कोलाइटिस का उपचार बताये?...


user

Sonu

Teacher

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार दोस्तों जैसे कि आपका प्रश्न कोलाइटिस का उपचार बताएं तो कोलाइटिस हुए मारी है उससे हमारे हाथ में जलन होती है इसके उपचार के लिए आप चिकित्सा के पास जाएं और उनके बताए हुए दवा खाएं आपका यह बीमारी ठीक हो सकता है बहुत-बहुत धन्यवाद

namaskar doston jaise ki aapka prashna kolaitis ka upchaar bataye toh kolaitis hue mari hai usse hamare hath me jalan hoti hai iske upchaar ke liye aap chikitsa ke paas jayen aur unke bataye hue dawa khayen aapka yah bimari theek ho sakta hai bahut bahut dhanyavad

नमस्कार दोस्तों जैसे कि आपका प्रश्न कोलाइटिस का उपचार बताएं तो कोलाइटिस हुए मारी है उससे ह

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  163
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Shivendra Pratap Singh

Engineer , Assistant Professor

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोलाइटिस का उपचार बताइए सनलाइट इस ग्रुप में हमारी आंखें होती है उसके अंदर जलन होती है योगा करना चाहिए डॉक्टर बताएगा और डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए

kolaitis ka upchaar bataiye sunlight is group me hamari aankhen hoti hai uske andar jalan hoti hai yoga karna chahiye doctor batayega aur doctor se sampark karna chahiye

कोलाइटिस का उपचार बताइए सनलाइट इस ग्रुप में हमारी आंखें होती है उसके अंदर जलन होती है योगा

Romanized Version
Likes  128  Dislikes    views  1269
WhatsApp_icon
play
user
0:17

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि कोलाइटिस का उपचार बताएं तो दोस्तों कोलाइटिस का उपचार यह होता है कि उपचार में जलन लोधी दवाइयां शामिल है उपचार में दवाएं और शल्य चिकित्सा का बिल है इसे आप डॉक्टर द्वारा परामर्श ले और दवा खाएं

aapne poocha hai ki kolaitis ka upchaar bataye toh doston kolaitis ka upchaar yah hota hai ki upchaar me jalan lodhi davaiyan shaamil hai upchaar me davayain aur shalya chikitsa ka bill hai ise aap doctor dwara paramarsh le aur dawa khayen

आपने पूछा है कि कोलाइटिस का उपचार बताएं तो दोस्तों कोलाइटिस का उपचार यह होता है कि उपचार म

Romanized Version
Likes  39  Dislikes    views  778
WhatsApp_icon
user
0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कोलाइटिस के उपचार से पहले आप यह सुनिश्चित करें कि थाना में तेल मसाले का प्रयोग बिल्कुल ना करें बहुत ज्यादा खाना नहीं खाए थोड़ा-थोड़ा करके खाना खाएं एवं पेट को साफ रखने की कोशिश करें त्रिफला चूर्ण आदि का भी इस्तेमाल करके पेट को अवश्य साफ रखें अगर बहुत ही ज्यादा समस्या दे रहा है तो इसका एक उपचार सर्जरी भी होता है

kolaitis ke upchaar se pehle aap yah sunishchit kare ki thana me tel masale ka prayog bilkul na kare bahut zyada khana nahi khaye thoda thoda karke khana khayen evam pet ko saaf rakhne ki koshish kare Triphala churn aadi ka bhi istemal karke pet ko avashya saaf rakhen agar bahut hi zyada samasya de raha hai toh iska ek upchaar surgery bhi hota hai

कोलाइटिस के उपचार से पहले आप यह सुनिश्चित करें कि थाना में तेल मसाले का प्रयोग बिल्कुल ना

Romanized Version
Likes  56  Dislikes    views  1659
WhatsApp_icon
user
0:35
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार कोलाइटिस इस बीमारी की शुरुआत बड़ी आत के अंतिम हिस्से यानी मलद्वार से होती है और यह धीरे-धीरे पूरे आंख प्रभावित होने लगती है अल्सर रिलेटिव को लगाई आमतौर पर छाती छोटी आत में नहीं होती है लेकिन गंभीर स्थिति में जब बीमारी पूरी तरह आप तक फैल जाती है तब छोटी आंख को अंतिम भाग को प्रभावित कर सकता है

namaskar kolaitis is bimari ki shuruat badi at ke antim hisse yani maladwar se hoti hai aur yah dhire dhire poore aankh prabhavit hone lagti hai Ulcer relative ko lagayi aamtaur par chhati choti at me nahi hoti hai lekin gambhir sthiti me jab bimari puri tarah aap tak fail jaati hai tab choti aankh ko antim bhag ko prabhavit kar sakta hai

नमस्कार कोलाइटिस इस बीमारी की शुरुआत बड़ी आत के अंतिम हिस्से यानी मलद्वार से होती है और यह

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  801
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!