अगर राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री बन गए तो भारत को अगले पांच वर्षों में कहाँ ले जाएँगे?...


play
user

BRAHAM SINGH

Social Activist

0:17

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

खुशी बन गए तो नहीं बन पाए लेकिन वहां से बन गए हैं उनको कैलीबर नहीं है

khushi ban gaye toh nahi ban paye lekin wahan se ban gaye hain unko kailibar nahi hai

खुशी बन गए तो नहीं बन पाए लेकिन वहां से बन गए हैं उनको कैलीबर नहीं है

Romanized Version
Likes  166  Dislikes    views  2608
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री कब बन गए तो मुझे नहीं लगता कि भारत को हम अगले 5 वर्षों में बिल्कुल भी विकसित देख पाएंगे क्योंकि हम सभी जानते हैं कि राहुल गांधी की और जो राजनीति में समझ है जो उनकी क्षमता है वह इतनी ज्यादा नहीं है उनको इतना ज्यादा अनुभव भी नहीं है राजनीति का और कई बार यह चीज हमने देखी है क्या वह बोलते समय भी यह चीज नहीं है उन्हें समझ आती है कि वह क्या बोल रहे हैं क्या चीज सही है क्या चीज सही नहीं है और क्या उन्हें शोभा देता है यह सब चीजें को नहीं ध्यान में रखते और उनके साथ जो टीम है वह चीज का बहुत ज्यादा ध्यान रखती है परंतु ने खुद की इतनी समझ नहीं है कि क्या करना चाहिए क्या बोलना चाहिए और क्या नहीं तो इस चीज से साफ नजर आता है कि वह हर चीज के लिए अपने टीम पर डिपेंडेंट रहते हैं खुद इंटरटेनमेंट होकर कोई काम नहीं कर सकते और अच्छे वक्ता भी नहीं है उसके अलावा उनको जो परवरिश मिली है उनका जो रहन-सहन है वह काफी अच्छा है हमेशा से ही और इसी वजह से उन्हें कभी भी जो भारत में 100 चाहिए जिनसे भारत का एक आम आदमी जूझ रहा है वह समझने में काफी मुश्किल होती है और वह समझ भी नहीं पाते और कई बार हमने देखा है कि जब वह दौरे पर जाते हैं किसी भी जगह के तो वह उस MP3 दिखाते हैं या जो मदद करने का वह वादा करते हैं वह सिर्फ दिखावा ही होता है उसके अलावा देखिए और राहुल गांधी बेशक कई लोग यह बात जरूर कहते हैं कि वह एक यूथ यूथ के लिए बहुत अच्छे लीडर हैं और सब कुछ है परंतु उनको अभी इतनी समझ नहीं है और राजनीति की जितनी होनी चाहिए और उनके परिवार की वजह से उन्हें राजनीति में आने का मौका मिला और इतने ऊपर उसके पद तक कांग्रेस के अध्यक्ष बनने का मौका मिला लेकिन अगर वह कोई आम आदमी होते तो मुझे नहीं लगता उनको इतना ऊपर आने का मौका कोई देता क्योंकि उनकी इतनी समझ नहीं है तो मुझे नहीं लगता कि आगे के 5 साल में वह हमारे देश को किसी भी तरह से विकसित बना पाएंगे उल्टा हमारे देश की जो पोलिटिकल सिस्टम है वह भी काफी अनसूटेबल हो सकता है उनके प्रधानमंत्री बनने के बाद

