जीवन में गुरु का महत्व क्या है?...


user

Suman Saurav

Government Teacher & Carrear Counsultent

0:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका पोस्ट जीवन में गुरु का क्या महत्व है नमस्कार दोस्तों जाऊंगा जीवन में गुरु के बिना ज्ञान संभव नहीं है ऐसा हमारे धर्म शास्त्रों में लिखा हुआ है कि गुरु जो है वह अपने भक्त अपने शिष्यों को ज्ञान देने के कार्य करते हैं

aapka post jeevan me guru ka kya mahatva hai namaskar doston jaunga jeevan me guru ke bina gyaan sambhav nahi hai aisa hamare dharm shastron me likha hua hai ki guru jo hai vaah apne bhakt apne shishyon ko gyaan dene ke karya karte hain

आपका पोस्ट जीवन में गुरु का क्या महत्व है नमस्कार दोस्तों जाऊंगा जीवन में गुरु के बिना ज्ञ

Romanized Version
Likes  77  Dislikes    views  1301
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखिए जीवन में गुरु का बहुत महत्व होता है सबसे पहला गुरु तो हमारा हमारी मां होती है जो हमें जन्म से ही जीने के तरीकों की शिक्षा देती है और हमें रहना सहना उठना बैठना खाना पीना सब सिखाती है तू सबसे बड़ी गुरु तो मां होती है तो इसी प्रकार जब हम शिक्षा प्राप्त करने जाते हैं तो शिक्षा के बारे में गलतफहमी में दूर कर दूंगा आपकी किस शिक्षा का मतलब केवल पढ़ाई लिखाई नहीं है बस पढ़ाई लिखाई के अलावा भी शिक्षा होती है जैसे आपको कोई काम करना सीखना है आपको कैसे बजाना सीखना है हारमोनियम बजाना सीखना है तबला बजाना सीखना है गाड़ी चलाना सीखना है कार चलाना सीखना है हवाई जहाज उड़ाना सीखना है तू हर जगह आपको किसी ने किसी गुरु की आवश्यकता पड़ती है हमारे साथ विडंबना यह है कि हम लोग यह मान लेते हैं कि ग्रुप केवल धार्मिक शिक्षा ही देता है तो इस चीज को आप दूर करें गुरु हर क्षेत्र में हो सकता है इसलिए निश्चित है कि आपको किसी न किसी क्षेत्र में जाना है तो आपको क्षेत्र में गुरु को बनाना पड़ेगा और जीवन का लक्ष्य क्या है यह जानना है तो उसके लिए भी आपको गुरु बनाना पड़ेगा तो वह क्षेत्र आध्यात्मिक हो जाता है जबकि हम नॉर्मल क्षेत्र की बात करते हैं गुरु की तो हर क्षेत्र में गुरु बहुत अहम है और गुरु के बिना ज्ञान कभी प्राप्त नहीं हो सकता आप किसी भी क्षेत्र में सफलता चाहिए या चाहते हैं तो आपको गुरु बनाना ही पड़ेगा और वह ग्रुप ऐसा होना चाहिए जो उस क्षेत्र का संपूर्ण जानकार हो और उसके बारे में सारी चीजें जानता हो तो यही क्षेत्र यही बात धार्मिक क्षेत्र में प्रवाहित होती लागू होती है धार्मिक क्षेत्र में भी गुरु ऐसे व्यक्ति को मनाना चाहिए जो कि अपने आप में ज्ञान का भंडार हो और निस्वार्थ सेवा करता हो निस्वार्थ ज्ञान देता हूं

