भारत के प्रधानमंत्री का चुनाव किस प्रणाली द्वारा होता है?...


user

Sushil Bhardwaj Chhata Mathura

Lawyer and social worker and Politician

5:03
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारे भारतवर्ष में हिंदुस्तान भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है और जहां पर पूरे समूचे राष्ट्र की जो लोकतांत्रिक प्रणाली है वह पूरे विश्व पटल पर कुछ अच्छा से जानी जाती है मंत्री के चुनाव के बारे में जानेंगे प्रथम से चुनाव हमारे यहां सीधे जनता की तरह नहीं होता उसकी प्रक्रिया एक अलग तरीके से होती है इस प्रकार से हमारे एक बात बता एक चुनाव आयोग होता है इसे इलेक्शन कमिशन कहते हैं हम और चुनाव आयोग में हमारे देश की तमाम जो राजनीतिक पार्टियां है वह रजिस्टर्ड होती है जैसे कांग्रेस है बीजेपी है कि यह सीपीआई है समाजवादी है सर मूल कांग्रेस है वगैरा-वगैरा निश्चिती पार्टी भी है यह कलेक्शन कमीशन के गाने स्टार्ट होती है रजिस्टर्ड होने के उपरांत हमारे भारतवर्ष में कुल 543 लोकसभा सदस्यों की स्थान है जो 543 में से कुछ सीट लगभग 20 के लगभग सीट जैसी होती है जो राष्ट्रपति की तरह मनोज की जाती है ताकि 521 या 522 के लगभग 25 के आसपास कन्फर्मेशन नहीं है कुल लगभग 520 या 25 किलोवाट सीटों पर इलेक्शन होता है जनता के द्वारा जैसे और उसमें प्रावधान है कि 2 से 72 सीट यानी कि आधे से एक सीट जाते तो 250 500 के आगे 250 हो गए जो 22 सीट है 272 का जो बहुमत का आंकड़ा है जो पार्टी 272 सीट लाएगी सबसे ज्यादा दो दल बहुमत पर होगा तो उसे बेहतर सीटर उसके पास है उस पार्टी को हमारे भारत के राष्ट्रपति सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करेंगे अगर किसी भी पार्टी की 2 से 72 सीट नहीं आती है तो हमारी लोकतांत्रिक परंपरा के अनुसार यह कानून नहीं है परंपरा के अनुसार देश की जो पार्टी सबसे ज्यादा लोक सभा स्थल लेकर आती है उसको राष्ट्रपति के द्वारा भी सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जा सकता है उसमें कुछ समय राष्ट्रपति की शादी जाएंगे 1 सप्ताह 2 सप्ताह 30 सप्ताह या 4 सप्ताह से ज्यादा नहीं होता कि आप अपना बहुमत सिद्ध कीजिए कुछ पार्टियां ऐसी होती है गठबंधन करती है जैसे कि पिछली सरकार में कांग्रेस गठबंधन की सरकार थी तो कांग्रेस के सहयोगी दलों की संख्या मिलकर बीजेपी से ज्यादा हो रही थी तो उन्होंने अपना राष्ट्रपति क्या है चिट्ठी दी कि हमारे पास बहुमत है इसीलिए हमें सर करवाने का मौका दिया जाए और भास्कर पति ने सरकार बनने का मौका दिया उसमें डॉ मनमोहन सिंह प्रधानमंत्री बने प्रधानमंत्री होती है पार्टी या संगठन के पास बात कर कहां खड़ा है वह दूसरे 72 लोग अपना एक नेता चुनेंगे और जो नेता चुना जाएगा उसका नाम भारत के राष्ट्रपति के पास जाएगा और वही व्यक्ति जो लोग संस्था से एमपी होगा वही व्यक्ति को हाथ के राष्ट्रपति देश के प्रधानमंत्री की शपथ दिलाएंगे उसके उपरांत देश के प्रधानमंत्री अपनी पार्टी संगठन या कटक का गठबंधन की लोगों की जो एमपी जो होते हैं उसके आधार पर मंत्रियों की शपथ अपना मंत्रिमंडल आएंगे और उसमें फिर पुणे इसी प्रकार से राष्ट्रपति जी के द्वारा शपथ के बाद मंत्रिमंडल का क्षमता है और प्रधानमंत्री के चुनाव का इस प्रकार से हमारे भारतवर्ष की लोकतांत्रिक प्रणाली में चुनाव किया जाता है

