सुख क्या है विस्तार में बताये?...


user

Prabhat Verma

primary teacher government of bihar

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सुख एक मानसिक स्थिति है जो एक के अनुभूति है जो स्वयं अंदर से महसूस होती है इसे बाहर ढूंढने से यह कभी नहीं प्राप्त होता है यह व्यक्ति व्यक्ति के स्वभाव पर निर्भर करता है कि उसे सुख किस में मिलता है इसी सही व्याख्या कोई नहीं कर सकता केवल व्यक्ति ही समझ सकता है कि सुख का पैमाना क्या है यदि किसी व्यक्ति को अपने घर में बैठकर शांति से किसी किताब को पढ़ने में सुख मिलता है तो वह किसी दूसरे व्यक्ति को अपनी आंखों में नहीं जाने में पर प्राकृतिक दृश्य देखने में सुख की अनुभूति होती है किसी को भक्ति में सुख मिलता है तो किसी व्यक्ति को अपने बल प्रदर्शन में सुखिन होती होती है किसी को प्रथम आने में सुखी होते हुए लोग खेल में इस तरह की आवाज आती है कि हमारे सुख का पैमाना हम खुद ही बना सकते हैं कोई दूसरा व्यक्ति उसका निर्धारण नहीं कर सकता है

sukh ek mansik sthiti hai jo ek ke anubhuti hai jo swayam andar se mehsus hoti hai ise bahar dhundhne se yah kabhi nahi prapt hota hai yah vyakti vyakti ke swabhav par nirbhar karta hai ki use sukh kis me milta hai isi sahi vyakhya koi nahi kar sakta keval vyakti hi samajh sakta hai ki sukh ka paimaana kya hai yadi kisi vyakti ko apne ghar me baithkar shanti se kisi kitab ko padhne me sukh milta hai toh vaah kisi dusre vyakti ko apni aakhon me nahi jaane me par prakirtik drishya dekhne me sukh ki anubhuti hoti hai kisi ko bhakti me sukh milta hai toh kisi vyakti ko apne bal pradarshan me sukhin hoti hoti hai kisi ko pratham aane me sukhi hote hue log khel me is tarah ki awaaz aati hai ki hamare sukh ka paimaana hum khud hi bana sakte hain koi doosra vyakti uska nirdharan nahi kar sakta hai

सुख एक मानसिक स्थिति है जो एक के अनुभूति है जो स्वयं अंदर से महसूस होती है इसे बाहर ढूंढने

Romanized Version
Likes  37  Dislikes    views  614
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है सुख क्या है विस्तार से बताइए इसका आंसर होगा क्योंकि एक अनुभूति है इसमें आनंद अनुकूलता प्रसंता शांति इत्यादि की अनुभूति होती है उसे सुख कहा जाता है सुख की अनुभूति मन से जुड़ी हुई है और वह साधना से भी सुख की अनुभूति हो सकती है और अंदर की आत्मा से बना किसी वह साधन एवं अनुकूल वातावरण के बिना भी सुख की अनुभूति हो सकती है

prashna hai sukh kya hai vistaar se bataiye iska answer hoga kyonki ek anubhuti hai isme anand anukulta prasanta shanti ityadi ki anubhuti hoti hai use sukh kaha jata hai sukh ki anubhuti man se judi hui hai aur vaah sadhna se bhi sukh ki anubhuti ho sakti hai aur andar ki aatma se bana kisi vaah sadhan evam anukul vatavaran ke bina bhi sukh ki anubhuti ho sakti hai

प्रश्न है सुख क्या है विस्तार से बताइए इसका आंसर होगा क्योंकि एक अनुभूति है इसमें आनंद अनु

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  517
WhatsApp_icon
play
user
0:17

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि सुख क्या है विस्तार में बता दे किस रूप से वह चीज है जो आपको हक पूर्ण तरह असुरक्षित हो और सुख का मतलब यह होता है कि आपको किसी भी चीज की कमी ना हो आप अपने जीवन में बहुत अच्छी तरह से गुजारा कर रहे हो

aapka prashna hai ki sukh kya hai vistaar me bata de kis roop se vaah cheez hai jo aapko haq purn tarah asurakshit ho aur sukh ka matlab yah hota hai ki aapko kisi bhi cheez ki kami na ho aap apne jeevan me bahut achi tarah se gujara kar rahe ho

आपका प्रश्न है कि सुख क्या है विस्तार में बता दे किस रूप से वह चीज है जो आपको हक पूर्ण तरह

Romanized Version
Likes  28  Dislikes    views  626
WhatsApp_icon
user
0:17
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने पूछा है कि सुख क्या है तो दोस्तों शुक्र एक अनुभूति है जिसने आनंद अनुकूलता प्रसन्नता शांति त्यागी की अनुभूति होती है उसे सुख कहा जाता है सुख की अनुभूति हुई है साधनों से भी सुख की अनुभूति हो सकती है

aapne poocha hai ki sukh kya hai toh doston shukra ek anubhuti hai jisne anand anukulta prasannata shanti tyagi ki anubhuti hoti hai use sukh kaha jata hai sukh ki anubhuti hui hai saadhano se bhi sukh ki anubhuti ho sakti hai

आपने पूछा है कि सुख क्या है तो दोस्तों शुक्र एक अनुभूति है जिसने आनंद अनुकूलता प्रसन्नता श

Romanized Version
Likes  50  Dislikes    views  1468
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!