निबंध ों व्यायाम का महत्व क्या है?...


user
0:19
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

व्यायाम शरीर मन और आत्मा को नियंत्रित करने में मदद करता है शरीर और मन को शांत करने के लिए शारीरिक और मानसिक अनुशासन का एक संतुलन बनाता है यह तनाव और चिंता का प्रबंधन करने में भी बहुत सहायता करता है

vyayam sharir man aur aatma ko niyantrit karne me madad karta hai sharir aur man ko shaant karne ke liye sharirik aur mansik anushasan ka ek santulan banata hai yah tanaav aur chinta ka prabandhan karne me bhi bahut sahayta karta hai

व्यायाम शरीर मन और आत्मा को नियंत्रित करने में मदद करता है शरीर और मन को शांत करने के लिए

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  270
WhatsApp_icon
8 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने कुछ पूछा निबंध व्यायाम का महत्व क्या बताना चाहता हूं व्यायाम का महत्व पाती ज्यादा व्यस्त होता है जिसे कृपया मतलब कि या स्थान में से एक होता है और व्यायाम करने से योग करने से इंसान का शरीर और मानसिक दोनों ही विकास तीव्र गति से होते हैं धन्यवाद

aapne kuch poocha nibandh vyayam ka mahatva kya batana chahta hoon vyayam ka mahatva pati zyada vyast hota hai jise kripya matlab ki ya sthan mein se ek hota hai aur vyayam karne se yog karne se insaan ka sharir aur mansik dono hi vikas teevr gati se hote hain dhanyavad

आपने कुछ पूछा निबंध व्यायाम का महत्व क्या बताना चाहता हूं व्यायाम का महत्व पाती ज्यादा व्य

Romanized Version
Likes  45  Dislikes    views  935
WhatsApp_icon
user

Pushpanjali

Teacher & Carrier Cunsultancy

0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

दोस्तो आपने मुझसे पूछा है कि व्यायाम का महत्व क्या था को बताना चाहती तो स्वयं का महत्व है कि यह अगर हम व्यायाम करते हैं तो वह हम करने से हमारा शरीर चुस्त और तंदुरुस्त रहता है व्यायाम करने से हमारा शरीर बिल्कुल एक्टिव रहता है मस्त नहीं होता है हम करने से हम किसी भी बीमारी से लड़ने की हमारी क्षमता आ जाती है धन्यवाद

doston aapne mujhse poocha hai ki vyayam ka mahatva kya tha ko batana chahti toh swayam ka mahatva hai ki yah agar hum vyayam karte hain toh vaah hum karne se hamara sharir chust aur tandurust rehta hai vyayam karne se hamara sharir bilkul active rehta hai mast nahi hota hai hum karne se hum kisi bhi bimari se ladane ki hamari kshamta aa jaati hai dhanyavad

दोस्तो आपने मुझसे पूछा है कि व्यायाम का महत्व क्या था को बताना चाहती तो स्वयं का महत्व है

