क्या आप बता सकते हैं कि जीवन के अंधेरे को समाप्त करने का पथ क्या है?...


user

Norang sharma

Social Worker

1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों मैं नौरंग शर्मा आज बात करने जा रहा हूं कि जीवन के अंधेरे को समाप्त करने का पद क्या है तो देखिए जैसे ही रोशनी आ जाती है तो अंधेरा अपने आप विदा होने लगता है तो जैसे ही आपके जीवन में ज्ञान की समझ की रोशनी आएगी वैसे ही अज्ञान का अंधेरा अपने आप दूर हो जाएगा मायूसी का अंधेरा भी दूर हो जाएगा तो हमेशा जो भी समस्या जो भी चुनौतियां आपके जीवन में आए चुनौती इसलिए कह रहा हूं कि चुनौती अपने आप में एक आशावादी शब्द है समस्या शब्द बोलने में हम लोग थोड़े से पागल हो जाते हैं उन दिनों में पड़ जाते हैं इसलिए चुनौती कहना ज्यादा बेहतर होगा तो हर चुनौती का पत्नी साहस से सामना करें कोई भी चुनौती आपसे बड़ी नहीं है आप के हौसले से बिल्कुल बड़ी नहीं है इसलिए जो भी निर्णय ले हमेशा उस निर्णय को यही सोच कर ली कि वह निर्णय आपके भविष्य को उज्जवल बनाएगा आपके करियर को बेहतर बनाएगा और हमेशा हमारी अपनों का ध्यान रखिए जो भी आपके परिवार के लोग हैं जो भी आपके दोस्त हैं उन सब से मधुर रिश्ते बना करके रखिए क्योंकि दोस्तों जब इंसान मायूस होता है तो कभी-कभी रिश्ते भी उसे बचा लेते हैं इसलिए रिश्तो को बचाने के लिए अपने आप को मत खोना लेकिन कोशिश करना कि रिश्तो को साथ लेकर चल सकूं क्योंकि परिवार तब आपके साथ होता है जब दुनिया आपका साथ छोड़ देती है इसलिए परिवार की जो भूमिका है परिवार का जो महत्व है उसे कभी कम मत करना धन्यवाद

namaskar doston main naurang sharma aaj baat karne ja raha hoon ki jeevan ke andhere ko samapt karne ka pad kya hai toh dekhiye jaise hi roshni aa jaati hai toh andhera apne aap vida hone lagta hai toh jaise hi aapke jeevan mein gyaan ki samajh ki roshni aayegi waise hi agyan ka andhera apne aap dur ho jaega maayusi ka andhera bhi dur ho jaega toh hamesha jo bhi samasya jo bhi chunautiyaan aapke jeevan mein aaye chunauti isliye keh raha hoon ki chunauti apne aap mein ek aashavadi shabd hai samasya shabd bolne mein hum log thode se Pagal ho jaate hain un dino mein pad jaate hain isliye chunauti kehna zyada behtar hoga toh har chunauti ka patni saahas se samana kare koi bhi chunauti aapse badi nahi hai aap ke hausale se bilkul badi nahi hai isliye jo bhi nirnay le hamesha us nirnay ko yahi soch kar li ki vaah nirnay aapke bhavishya ko ujjawal banayega aapke career ko behtar banayega aur hamesha hamari apnon ka dhyan rakhiye jo bhi aapke parivar ke log hain jo bhi aapke dost hain un sab se madhur rishte bana karke rakhiye kyonki doston jab insaan maayus hota hai toh kabhi kabhi rishte bhi use bacha lete hain isliye rishto ko bachane ke liye apne aap ko mat khona lekin koshish karna ki rishto ko saath lekar chal sakun kyonki parivar tab aapke saath hota hai jab duniya aapka saath chod deti hai isliye parivar ki jo bhumika hai parivar ka jo mahatva hai use kabhi kam mat karna dhanyavad

नमस्कार दोस्तों मैं नौरंग शर्मा आज बात करने जा रहा हूं कि जीवन के अंधेरे को समाप्त करने का

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  394
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Kavita Panyam

