साकेत नवम सर्ग की विशेषता क्या है बताये?...


play
user

Sunil

Teacher

0:25

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए साकेत नवम सर्ग जो है एक सहानुभूति एवं वैष्णव कवि की स्वाभाविक अनुभूति का परिणाम है इसमें कवि ने रामायण के 1 गुण पात्र को प्रमुखता देने का भरपूर प्रयास किया है

dekhiye saket navam sarg jo hai ek sahanubhuti evam vaisnav kavi ki swabhavik anubhuti ka parinam hai isme kavi ne ramayana ke 1 gun patra ko pramukhta dene ka bharpur prayas kiya hai

देखिए साकेत नवम सर्ग जो है एक सहानुभूति एवं वैष्णव कवि की स्वाभाविक अनुभूति का परिणाम है इ

Romanized Version
Likes  69  Dislikes    views  955
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि साकेत के नवम सर्ग की विशेषता बताएं तो दोस्तों यह सहानुभूति एक वैष्णव कवि की स्वभाविक अनुभूति का परिणाम है इसमें कवि ने रामायण की एक गोत्र पात्र को प्रमुखता देने की देने का भरपूर प्रयत्न किया है

aapne poocha hai ki saket ke navam sarg ki visheshata bataye toh doston yah sahanubhuti ek vaisnav kavi ki swabhavik anubhuti ka parinam hai isme kavi ne ramayana ki ek gotra patra ko pramukhta dene ki dene ka bharpur prayatn kiya hai

आपने पूछा है कि साकेत के नवम सर्ग की विशेषता बताएं तो दोस्तों यह सहानुभूति एक वैष्णव कवि क

Romanized Version
Likes  45  Dislikes    views  598
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साकेत नवम सर्ग की विशेषता क्या है बताएं दिखे श्री मैथिलीशरण गुप्त जी ने साकेत के नवम सर्ग में उर्मिला की विरह पीड़ा को व्यक्त किया है उन्होंने उसके प्रति सहानुभूति प्रकट की है या शान होती है तो वैष्णव कवि की स्वभाविक अनुभूति का परिणाम है उन्होंने उर्मिला के दीर्घ और दारू नवयुग का मार्मिक और प्रभावशाली चित्रण किया है

saket navam sarg ki visheshata kya hai bataye dikhe shri maithalisharan gupt ji ne saket ke navam sarg me urmila ki virah peeda ko vyakt kiya hai unhone uske prati sahanubhuti prakat ki hai ya shan hoti hai toh vaisnav kavi ki swabhavik anubhuti ka parinam hai unhone urmila ke dirgh aur daaru navyug ka marmik aur prabhavshali chitran kiya hai

साकेत नवम सर्ग की विशेषता क्या है बताएं दिखे श्री मैथिलीशरण गुप्त जी ने साकेत के नवम सर्ग

Romanized Version
Likes  58  Dislikes    views  2139
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!