नवाज़ का तरीका इन हिंदी बताये?...


user

Masoom

Teacher

0:21
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रेसिडेंट नमाज का तरीका हिंदी में बता दें कि नमाज के लिए आपको सबसे पहले शुद्ध होना पड़ेगा अनुरूप से शुद्ध कपड़े पहने होंगे उसके बाद आपको वजू करेंगे वजू करने के बाद आप याद करेंगे बात करने के बाद आप जो मंत्र होता है मध्य प्रदेश के मध्य पढ़ने के बाद रुको सजदा करेंगे तलाश करेंगे यह आपका नमाज का तरीका

aapka president namaz ka tarika hindi me bata de ki namaz ke liye aapko sabse pehle shudh hona padega anurup se shudh kapde pehne honge uske baad aapko vaju karenge vaju karne ke baad aap yaad karenge baat karne ke baad aap jo mantra hota hai madhya pradesh ke madhya padhne ke baad ruko sajda karenge talash karenge yah aapka namaz ka tarika

आपका प्रेसिडेंट नमाज का तरीका हिंदी में बता दें कि नमाज के लिए आपको सबसे पहले शुद्ध होना प

Romanized Version
Likes  38  Dislikes    views  827
WhatsApp_icon
4 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pushpanjali

Teacher & Carrier Cunsultancy

0:29
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हेलो दोस्तों आपने मुझसे पूछा नवाज का तरीका हिंदी में बताइए इतना को बताना चाहूंगी दोस्तों नवाज जो होती है वह भगवान से दुआ मांगने की प्रक्रिया होती अल्लाह से दुआ मांगने की प्रक्रिया होती है आप दोनों घुटने के बल बैठ जाइए हाथ आगे जोड़कर अल्लाह से दुआ मांगे तू नवाज होता भगवान की प्रार्थना करने का एक तरीका होता है जैसे हम अपने भगवान से प्रार्थना करते हाथ जोड़कर उसी तरह मुस्लिम भाई अपने हाथ को फैलाकर अल्लाह से प्रार्थना करते हैं उसको नवाज कहते हैं धन्यवाद

hello doston aapne mujhse poocha nawaj ka tarika hindi me bataiye itna ko batana chahungi doston nawaj jo hoti hai vaah bhagwan se dua mangne ki prakriya hoti allah se dua mangne ki prakriya hoti hai aap dono ghutne ke bal baith jaiye hath aage jodkar allah se dua mange tu nawaj hota bhagwan ki prarthna karne ka ek tarika hota hai jaise hum apne bhagwan se prarthna karte hath jodkar usi tarah muslim bhai apne hath ko failaakar allah se prarthna karte hain usko nawaj kehte hain dhanyavad

हेलो दोस्तों आपने मुझसे पूछा नवाज का तरीका हिंदी में बताइए इतना को बताना चाहूंगी दोस्तों न

