गांधारी ने कितनी बार अपनी आंखों की पट्टी खोली थी ?...


user

Anil Bajpai

Writer | Publisher | Investor | Hotelier | Devloper

0:08
Play

Likes  30  Dislikes    views  633
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गांधारी जी ने अपनी आंखों की पट्टी को महाभारत के युद्ध में दो बार खोला था एक तो पहली बार जब उन्होंने दुर्योधन को आशीर्वाद देने के लिए अपने आंखों की पट्टी खोली थी कि दुर्योधन को 1:00 का शरीर प्राप्त होगी जिससे उनका कोई ना कर पाए और दूसरी बार जब दुर्योधन का अंत होने लगा था जब दुर्योधन अपनी आखिरी सांसें ले रहे थे तब उन्होंने अपनी आंखों की पट्टी को खोला था

gandhari ji ne apni aakhon ki patti ko mahabharat ke yudh me do baar khola tha ek toh pehli baar jab unhone duryodhan ko ashirvaad dene ke liye apne aakhon ki patti kholi thi ki duryodhan ko 1 00 ka sharir prapt hogi jisse unka koi na kar paye aur dusri baar jab duryodhan ka ant hone laga tha jab duryodhan apni aakhiri sansen le rahe the tab unhone apni aakhon ki patti ko khola tha

गांधारी जी ने अपनी आंखों की पट्टी को महाभारत के युद्ध में दो बार खोला था एक तो पहली बार जब

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  428
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने केवल एक ही बार देखा है कि गांधारी को अपनी आंखों से भर्ती खुली है हम गूगल में भी सर्च कर सकते हैं एक ही बार खुली थी मेरे हिसाब से आराम गूगल में सर्च करके संतुष्टि कर सकते हैं धन्यवाद

maine keval ek hi baar dekha hai ki gandhari ko apni aakhon se bharti khuli hai hum google me bhi search kar sakte hain ek hi baar khuli thi mere hisab se aaram google me search karke santushti kar sakte hain dhanyavad

मैंने केवल एक ही बार देखा है कि गांधारी को अपनी आंखों से भर्ती खुली है हम गूगल में भी सर्च

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  224
WhatsApp_icon
user
0:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

गांधारी ने महाभारत में अपने पुत्र दुर्योधन को अमर बनाने के लिए सिर्फ एक बार अपनी आंखों की पट्टी खोली थी

gandhari ne mahabharat me apne putra duryodhan ko amar banane ke liye sirf ek baar apni aakhon ki patti kholi thi

गांधारी ने महाभारत में अपने पुत्र दुर्योधन को अमर बनाने के लिए सिर्फ एक बार अपनी आंखों की

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  75
WhatsApp_icon
play
user
0:42

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महाभारत युद्ध में गांधारी ने अपनी आंखों की पट्टी दो बार खोली थी प्रथम बार उन्होंने दुर्योधन को आशीर्वाद स्वरुप वज्र का शरीर प्रदान करने के लिए नग्नावस्था में देखा इसके लिए उन्होंने अपनी आंखों की पट्टी खोली पड़ी थी जब महाभारत का युद्ध अपने अंतिम चरण तथा भीम द्वारा दुर्योधन की जंघा तोड़ने के लिए बहुत दिन पर पड़ा अपनी मृत्यु की प्रतीक्षा कर रहा था गांधारी ने अपनी आंखों की पट्टी को खोल दिया और वह रणभूमि में दौड़ती आइए उन का एकमात्र जीवित पुत्र दुर्योधन दी अब अपनी अंतिम सांसे ले रहा था

mahabharat yudh mein gandhari ne apni aankho ki patti do BA ar kholi thi pratham BA ar unhone duryodhan ko ashirvaad swarup vajra ka sharir pradan karne ke liye nagnavastha mein dekha iske liye unhone apni aankho ki patti kholi padi thi jab mahabharat ka yudh apne antim charan tatha bhim dwara duryodhan ki jangha todne ke liye BA hut din par pada apni mrityu ki pratiksha kar raha tha gandhari ne apni aankho ki patti ko khol diya aur vaah ranbhumi mein daudati aaiye un ka ekmatra jeevit putra duryodhan di ab apni antim sanse le raha tha

महाभारत युद्ध में गांधारी ने अपनी आंखों की पट्टी दो बार खोली थी प्रथम बार उन्होंने दुर्योध

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  211
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
gandhari ne patti kab kholi ; gandhari ne kitni baar apni aankhon ki patti kholi ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!