hamare bharatvarsh mein Hindustan bharat vishwa ka sabse bada loktantrik desh hai aur jaha par poore samuche rashtra ki jo loktantrik pranali hai vaah poore vishwa patal par kuch accha se jani jaati hai mantri ke chunav ke bare mein jaanege pratham se chunav hamare yahan sidhe janta ki tarah nahi hota uski prakriya ek alag tarike se hoti hai is prakar se hamare ek baat bata ek chunav aayog hota hai ise election commission kehte hai hum aur chunav aayog mein hamare desh ki tamaam jo raajnitik partyian hai vaah registered hoti hai jaise congress hai bjp hai ki yah cpi hai samajwadi hai sir mul congress hai vagaira vagaira nishchiti party bhi hai yah collection commision ke gaane start hoti hai registered hone ke uprant hamare bharatvarsh mein kul 543 lok sabha sadasyon ki sthan hai jo 543 mein se kuch seat lagbhag 20 ke lagbhag seat jaisi hoti hai jo rashtrapati ki tarah manoj ki jaati hai taki 521 ya 522 ke lagbhag 25 ke aaspass conformation nahi hai kul lagbhag 520 ya 25 kilowatt seaton par election hota hai janta ke dwara jaise aur usme pravadhan hai ki 2 se 72 seat yani ki aadhe se ek seat jaate toh 250 500 ke aage 250 ho gaye jo 22 seat hai 272 ka jo bahumat ka akanda hai jo party 272 seat layegi sabse zyada do dal bahumat par hoga toh use behtar seater uske paas hai us party ko hamare bharat ke rashtrapati sarkar banne liye aamantrit karenge agar kisi bhi party ki 2 se 72 seat nahi aati hai toh hamari loktantrik parampara ke anusaar yah kanoon nahi hai parampara ke anusaar desh ki jo party sabse zyada lok sabha sthal lekar aati hai usko rashtrapati ke dwara bhi sarkar banne liye aamantrit kiya ja sakta hai usme kuch samay rashtrapati ki shadi jaenge 1 saptah 2 saptah 30 saptah ya 4 saptah se zyada nahi hota ki aap apna bahumat siddh kijiye kuch partyian aisi hoti hai gathbandhan karti hai jaise ki pichali sarkar mein congress gathbandhan ki sarkar thi toh congress ke sahyogi dalon ki sankhya milkar bjp se zyada ho rahi thi toh unhone apna rashtrapati kya hai chitthi di ki hamare paas bahumat hai isliye hamein sir karwane ka mauka diya jaaye aur bhaskar pati ne sarkar banne ka mauka diya usme Dr. manmohan Singh pradhanmantri bane pradhanmantri hoti hai party ya sangathan ke paas baat kar kahaan khada hai vaah dusre 72 log apna ek neta chunenge aur jo neta chuna jaega uska naam bharat ke rashtrapati ke paas jaega aur wahi vyakti jo log sanstha se mp hoga wahi vyakti ko hath ke rashtrapati desh ke pradhanmantri ki shapath dilaenge uske uprant desh ke pradhanmantri apni party sangathan ya katak ka gathbandhan ki logo ki jo mp jo hote hai uske aadhar par mantriyo ki shapath apna mantrimandal aayenge aur usme phir pune isi prakar se rashtrapati ji ke dwara shapath ke baad mantrimandal ka kshamta hai aur pradhanmantri ke chunav ka is prakar se hamare bharatvarsh ki loktantrik pranali mein chunav kiya jata hai

हमारे भारतवर्ष में हिंदुस्तान भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक देश है और जहां पर पूरे स

Romanized Version
Likes  17  Dislikes    views  257
KooApp_icon
WhatsApp_icon
2 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask

Related Searches:
pradhan mantri ka chunav kaun karta hai ; pradhan mantri ka chunav kaise hota hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!