वज्रासन के फायदे बताये और उसका उपयोग कैसे करे विस्तार से बताये?...


user
3:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार मैं लगभग सात-आठ सालों से खुद वज्रासन कर रहा हूं और इस नाते मैं यह कह सकता हूं कि वज्रासन के कई फायदे हैं सबसे पहला पहली बात तो यह कि maza.fun हम कैसे करें वज्रासन करने के लिए आप नीचे फर्श पर कोई मुलायम कपड़ा रखें हल्की गद्देदार और उस पर घुटनों के बल बैठ जाएं दोनों हाथ अपने को क्यों पर रखें और अंगूठे और उसके बगल की उंगली को मिला लें और इस तरह से घुटनों के बल ऐसे बैठे जैसे ध्यान में बैठा जाता है वज्रासन करने की कई फायदे हैं जिसमें सबसे पहला फायदा तो यह है कि आप को चुस्त-दुरुस्त रखता है आपको वहां घंटों बैठकर काम करना पड़ता है कुर्सी पर तो आप बैठ सकते हैं जैसे मैं अपनी बात करूं तुझे मैं पहले बैठता बिना वज्रासन के तुम मुझे दर्द हो सकती हो लेकिन वजन करने के बाद कम से कम 8 घंटे काम करने के बाद भी मुझे थकान नहीं होती या अब ऐसा नहीं लगता कि सुस्ती छा गई हो यह सबसे पहला फायदा है दूसरी बात कि जब आप वज्रासन पर बैठे हैं आमतौर पर हम तो खाना खाने के बाद ही बैठना चाहिए खाने को पचाने में सहायक है आपका ध्यान बना रहता है मानसिक शांति बनी रहती है सारी चीजें हैं आप जब वज्रासन करेंगे तो इसकी और भी कई सारी सारी फायदे आपको नजर आएंगे ऐसा लगेगा जैसे कि मतलब कई एक्सरसाइज करने के बजाय आप हमने एक बच्चा शंकर के ही अवतार इन सारी चीजों की छति पूर्ति कर ली है आमतौर पर आज की इस जो भागदौड़ की जिंदगी है उसमें हम एक्सरसाइज करने का याद ध्यान करने का योग करने का वक्त नहीं निकाल पाते लेकिन वज्रासन के लिए बहुत ही सरल और चुके आसान सा वज्रासन है वज्रासन करने के लिए किसी तकनीकी जगत नहीं है किसी अलग से किसी माहौल की जरूरत नहीं है आप कहीं भी बैठ सकते हैं घर में अगर गुंजाइश हो तो दफ्तर में भी इसका मौका निकाल सकते हैं 10 से 15 मिनट तक का क्रम बजाज सिंह करें तो उसके फायदे मिलते हैं नमस्कार

namaskar main lagbhag saat aath salon se khud vajrasan kar raha hoon aur is naate main yah keh sakta hoon ki vajrasan ke kai fayde hain sabse pehla pehli baat toh yah ki maza fun hum kaise kare vajrasan karne ke liye aap niche farsh par koi mulayam kapda rakhen halki gaddedar aur us par ghutno ke bal baith jayen dono hath apne ko kyon par rakhen aur anguthe aur uske bagal ki ungli ko mila le aur is tarah se ghutno ke bal aise baithe jaise dhyan me baitha jata hai vajrasan karne ki kai fayde hain jisme sabse pehla fayda toh yah hai ki aap ko chust durast rakhta hai aapko wahan ghanto baithkar kaam karna padta hai kursi par toh aap baith sakte hain jaise main apni baat karu tujhe main pehle baithta bina vajrasan ke tum mujhe dard ho sakti ho lekin wajan karne ke baad kam se kam 8 ghante kaam karne ke baad bhi mujhe thakan nahi hoti ya ab aisa nahi lagta ki susti cha gayi ho yah sabse pehla fayda hai dusri baat ki jab aap vajrasan par baithe hain aamtaur par hum toh khana khane ke baad hi baithana chahiye khane ko pachane me sahayak hai aapka dhyan bana rehta hai mansik shanti bani rehti hai saari cheezen hain aap jab vajrasan karenge toh iski aur bhi kai saari saari fayde aapko nazar aayenge aisa lagega jaise ki matlab kai exercise karne ke bajay aap humne ek baccha shankar ke hi avatar in saari chijon ki chati purti kar li hai aamtaur par aaj ki is jo bhagdaud ki zindagi hai usme hum exercise karne ka yaad dhyan karne ka yog karne ka waqt nahi nikaal paate lekin vajrasan ke liye bahut hi saral aur chuke aasaan sa vajrasan hai vajrasan karne ke liye kisi takniki jagat nahi hai kisi alag se kisi maahaul ki zarurat nahi hai aap kahin bhi baith sakte hain ghar me agar gunjaiesh ho toh daftaar me bhi iska mauka nikaal sakte hain 10 se 15 minute tak ka kram bajaj Singh kare toh uske fayde milte hain namaskar

नमस्कार मैं लगभग सात-आठ सालों से खुद वज्रासन कर रहा हूं और इस नाते मैं यह कह सकता हूं कि व

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user
0:20

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वज्रासन ही एक ऐसा आसन है जिसे खाने के तुरंत बाद किया जा सकता है जिसमें दोनों पैरों को मोड़कर और उस पर पीछे करके पैरों को उस पर बैठा जाता है कहा जाता है कि पाचन शक्ति में इसका योगदान है

vajrasan hi ek aisa aasan hai jise khane ke turant baad kiya ja sakta hai jisme dono pairon ko modakar aur us par peeche karke pairon ko us par baitha jata hai kaha jata hai ki pachan shakti mein iska yogdan hai

वज्रासन ही एक ऐसा आसन है जिसे खाने के तुरंत बाद किया जा सकता है जिसमें दोनों पैरों को मोड़

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  476
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वज्रासन के फायदे बताएं कैसे करें इसका उत्तर क्या की समस्या से राहत जाता है

vajrasan ke fayde bataye kaise kare iska uttar kya ki samasya se rahat jata hai

वज्रासन के फायदे बताएं कैसे करें इसका उत्तर क्या की समस्या से राहत जाता है

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  1632
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!