धारा 511 क्या है इन हिंदी विस्तार में बताये?...


user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ तो आपने पूछा है कि धारा 511 क्या है तो मैं आपको बता दूं कि भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई इस संहिता द्वारा आजीवन कारावास से या अन्य कारावास से दंडनीय अपराध करने का ऐसा प्रात करीब किए जाने का प्रयत्न करेगा और ऐसे प्रयत्न में अपराध करने की दिशा में कोई कार्य करेगा ताकि ऐसे प्रयत्न के दंड के लिए कोई अस्पष्ट रुप से कथित प्रावधान इस संहिता द्वारा नहीं किया गया है तो उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास से आजीवन कारावास की अवधि अवधि तक उस अपराध के लिए उपबंध अधिकतम अवधि से आंधी अवधि तक बढ़ाया जा सकता है उस अपराध के लिए उपबंध आर्थिक दंड से या दोनों से दंडित किया जाएगा

kuch toh aapne poocha hai ki dhara 511 kya hai toh main aapko bata doon ki bharatiya dand sanhita ki dhara 511 ke anusaar jo bhi koi is sanhita dwara aajivan karavas se ya anya karavas se dandniya apradh karne ka aisa praatha kareeb kiye jaane ka prayatn karega aur aise prayatn me apradh karne ki disha me koi karya karega taki aise prayatn ke dand ke liye koi aspast roop se kathit pravadhan is sanhita dwara nahi kiya gaya hai toh use kisi ek awadhi ke liye karavas se aajivan karavas ki awadhi awadhi tak us apradh ke liye upabandh adhiktam awadhi se aandhi awadhi tak badhaya ja sakta hai us apradh ke liye upabandh aarthik dand se ya dono se dandit kiya jaega

कुछ तो आपने पूछा है कि धारा 511 क्या है तो मैं आपको बता दूं कि भारतीय दंड संहिता की धारा 5

Romanized Version
Likes  32  Dislikes    views  582
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई इस संहिता द्वारा आजीवन कारावास से या अन्य कारावास से दंडनीय अपराध करने का या ऐसा अपराध का कार्य किए जाने का प्रति करेगा और ऐसे प्रति अपराध करने की दिशा में कोई कार्य करेगा जहां ऐसे प्रश्न के दर्द के लिए कोई स्पष्ट रूप से कथित प्रावधान इस सहायता द्वारा नहीं किया गया तो उसे किसी एक कवि के लिए कारावास जिसे आजीवन कारावास आधी अवधि तक या उस अपराध के लिए उप वंदे तीर्थ अभी से आधे अभी तक बढ़ाया जा सकता है या उस अपराध के लिए उप बंधित आर्थिक दंड से या दोनों से दंडित किया जाएगा धन्यवाद

bharatiya bharatiya dand sanhita ki dhara 511 ke anusaar jo bhi koi is sanhita dwara aajivan karavas se ya anya karavas se dandniya apradh karne ka ya aisa apradh ka karya kiye jaane ka prati karega aur aise prati apradh karne ki disha mein koi karya karega jaha aise prashna ke dard ke liye koi spasht roop se kathit pravadhan is sahayta dwara nahi kiya gaya toh use kisi ek kavi ke liye karavas jise aajivan karavas aadhi awadhi tak ya us apradh ke liye up vande tirth abhi se aadhe abhi tak badhaya ja sakta hai ya us apradh ke liye up bandhit aarthik dand se ya dono se dandit kiya jaega dhanyavad

भारतीय भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई इस संहिता द्वारा आजीवन कारावास से

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  634
WhatsApp_icon
user
0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई इस तनेजा द्वारा आजीवन कारावास कारावास से दंडनीय अपराध करने का या ऐसा प्राधिकारी के जाने का प्रयत्न करेगा और ऐसे प्रदेश में अपराध करने की दिशा में कोई कार्य करेगा जहां के अपराध में दंड के लिए कोई अस्पष्ट रुप से कथित प्रधान इस सरिता द्वारा नहीं है

bharatiya dand sanhita ki dhara 511 ke anusaar jo bhi koi is taneja dwara aajivan karavas karavas se dandniya apradh karne ka ya aisa pradhikari ke jaane ka prayatn karega aur aise pradesh me apradh karne ki disha me koi karya karega jaha ke apradh me dand ke liye koi aspast roop se kathit pradhan is sarita dwara nahi hai

भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई इस तनेजा द्वारा आजीवन कारावास कारावास से

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  1028
WhatsApp_icon
user
0:37
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है धारा 511 क्या है इसका आंसर है भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई सिस्टर नीता द्वारा आजीवन कारावास से या अन्य कारावास से दंडनीय अपराध करने या ऐसा अपराध कार्य किए जाने का प्रयत्न करेगा और ऐसे प्रयत्न में अपराध करने की दिशा में कोई कार्य करेगा जहां कि ऐसे प्रयत्न के दंड से के लिए कोई अस्पष्ट रुप से कथित प्रावधान इस संहिता द्वारा नहीं है

prashna hai dhara 511 kya hai iska answer hai bharatiya dand sanhita ki dhara 511 ke anusaar jo bhi koi sister neeta dwara aajivan karavas se ya anya karavas se dandniya apradh karne ya aisa apradh karya kiye jaane ka prayatn karega aur aise prayatn me apradh karne ki disha me koi karya karega jaha ki aise prayatn ke dand se ke liye koi aspast roop se kathit pravadhan is sanhita dwara nahi hai

प्रश्न है धारा 511 क्या है इसका आंसर है भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई

Romanized Version
Likes  73  Dislikes    views  1547
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

धारा 511 क्या है इसका उत्तर होगा आजीवन करावास के अपराधों को अंजाम देने का प्रयास करना और युग की दिशा किस धारा में आजीवन कारावास से अधिक नहीं अपराध के लिए लंबी अवधि आधा या जुर्माना या दोनों हो सकता है

dhara 511 kya hai iska uttar hoga aajivan karawas ke apradho ko anjaam dene ka prayas karna aur yug ki disha kis dhara me aajivan karavas se adhik nahi apradh ke liye lambi awadhi aadha ya jurmana ya dono ho sakta hai

धारा 511 क्या है इसका उत्तर होगा आजीवन करावास के अपराधों को अंजाम देने का प्रयास करना और य

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  1129
WhatsApp_icon
user

MD MUSHTAK

Teacher

0:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

इस धारा 511 के अंतर्गत किसी भी कैदी को उसके अपराध के लिए आजीवन कारावास का दंड दिया जाता है इंडियन पैनल एक्ट के तहत

is dhara 511 ke antargat kisi bhi kaidi ko uske apradh ke liye aajivan karavas ka dand diya jata hai indian panel act ke tahat

इस धारा 511 के अंतर्गत किसी भी कैदी को उसके अपराध के लिए आजीवन कारावास का दंड दिया जाता है

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  104
WhatsApp_icon
user
0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है दोस्त धारा 511 क्या है हिंदी विस्तार में बताएं तो दोस्तों धारा 511 के बारे में जान लीजिए भारतीय दंड संहिता की धारा 511 के अनुसार जो भी कोई व्यक्ति संगीता द्वारा आजीवन कारावास या अन्य कारणों से धनिया प्राप्त करने का या ऐसा प्राधिकृत किए जाने का प्रयत्न करेगा और ऐसे प्रति में प्राप्त करने की दिशा में कोई कार्य करेगा जहां से प्रतिवेदन तो निश्चित रूप से इस दंड का प्रावधान वह भागी होगा

aapka sawaal hai dost dhara 511 kya hai hindi vistaar me bataye toh doston dhara 511 ke bare me jaan lijiye bharatiya dand sanhita ki dhara 511 ke anusaar jo bhi koi vyakti sangeeta dwara aajivan karavas ya anya karanon se dhania prapt karne ka ya aisa pradhkrit kiye jaane ka prayatn karega aur aise prati me prapt karne ki disha me koi karya karega jaha se prativedan toh nishchit roop se is dand ka pravadhan vaah bhaagi hoga

आपका सवाल है दोस्त धारा 511 क्या है हिंदी विस्तार में बताएं तो दोस्तों धारा 511 के बारे मे

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  905
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!