Certified Award Winning Counseling Psychologist

2:00

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं यह तो बहुत अच्छी बात है कि आप पहचान चुके हैं कि जीवन में किसी कोने में अंधेरा है या तो फिर पूरा जीवन ही अंधेरा है हर एक व्यक्ति के लाइफ में यह सिचुएशन आता है लेकिन कई लोग उसको ग्रह की तरह देखते हैं ब्लैक एंड वाइट की तरह नहीं दिखते तो अगर आप उसे ब्लैक और वाइट की तरह देखे तो थोड़ा सा अपना कलर कॉन्बिनेशन बदल लीजिए और उसे ग्रह की तरह देखिए कुछ कुछ भी जो है वो एक्सट्रीम नेचर का नहीं होना चाहिए इससे हमारे इमोशंस में काफी उथल-पुथल मच जाती है तो अगर आपके जीवन में कहीं पर कोई तकलीफ है या फिर थोड़ी सी अब तन्हाई है कोई प्रॉब्लम है कोई इशू है तो आपको चाहिए कि आप एकांत में बैठे और उसके बारे में सोचें अपने माइंड बॉडी और सोल में कहां पर आपको तकलीफ हो रही है दिमाग क्या कह रहा है दिल क्या कह रहा है जैसलमेर की बॉडी में कहां तकलीफ है सर में है पेट में है पैर में है जो हमारी इश्यूज होते हैं जो प्रॉब्लम्स होते हैं वह किसने किसी बॉडी पार्ट में जाकर थोड़ा चाहते हैं तो आपको देखना है कि प्रॉब्लम डाइजेशन में है फिर माइग्रेन है या फिर बैक पेन है फिर नी पेन है या फिर आपके पैरों में पीठ में दर्द है यह थोड़ा देखिए और पता लगाइए और उसके बाद आपको चाहिए कि जो को पता चल जाता है कि फिर आपको देखना है कि कौन सा इंसीडेंट है कौन सा वाक्य है जिसके वजह से आपके आपको तकलीफ हो रही है कौन सा वह इंसान है जिसके साथ आज आपका बंद है और क्या है वह पॉइंट शॉप को पसंद नहीं है रमजान चाहते चाहते हैं कि कौन सा प्रश्न है कि क्या इंसिडेंट है और कहां पर प्रॉब्लम हो रहा है माइंड बॉडी और स्कूल में सर आपको एक प्लान बनाना चाहिए इससे बाहर आने का आगरा मीना कर पा रहे हो तो आपको किसी से कोई चीज से मिलना चाहिए जो आपकी पूरी मदद करेंगे इस अंधेरे को दूर करने में विवश ना हुई है अंधेरा जो होता है वह वाले को इनवाइट करता है हमेशा बस बात यह है कि हम इसे करेक्ट तरीके से लेकर आना चाहिए अच्छी किताबे पढ़िए यूट्यूब मोटिवेशनल वीडियोस देखें सिर्फ लोगों से ही बात कीजिए नेकेड लोगों से बात नहीं कीजिएगा प्लीज टेक केयर

nahi yah toh bahut achi baat hai ki aap pehchaan chuke hain ki jeevan mein kisi kone mein andhera hai ya toh phir pura jeevan hi andhera hai har ek vyakti ke life mein yah situation aata hai lekin kai log usko grah ki tarah dekhte hain black and white ki tarah nahi dikhte toh agar aap use black aur white ki tarah dekhe toh thoda sa apna color kanbineshan badal lijiye aur use grah ki tarah dekhiye kuch kuch bhi jo hai vo extreme nature ka nahi hona chahiye isse hamare emotional mein kaafi uthal puthal match jaati hai toh agar aapke jeevan mein kahin par koi takleef hai ya phir thodi si ab tanhai hai koi problem hai koi issue hai toh aapko chahiye ki aap ekant mein baithe aur uske bare mein sochen apne mind body aur soul mein kahaan par aapko takleef ho rahi hai dimag kya keh raha hai dil kya keh raha hai jaisalmer ki body mein kahaan takleef hai sir mein hai pet mein hai pair mein hai jo hamari issues hote hain jo problems hote hain vaah kisne kisi body part mein jaakar thoda chahte hain toh aapko dekhna hai ki problem digestion mein hai phir Migraine hai ya phir back pen hai phir ni pen hai ya phir aapke pairon mein peeth mein dard hai yah thoda dekhiye aur pata lagaaiye aur uske baad aapko chahiye ki jo ko pata chal jata hai ki phir aapko dekhna hai ki kaun sa insident hai kaun sa vakya hai jiske wajah se aapke aapko takleef ho rahi hai kaun sa vaah insaan hai jiske saath aaj aapka band hai aur kya hai vaah point shop ko pasand nahi hai ramjaan chahte chahte hain ki kaun sa prashna hai ki kya incident hai aur kahaan par problem ho raha hai mind body aur school mein sir aapko ek plan banana chahiye isse bahar aane ka agra meena kar paa rahe ho toh aapko kisi se koi cheez se milna chahiye jo aapki puri madad karenge is andhere ko dur karne mein vivash na hui hai andhera jo hota hai vaah waale ko invite karta hai hamesha bus baat yah hai ki hum ise correct tarike se lekar aana chahiye achi kitabe padhiye youtube Motivational videos dekhen sirf logo se hi baat kijiye naked logo se baat nahi kijiega please take care

