पटवों जी की हवेली के बारे में विस्तार से बताये?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि पटौदी की हवेली के बारे में विस्तार में बताएं वह हम आपको बता दें कि पटवों की हवेली राजस्थान के जैसलमेर में स्थित एक प्राचीन अमान संरचना है जिसको अक्सर हवेली कहा जाता है यह हवेली राजस्थान का एक प्रमुख पर्यटन और ऐतिहासिक स्थल है पीले करामाती रोड में रंगीन पटवों की हवेली इस शहर की यात्रा करने वाले पर्यटकों को अपनी तरफ बेहद आकर्षित करती है यह मनमोहक हवेली जैसलमेर का एक प्रभावशाली स्मारक है क्योंकि शहर के प्राचीन निर्माण में से एक हैं औरतों की हवेली पांच हवेलियों का समूह है जिसका निर्माण एक अमीर व्यापारी पटवा द्वारा किया गया जिसकी आपने पांच बेटों में से प्रति के लिए एक फॉर्म निर्माण किया था इस हवेली के पांचों सदस्यों ने की शताब्दी में 8 वर्षो के अंदर पूरे हुए थे

aapne poocha hai ki pataudi ki haweli ke bare me vistaar me bataye vaah hum aapko bata de ki patvon ki haweli rajasthan ke jaisalmer me sthit ek prachin amaan sanrachna hai jisko aksar haweli kaha jata hai yah haweli rajasthan ka ek pramukh paryatan aur etihasik sthal hai peele karamati road me rangeen patvon ki haweli is shehar ki yatra karne waale paryatakon ko apni taraf behad aakarshit karti hai yah manamohak haweli jaisalmer ka ek prabhavshali smarak hai kyonki shehar ke prachin nirmaan me se ek hain auraton ki haweli paanch haveliyon ka samuh hai jiska nirmaan ek amir vyapaari patawa dwara kiya gaya jiski aapne paanch beto me se prati ke liye ek form nirmaan kiya tha is haweli ke panchon sadasyon ne ki shatabdi me 8 varsho ke andar poore hue the

आपने पूछा है कि पटौदी की हवेली के बारे में विस्तार में बताएं वह हम आपको बता दें कि पटवों क

Romanized Version
Likes  34  Dislikes    views  528
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Raghuveer Singh

👤Teacher & Advisor🙏

0:19

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आप उसने पटवों की हवेली के बारे में बताइए तो लिखी पटवों की हवेली जैसलमेर

namaskar aap usne patvon ki haweli ke bare mein bataiye toh likhi patvon ki haweli jaisalmer

नमस्कार आप उसने पटवों की हवेली के बारे में बताइए तो लिखी पटवों की हवेली जैसलमेर

Romanized Version
Likes  103  Dislikes    views  1861
WhatsApp_icon
user
1:02
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पटवों की हवेली राजस्थान के जैसलमेर में स्थित एक प्राचीन आवाज संरचना है जिसको अक्सर हवेली कहा जाता है यह हवेली राजस्थान का एक प्रमुख पर्यटक और ऐतिहासिक स्थान है पीले कारीगिरी सेट में रंगीन पटवों की हवेली इस शहर की यात्रा करने वाले पर्यटकों को अपनी तरफ आकर्षित करता है या मनमोहक हवेली जैसलमेर के प्रभावशाली स्मारक है क्योंकि या शहर के प्राचीन निर्माण में से एक है पटवों की हवेली पांच हवेलियों का समूह है जिसका निर्माण एक अमीर व्यापारी पटवा द्वारा किया गया था जिसमें अपने पांचों बेटों के लिए एक-एक हवेली का निर्माण करवाया था इस हवेली 19 वी सदी से में 7 वर्षों के अंतर

patvon ki haweli rajasthan ke jaisalmer me sthit ek prachin awaaz sanrachna hai jisko aksar haweli kaha jata hai yah haweli rajasthan ka ek pramukh paryatak aur etihasik sthan hai peele karigiri set me rangeen patvon ki haweli is shehar ki yatra karne waale paryatakon ko apni taraf aakarshit karta hai ya manamohak haweli jaisalmer ke prabhavshali smarak hai kyonki ya shehar ke prachin nirmaan me se ek hai patvon ki haweli paanch haveliyon ka samuh hai jiska nirmaan ek amir vyapaari patawa dwara kiya gaya tha jisme apne panchon beto ke liye ek ek haweli ka nirmaan karvaya tha is haweli 19 v sadi se me 7 varshon ke antar

