"दलित आंदोलन" से 2019 चुनाव में राजनीतिक रूप से क्या परिवर्तन आएगा?...


play
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पिछले कुछ समय से देश में दलितों पर अत्याचारों को लेकर कई छोटे बड़े प्रदर्शन हुए हैं किंतु अभी हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने एक कानून के दुरुपयोग को लेकर चिंता जताते हुए इसे तुरंत गिरफ्तारी की जगह शुरुआती जांच की बात कही थी लेकिन देश के कई हिस्सों में दलितों ने प्रदर्शन किए कई जगह पर हिंसा की घटनाएं हुई और हजारों लोगों ने इसमें भाग लिया और मांग की इस कानून को नहीं बदला जाए क्योंकि आशंका जताई जा रही है कि अगर इस कानून में बदलाव हुआ तो दोनों दलितों के प्रति भेदभाव और उत्पीड़न और ज्यादा बढ़ जाएगा कांग्रेस का कहना है कि सांप्रदायिक सौहार्द की रक्षा और सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए युवा दिवस मनाएगी कांग्रेस हमेशा ख्वाजा पर दलित विरोधी होने का आरोप लगाती रही है हरीश रावत का कहना है कि कांग्रेस दलित को मुद्दा नहीं मानती बल्कि देश के दलित के सामूहिक न्याय उनके अधिकारों और संविधान में दिए गए वादी की गारंटी का मुद्दा है उनका कहना है जिस वस्तु को सांसदों ने संसद के फ्लोर पर एक साथ कहा था कि हम छुआछूत और असमानता को खत्म करेंगे वह आज तक मौजूद है सबसे बड़ी बात यह है कि भारत का अपनी दलित वर्गों से आजाद भारत का सामूहिक वादा है यह उसका अपमान कर रहे हैं कुछ लोग जाति के आधार पर देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं और हम यह नहीं होने देंगे लेकिन भाजपा का कहना है कि उन पर आरोप लगाया जा रहा है पार्टी हमेशा से दलितों के साथ थी और ऐसा कभी भी नहीं होगा जब आरक्षण बंद किया जाएगा जब आरक्षण कांग्रेस में बंद करना चाहेगी तो BJP ऐसा नहीं होने देगी तो 2019 के इलेक्शन होने वाले हैं और सभी पार्टी दलितों का जो एक बहुत बड़ा समुदाय है वह तो का उसे अपनी तरफ करना चाहती है तो लगता है कि यह राजनीति ही हो रही है

pichhle kuch samay se desh mein dalito par atyacharo ko lekar kai chote bade pradarshan hue hai kintu abhi haal hi mein supreme court ne ek kanoon ke durupyog ko lekar chinta jatate hue ise turant giraftari ki jagah shuruati jaanch ki baat kahi thi lekin desh ke kai hisson mein dalito ne pradarshan kiye kai jagah par hinsa ki ghatnaye hui aur hazaro logo ne isme bhag liya aur maang ki is kanoon ko nahi badla jaaye kyonki ashanka jatai ja rahi hai ki agar is kanoon mein badlav hua toh dono dalito ke prati bhedbhav aur utpidan aur zyada badh jaega congress ka kehna hai ki sampradayik sauhaard ki raksha aur suraksha ko badhawa dene ke liye yuva divas manaegi congress hamesha khwaja par dalit virodhi hone ka aarop lagati rahi hai harish rawat ka kehna hai ki congress dalit ko mudda nahi maanati balki desh ke dalit ke samuhik nyay unke adhikaaro aur samvidhan mein diye gaye wadi ki guarantee ka mudda hai unka kehna hai jis vastu ko sansadon ne sansad ke floor par ek saath kaha tha ki hum chuachut aur asamanta ko khatam karenge vaah aaj tak maujud hai sabse baadi baat yah hai ki bharat ka apni dalit vargon se azad bharat ka samuhik vada hai yah uska apman kar rahe hai kuch log jati ke aadhaar par desh ko baantne ki koshish kar rahe hai aur hum yah nahi hone denge lekin bhajpa ka kehna hai ki un par aarop lagaya ja raha hai party hamesha se dalito ke saath thi aur aisa kabhi bhi nahi hoga jab aarakshan band kiya jaega jab aarakshan congress mein band karna chahegi toh BJP aisa nahi hone degi toh 2019 ke election hone waale hai aur sabhi party dalito ka jo ek bahut bada samuday hai vaah toh ka use apni taraf karna chahti hai toh lagta hai ki yah raajneeti hi ho rahi hai

पिछले कुछ समय से देश में दलितों पर अत्याचारों को लेकर कई छोटे बड़े प्रदर्शन हुए हैं किंतु

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  171
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!