उदयपुर बगोरे की हवेली के बारे में विस्तार से बताये?...


user

Masoom

Teacher

0:55
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कपड़े स्नेक उदयपुर भगोड़े की हवेली के बारे में विस्तार से बताएं आपकी जानकारी के लिए बता दें कि उदयपुर के बागोर की हवेली पहले उदयपुर के प्रधानमंत्री अमरचंद वाधवा का निवास स्थान रहा है यह वेली पिछोला झील के सामने हैं इस हवेली का निर्माण 18वीं शताब्दी में हुआ था इस हवेली में 138 कमरे हैं इस हवेली में हर शाम को 7:00 बजे मेवाड़ी तथा राजस्थानी नृत्य का आयोजन किया जाता है प्रवेश शुल्क इसका ₹25 रखा गया है और सुबह 10:00 बजे से शाम 7:00 बजे तक किया प्रति दिन खुला रहता है भारतीय लोक कला संग्रहालय है यहां से थोड़ी ही दूर पर स्थित है यहां कपड़ों चित्रों तथा कठपुतली की प्रदर्शनी लगाई जाती है

kapde snake udaipur bhagode ki haweli ke bare me vistaar se bataye aapki jaankari ke liye bata de ki udaipur ke bagor ki haweli pehle udaipur ke pradhanmantri amarchand vadhva ka niwas sthan raha hai yah veli pichola jheel ke saamne hain is haweli ka nirmaan vi shatabdi me hua tha is haweli me 138 kamre hain is haweli me har shaam ko 7 00 baje mevadi tatha rajasthani nritya ka aayojan kiya jata hai pravesh shulk iska Rs rakha gaya hai aur subah 10 00 baje se shaam 7 00 baje tak kiya prati din khula rehta hai bharatiya lok kala sangrahaalay hai yahan se thodi hi dur par sthit hai yahan kapdo chitron tatha kathaputali ki pradarshani lagayi jaati hai

कपड़े स्नेक उदयपुर भगोड़े की हवेली के बारे में विस्तार से बताएं आपकी जानकारी के लिए बता दे

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
11 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:51
Play

Likes  23  Dislikes    views  431
WhatsApp_icon
user
0:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पुरी की है यह स्थल राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में कोटरी नदी के यह 1966 से 1969 के मध्य बिंदु नाथ मिश्र के द्वारा किया गया था इस मध्य पाषाण कालीन स्थल में पशुपालन के प्राचीन हनुमान गौर समस्या का आदिम जाति संग्रहालय कहा जाता है दंगों और भारत की रास रास राजस्थान राज्य के भीलवाड़ा जिले के मांडल तहसील के नाम से एक छोटा सा शहर है

puri ki hai yah sthal rajasthan ke bhilwara jile me coterie nadi ke yah 1966 se 1969 ke madhya bindu nath mishra ke dwara kiya gaya tha is madhya pashan kaleen sthal me pashupalan ke prachin hanuman gaur samasya ka aadim jati sangrahaalay kaha jata hai dango aur bharat ki ras ras rajasthan rajya ke bhilwara jile ke mandal tehsil ke naam se ek chota sa shehar hai

पुरी की है यह स्थल राजस्थान के भीलवाड़ा जिले में कोटरी नदी के यह 1966 से 1969 के मध्य बिंद

Romanized Version
Likes  33  Dislikes    views  347
WhatsApp_icon
user
0:13
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपर सवाल है उदयपुर भगोड़े की हवेली के बारे में विस्तार से बताया तो दोस्तों उदयपुर की जय वेरी है वह महाराजा उदय सिंह द्वारा बनाई गई थी और एक ऐतिहासिक विरासत है और फिलहाल इस को एक हेरिटेज होटल में बदल दिया गया है थैंक यू

upper sawaal hai udaipur bhagode ki haweli ke bare me vistaar se bataya toh doston udaipur ki jai very hai vaah maharaja uday Singh dwara banai gayi thi aur ek etihasik virasat hai aur filhal is ko ek heritage hotel me badal diya gaya hai thank you

अपर सवाल है उदयपुर भगोड़े की हवेली के बारे में विस्तार से बताया तो दोस्तों उदयपुर की जय वे

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  648
WhatsApp_icon
user

Amit Kumar

Teacher

0:32
Play

Likes  36  Dislikes    views  965
WhatsApp_icon
user

Ritu

Teacher

0:31
Play

Likes  22  Dislikes    views  423
WhatsApp_icon
user

Shivendra Pratap Singh

Engineer , Assistant Professor

0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अलका कपूर बागोर की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए तो मैं आपको बताना चाहता हूं देश की हवेली काफी बड़ी ग्रंथि से लोकप्रिय और हवेली में अनेक कंपनी होते हैं जिनका इस्तेमाल हम अपनी सुविधा के अनुसार भरे पुराने जमाने में हवेली हो का निर्माण रजवाड़ों के द्वारा किया जाता है तो बड़े बड़े जमींदार होते थे अवस्था जो देखने गए उनके द्वारा की जाती है

alka kapur bagor ki haweli ke bare me vistaar se bataiye toh main aapko batana chahta hoon desh ki haweli kaafi badi granthi se lokpriya aur haweli me anek company hote hain jinka istemal hum apni suvidha ke anusaar bhare purane jamane me haweli ho ka nirmaan rajvadon ke dwara kiya jata hai toh bade bade zamindar hote the avastha jo dekhne gaye unke dwara ki jaati hai

अलका कपूर बागोर की हवेली के बारे में विस्तार से बताइए तो मैं आपको बताना चाहता हूं देश की ह

Romanized Version
Likes  131  Dislikes    views  1936
WhatsApp_icon
user
0:09
Play

Likes  8  Dislikes    views  280
WhatsApp_icon
user
0:12
Play

Likes  21  Dislikes    views  541
WhatsApp_icon
play
user

Suman Saurav

Government Teacher & Carrear Counsultent

0:15

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपस में उदयपुर के बागोर की हवेली के बारे में बताओ तो मैं बताता हूं उदयपुर बागोर की हवेली जो है वह ऐतिहासिक स्थल है यहां पर हमेशा दर्शकों को पर्यटकों की हमेशा भीड़ लगी रहती है

aapas me udaipur ke bagor ki haweli ke bare me batao toh main batata hoon udaipur bagor ki haweli jo hai vaah etihasik sthal hai yahan par hamesha darshakon ko paryatakon ki hamesha bheed lagi rehti hai

आपस में उदयपुर के बागोर की हवेली के बारे में बताओ तो मैं बताता हूं उदयपुर बागोर की हवेली ज

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  1001
WhatsApp_icon
user
0:34
Play

Likes  23  Dislikes    views  831
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!