पटवों की हवेली राजस्थान के जैसलमेर में स्थित एक प्राचीन आवाज संरचना है जिसको अक्सर हवेली क

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  330
WhatsApp_icon
user
1:09
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फ्रेंड आपने पोस्ट किया के पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए तो बिल्कुल मैं आपको बताना चाहूंगा कि जब पटवों की हवेली व राजस्थान के जैसलमेर जिले में वहां पर अगर आंच आए तो पटवों की हवेली बहुत ऐतिहासिक और बहुत मान्यता है इसाबेली को बहुत ऐतिहासिक कहानियां इसे हवेली से जुड़ी हुई और वह बहुत ही नया और बहुत ही अच्छी तरीके से बनाया गया इसे अगर आज के डेट में भी देखा जाए तो लगता है ऐसा कि हाल-फिलहाल में ही नया बना बनाया गया है इसके ऐसी कारीगरी है कि आप इसे देखते ही आप इसे देखते ही नहीं सकोगे और इसे मन करेगा कि इसे देखते ही रहेगी जो का डिग्रियां फ्रेंड आज के डेट में जो नायाब इंजीनियरिंग उसका एक बेहतरीन नमूना आपको उस जमाने में ही दे दिया गया था और उसमें तो फिर इतने आपको अच्छे-अच्छे जो हवेलियां बनी है वह आज के डेट में भी लगता है कि मारो या साल 2 साल पहले ही बनकर तैयार हुआ हो तो फ्रेंड ऐसा है यह पटवों की हवेली धन्यवाद

friend aapne post kiya ke patvon ki haweli ke bare me vistaar se bataiye toh bilkul main aapko batana chahunga ki jab patvon ki haweli va rajasthan ke jaisalmer jile me wahan par agar aanch aaye toh patvon ki haweli bahut etihasik aur bahut manyata hai isabeli ko bahut etihasik kahaniya ise haweli se judi hui aur vaah bahut hi naya aur bahut hi achi tarike se banaya gaya ise agar aaj ke date me bhi dekha jaaye toh lagta hai aisa ki haal filhal me hi naya bana banaya gaya hai iske aisi karigari hai ki aap ise dekhte hi aap ise dekhte hi nahi sakoge aur ise man karega ki ise dekhte hi rahegi jo ka digriyan friend aaj ke date me jo naayaab Engineering uska ek behtareen namuna aapko us jamane me hi de diya gaya tha aur usme toh phir itne aapko acche acche jo haveliyan bani hai vaah aaj ke date me bhi lagta hai ki maaro ya saal 2 saal pehle hi bankar taiyar hua ho toh friend aisa hai yah patvon ki haweli dhanyavad

फ्रेंड आपने पोस्ट किया के पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए तो बिल्कुल मैं आपको

