सीता का जनम कैसे हुआ विस्तार से बताये?...


play
user

RAZIBUL ISLAM KHAN

Teacher- 10 Years experience in colleges as a assistant professor

0:51

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सीता का जन्म कैसे हो बिस्तर में बताएं दिखे माता सीता का जन्म और उससे जुड़ी पहले आ पौराणिक कथा तभी उन्हें धरती में इसे आसान है कि दलिया में मिट्टी में लिपटी हुई एक सुंदर कहना मिली राजा जनक की कोई संतान नहीं थी इसलिए उस कन्या को हाथों में लेकर उन्हें पिता प्रेम की अनुभूति हुई राजा जनक ने उस कन्या को सीता नाम दिया और उसे अपनी पुत्री के रूप में अपना ले

sita ka janam kaise ho bistar mein bataye dikhe mata sita ka janam aur usse judi pehle aa pouranik katha tabhi unhe dharti mein ise aasaan hai ki daliya mein mitti mein lipti hui ek sundar kehna mili raja janak ki koi santan nahi thi isliye us kanya ko hathon mein lekar unhe pita prem ki anubhuti hui raja janak ne us kanya ko sita naam diya aur use apni putri ke roop mein apna le

सीता का जन्म कैसे हो बिस्तर में बताएं दिखे माता सीता का जन्म और उससे जुड़ी पहले आ पौराणिक

Romanized Version
Likes  75  Dislikes    views  1164
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pushpanjali

Teacher & Carrier Cunsultancy

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों आप ने मुझसे पूछा है सीता का जन्म कैसे हुआ विस्तार से बताइए तो मेरे को बताना चाहूंगी राजा जनक के यहां एक बहुत दिनों तक 1 वर्ष तक बारिश नहीं हुई थी इससे उनके पूरे जो प्रजाति महाकाल प्रधान महाकाल मच गई थी स्टेशन राजा जनक में एक यज्ञ किया और यह भी के अनुसार उनको खुद ही हल चलाना था खेत में तो उन्होंने हल चलाया हल चलाते वक्त उनकी हालत से एक मटकी टकराई तो वह मटकी टकराए थे उन्होंने मटकी जमीन से निकाला तो उसमें कन्या पाई गई तो हुआ कन्या को उन्होंने अपने पास अपनी बेटी बनाकर रख दिया और वही कन्या राजा जनक की पुत्री सीता पहला ही धन्यवाद

hello doston aap ne mujhse poocha hai sita ka janam kaise hua vistaar se bataiye toh mere ko batana chahungi raja janak ke yahan ek bahut dino tak 1 varsh tak barish nahi hui thi isse unke poore jo prajati mahakal pradhan mahakal match gayi thi station raja janak me ek yagya kiya aur yah bhi ke anusaar unko khud hi hal chalana tha khet me toh unhone hal chalaya hal chalte waqt unki halat se ek mataki takrai toh vaah mataki takraye the unhone mataki jameen se nikaala toh usme kanya payi gayi toh hua kanya ko unhone apne paas apni beti banakar rakh diya aur wahi kanya raja janak ki putri sita pehla hi dhanyavad

हेलो दोस्तों आप ने मुझसे पूछा है सीता का जन्म कैसे हुआ विस्तार से बताइए तो मेरे को बताना च

Romanized Version
Likes  19  Dislikes    views  632
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जी आपका प्रश्न है सीता का जन्म कैसे हुआ विस्तार से बताइए तो दोस्त मैं बता देना चाहता हूं कि पीता था जब देखा जाएगा चीन कथाओं में या पौराणिक कथाओं के अनुसार अगर देखें तो सीता का जन्म जो है मंदोदरी के कोख से हुआ था मंदोदरी की रावण की पत्नी थी दरअसल हुआ यूं था कि रिसीव के द्वारा जो है एक मटके में पसीने जमा किए जा रहे थे और वह मटका जो है किसी कारणवश रावण की हाथ लग गया और वहां पर लेकर जाकर अपनी पत्नी जो की मंदोदरी थी उसे दे दिया और कहा कि इसे संभाल के रखना बहुत कीमती है यह विषैला है लेकिन मंदोदरी जो है रावण के क्रियाकलापों से तंग आकर हुआ आत्मदाह करने या जान देने के चक्कर में हुआ उसको जाती है लेकिन पीने के बाद जो है होता है कि वह गर्भवती हो जाती लेकिन वह इसे रखना नहीं चाहती है और भारत घूमने के कारण जो है उद्देश्य से व 12 जाती है और मिथिला में अपने सैनिकों से छुप करके अपने को को गिरा कर के मिट्टी में दफना देती है तो यह जो दफनाया गया है वह कई वर्षों पश्चात जो है राजा जनक के हल चलाने के क्रम में इसका उद्भव हुआ था अर्थात सीता माता का जन्म हुआ

ji aapka prashna hai sita ka janam kaise hua vistaar se bataiye toh dost main bata dena chahta hoon ki pita tha jab dekha jaega china kathao me ya pouranik kathao ke anusaar agar dekhen toh sita ka janam jo hai mandodari ke kokh se hua tha mandodari ki ravan ki patni thi darasal hua yun tha ki receive ke dwara jo hai ek matke me pasine jama kiye ja rahe the aur vaah matka jo hai kisi karanvash ravan ki hath lag gaya aur wahan par lekar jaakar apni patni jo ki mandodari thi use de diya aur kaha ki ise sambhaal ke rakhna bahut kimti hai yah vishaila hai lekin mandodari jo hai ravan ke kriyaklapon se tang aakar hua aatmadaah karne ya jaan dene ke chakkar me hua usko jaati hai lekin peene ke baad jo hai hota hai ki vaah garbhwati ho jaati lekin vaah ise rakhna nahi chahti hai aur bharat ghoomne ke karan jo hai uddeshya se va 12 jaati hai aur mithila me apne sainikon se chup karke apne ko ko gira kar ke mitti me dafana deti hai toh yah jo dafnaya gaya hai vaah kai varshon pashchat jo hai raja janak ke hal chalane ke kram me iska udbhav hua tha arthat sita mata ka janam hua

जी आपका प्रश्न है सीता का जन्म कैसे हुआ विस्तार से बताइए तो दोस्त मैं बता देना चाहता हूं क

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  1002
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  16  Dislikes    views  528
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!