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  1090
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है निबंध लिखें व्यायाम के महत्व निबंध लिखें बयान का महत्व आयाम का अर्थ होता है शरीर को इस तरह ना सुकून आया कि वह किसी भी स्थिति में कार्य करते कभी इस प्रकार अच्छे भोजन से शरीर को पोषण मिलता है उसी प्रकार से बयान से शरीर लंबे समय तक उचित दशा में बना रहता है बयान से शरीर को सुगठित तंदुरुस्त और फुर्तीला बनाया जा सकता है आजकल अधिकतर का मशीनों की सहायता से होने लगे हैं मशीनें आदमी को एक एक ही दिशा में कार्य करते रहने के लिए विवश कर देती हैं लोग बंद कक्षाओं में बैठे या खड़े रहते हैं या और स्वास्थ्य पर पर अतिथि मानसिक तनाव और सारी बीमारियों को जन्म देती है परंतु प्रतिदिन बैन किया जाए तो इस स्थिति में बदलाव लाया जा सकता है हर दिन 1 घंटे के बयान से आदमी विनने विनने प्रकार की शारीरिक और मानसिक व्याधियों से दूर रह सकता है इतना ही नहीं वह मानसिक चिंता से मुक्त होकर सर्वेक्षक टी एवं बुद्धि से युक्त होकर अपने दैनिक कार्यों को भलीभांति संचालित कर सकता है बयान से मानसिक तनाव और थकान मिटती है शरीर का रक्त शुद्ध हो जाता है तथा पूरे शरीर में ताजगी आ जाती है बयां म्यूजिक खुले स्थान में या किसी पार्क में किया जाए तो अधिक लाभ देता है फेसबुक को शुद्ध वायु प्राप्त होती है पैसों और अस्थियों को ताकत मिलती है शरीर का दर्द एक्शन मिट जाता है ज्ञानेंद्रियों में सजगता आती है और संपूर्ण शरीर प्राकृतिक दशा में कार्य करने लगता है शरीर दुर्बलता और सुस्ती समाप्त हो जाती है इस प्रकार व्यायाम के प्रभाव से शरीर में नवजीवन का संचार होता है बूढ़े और बीमार लोग भी अपने भीतर स्फूर्ति का अनुभव करते हैं बयान अलग-अलग प्रकार के हो सकते हैं बुरे और अशक्त लोगों के लिए लाया था तेज चलना है या टहलना भी अच्छा बयान है बच्चे और युवा दौड़ लगा सकते हैं या दंड बैठक कर सकते हैं साइकिल चल चलाना तैरना मुकदर उठाना गोला फेंकना अभी बयान के विभिन्न रूप है विभिन्न आयु वर्ग के लोग अपनी सुविधा और पसंद केस को देखते हुए बयान के उचित रूप का चुनाव कर सकते हैं शहरों में बयान करने वालों की सुविधाओं के लिए बयान शालाओं की स्थापना की गई है यहां बयान करने के लिए अनेक प्रकार के उपकरण है युवा यहां बड़ी संख्या में आते हैं नगरों में बयान साला और पाक होते हैं तो गांव में प्राकृतिक उद्यान और चांद को खुले स्थान होते हैं गांव में बयान किसी भी खुले स्थान पर किया जा सकता है वहां की हवा पर चकित अधिक शुद्ध होती है नाम चाहे कहीं भी किया जाए इसके नियमित का बहुत महत्व है अनियमित ढंग से किया गया बयान लाभप्रद नहीं हो सकता है बड़ी आयु में हल्के-फुल्के बाया बहुत लाभप्रद होते हैं टहलना और हल्के-फुल्के ढंग से अंग संचालन से शरीर का पूरा बयान होता है बुजुर्ग आदमी देखना है हम करें तो उनको सीधे घाट मधु मधु में लकवा अत्यधिक थकान जैसी बीमारियों नहीं हो गया बीमारी की संख्या कम होगी आजकल बयान हर किसी के लिए जरूरी है विद्यार्थी इसके लिए अपनी शारीरिक एवं मानसिक क्षमता बढ़ा सकते हैं खिलाड़ियों की दक्षता और फिटनेस का पूरा आधा या नहीं है युवा बयान के द्वारा अपने कार्य शक्ति में भर्ती कर सकते हैं वह इसके द्वारा बुढ़ापे के शीघ्र आक्रमण को रोक सकते हैं व्यायाम का महत्व प्रत्येक व्यक्ति के लिए आधुनिक समय के परेशानियों से बचने के लिए इससे कारगर कोई उपाय नहीं है

