बसंत पंचमी मानाने का कारन क्या है और उस से कैसे बचा जाये?...


user

Shivendra Pratap Singh

Engineer , Assistant Professor

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अमित आपका प्रश्न है बसंत पंचमी मनाने का क्या करना है उसे कैसे बचा जाए तो डिपेंड बसंत पंचमी त्यौहार है इसका बेसिकली सरस्वती पूजा होती है बसंत पंचमी को और आपने लिखा है कि इससे अच्छा कोई कारण नहीं कि इससे बचा जाए

amit aapka prashna hai basant panchami manane ka kya karna hai use kaise bacha jaaye toh depend basant panchami tyohar hai iska basically saraswati puja hoti hai basant panchami ko aur aapne likha hai ki isse accha koi karan nahi ki isse bacha jaaye

अमित आपका प्रश्न है बसंत पंचमी मनाने का क्या करना है उसे कैसे बचा जाए तो डिपेंड बसंत पंचमी

Romanized Version
Likes  125  Dislikes    views  1398
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user
1:06

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

क्योंकि हमारी सनातन धर्म ईश्वर में विश्वास करती है और जिस से भी हम मदद लेते हैं सब को मानती हैं जैसे अग्नि हमारे खाना बनाने के उपयोग में आती है तो हम अग्नि देवता की पूजा करते हैं बारिश हमारे लिए जरूरी था मैं इंद्र देवता की पूजा करते हैं तथा पानी की भी हमारी देवता जल देवता की पूजा करते हैं इसी प्रकार पढ़ाई लिखाई जो मैं शिक्षा है वह किताबों से मिलती हैं और किताबों के रूप में हम मां सरस्वती की पूजा करते हैं कि सीमा सचदेव बन्ना के दिन को बसंत पंचमी के नाम से कहा जाता है ऐसे बचने की कोई जरूरत नहीं है अब नहीं भी करेंगे तो कोई माता यह नहीं कहेंगे क्या आगे मेरी पूजा करो बस यह भावना है किस विद्या से हम आगे बढ़ रहे हैं आगे बढ़ेंगे या जिस विद्या से समाज में एक अच्छे पोस्ट पर हैं उसके लिए मां सरस्वती को धन्यवाद किया जाता है धन्यवाद

kyonki hamari sanatan dharam ishwar mein vishwas karti hai aur jis se bhi hum madad lete hain sab ko maanati hain jaise agni hamare khana banane ke upyog mein aati hai toh hum agni devta ki puja karte hain barish hamare liye zaroori tha main indra devta ki puja karte hain tatha paani ki bhi hamari devta jal devta ki puja karte hain isi prakar padhai likhai jo main shiksha hai vaah kitabon se milti hain aur kitabon ke roop mein hum maa saraswati ki puja karte hain ki seema Sachdev banna ke din ko basant panchami ke naam se kaha jata hai aise bachne ki koi zaroorat nahi hai ab nahi bhi karenge toh koi mata yah nahi kahenge kya aage meri puja karo bus yah bhavna hai kis vidya se hum aage badh rahe hain aage badhenge ya jis vidya se samaaj mein ek acche post par hain uske liye maa saraswati ko dhanyavad kiya jata hai dhanyavad

क्योंकि हमारी सनातन धर्म ईश्वर में विश्वास करती है और जिस से भी हम मदद लेते हैं सब को मानत

Romanized Version
Likes  40  Dislikes    views  950
WhatsApp_icon
user
0:24
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आदि के बसंत पंचमी क्या श्री पंचमी एक हिंदू का त्योहार है इस दिन विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है वसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए आमक महीने के पांचवें दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती है यह बसंत पंचमी का त्यौहार कहलाता है

aadi ke basant panchami kya shri panchami ek hindu ka tyohar hai is din vidya ki devi saraswati ki puja ki jaati hai vasant ritu ka swaagat karne ke liye amak mahine ke panchwe din ek bada jashn manaya jata hai jisme vishnu aur kamdev ki puja hoti hai yah basant panchami ka tyohar kehlata hai

आदि के बसंत पंचमी क्या श्री पंचमी एक हिंदू का त्योहार है इस दिन विद्या की देवी सरस्वती की

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  942
WhatsApp_icon
user
0:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार इस दिन विद्या की देवी सरस्वती का पूजा की जाती है यह पूजा पूर्वी भारत पश्चिमी उत्तर बांग्लादेश नेपाल और कई राष्ट्रों में बड़े उल्लास से मनाई जाती है वसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पांचवें दिन एक बड़ा जश्न मनाया जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की भी पूजा होती है बसंत पंचमी का त्यौहार कहलाता है धन्यवाद

namaskar is din vidya ki devi saraswati ka puja ki jaati hai yah puja purvi bharat pashchimi uttar bangladesh nepal aur kai rashtro me bade ullas se manai jaati hai vasant ritu ka swaagat karne ke liye magh mahine ke panchwe din ek bada jashn manaya jata hai jisme vishnu aur kamdev ki bhi puja hoti hai basant panchami ka tyohar kehlata hai dhanyavad

नमस्कार इस दिन विद्या की देवी सरस्वती का पूजा की जाती है यह पूजा पूर्वी भारत पश्चिमी उत्तर

Romanized Version
Likes  53  Dislikes    views  1856
WhatsApp_icon
user
0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा कि आपने क्वेश्चन पूछा बसंत पंचमी मनाने का कारण क्या है तो मैं आपको इतना जाऊंगा एक दिन विद्या की देवी सरस्वती की पूजा की जाती है और वसंत ऋतु का स्वागत करने के लिए माघ महीने के पांचवें दिन एक बूढ़ा चश्मा जाता है जिसमें विष्णु और कामदेव की पूजा होती है या वसंत पंचमी का त्यौहार कहलाता है धन्यवाद

jaisa ki aapne question poocha basant panchami manane ka karan kya hai toh main aapko itna jaunga ek din vidya ki devi saraswati ki puja ki jaati hai aur vasant ritu ka swaagat karne ke liye magh mahine ke panchwe din ek budha chashma jata hai jisme vishnu aur kamdev ki puja hoti hai ya vasant panchami ka tyohar kehlata hai dhanyavad

जैसा कि आपने क्वेश्चन पूछा बसंत पंचमी मनाने का कारण क्या है तो मैं आपको इतना जाऊंगा एक दिन

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  728
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!