ब्रह्म ज्ञान क्या है इन हिंदी विस्तार में बताये?...


user
1:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्वेश्चन है कि ब्रह्म ज्ञान क्या है इन हिंदी विस्तार में बताएं तो ब्रह्म ज्ञान जो बहुत ही उच्च विचार और सदा दान जो आत्मा की परमात्मा से मिलन हो जाए जो डायरेक्ट आत्मा और परमात्मा का कनेक्शन हो उसे ब्रह्म ज्ञान कहते हैं क्योंकि आत्मा आपका यदि साथ नहीं है विचार अच्छा नहीं है किसी के प्रति आपका गलत भेदभाव नहीं है सोच नहीं है तो डायरेक्ट आपको ईश्वर की प्राप्ति होती है जो आत्मा शुद्ध मन विचार सूट होगा तो ब्रह्मा से कनेक्शन होते हैं उसी को ब्रह्म ज्ञान कहते हैं

question hai ki Brahma gyaan kya hai in hindi vistaar me bataye toh Brahma gyaan jo bahut hi ucch vichar aur sada daan jo aatma ki paramatma se milan ho jaaye jo direct aatma aur paramatma ka connection ho use Brahma gyaan kehte hain kyonki aatma aapka yadi saath nahi hai vichar accha nahi hai kisi ke prati aapka galat bhedbhav nahi hai soch nahi hai toh direct aapko ishwar ki prapti hoti hai jo aatma shudh man vichar suit hoga toh brahma se connection hote hain usi ko Brahma gyaan kehte hain

क्वेश्चन है कि ब्रह्म ज्ञान क्या है इन हिंदी विस्तार में बताएं तो ब्रह्म ज्ञान जो बहुत ही

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  439
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्रह्म ज्ञान अपने और पराए में भेद नहीं करने संबंधी ज्ञान है जिसके अनुसार व्यक्ति निष्क्रिय हो जाता है यानी उसका स्वार्थ हमेशा के लिए समाप्त हो जाता है और वह निस्वार्थ की सेवा करना शुरू कर देता है यही ब्रह्म ज्ञान है ब्रह्म ज्ञान के हिसाब से व्यक्ति को किसी से भी भेदभाव नहीं करना हो चाहे वह अपना भाई हो हेलो जय माता को पिता हो या कोई दूसरा व्यक्ति हो उसके लिए वह समान व्यवहार करने लगता है और शक्ति की समस्त वस्तुओं को अपने स्वामित्व में मानता है और सबके लिए मानता है केवल अपने लिए ही उनका उपयोग नहीं करना चाहता बल्कि सबके लिए उनका उपयोग करने देना चाहता है और वह सर्वव्यापी ईश्वर में विश्वास करने लगता है यही ब्रह्म ज्ञान है और ब्रह्म ज्ञान की प्राप्ति के बाद व्यक्ति आत्मा से परमात्मा में बदल जाता है

Brahma gyaan apne aur parae me bhed nahi karne sambandhi gyaan hai jiske anusaar vyakti nishkriya ho jata hai yani uska swarth hamesha ke liye samapt ho jata hai aur vaah niswarth ki seva karna shuru kar deta hai yahi Brahma gyaan hai Brahma gyaan ke hisab se vyakti ko kisi se bhi bhedbhav nahi karna ho chahen vaah apna bhai ho hello jai mata ko pita ho ya koi doosra vyakti ho uske liye vaah saman vyavhar karne lagta hai aur shakti ki samast vastuon ko apne swamitwa me maanta hai aur sabke liye maanta hai keval apne liye hi unka upyog nahi karna chahta balki sabke liye unka upyog karne dena chahta hai aur vaah sarvavyapi ishwar me vishwas karne lagta hai yahi Brahma gyaan hai aur Brahma gyaan ki prapti ke baad vyakti aatma se paramatma me badal jata hai

ब्रह्म ज्ञान अपने और पराए में भेद नहीं करने संबंधी ज्ञान है जिसके अनुसार व्यक्ति निष्क्रिय

Romanized Version
Likes  10  Dislikes    views  509
WhatsApp_icon
user
0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको पूछा गया प्रश्न है कि ब्रह्म ज्ञान क्या है इन हिंदी विस्तार में बता दो बता दो कि ब्रह्म ज्ञान यानी कि जो शास्त्रों से रिलेटेड ज्ञान है जिसके अंतर्गत जो भी शास्त्र लिखे गए हैं उनके बारे में गाना डोली टाइप करते हैं किसी चीज को तो इसे ही हम ब्रह्मज्ञान कहते हैं

aapko poocha gaya prashna hai ki Brahma gyaan kya hai in hindi vistaar me bata do bata do ki Brahma gyaan yani ki jo shastron se related gyaan hai jiske antargat jo bhi shastra likhe gaye hain unke bare me gaana doli type karte hain kisi cheez ko toh ise hi hum brahmagyan kehte hain

आपको पूछा गया प्रश्न है कि ब्रह्म ज्ञान क्या है इन हिंदी विस्तार में बता दो बता दो कि ब्रह

