12 ज्योतिर्लिंग की विशेषता क्या है बताये?...


user
Play

Likes  48  Dislikes    views  523
WhatsApp_icon
7 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user

Suman Saurav

Government Teacher & Carrear Counsultent

0:21

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपको तो उसने 12 ज्योतिर्लिंगों की विशेषता क्या है वह देखिए हमारे पृथ्वी पड़ी हमारे देश में भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंग स्थापित किए गए हैं ऐसी मान्यता है कि इन 12 ज्योतिर्लिंगों के दर्शन करने से या पूजन करने से व्यक्ति की को मोक्ष प्राप्ति होती है और मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है

aapko toh usne 12 jyotirlingon ki visheshata kya hai vaah dekhiye hamare prithvi padi hamare desh me bhagwan shiv ke 12 jyotirling sthapit kiye gaye hain aisi manyata hai ki in 12 jyotirlingon ke darshan karne se ya pujan karne se vyakti ki ko moksha prapti hoti hai aur manovanchit fal ki prapti hoti hai

आपको तो उसने 12 ज्योतिर्लिंगों की विशेषता क्या है वह देखिए हमारे पृथ्वी पड़ी हमारे देश में

Romanized Version
Likes  75  Dislikes    views  1056
WhatsApp_icon
user
0:23
Play

Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user
4:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में जॉब 12 ज्योतिर्लिंग के भेज सकता है जिससे कि सोमनाथ ज्योतिर्लिंग गुजरात में पहला ज्योतिर्लिंग सोमनाथ मंदिर गुजरात के प्रांत के प्रति आभार क्षेत्र के अंतर्गत प्रभास में विराजमान है और दूसरा नंबर में मल्लिकार्जुन ज्योतिर्लिंग आंध्र प्रदेश आंध्र प्रदेश के कृष्णा जिले में कृष्णा नदी के तट पर श्री शैल पर्वत पर श्री मलिकार्जुन विराजमान है और तीसरा नंबर पर आता है महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग उज्जैन मध्य प्रदेश ज्योतिर्लिंग महाकाल या महाकालेश्वर के नाम से प्रसिद्ध है यह स्थान मध्य प्रदेश के उज्जैन में है जिसे प्राचीन साहित्य में अवंतिका पुरी के नाम से भी जाना जाता है और चौथा नंबर पर हैं ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग उत्तरी भारत में है अंकलेश्वर ज्योतिर्लिंग के साथ ही मामले शहर ज्योतिर्लिंग भी है और दोनों शिवलिंग के गन्ना एक ही ज्योतिर्लिंग में की गई है अंकित सर स्थान भी मालवा क्षेत्र में भी पड़ता है और पांचवा नंबर पर आता है केदारनाथ ज्योतिर्लिंग उत्तराखंड यह ज्योतिर्लिंग हिमालय की चोटी पर विराजमान है श्री केदारनाथ जी का है श्री केदारनाथ का केदारेश्वर भी कहा जाता है जो केदार नामक शिखर पर विराजमान है और सता नंबर पर आता है भीमशंकर ज्योतिर्लिंग डाकिनी महाराष्ट्र इन ज्योतिर्लिंग का नाम भीम संकर है जो डाकिनी पर अवस्थित है यह स्थान महाराष्ट्र में मुंबई से पूर्व तथा पुणे से उत्तर की ओर स्थित है जो बीमा नदी के किनारे सह्याद्री पर्वत पर है और सातवें नंबर पर हैं विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग काशी उत्तर प्रदेश सप्तम ज्योर्तिलिंग काशी में विराजमान विश्वनाथ को सप्तम ज्योतिर्लिंग कहां गए कहते हैं कि आगाशी तीनों लोगों लोगों में मेरी नदी है जो भगवान शिव के त्रिशूल पर विराजी की है और आठ नंबर में बैंक के शेयर आज ज्योतिर्लिंग नासिक महाराष्ट्र अस्तम ज्योतिर्लिंग है ट्रेन का सर के नाम से भी जाना जाता है यह नासिक जिले में पशुपति से लगभग 18 मील की दूरी पर है यह मंदिर ब्रह्मगिरी के पास गोदावरी नदी के किनारे स्थित है और नवा नंबर पर है बैजनाथ ज्योतिर्लिंग झारखंड धाम ज्योतिर्लिंग वेदना थे यह स्थान झारखंड प्रांत के संथाल परगना में जसीडीह रेलवे स्टेशन के समीप में है पुराणों में इस जगह को सीता बूटी कहां गया है भगवान श्री बैजनाथ ज्योतिर्लिंग का मंदिर जिस स्थान पर अवस्थित है और दसवें नंबर पर हैं नागेश्वर ज्योतिर्लिंग बरोडा गुजरात नागेश नामक ज्योतिर्लिंग जो गुजरात के बड़ौदा क्षेत्रों में गोमती द्वारका के समीप में है इस स्थान दो दरोगा बन भी कहा जाता है कुछ लोग दक्षिण हैदराबाद के औरत ग्राम में स्थित शिवलिंग का नागेश्वर ज्योतिर्लिंग मानते हैं और 11 नंबर पर है रामेश्वरम ज्योतिर्लिंग तमिलनाडु दशम ज्योतिर्लिंग 11.3 लिंग रामेश्वरम है रमेश पति को ही सेतु बांध तीर्थ कहा जाता है यह स्थान तमिलनाडु के रामनाथन जनपद में स्थित है यहां समुद्र के किनारे भगवान रामेश्वरम का विशाल मंदिर शामिल है शोभित है और वह नंबर में है गिरीश ने 6 ज्योतिर्लिंग महाराष्ट्र एकादश ज्योतिर्लिंग ग्रेजुएशन है यह स्थान महाराष्ट्र क्षेत्र के अंतर्गत अदालत बाद से लगभग 18 किलोमीटर दूर वेरुल 8 गांव के पास है इस स्थान को सिविल लाइन कहां जाता है ग्रिनेश्वर को लोग घूम ईश्वर और कृष्णा सर भी कहता है

