राष्ट्रीय पर्वो का महत्व क्या है?...


play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राष्ट्रीय पर्व राष्ट्रीय त्योहारों का महत्व समाज राष्ट्र की एकता समृद्धि प्रेम एकता मेल मिलाप की दृष्टि से है सांप्रदायिक एकता धार्मिक समन्वय सामाजिक समानता को हमारे भारतीय त्यौहार या राष्ट्रीय पर समय-समय पर गठित होकर हमारे हमारे अंदर उत्पन्न करते रहते हैं जातीय भेदभाव ना और समय पर अपने अपार उल्लास और आनंद के द्वारा छिन्न-भिन्न कर देते हैं सबसे बड़ी बात तो यह होती है कि यह त्यौहार अपने जन्म काल से लेकर अब तक उसी पवित्रता और सीता की भावनाओं को ईसाइयों से जुड़े हुए हैं वर्तमान युग का पटाक्षेप इन त्योहारों के लिए कोई प्रभाव नहीं डाल सकता धन्यवाद

rashtriya parv rashtriya tyoharon ka mahatva samaj rashtra ki ekta samridhi prem ekta male milap ki drishti se hai sampradayik ekta dharmik samanvay samajik samanata ko hamare bharatiya tyohar ya rashtriya par samay samay par gathit hokar hamare hamare andar utpann karte rehte hain jatiye bhedbhav na aur samay par apne apaar ullas aur anand ke dwara chinn bhinn kar dete hain sabse badi baat toh yah hoti hai ki yah tyohar apne janam kaal se lekar ab tak usi pavitrata aur sita ki bhavnao ko isaiyon se jude hue hain vartaman yug ka patakshep in tyoharon ke liye koi prabhav nahi daal sakta dhanyavad

राष्ट्रीय पर्व राष्ट्रीय त्योहारों का महत्व समाज राष्ट्र की एकता समृद्धि प्रेम एकता मेल मि

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  470
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Manish Manchanda

Lecturer Chemistry Poet & Writer

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे होते हैं जैसे कि 15 अगस्त जैसे कि हमारा गणतंत्र दिवस और 2 अक्टूबर गांधी जयंती अंतरराष्ट्रीय राष्ट्रीय पर्व पर भारत के लोगों के बीच में देश के लोगों के बीच में राष्ट्रीयता बढ़ती है राशि का का प्रसार होता है और देशभक्ति की भावना जागृत होती है

hamare hote hain jaise ki 15 august jaise ki hamara gantantra divas aur 2 october gandhi jayanti antararashtriya rashtriya parv par bharat ke logo ke beech me desh ke logo ke beech me rastriyata badhti hai rashi ka ka prasaar hota hai aur deshbhakti ki bhavna jagrit hoti hai

हमारे होते हैं जैसे कि 15 अगस्त जैसे कि हमारा गणतंत्र दिवस और 2 अक्टूबर गांधी जयंती अंतररा

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  653
WhatsApp_icon
user
0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कस्बा में दोस्त राष्ट्रीय प्रमुख का क्या महत्व है तो दोस्त राष्ट्रीय पर्व का बहुत ज्यादा महत्व है क्योंकि राष्ट्रीय पर्व पूरे देश में पूरे राष्ट्र मनाया जाते हैं राष्ट्रीय पर्व हमारे अंदर राष्ट्रीयता की भावना जगाते हैं राष्ट्रवाद की भावना जागते हैं हमें अपने राष्ट्र से प्रेम करना सिखाते हैं धन्यवाद

quasba me dost rashtriya pramukh ka kya mahatva hai toh dost rashtriya parv ka bahut zyada mahatva hai kyonki rashtriya parv poore desh me poore rashtra manaya jaate hain rashtriya parv hamare andar rastriyata ki bhavna jagate hain rashtravad ki bhavna jagte hain hamein apne rashtra se prem karna sikhaate hain dhanyavad

कस्बा में दोस्त राष्ट्रीय प्रमुख का क्या महत्व है तो दोस्त राष्ट्रीय पर्व का बहुत ज्यादा म

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  1253
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!