Romanized Version
Likes  42  Dislikes    views  816
WhatsApp_icon
play
user

Suman Saurav

Government Teacher & Carrear Counsultent

0:21

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न ब्रह्म ज्ञान क्या है विस्तार में बताएं मैं आपको बताना चाहूंगा ब्रह्मज्ञान करने का तात्पर्य है जब व्यक्ति अपने इष्ट या अपने भगवान के से आदमी के रूप में जुड़ जाता है और वह उसे जोड़ने पर जो ज्ञान की प्राप्ति होती है वह ब्रह्म ज्ञान कहलाता है

aapka prashna Brahma gyaan kya hai vistaar me bataye main aapko batana chahunga brahmagyan karne ka tatparya hai jab vyakti apne isht ya apne bhagwan ke se aadmi ke roop me jud jata hai aur vaah use jodne par jo gyaan ki prapti hoti hai vaah Brahma gyaan kehlata hai

आपका प्रश्न ब्रह्म ज्ञान क्या है विस्तार में बताएं मैं आपको बताना चाहूंगा ब्रह्मज्ञान करने

Romanized Version
Likes  62  Dislikes    views  1222
WhatsApp_icon
user
0:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार जानिए क्या होता है ब्रह्म ज्ञान और अज्ञान एक ऐसा ज्ञान जिसमें व्यक्ति इस संसार में विनीत होकर भगवान के लीन हो जाता है यह कहता है कि वह प्रभु जी भी हैं आप मेरे हैं और इस संसार मिथ्या समझ लेता है

namaskar janiye kya hota hai Brahma gyaan aur agyan ek aisa gyaan jisme vyakti is sansar me vineet hokar bhagwan ke Lean ho jata hai yah kahata hai ki vaah prabhu ji bhi hain aap mere hain aur is sansar mithya samajh leta hai

नमस्कार जानिए क्या होता है ब्रह्म ज्ञान और अज्ञान एक ऐसा ज्ञान जिसमें व्यक्ति इस संसार में

Romanized Version
Likes  23  Dislikes    views  820
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्रह्म ज्ञान क्या है विस्तार से बताएं उसका उत्तर होगा ब्रह्म ज्ञान उसे कहा जाता है जो संसार के हर एक वस्तु में एकत्र को देखें अर्थात संसार के हर तत्व में एक ही ईश्वर को देखना या संसार के हर जीव में एक ही ईश्वर ब्रह्मा को जानना या पा लेना ब्रह्म ज्ञान कहलाता है इस जगत की हर वस्तु की उत्पत्ति एक ही तत्व पर हमसे हुई है और हम सब उसी एक तत्व के आंसर इस जगत के प्रत्येक प्राणी की बाहरी संरचना अलग हो सकती है लेकिन उसके अंदर इसी एकत्र यानी ईश्वर का वास है यहां तक कि इस जगत के कण-कण में उसी अकत्व का वास है इस संसार में उच्च नीच जाति धर्म नस्ल आधार जितने भी भेद बनाए गए हैं वह मानव ने खुद से बना ना तो सभी प्राणी के लिए समान रूप से प्राकृतिक सभी साधन उपलब्ध कराए गए हैं यह मानव ही है इसमें भेद उत्पन्न किया है इसे ही ब्रह्म ज्ञान कहा जाता है

Brahma gyaan kya hai vistaar se bataye uska uttar hoga Brahma gyaan use kaha jata hai jo sansar ke har ek vastu me ekatarr ko dekhen arthat sansar ke har tatva me ek hi ishwar ko dekhna ya sansar ke har jeev me ek hi ishwar brahma ko janana ya paa lena Brahma gyaan kehlata hai is jagat ki har vastu ki utpatti ek hi tatva par humse hui hai aur hum sab usi ek tatva ke answer is jagat ke pratyek prani ki bahri sanrachna alag ho sakti hai lekin uske andar isi ekatarr yani ishwar ka was hai yahan tak ki is jagat ke kan kan me usi akatwa ka was hai is sansar me ucch neech jati dharm nasl aadhar jitne bhi bhed banaye gaye hain vaah manav ne khud se bana na toh sabhi prani ke liye saman roop se prakirtik sabhi sadhan uplabdh karae gaye hain yah manav hi hai isme bhed utpann kiya hai ise hi Brahma gyaan kaha jata hai

ब्रह्म ज्ञान क्या है विस्तार से बताएं उसका उत्तर होगा ब्रह्म ज्ञान उसे कहा जाता है जो संसा

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  461
WhatsApp_icon
user
0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ब्रह्म ज्ञान का मतलब होता है ईश्वर को जान लेना इसको लिए इसके लिए आदमी को शैक्षिक विचारों के साथ ईश्वर के ध्यान में लीन होता होता है और ईश्वर की सत्ता को पहचानना तथा ईश्वर को जान लेना है ब्रह्म ज्ञान है

Brahma gyaan ka matlab hota hai ishwar ko jaan lena isko liye iske liye aadmi ko shaikshik vicharon ke saath ishwar ke dhyan me Lean hota hota hai aur ishwar ki satta ko pahachanana tatha ishwar ko jaan lena hai Brahma gyaan hai

ब्रह्म ज्ञान का मतलब होता है ईश्वर को जान लेना इसको लिए इसके लिए आदमी को शैक्षिक विचारों क

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  1366
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!