bharat me job 12 jyotirling ke bhej sakta hai jisse ki somnath jyotirling gujarat me pehla jyotirling somnath mandir gujarat ke prant ke prati abhar kshetra ke antargat prabhas me viraajamaan hai aur doosra number me Mallikarjun jyotirling andhra pradesh andhra pradesh ke krishna jile me krishna nadi ke tat par shri shall parvat par shri malikarjun viraajamaan hai aur teesra number par aata hai mahakaleshwar jyotirling ujjain madhya pradesh jyotirling mahakal ya mahakaleshwar ke naam se prasiddh hai yah sthan madhya pradesh ke ujjain me hai jise prachin sahitya me avantika puri ke naam se bhi jana jata hai aur chautha number par hain onkareshwar jyotirling uttari bharat me hai ankaleshwar jyotirling ke saath hi mamle shehar jyotirling bhi hai aur dono shivling ke ganna ek hi jyotirling me ki gayi hai ankit sir sthan bhi malawa kshetra me bhi padta hai aur panchava number par aata hai kedarnath jyotirling uttarakhand yah jyotirling himalaya ki choti par viraajamaan hai shri kedarnath ji ka hai shri kedarnath ka kedareshwar bhi kaha jata hai jo kedar namak shikhar par viraajamaan hai aur sata number par aata hai bhimshankar jyotirling dakini maharashtra in jyotirling ka naam bhim sankar hai jo dakini par avasthit hai yah sthan maharashtra me mumbai se purv tatha pune se uttar ki aur sthit hai jo bima nadi ke kinare sahyadri parvat par hai aur satve number par hain vishwanath jyotirling kashi uttar pradesh saptam jyortiling kashi me viraajamaan vishwanath ko saptam jyotirling kaha gaye kehte hain ki agashi tatvo logo logo me meri nadi hai jo bhagwan shiv ke trishool par viraji ki hai aur aath number me bank ke share aaj jyotirling nashik maharashtra astam jyotirling hai train ka sir ke naam se bhi jana jata hai yah nashik jile me pashupati se lagbhag 18 meal ki doori par hai yah mandir brahmagiri ke paas godavari nadi ke kinare sthit hai aur nava number par hai baijnath jyotirling jharkhand dhaam jyotirling vedana the yah sthan jharkhand prant ke santhal paraganas me jasidih railway station ke sameep me hai purano me is jagah ko sita buti kaha gaya hai bhagwan shri baijnath jyotirling ka mandir jis sthan par avasthit hai aur dasven number par hain nageshwar jyotirling baroda gujarat nagesh namak jyotirling jo gujarat ke baroda kshetro me Gomti dwarka ke sameep me hai is sthan do daroga ban bhi kaha jata hai kuch log dakshin hyderabad ke aurat gram me sthit shivling ka nageshwar jyotirling maante hain aur 11 number par hai rameshwaram jyotirling tamil nadu dasham jyotirling 11 3 ling rameshwaram hai ramesh pati ko hi setu bandh tirth kaha jata hai yah sthan tamil nadu ke ramnathan janpad me sthit hai yahan samudra ke kinare bhagwan rameshwaram ka vishal mandir shaamil hai shobhit hai aur vaah number me hai girish ne 6 jyotirling maharashtra ekadash jyotirling graduation hai yah sthan maharashtra kshetra ke antargat adalat baad se lagbhag 18 kilometre dur verul 8 gaon ke paas hai is sthan ko civil line kaha jata hai grineshwar ko log ghum ishwar aur krishna sir bhi kahata hai

भारत में जॉब 12 ज्योतिर्लिंग के भेज सकता है जिससे कि सोमनाथ ज्योतिर्लिंग गुजरात में पहला ज

Romanized Version
Likes  26  Dislikes    views  1155
WhatsApp_icon
user
0:36
Play

Likes  27  Dislikes    views  972
WhatsApp_icon
user
0:29
Play

Likes  21  Dislikes    views  301
WhatsApp_icon
user

AMIT KUMAR

Teacher

0:22
Play

Likes  26  Dislikes    views  1302
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!