aapka prashna hai nibandh likhen vyayam ke mahatva nibandh likhen bayan ka mahatva aayam ka arth hota hai sharir ko is tarah na sukoon aaya ki vaah kisi bhi sthiti me karya karte kabhi is prakar acche bhojan se sharir ko poshan milta hai usi prakar se bayan se sharir lambe samay tak uchit dasha me bana rehta hai bayan se sharir ko sugthit tandurust aur furtila banaya ja sakta hai aajkal adhiktar ka machino ki sahayta se hone lage hain mashinen aadmi ko ek ek hi disha me karya karte rehne ke liye vivash kar deti hain log band kakshaon me baithe ya khade rehte hain ya aur swasthya par par atithi mansik tanaav aur saari bimariyon ko janam deti hai parantu pratidin ban kiya jaaye toh is sthiti me badlav laya ja sakta hai har din 1 ghante ke bayan se aadmi vinne vinne prakar ki sharirik aur mansik vyadhiyon se dur reh sakta hai itna hi nahi vaah mansik chinta se mukt hokar sarvekshak T evam buddhi se yukt hokar apne dainik karyo ko bhalibhanti sanchalit kar sakta hai bayan se mansik tanaav aur thakan mitati hai sharir ka rakt shudh ho jata hai tatha poore sharir me tajgi aa jaati hai bayaan music khule sthan me ya kisi park me kiya jaaye toh adhik labh deta hai facebook ko shudh vayu prapt hoti hai paison aur asthiyon ko takat milti hai sharir ka dard action mit jata hai gyanendriyon me sajgata aati hai aur sampurna sharir prakirtik dasha me karya karne lagta hai sharir durbalata aur susti samapt ho jaati hai is prakar vyayam ke prabhav se sharir me navjivan ka sanchar hota hai budhe aur bimar log bhi apne bheetar sfurti ka anubhav karte hain bayan alag alag prakar ke ho sakte hain bure aur ashakt logo ke liye laya tha tez chalna hai ya tahalana bhi accha bayan hai bacche aur yuva daudh laga sakte hain ya dand baithak kar sakte hain cycle chal chalana tairna mukadar uthana gola phenkana abhi bayan ke vibhinn roop hai vibhinn aayu varg ke log apni suvidha aur pasand case ko dekhte hue bayan ke uchit roop ka chunav kar sakte hain shaharon me bayan karne walon ki suvidhaon ke liye bayan shalaaon ki sthapna ki gayi hai yahan bayan karne ke liye anek prakar ke upkaran hai yuva yahan badi sankhya me aate hain nagaron me bayan sala aur pak hote hain toh gaon me prakirtik udyan aur chand ko khule sthan hote hain gaon me bayan kisi bhi khule sthan par kiya ja sakta hai wahan ki hawa par chakit adhik shudh hoti hai naam chahen kahin bhi kiya jaaye iske niyamit ka bahut mahatva hai aniyamit dhang se kiya gaya bayan laabhaprad nahi ho sakta hai badi aayu me halke fulke baya bahut laabhaprad hote hain tahalana aur halke fulke dhang se ang sanchalan se sharir ka pura bayan hota hai bujurg aadmi dekhna hai hum kare toh unko sidhe ghat madhu madhu me lakva atyadhik thakan jaisi bimariyon nahi ho gaya bimari ki sankhya kam hogi aajkal bayan har kisi ke liye zaroori hai vidyarthi iske liye apni sharirik evam mansik kshamta badha sakte hain khiladiyon ki dakshata aur fitness ka pura aadha ya nahi hai yuva bayan ke dwara apne karya shakti me bharti kar sakte hain vaah iske dwara budhape ke shighra aakraman ko rok sakte hain vyayam ka mahatva pratyek vyakti ke liye aadhunik samay ke pareshaniyo se bachne ke liye isse kargar koi upay nahi hai

आपका प्रश्न है निबंध लिखें व्यायाम के महत्व निबंध लिखें बयान का महत्व आयाम का अर्थ होता है

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  744
WhatsApp_icon
user
0:26
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पद के छोरी के इस तरह तन्ना सिखाने की वह सही स्थिति में कार्य कर सकें जिस प्रकार अच्छे भोजन से शरीर के पोषण मिलता है उसी प्रकार से पीएम से शरीर लंबे समय तक उचित दशा में बना रहता है डीएम से शरीर को सुगठित और फुर्तीला बनाए जा सकते हैं

pad ke chhori ke is tarah tanna sikhane ki vaah sahi sthiti me karya kar sake jis prakar acche bhojan se sharir ke poshan milta hai usi prakar se pm se sharir lambe samay tak uchit dasha me bana rehta hai dm se sharir ko sugthit aur furtila banaye ja sakte hain

पद के छोरी के इस तरह तन्ना सिखाने की वह सही स्थिति में कार्य कर सकें जिस प्रकार अच्छे भोजन

Romanized Version
Likes  24  Dislikes    views  631
WhatsApp_icon
user
0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पुछा दोस्त और निबंध व्यायाम का महत्व क्या है दोस्तों अगर आपको व्यायाम के महत्व पर निबंध लिखना है तो दोस्तों आप यह लिख सकते हैं कि लगातार और नियमित शरीर शारीरिक व्यायाम प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ा देता है और यह हमारी नींद कम करता है इससे हमें सुबह उठने पर तकलीफ नहीं होती फिर दे दो वक्त भाई का रोग मधुमेह और मोटापा जैसे समृद्धि के रोगों को रोकने में मदद करता है और यह मानसिक स्वास्थ्य को सुधारना है और तनाव को रोकने में मदद करता है इसलिए नियमित व्यायाम करना चाहिए

aapne pucha dost aur nibandh vyayam ka mahatva kya hai doston agar aapko vyayam ke mahatva par nibandh likhna hai toh doston aap yah likh sakte hain ki lagatar aur niyamit sharir sharirik vyayam pratiraksha pranali ko badha deta hai aur yah hamari neend kam karta hai isse hamein subah uthane par takleef nahi hoti phir de do waqt bhai ka rog madhumeh aur motapa jaise samridhi ke rogo ko rokne me madad karta hai aur yah mansik swasthya ko sudharna hai aur tanaav ko rokne me madad karta hai isliye niyamit vyayam karna chahiye