dekhiye jeevan me guru ka bahut mahatva hota hai sabse pehla guru toh hamara hamari maa hoti hai jo hamein janam se hi jeene ke trikon ki shiksha deti hai aur hamein rehna sahna uthna baithana khana peena sab sikhati hai tu sabse badi guru toh maa hoti hai toh isi prakar jab hum shiksha prapt karne jaate hain toh shiksha ke bare me galatfahamee me dur kar dunga aapki kis shiksha ka matlab keval padhai likhai nahi hai bus padhai likhai ke alava bhi shiksha hoti hai jaise aapko koi kaam karna sikhna hai aapko kaise bajana sikhna hai Harmonium bajana sikhna hai tabla bajana sikhna hai gaadi chalana sikhna hai car chalana sikhna hai hawai jahaj udana sikhna hai tu har jagah aapko kisi ne kisi guru ki avashyakta padti hai hamare saath widambana yah hai ki hum log yah maan lete hain ki group keval dharmik shiksha hi deta hai toh is cheez ko aap dur kare guru har kshetra me ho sakta hai isliye nishchit hai ki aapko kisi na kisi kshetra me jana hai toh aapko kshetra me guru ko banana padega aur jeevan ka lakshya kya hai yah janana hai toh uske liye bhi aapko guru banana padega toh vaah kshetra aadhyatmik ho jata hai jabki hum normal kshetra ki baat karte hain guru ki toh har kshetra me guru bahut aham hai aur guru ke bina gyaan kabhi prapt nahi ho sakta aap kisi bhi kshetra me safalta chahiye ya chahte hain toh aapko guru banana hi padega aur vaah group aisa hona chahiye jo us kshetra ka sampurna janakar ho aur uske bare me saari cheezen jaanta ho toh yahi kshetra yahi baat dharmik kshetra me pravahit hoti laagu hoti hai dharmik kshetra me bhi guru aise vyakti ko manana chahiye jo ki apne aap me gyaan ka bhandar ho aur niswarth seva karta ho niswarth gyaan deta hoon

देखिए जीवन में गुरु का बहुत महत्व होता है सबसे पहला गुरु तो हमारा हमारी मां होती है जो हमे

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  445
WhatsApp_icon
user
0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि जीवन में गुरु का महत्व क्या है तो दोस्तों आपके प्रश्न का उत्तर है कि जीवन में गुरु का बहुत सारा महत्व है आपको मैं बताता हूं अपने देश की विशेषता अर्थात गुरु शिष्य परंपरा गुरु ही हमें अज्ञान से बाहर निकालते हैं शिक्षक यह अपने गुरु ही है इस कारण हमें गुरु पूर्णिमा के दिन ही शिक्षक दिन मनाया मना कर उनके चरणों में कृतज्ञता व्यक्त करनी चाहिए प्रथम हम गुरु इस शब्द का अर्थ समझा देते हैं कि दोस्तों गुरु हमारे जीवन में विकारों का अज्ञान दूर करने के आन में जीवन यापन करने के

aapne poocha hai ki jeevan me guru ka mahatva kya hai toh doston aapke prashna ka uttar hai ki jeevan me guru ka bahut saara mahatva hai aapko main batata hoon apne desh ki visheshata arthat guru shishya parampara guru hi hamein agyan se bahar nikalate hain shikshak yah apne guru hi hai is karan hamein guru poornima ke din hi shikshak din manaya mana kar unke charno me kritagyata vyakt karni chahiye pratham hum guru is shabd ka arth samjha dete hain ki doston guru hamare jeevan me vikaron ka agyan dur karne ke Aan me jeevan yaapan karne ke

आपने पूछा है कि जीवन में गुरु का महत्व क्या है तो दोस्तों आपके प्रश्न का उत्तर है कि जीवन

Romanized Version
Likes  44  Dislikes    views  1323
WhatsApp_icon
play
user
0:18

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जीवन में गुरु की बड़ी महत्वपूर्ण कृपा होती है गुरु से ही जीवन में ज्ञान प्राप्त होता है गुरु ही ईश्वर की ओर प्रेरित करके ईश्वर से मिलने में मदद करता है बिना गुरु कृपा कुछ भी नहीं हो सकता

jeevan me guru ki badi mahatvapurna kripa hoti hai guru se hi jeevan me gyaan prapt hota hai guru hi ishwar ki aur prerit karke ishwar se milne me madad karta hai bina guru kripa kuch bhi nahi ho sakta

जीवन में गुरु की बड़ी महत्वपूर्ण कृपा होती है गुरु से ही जीवन में ज्ञान प्राप्त होता है गु

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  1049
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!