agar rahul gandhi desh ke pradhanmantri kab ban gaye toh mujhe nahi lagta ki bharat ko hum agle 5 varshon mein bilkul bhi viksit dekh payenge kyonki hum sabhi jante hain ki rahul gandhi ki aur jo raajneeti mein samajh hai jo unki kshamta hai vaah itni zyada nahi hai unko itna zyada anubhav bhi nahi hai raajneeti ka aur kai baar yah cheez humne dekhi hai kya vaah bolte samay bhi yah cheez nahi hai unhe samajh aati hai ki vaah kya bol rahe kya cheez sahi hai kya cheez sahi nahi hai aur kya unhe shobha deta hai yah sab cheezen ko nahi dhyan mein rakhte aur unke saath jo team hai vaah cheez ka bahut zyada dhyan rakhti hai parantu ne khud ki itni samajh nahi hai ki kya karna chahiye kya bolna chahiye aur kya nahi toh is cheez se saaf nazar aata hai ki vaah har cheez ke liye apne team par dependent rehte hain khud entertainment hokar koi kaam nahi kar sakte aur acche vakta bhi nahi hai uske alava unko jo parvarish mili hai unka jo rahan sahan hai vaah kaafi accha hai hamesha se hi aur isi wajah se unhe kabhi bhi jo bharat mein 100 chahiye jinse bharat ka ek aam aadmi joojh raha hai vaah samjhne mein kaafi mushkil hoti hai aur vaah samajh bhi nahi paate aur kai baar humne dekha hai ki jab vaah daure par jaate hain kisi bhi jagah ke toh vaah us MP3 dikhate hain ya jo madad karne ka vaah vada karte hain vaah sirf dikhawa hi hota hai uske alava dekhiye aur rahul gandhi beshak kai log yah baat zaroor kehte hain ki vaah ek youth youth ke liye bahut acche leader hain aur sab kuch hai parantu unko abhi itni samajh nahi hai aur raajneeti ki jitni honi chahiye aur unke parivar ki wajah se unhe raajneeti mein aane ka mauka mila aur itne upar uske pad tak congress ke adhyaksh banne ka mauka mila lekin agar vaah koi aam aadmi hote toh mujhe nahi lagta unko itna upar aane ka mauka koi deta kyonki unki itni samajh nahi hai toh mujhe nahi lagta ki aage ke 5 saal mein vaah hamare desh ko kisi bhi tarah se viksit bana payenge ulta hamare desh ki jo political system hai vaah bhi kaafi unsuitable ho sakta hai unke pradhanmantri banne ke baad

अगर राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री कब बन गए तो मुझे नहीं लगता कि भारत को हम अगले 5 वर्षों

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  154
WhatsApp_icon
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:57
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी अगर देश के प्रधानमंत्री बनेगा जो भी नहीं कर सकते राहुल गांधी प्रधानमंत्री के तौर पर प्रधानमंत्री बन चुके प्रधानमंत्री देश का प्रधानमंत्री बहुत बड़े रिस्पॉन्सिबल पोस्ट होता है ठीक है और वह सिर्फ बोल सकते हैं और मुझे लगता है सिर्फ वह पार्टी पार्टी में इसलिए हैं क्योंकि सोनिया गांधी के बेटे उसके अलावा और कुछ काबिलियत नहीं है स्टेज पर देखते होंगे आप अपने बहुत सारे वीडियोस डालो देखा होगा आपने यह डिसीजन लेते हैं तो कोई भी सही नहीं है या फिर मतलब इस तरह पूछ लीजिए सी वाली बात करते ही नहीं है कि लगे कि हां और लीडर बन सकते हैं लगता नहीं मुझे राहुल गांधी के से बाहर माता बनी हुई तो देश की दुर्दशा ही होगा

rahul gandhi agar desh ke pradhanmantri banega jo bhi nahi kar sakte rahul gandhi pradhanmantri ke taur par pradhanmantri ban chuke pradhanmantri desh ka pradhanmantri bahut bade responsible post hota hai theek hai aur vaah sirf bol sakte hain aur mujhe lagta hai sirf vaah party party mein isliye hain kyonki sonia gandhi ke bete uske alava aur kuch kabiliyat nahi hai stage par dekhte honge aap apne bahut saare videos dalo dekha hoga aapne yah decision lete hain toh koi bhi sahi nahi hai ya phir matlab is tarah puch lijiye si wali baat karte hi nahi hai ki lage ki haan aur leader ban sakte hain lagta nahi mujhe rahul gandhi ke se bahar mata bani hui toh desh ki durdasha hi hoga

राहुल गांधी अगर देश के प्रधानमंत्री बनेगा जो भी नहीं कर सकते राहुल गांधी प्रधानमंत्री के त

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  153
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!