नहीं यह तो बहुत अच्छी बात है कि आप पहचान चुके हैं कि जीवन में किसी कोने में अंधेरा है या त

Romanized Version
Likes  64  Dislikes    views  1166
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखी जब का सवाल है कि जीवन के अंधेरे को कैसे समाप्त किया जा सकता है उसका मतलब पथ किया है तो हमारे अनुसार तो जीवन के अंधेरे को दूर करने के लिए एक ही रास्ता है आपको हमेशा सकारात्मक रहना है पॉजिटिव क्योंकि सकरात्मक सोच और विचार ही एक ऐसी स्थिति उत्पन्न कर देती है जब व्यक्ति को अपना मंजिल साफ दिखाई देता है और नेगेटिव विचार होते हैं या नेगेटिव माहौल के होते हैं नेगेटिव सोच विचार नेगेटिव एनर्जी यह सब व्यक्ति को एक अंधकार जैसे उत्पन्न करते हैं स्थिति उत्पन्न करा देते हैं जिस व्यक्ति को केवल अंधकार में संसद दिखाई देता है तुम्हें हमारे जीवन में कोई भी अंधकार नहीं वह तो हमारे महसूस करने के ऊपर डिपेंड करता है कि हम यह सोचते हैं कि हमारे जीवन में अधिकार है चिट्टियां लेकर नाम की कोई चीज है ही नहीं आपको हमेशा सकारात्मक रहना है हमेशा पॉजिटिव सोचो पॉजिटिव इसके बाद ऐसा कोई भी अंधकार नहीं जिसमें रोशनी ना जाए तो हमारे अनुसार सबसे मुख्य चीज है आपको अध्यात्म से भी जुड़ना चाहिए सकरात्मक रहना चाहिए और मतलब अच्छे-अच्छे किताब का दिन करना चाहिए तो यह आपको अंधकार से बाहर निकालने में काफी मदद करेंगे

dekhi jab ka sawaal hai ki jeevan ke andhere ko kaise samapt kiya ja sakta hai uska matlab path kiya hai toh hamare anusaar toh jeevan ke andhere ko dur karne ke liye ek hi rasta hai aapko hamesha sakaratmak rehna hai positive kyonki sakaratmak soch aur vichar hi ek aisi sthiti utpann kar deti hai jab vyakti ko apna manjil saaf dikhai deta hai aur Negative vichar hote hain ya Negative maahaul ke hote hain Negative soch vichar Negative energy yah sab vyakti ko ek andhakar jaise utpann karte hain sthiti utpann kara dete hain jis vyakti ko keval andhakar mein sansad dikhai deta hai tumhe hamare jeevan mein koi bhi andhakar nahi vaah toh hamare mehsus karne ke upar depend karta hai ki hum yah sochte hain ki hamare jeevan mein adhikaar hai chittiyan lekar naam ki koi cheez hai hi nahi aapko hamesha sakaratmak rehna hai hamesha positive socho positive iske baad aisa koi bhi andhakar nahi jisme roshni na jaaye toh hamare anusaar sabse mukhya cheez hai aapko adhyaatm se bhi judna chahiye sakaratmak rehna chahiye aur matlab acche acche kitab ka din karna chahiye toh yah aapko andhakar se bahar nikalne mein kaafi madad karenge

देखी जब का सवाल है कि जीवन के अंधेरे को कैसे समाप्त किया जा सकता है उसका मतलब पथ किया है त

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  377
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!