यदि आप शिक्षकों को प्रशिक्षित करना चाहते हैं तो कौन से पांच अभ्यास?...


user

Chandrakant Shrivastav

Educationist N Counsellor. PD Trainer. Motivator

1:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैं गुट्टू टीचर ट्रेनिंग वर्कशॉप करवाता हूं तो सबसे पहले जरूरी है कि शिक्षक के पास स्ट्रेस मैनेजमेंट के तरीके होनी चाहिए इमोशनली वो स्ट्रांग होना चाहिए इसके लिए एक वर्कशॉप है दूसरा है शिक्षक का आइक्यू इंटेलिजेंट क्वेश्चन तीसरा है पढ़ाई के शिक्षा के अलग-अलग तरीके क्योंकि हम अलग-अलग बैकग्राउंड के बच्चों से यहां को डील करना होता है और एक ही दवाई सबके लिए काम में नहीं आती इसलिए शिक्षक के बाद भंडार होना चाहिए 14 सबसे जरूरी है पढ़ाई के अलावा जीवन मूल्य एवं अच्छी बातें संस्कार इसकी भी जिम्मेदारी शिक्षक की है उसके लिए एक वर्कशाप है और अंत में अपने पेशे से प्रेम करना उसको ड्यूटी न समझकर प्रोबेशन न समझकर वोकेशन की सबसे जरूरी है 3 दिन का जो हम करवाते हैं बहुत-बहुत धन्यवाद आप इन 355 चीजों पर ध्यान दीजिए आपका प्रोफेशन आपका वोकेशन बन जाएगा और आपको बहुत आनंद आएगा क्योंकि बच्चे जब पूरी समर्पण से आपके पैर छू लेंगे तो आपको लगेगा मेरा जीवन सार्थक हो गया बहुत अच्छी बात है शिक्षक होना बहुत पुण्य का काम है विज्ञापनदाता ऐसा कहा जाता है शास्त्रों में तो बिल्कुल अपने देश से प्रेम कीजिए

main guttu teacher training workshop karwata hoon toh sabse pehle zaroori hai ki shikshak ke paas stress management ke tarike honi chahiye emotionally vo strong hona chahiye iske liye ek workshop hai doosra hai shikshak ka IQ Intelligent question teesra hai padhai ke shiksha ke alag alag tarike kyonki hum alag alag background ke baccho se yahan ko deal karna hota hai aur ek hi dawai sabke liye kaam me nahi aati isliye shikshak ke baad bhandar hona chahiye 14 sabse zaroori hai padhai ke alava jeevan mulya evam achi batein sanskar iski bhi jimmedari shikshak ki hai uske liye ek workshop hai aur ant me apne peshe se prem karna usko duty na samajhkar probation na samajhkar vocation ki sabse zaroori hai 3 din ka jo hum karwaate hain bahut bahut dhanyavad aap in 355 chijon par dhyan dijiye aapka profession aapka vocation ban jaega aur aapko bahut anand aayega kyonki bacche jab puri samarpan se aapke pair chu lenge toh aapko lagega mera jeevan sarthak ho gaya bahut achi baat hai shikshak hona bahut punya ka kaam hai vigyapanadata aisa kaha jata hai shastron me toh bilkul apne desh se prem kijiye

मैं गुट्टू टीचर ट्रेनिंग वर्कशॉप करवाता हूं तो सबसे पहले जरूरी है कि शिक्षक के पास स्ट्रेस

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  129
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!