कहानी क्या है विस्तार में बताये?...


user
1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कहानी हिंदी में गद्य लेखन की एक विधा है 19वीं सदी में गद्य में एक नई विधा का विकास हुआ जिसे कहानी के नाम से जाना जाता है बंगाल में इसे गलत कहा जाता है कहानी ने अंग्रेजी से हिंदी तक की यात्रा मंगल के माध्यम से की कहानी कथा तथा कथा साहित्य का एक अन्यतम भेद तथा उपन्यास से भी अधिक लोकप्रिय साहित्य का रूप है मनुष्य के जन्म के साथ ही साथ कहानी का भी जन्म हुआ और कहानी कहना तथा सुनना मानव का आदि स्वभाव बन गया एयरटेल इन पोल के अनुसार कहानी बहुत छोटी आख्यान आख्यान आत्मक रचना है जिसे एक बैठक में पढ़ा जा सके प्रेमजी प्रेमचंद जी के अनुसार कहानी एक रचना है जिसमें जीवन की किसी एक अंग या किसी एक मनोभाव को प्रदर्शित करना ही लेखक का उद्देश्य रहता है कहानी के तत्व कथावस्तु यात्रा अथवा चरित्र चित्रण कथाकथन अथवा संवाद देशकाल अथवा वातावरण भाषा शैली तथा उद्देश्य यह सब कहानी के तत्व माने गए हैं उन्नीस सौ से 1915 तक हिंदी कहानी के विकास का पहला दौर था

kahani hindi me gadya lekhan ki ek vidhaa hai vi sadi me gadya me ek nayi vidhaa ka vikas hua jise kahani ke naam se jana jata hai bengal me ise galat kaha jata hai kahani ne angrezi se hindi tak ki yatra mangal ke madhyam se ki kahani katha tatha katha sahitya ka ek anyatam bhed tatha upanyas se bhi adhik lokpriya sahitya ka roop hai manushya ke janam ke saath hi saath kahani ka bhi janam hua aur kahani kehna tatha sunana manav ka aadi swabhav ban gaya airtel in pole ke anusaar kahani bahut choti aakhyan aakhyan aatmkatha rachna hai jise ek baithak me padha ja sake premji Premchand ji ke anusaar kahani ek rachna hai jisme jeevan ki kisi ek ang ya kisi ek manobhaav ko pradarshit karna hi lekhak ka uddeshya rehta hai kahani ke tatva kathavastu yatra athva charitra chitran kathakathan athva samvaad deshkal athva vatavaran bhasha shaili tatha uddeshya yah sab kahani ke tatva maane gaye hain unnis sau se 1915 tak hindi kahani ke vikas ka pehla daur tha

कहानी हिंदी में गद्य लेखन की एक विधा है 19वीं सदी में गद्य में एक नई विधा का विकास हुआ जिस

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  205
KooApp_icon
WhatsApp_icon
5 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!