आपने पुछा दोस्त और निबंध व्यायाम का महत्व क्या है दोस्तों अगर आपको व्यायाम के महत्व पर निब

Romanized Version
Likes  51  Dislikes    views  1379
WhatsApp_icon
user
0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपस वाले निबंध व्यायाम का महत्व क्या है तू व्यायाम का बहुत महत्व है शरीर को फिट और दिमाग को चुस्त-दुरुस्त तंदुरुस्त रखने के लिए व्यायाम का बहुत महत्व व्यायाम करने से शरीर में उर्जा का संचार होता है ब्लड सरकुलेशन सही रहता है हमें तनाव से मुक्ति मिलती है और हमें कई रोगों से व्यायाम बचाती है प्रतिदिन मनुष्य को कम से कम 1 घंटे व्यायाम जरूर करना चाहिए और सुबह सुबह ब्रह्म मुहूर्त में व्यायाम करने से बहुत फायदा होता है थैंक यू

apas waale nibandh vyayam ka mahatva kya hai tu vyayam ka bahut mahatva hai sharir ko fit aur dimag ko chust durast tandurust rakhne ke liye vyayam ka bahut mahatva vyayam karne se sharir me urja ka sanchar hota hai blood sarakuleshan sahi rehta hai hamein tanaav se mukti milti hai aur hamein kai rogo se vyayam bachati hai pratidin manushya ko kam se kam 1 ghante vyayam zaroor karna chahiye aur subah subah Brahma muhurt me vyayam karne se bahut fayda hota hai thank you

अपस वाले निबंध व्यायाम का महत्व क्या है तू व्यायाम का बहुत महत्व है शरीर को फिट और दिमाग क

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  1094
WhatsApp_icon
user
1:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

फ्रेंड आपने पूछा है क्या हुआ है आम का महत्व क्या है तब बिल्कुल फ्रेंड मैं आपको बताना चाहूंगा कि वह हमसे बहुत सारे आपको मात्र सबसे पहला कि व्यायाम करने से हमारा शरीर स्वस्थ रहता है तंदुरुस्त चलाता है व्यायाम करने से हमारे शरीर में रोक नहीं होता है हमें हमेशा पॉजिटिव और अच्छे इनर्जी कि हमें महसूस होती है एवं करने से हमारा शरीर मजबूत और बलवान बनता है जो कि हमें हर एक परिस्थिति में दूसरे और लड़ने की शक्ति प्रदान करती है व्यायाम की बहुत सारी पुरानी आपको फायदे हैं जैसे की हमारे शरीर में हर एक पाठ जो होता है वह कार्य करता है अच्छे से हमें एसिडिटी नहीं होती कब्ज नहीं होता है हमें अच्छे से भूख लगता है हमें नींद आती है और यह सब बहुत अच्छी बात है पर इंडिया सभी मायाराम कहीं महत्व है अगर हम वो आराम करते हैं नीचे तो हम स्वस्थ रहेंगे हमें करना चाहिए धन्यवाद

friend aapne poocha hai kya hua hai aam ka mahatva kya hai tab bilkul friend main aapko batana chahunga ki vaah humse bahut saare aapko matra sabse pehla ki vyayam karne se hamara sharir swasth rehta hai tandurust chalata hai vyayam karne se hamare sharir me rok nahi hota hai hamein hamesha positive aur acche inarji ki hamein mehsus hoti hai evam karne se hamara sharir majboot aur balwan banta hai jo ki hamein har ek paristhiti me dusre aur ladane ki shakti pradan karti hai vyayam ki bahut saari purani aapko fayde hain jaise ki hamare sharir me har ek path jo hota hai vaah karya karta hai acche se hamein acidity nahi hoti kabz nahi hota hai hamein acche se bhukh lagta hai hamein neend aati hai aur yah sab bahut achi baat hai par india sabhi mayaram kahin mahatva hai agar hum vo aaram karte hain niche toh hum swasth rahenge hamein karna chahiye dhanyavad

फ्रेंड आपने पूछा है क्या हुआ है आम का महत्व क्या है तब बिल्कुल फ्रेंड मैं आपको बताना चाहूं

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  654
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!