta aa jata hai kya kare aap accha banna chahte hain toh uske liye aapke vichar sabse pehle aapke vichar acche hone chahiye aur acche vicharon ke baad jo hai jo aapke jo kaam hai kartavya jo hai vaah accha hona chahiye aap kisi ki burayi na kare yah na soche ki jo chalana jo hai vaah bura kar raha hai aur main accha kar raha hoon agar aapke vichar acche honge toh aapka karm bhi accha hoga bus aapko apna vichar jo hai vaah acche aisa nahi chahiye ki hum jo hai toh kya banega

नमस्कार आपने पूछा है कि हम अच्छा बनना चाहते हैं लेकिन माथा में और माता और मन बन्नी ही नहीं

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  777
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!