क्या हमारा देश बदल रहा है उदाहरण के साथ जवाब दीजिए?...


user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बात बिल्कुल सही है कि हमारा देश बदल रहा है और आप से नहीं हमेशा से परिवर्तन संसार का नियम रहा है क्योंकि एक जैसी परिस्थिति एक जैसा सिचुएशन कभी भी नहीं रह सकता हमेशा इसमें कुछ न कुछ बदलाव आते रहते हैं कई मामलों में हमारा देश पहले से बेहतर हुआ है तो कई मामलों में मुझे लगता है अभी भी स्थिति वैसी ही बनी हुई है या उससे भी खराब हो गई है अगर हम साफ-सफाई की बात करें तो हमारा देश पहले से ज्यादा साफ सुथरा हो रहा है इसके अलावा अगर बेरोजगारी की बात की जाए तो हमारा देश इस समस्या से बहुत पहले से जूझता रहा है और आज के समय में मुझे लगता है कि बेरोजगारी की समस्या और भी अधिक बढ़ गई है इसके अलावा शिक्षा का स्तर हमारे देश में धीरे धीरे सुधर रहा है और हर एक फील्ड में ज्यादातर डेवलपमेंट ही देखने को मिल रहा है तू जब से भारत आजाद हुआ है तब से चाहे सरकार किसी भी पार्टी की क्यों ना बनी हो सभी सरकारों ने कुछ न कुछ अच्छे काम जरूर किए हैं लेकिन जरूरत इस बात की कि जो यह अच्छे काम हो रहे हैं उसमें और भी तेजी लाई जाए ताकि हमारा देश जल्दी एक डेवलप कंट्री बन पाए

yah baat bilkul sahi hai ki hamara desh badal raha hai aur aap se nahi hamesha se parivartan sansar ka niyam raha hai kyonki ek jaisi paristithi ek jaisa situation kabhi bhi nahi reh sakta hamesha isme kuch na kuch badlav aate rehte hain kai mamlon mein hamara desh pehle se behtar hua hai toh kai mamlon mein mujhe lagta hai abhi bhi sthiti vaisi hi bani hui hai ya usse bhi kharab ho gayi hai agar hum saaf safaai ki baat kare toh hamara desh pehle se zyada saaf suthara ho raha hai iske alava agar berojgari ki baat ki jaaye toh hamara desh is samasya se bahut pehle se jujhta raha hai aur aaj ke samay mein mujhe lagta hai ki berojgari ki samasya aur bhi adhik badh gayi hai iske alava shiksha ka sthar hamare desh mein dhire dhire sudhar raha hai aur har ek field mein jyadatar development hi dekhne ko mil raha hai tu jab se bharat azad hua hai tab se chahen sarkar kisi bhi party ki kyon na bani ho sabhi sarkaro ne kuch na kuch acche kaam zaroor kiye hain lekin zarurat is baat ki ki jo yah acche kaam ho rahe hain usme aur bhi teji lai jaaye taki hamara desh jaldi ek develop country ban paye

यह बात बिल्कुल सही है कि हमारा देश बदल रहा है और आप से नहीं हमेशा से परिवर्तन संसार का निय

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  174
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

विकास सिंह

दिल से भारतीय

1:07

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारा देश बदल रहा है या नहीं तो दिख जाते हम कंपेयर करते हैं हमारी तो पौराणिक देश और अभी के देश के आज जो स्थिति है उसमें समा देश में काफी बदल चुका है आपको एक छोटा सा एग्जांपल देते हैं ठीक है हमारे समाज में जो है लव मैरिज बिल्कुल जो एक्सेप्ट टेबल नहीं था उनकी भी जो लोग अलार्मस करते थे प्रेम विवाह करते थे लोगों को जगह सही तरीके से बहुत ही प्यार से बहुत ही आराम से लव नहीं सकते हैं कि वो कितने पास अभी ऐसा नहीं अभी अभी के साथ में खाते हैं साथ में पीते हैं काश हमारे देश में बदलाव चाहिए तो हमें जो है एकजुट होकर एक साथ होकर चलना होगा क्योंकि हम लोग जहां पहले आला नेता के कहने पर या राजनेता के किसी बात को सुनने पर आपस में झगड़ा करते वापस नहीं जाते और अलग होते हैं विदेश का बदलाव नहीं होगा इस देश का विकास नहीं होगा हमें एकजुट होकर चलना होगा हर एक धर्म हर एक जाति के लोगों को साथ में चलना होगा

hamara desh badal raha hai ya nahi toh dikh jaate hum compare karte hain hamari toh pouranik desh aur abhi ke desh ke aaj jo sthiti hai usme sama desh mein kaafi badal chuka hai aapko ek chota sa example dete hain theek hai hamare samaj mein jo hai love marriage bilkul jo except table nahi tha unki bhi jo log alarmas karte the prem vivah karte the logo ko jagah sahi tarike se bahut hi pyar se bahut hi aaram se love nahi sakte hain ki vo kitne paas abhi aisa nahi abhi abhi ke saath mein khate hain saath mein peete hain kash hamare desh mein badlav chahiye toh hamein jo hai ekjut hokar ek saath hokar chalna hoga kyonki hum log jaha pehle aala neta ke kehne par ya raajneta ke kisi baat ko sunne par aapas mein jhagda karte wapas nahi jaate aur alag hote hain videsh ka badlav nahi hoga is desh ka vikas nahi hoga hamein ekjut hokar chalna hoga har ek dharm har ek jati ke logo ko saath mein chalna hoga

हमारा देश बदल रहा है या नहीं तो दिख जाते हम कंपेयर करते हैं हमारी तो पौराणिक देश और अभी के

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  164
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!