श्रीनाथजी की हवेली के बारे में विस्तार से बताये?...


user
0:28
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न पूछा श्रीनाथजी की हवेली के बारे में विस्तार से बताएं तो मैं आपको बता दूं कि श्रीनाथजी की हवेली बहुत ही सुंदर हवेली है बहुत बड़ी हवेली है बहुत ज्यादा में बनी हुई है और इसमें बहुत सारे रूम है बहुत प्यारे-प्यारे रूम में बहुत पुरानी हवेली बनी और प्यारे रूम में उसमें और इसमें उन्होंने दो-तीन केयरटेकर भी है यहां पर उसकी देखभाल के लिए क्योंकि इतनी बड़ी हवेली

prashna poocha shrinathji ki haweli ke bare me vistaar se bataye toh main aapko bata doon ki shrinathji ki haweli bahut hi sundar haweli hai bahut badi haweli hai bahut zyada me bani hui hai aur isme bahut saare room hai bahut pyare pyare room me bahut purani haweli bani aur pyare room me usme aur isme unhone do teen keyaratekar bhi hai yahan par uski dekhbhal ke liye kyonki itni badi haweli

प्रश्न पूछा श्रीनाथजी की हवेली के बारे में विस्तार से बताएं तो मैं आपको बता दूं कि श्रीनाथ

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  823
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Anil sarswat

College Lect.,Business Owner

1:48

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों आज अवकाश वाले श्रीनाथजी के बिजली के बारे में विस्तार से बताइए तो उत्तर है श्रीनाथजी को आगरा में ग्वालियर के माध्यम से राजस्थान के मेवाड़ क्षेत्र में लाया गया था ताकि औरंगजेब के दमनकारी शासन के दौरान हो रहे हिंदू मंदिरों के विनाश की सुरक्षा उसके धार्मिक मित्रों के अनुसार नाथद्वारा मंदिर का निर्माण त्रिशताब्दी नाथ जी द्वारा संचालित किए गए स्थान पर किया गया मंदिर को लोकप्रिय रूप से श्रीनाथजी के वेली या शिवनाथ जी का घर भी कहा जाता है क्योंकि एक नियमित गृहस्ती की तरह इसमें रथ की आवाजाही होती है दूध के लिए स्टोर रूम में स्क्वायर के स्टोरों में चीनी और बेटियों के लिए स्टोरों में फूलों के लिए स्टोरों में एक कार्यात्मक कक्षा एक रसोई घर है क्या भूषण कब से एक खजाना रथ के घोड़ों के लिए एक तीर एक ड्राइंग रूम एक सोने और चांदी का पहिया दुनिया भर के कई प्रमुख मंदिर है जसनाथ जी की पूजा की जाती है पश्चिमी घाट के नाथद्वारा को वज्र के नाम से भी जाना जाता है 1 वर्ष में 100000 हिंदुओं द्वारा हिंदू बजे की यात्रा की जाती है मंदिर के पुजारियों और सेवकों को उनके कर्तव्यों के प्रतिफल के रूप में वेतन के स्थान पर प्रसाद दिया जाता है सूर्य प्रसाद उनमें मानो को दिया जाता है या बेटा जाता है जो मंदिर में दर्शन के लिए आते हैं धन्यवाद दोस्तों आशा है आपको उत्तर पसंद आया होगा जय हिंद जय भारत

namaskar doston aaj avkash waale shrinathji ke bijli ke bare me vistaar se bataiye toh uttar hai shrinathji ko agra me gwalior ke madhyam se rajasthan ke mewad kshetra me laya gaya tha taki aurangzeb ke damankari shasan ke dauran ho rahe hindu mandiro ke vinash ki suraksha uske dharmik mitron ke anusaar nathadwara mandir ka nirmaan trishatabdi nath ji dwara sanchalit kiye gaye sthan par kiya gaya mandir ko lokpriya roop se shrinathji ke veli ya shivnath ji ka ghar bhi kaha jata hai kyonki ek niyamit grihasti ki tarah isme rath ki avajahi hoti hai doodh ke liye store room me square ke storon me chini aur betiyon ke liye storon me fulo ke liye storon me ek karyatmak kaksha ek rasoi ghar hai kya bhushan kab se ek khajana rath ke ghodon ke liye ek teer ek drying room ek sone aur chaandi ka pahiya duniya bhar ke kai pramukh mandir hai jasnath ji ki puja ki jaati hai pashchimi ghat ke nathadwara ko vajra ke naam se bhi jana jata hai 1 varsh me 100000 hinduon dwara hindu baje ki yatra ki jaati hai mandir ke pujariyon aur sevakon ko unke kartavyon ke pratiphal ke roop me vetan ke sthan par prasad diya jata hai surya prasad unmen maano ko diya jata hai ya beta jata hai jo mandir me darshan ke liye aate hain dhanyavad doston asha hai aapko uttar pasand aaya hoga jai hind jai bharat

नमस्कार दोस्तों आज अवकाश वाले श्रीनाथजी के बिजली के बारे में विस्तार से बताइए तो उत्तर है

Romanized Version
Likes  18  Dislikes    views  635
WhatsApp_icon
user

Amit Kumar

Teacher

0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है श्रीनाथजी की हवेली के बारे में विस्तार से बताया था इस प्रश्न का उत्तर देना चाहूंगा कि श्रीनाथजी की जो हवेली है वह मंदिर के लिए जो से श्रीनाथजी की हवेली विशेष प्रयोजन जैसी बनी हुई है जिसमें रात आवाजाही होते रहता है और यहां पर रखा अवस्था के लिए रूम अलग अलग बनाया गया हुआ

aapka prashna hai shrinathji ki haweli ke bare me vistaar se bataya tha is prashna ka uttar dena chahunga ki shrinathji ki jo haweli hai vaah mandir ke liye jo se shrinathji ki haweli vishesh prayojan jaisi bani hui hai jisme raat avajahi hote rehta hai aur yahan par rakha avastha ke liye room alag alag banaya gaya hua

आपका प्रश्न है श्रीनाथजी की हवेली के बारे में विस्तार से बताया था इस प्रश्न का उत्तर देना

Romanized Version
Likes  36  Dislikes    views  596
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!