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  1090
WhatsApp_icon
user
1:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका पर्सनल पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए पटवों की हवेली राजस्थान के जैसलमेर जिले में स्थित है प्राचीन आवाज से समझना है जिसको अक्सर हवेली कहा जाता है यह हवेली राजस्थान का प्रमुख पर्यटन स्थल और ऐतिहासिक स्थल है पीले करामाती पत्थरों से बनी हुई है हवेली जैसलमेर में आने वाले पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है यह हवेली जैसलमेर के प्राचीन स्मारकों में से बहती आकर्षक हवेली है यह हवेली पांच हवेलियों का समूह है जिसे जैसलमेर के अमीर व्यापारी पटवा द्वारा अपने पांच पुत्रों के लिए प्रत्येक के लिए अलग-अलग हवेली के रूप में बनाया गया इसके निर्माण में लगभग 60 वर्षों का समय लगा इसके 500 सदन है वह 19वीं शताब्दी में निर्मित कराए गए यह बहुत ही मनमोहक आकर्षक पत्थरों पर नक्काशी करके बहुत ही सुंदर ढंग से कारीगरी करके बनाई गई है इसको देखकर दर्शक पर्यटक है वह बहुत ही रोमांचित होते हैं और आश्चर्यचकित होते हैं बहुत-बहुत धन्यवाद

namaskar aapka personal patvon ki haweli ke bare me vistaar se bataiye patvon ki haweli rajasthan ke jaisalmer jile me sthit hai prachin awaaz se samajhna hai jisko aksar haweli kaha jata hai yah haweli rajasthan ka pramukh paryatan sthal aur etihasik sthal hai peele karamati pattharon se bani hui hai haweli jaisalmer me aane waale paryatakon ko apni aur aakarshit karti hai yah haweli jaisalmer ke prachin smaarakon me se behti aakarshak haweli hai yah haweli paanch haveliyon ka samuh hai jise jaisalmer ke amir vyapaari patawa dwara apne paanch putron ke liye pratyek ke liye alag alag haweli ke roop me banaya gaya iske nirmaan me lagbhag 60 varshon ka samay laga iske 500 sadan hai vaah vi shatabdi me nirmit karae gaye yah bahut hi manamohak aakarshak pattharon par nakkashi karke bahut hi sundar dhang se karigari karke banai gayi hai isko dekhkar darshak paryatak hai vaah bahut hi romanchit hote hain aur ashcharyachakit hote hain bahut bahut dhanyavad

नमस्कार आपका पर्सनल पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए पटवों की हवेली राजस्थान के

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  156
WhatsApp_icon
user

Suman Saurav

Government Teacher & Carrear Counsultent

0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मस्त दोस्तों प्रश्न पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताएं तो बताना चाहूंगा पटवों की हवेली हरियाणा में अवस्थित हवेली है जो अपनी अद्भुत स्थापत्य कला के लिए विश्व में प्रसिद्ध है इसको द्वारा ऐतिहासिक धरोहर घोषित किया जा चुका है

mast doston prashna patvon ki haweli ke bare me vistaar se bataye toh batana chahunga patvon ki haweli haryana me avasthit haweli hai jo apni adbhut sthaapaty kala ke liye vishwa me prasiddh hai isko dwara etihasik dharohar ghoshit kiya ja chuka hai

मस्त दोस्तों प्रश्न पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताएं तो बताना चाहूंगा पटवों की

Romanized Version
Likes  65  Dislikes    views  1274
WhatsApp_icon
user

Anil sarswat

College Lect.,Business Owner

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए उत्तर है पटवों की हवेली जैसलमेर में है यहां के पटवा की हवेली अपनी विशालता शिल्प कला एवं अद्भुत नकाशी के कारण प्रसिद्ध है यह सेट गुमान चंद बाफना ने बनवाई थी यह पांच मंजिला हवेली शेर के मध्य स्थित है इस रैली के जाली झरोखे बरबस ही पर्यटकों को आकर्षित करते हैं

aapka prashna hai patvon ki haweli ke bare me vistaar se bataiye uttar hai patvon ki haweli jaisalmer me hai yahan ke patawa ki haweli apni vishalata shilp kala evam adbhut nakashi ke karan prasiddh hai yah set gumaan chand bafna ne banwaai thi yah paanch manjila haweli sher ke madhya sthit hai is rally ke jaali jharokhe barbas hi paryatakon ko aakarshit karte hain

आपका प्रश्न है पटवों की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए उत्तर है पटवों की हवेली जैसलमेर

Romanized Version
Likes  16  Dislikes    views  808
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!