विद्यालय में अनुशासन का महत्व पर निबंध कैसे लिखे?...


user

Afran Khan

Teacher

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न विद्यालय में अनुशासन का महत्व पर निबंध कैसे लिखे तो मैं बता दूं अनुशासन सफलता की कुंजी है या किसी ने सही कहा है अनुशासन मनुष्य के विकास के लिए बहुत आवश्यक है यदि मनुष्य अनुशासन में जीवन यापन करता है तो वह स्वयं के लिए सुखद और उज्जवल भविष्य के लिए राह निर्धारित करता है मनुष्य द्वारा नियमों में रहकर नियमित रूप से अपने कार्य को करना अनुशासन कहा जाता है यदि किसी के अंदर अनुशासनहीनता होता है तो वह स्वयं के लिए कठिनाइयों के लिए हाईकोर्ट देता है विद्यार्थी हमारे देश का मुख्य आधार स्तंभ है यदि इसमें स्वयं अनुशासन की कमी होगी तो हम सोच सकते हैं कि देश का भविष्य कैसा होगा विद्यार्थी जीवन के अनुसार अपने जीवन में अनुशासन का बहुत महत्व होता है अनुशासन के द्वारा ही वह स्वयं के लिए उज्जवल भविष्य का संभावना कर सकता है यदि उसके जीवन में अनुशासन नहीं होगा तो वह जीवन की दौड़ में सबसे पिछड़ जाएगा उसके अनुशासनहीनता उसे सफल बना देगी विद्यार्थी के लिए अनुशासन में रहना और अपने सभी काव्य को करना आवश्यक रूप से करना बहुत आवश्यक है यह वह मार्ग है जो जीवन में सफलता प्राप्त करवाता है धन्यवाद

aapka prashna vidyalaya me anushasan ka mahatva par nibandh kaise likhe toh main bata doon anushasan safalta ki kunji hai ya kisi ne sahi kaha hai anushasan manushya ke vikas ke liye bahut aavashyak hai yadi manushya anushasan me jeevan yaapan karta hai toh vaah swayam ke liye sukhad aur ujjawal bhavishya ke liye raah nirdharit karta hai manushya dwara niyamon me rahkar niyamit roop se apne karya ko karna anushasan kaha jata hai yadi kisi ke andar anushasanahinta hota hai toh vaah swayam ke liye kathinaiyon ke liye highcourt deta hai vidyarthi hamare desh ka mukhya aadhar stambh hai yadi isme swayam anushasan ki kami hogi toh hum soch sakte hain ki desh ka bhavishya kaisa hoga vidyarthi jeevan ke anusaar apne jeevan me anushasan ka bahut mahatva hota hai anushasan ke dwara hi vaah swayam ke liye ujjawal bhavishya ka sambhavna kar sakta hai yadi uske jeevan me anushasan nahi hoga toh vaah jeevan ki daudh me sabse pichad jaega uske anushasanahinta use safal bana degi vidyarthi ke liye anushasan me rehna aur apne sabhi kavya ko karna aavashyak roop se karna bahut aavashyak hai yah vaah marg hai jo jeevan me safalta prapt karwata hai dhanyavad

आपका प्रश्न विद्यालय में अनुशासन का महत्व पर निबंध कैसे लिखे तो मैं बता दूं अनुशासन सफलता

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  527
KooApp_icon
WhatsApp_icon
7 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
विद्यालय में अनुशासन की आवश्यकता ; vidyalay mein anushasan ka mahatva ; विद्यालय में अनुशासन इन हिंदी ; विद्यालय में अनुशासन का महत्व ; vidyalaya mein anushasan in hindi ; विद्यालय में अनुशासन के नियम ; विद्यालय में अनुशासनहीनता पर निबंध ; vidyalay mein anushasan ka mahatva bataiye ; विद्यालय में अनुशासन का क्या महत्व है ; विद्यालय में अनुशासन पर निबंध ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!