Romanized Version
Likes  30  Dislikes    views  1074
WhatsApp_icon
user

Yogesh Kumar

Engineer

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ठीक है आप का सवाल है नमाज का तरीका इन हिंदी बताएं तो मैं बताना चाहूंगा कि जुमे की नमाज पढ़ने के लिए 3 नियम गुसल इत्र और शिवा बनाए गए हैं पहले नियम गुसल के अनुसार शुक्रवार के दिन स्नान करना आवश्यक माना गया है ताकि आपका शरीर पांव खो जाए इसके बाद इत्र लगाना ऐसा माना जाता है कि हफ्ते की बाकी दिन आप ही तेल लगाएं ना लगाएं लेकिन शुक्रवार के दिन से जरूर लगाएं खास बातें हैं जो इस नमाज पढ़ते हो आप को ध्यान में रखनी है इस्लाम में नवाज का बहुत-बहुत आदमी की नमाज पढ़ने के लिए 3 नियम आपको हमेशा याद रखना सामान लाने से करवा दें कि इस्लाम में नवाज का बहुत महत्व इस्लाम धर्म में अल्लाह को समय पर याद करने और उनकी इबादत करने के समय में को काफी अहम माना गया है इस धर्म को मानने वाले लोग हर दिन पांच बार नमाज पढ़ते हैं लेकिन जो हर दिन नमाज के लिए वक्त नहीं निकाल पाते वह हर शुक्रवार को मस्जिद जाकर अल्लाह की इबादत करते हैं लेकिन शुक्रवार का ही दिन क्यों माना गया गया गया इस्लाम धर्म के मुताबिक जुम्मे के दिन पालना के दरबार में रैम का दिन माना गया है ऐसी मान्यता है कि इस दिन नमाज पढ़ने से अल्लाह इंसान की पूरे हफ्ते की गलतियों को माफ कर देते हैं इस वजह से हर मुसलमान मुस्लिम शुक्रवार के दिन मस्जिद में नमाज अदा करता है लेकिन जुमे की नमाज पढ़ने के लिए तीन नियम तो मैंने बता ही दिए थे आपको पहले भी लेकिन अब दोबारा बता रहा हूं सुन लीजिए गुस्सा इत्र और सिवाग बनाए गए हैं पहले नियम गुसल के अनुसार शुक्रवार के दिन स्नान करना आवश्यक माना गया है ताकि आपका शरीर पूरी तरह साफ हो जाए और उसके बाद मित्र लगाया गया इतना लगाओ इत्र लगाने के लिए क्योंकि उसके बाद हफ्ते में बाकी इतना पीतल लगाओ ना लगाओ लेकिन शुक्रवार के दिन से जरूर लगाएं तीसरा नियम है सिवाय इसमें जुम्मे के दिन दातों को साफ करना जरूरी माना गया है इन तीनों नियमों का पालन करने के बाद भी जुम्मे की नवाज अल्लाह तक पहुंचती है धन्यवाद

theek hai aap ka sawaal hai namaz ka tarika in hindi bataye toh main batana chahunga ki jume ki namaz padhne ke liye 3 niyam gusal itra aur shiva banaye gaye hain pehle niyam gusal ke anusaar sukravaar ke din snan karna aavashyak mana gaya hai taki aapka sharir paav kho jaaye iske baad itra lagana aisa mana jata hai ki hafte ki baki din aap hi tel lagaye na lagaye lekin sukravaar ke din se zaroor lagaye khas batein hain jo is namaz padhte ho aap ko dhyan me rakhni hai islam me nawaj ka bahut bahut aadmi ki namaz padhne ke liye 3 niyam aapko hamesha yaad rakhna saamaan lane se karva de ki islam me nawaj ka bahut mahatva islam dharm me allah ko samay par yaad karne aur unki ibadat karne ke samay me ko kaafi aham mana gaya hai is dharm ko manne waale log har din paanch baar namaz padhte hain lekin jo har din namaz ke liye waqt nahi nikaal paate vaah har sukravaar ko masjid jaakar allah ki ibadat karte hain lekin sukravaar ka hi din kyon mana gaya gaya gaya islam dharm ke mutabik jumme ke din paalna ke darbaar me ram ka din mana gaya hai aisi manyata hai ki is din namaz padhne se allah insaan ki poore hafte ki galatiyon ko maaf kar dete hain is wajah se har musalman muslim sukravaar ke din masjid me namaz ada karta hai lekin jume ki namaz padhne ke liye teen niyam toh maine bata hi diye the aapko pehle bhi lekin ab dobara bata raha hoon sun lijiye gussa itra aur sivag banaye gaye hain pehle niyam gusal ke anusaar sukravaar ke din snan karna aavashyak mana gaya hai taki aapka sharir puri tarah saaf ho jaaye aur uske baad mitra lagaya gaya itna lagao itra lagane ke liye kyonki uske baad hafte me baki itna pital lagao na lagao lekin sukravaar ke din se zaroor lagaye teesra niyam hai shivaay isme jumme ke din daanton ko saaf karna zaroori mana gaya hai in tatvo niyamon ka palan karne ke baad bhi jumme ki nawaj allah tak pohchti hai dhanyavad

ठीक है आप का सवाल है नमाज का तरीका इन हिंदी बताएं तो मैं बताना चाहूंगा कि जुमे की नमाज पढ़

Romanized Version
Likes  22  Dislikes    views  330
WhatsApp_icon
play
user
0:07

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नवाई पश्चिम में किया जाता है मक्का के साइड में भारत में मक्का पश्चिमी पड़ता है

navai paschim mein kiya jata hai makka ke side mein bharat mein makka pashchimi padta hai

नवाई पश्चिम में किया जाता है मक्का के साइड में भारत में मक्का पश्चिमी पड़ता है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  148
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!