आपने अपनी ज़िंदगी से क्या सीखा?...


user

Vijay Sharma

Yoga Trainer (P.G.D.Y.)

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें अपनी जिंदगी मजे सीताराम तुझे हरदम खुशियां घोषित करते हैं अगर हम अपने अंदर झांके देखें तमाम खुशियां मौसम मिल जाएगी जो हम भारतीयों के रहे हैं इसलिए अपने व्यक्ति जितनी अंतर्मुखी होंगे उतना ही सख्त का प्रकाश मिलेगा वह खुशियां प्राप्त हुई युवक बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान से उड़ा दिया इसलिए अपने को पहचानो आत्मज्ञान करें ईश्वर का मेला किस जनजाति महासंघ मातेश्वरी खेलना है एक बार पहचान के लिए

hamein apni zindagi maje sitaram tujhe hardum khushiya ghoshit karte hain agar hum apne andar jhanke dekhen tamaam khushiya mausam mil jayegi jo hum bharatiyon ke rahe hain isliye apne vyakti jitni antarmukhi honge utana hi sakht ka prakash milega vaah khushiya prapt hui yuvak bahri vyakti ya bahri sthan se uda diya isliye apne ko pehchano atmagyan kare ishwar ka mela kis janjaati mahasangh mateshwari khelna hai ek baar pehchaan ke liye

हमें अपनी जिंदगी मजे सीताराम तुझे हरदम खुशियां घोषित करते हैं अगर हम अपने अंदर झांके देखें

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  792
WhatsApp_icon
19 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Adv Anil Agarwal

Tanushka Associates, Advocate High Court

6:34
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई जिंदगी में इंसान को बहुत सारे अनुभव होते हैं वह सारी बातें ऐसी हैं लेकिन मोटे रूप से कुछ ऐसे अनुभव है जो मैं आपके साथ शेयर करता हूं पहली चीज तो यह है कि अगर आपको सफलता प्राप्त करनी है और अपने जीवन को सरल बनाना है टिपिकल अनिल कम करनी है तू लाइफ में एक शब्द है देख लेंगे यार बाद में इस शब्द को अपने जीवन से निकालकर भर कर दीजिए क्योंकि यह इंसान की तरक्की को मुक्ता है और इंसानों की बीच की दूरियां बढ़ा देता है आपके रिश्तेदारों के आपकी जानकारों के आपके समाज में लोगों के प्रति द्वेष बढ़ाता है यह शब्द कई बार क्या होता है कि मेरी अपनी सोच है मैं सोचता हूं कि मुझे सामने वाले से एक्सपेक्टेशन यह है मेरी ऐसी एजुकेशन है सामने वाले की कुछ और होती है हम दोनों उस चीज को क्लियर करने की जगह चल देख लेंगे कर लेंगे अब मैं यह सोचता हूं कि आप मुझे ₹100 का काम है आप ना मिलने वाले ₹20 में कर देगा वह सोचता है यार ₹100 का काम है यार अपना मिलने वाला 40 को दे देगा अब दोनों की एक्सपेक्टेशन में फर्क आ गया अब आप भी देना चाहते हैं और 40 लेना चाहता है फिर दोनों आपस में खींचतान करके चलो यार एडजस्ट कर लो ₹30 में करो अब इस चीज का दोनों में खटास आती है यार काहे का मिलने वाला है मैंने तो उसके बोला था वह 2:30 ले लिया लूटता है वह मेरे को यार क्या मिलने वाला है ₹40 काम किया ₹30 देकर आपस में एक दूसरे का रिलेशन खराब हो जाता इसलिए लाइफ में आपका यह जो शब्द है देख लेंगे यार बाद में इसको हटा दो दूसरा यह जो ऑल इंडिया रेडियो होते हैं ऑल इंडिया रेडियो मतलब जो बातों को सर्कुलेट करते हैं कुछ लेडीस भी होते हैं कुछ जेंट्स भी होते हैं जिनके पास खबरीलाल जिसको बोलते हैं पर सारी खबर होती है अपने मोहल्ले में आस पड़ोस में रिश्तेदारी में बहुत सारे लोग होते हैं चुगली करने का काम करते हैं खबरों को इधर-उधर कन्वे करते हैं ऐसे लोगों से दूरी बना लो और अपनी लाइफ का संबंध बनने दो कम से कम लाइफ में इंटरफेयर का कौन को और अपने घर में उनको कम से कम एंट्री तो आप देखोगे उनके पेट में दर्द शुरू हो जाएगा और आधे तो बेचारे दस्त लग लग के परेशान हो जाएंगे वह कि यार हमें खबर नहीं मिली कि तुम खबर चाहिए सबसे पहले और वह यह चाहते हैं कि हम बताएं दुनिया को कि सबसे पहले खबर हमारे पास है अपनी इंपॉर्टेंस जताना चाहते हैं वह अपनी इंपॉर्टेंस बताना जाते हैं वहां तक तो ठीक है लेकिन वह जिस खबर को सर्कुलेट कर रहे हैं उससे सामने वाले पर क्या फर्क पड़ेगा उनको उससे कोई मतलब नहीं है उनको तो अपनी वैल्यू और वक्त बनानी है दुनिया में अपने इंपॉर्टेंट दिखानी है लोगों को पैसे कब मिला यह इंसान को बर्बाद करने के और बदनाम करने के अलावा कुछ भी नहीं कर सकते हैं आपके अच्छे काम का कभी आपको क्रेडिट नहीं देंगे और आपके बुरे काम का आपको 500 1000 परसेंट ज्यादा क्रेडिट देंगे तीसरी चीज इंसान को परखना सीखिए अगर आपको बुरे वक्त में कभी गलती से भी ऐसा ना हो कि कभी बुरा वक्त आए और इंसान के साथ कोई खड़ा ही ना हो पता चले सारे मतलबी थे सारे चापलूस और भाग गए छोड़कर मधुमक्खी का छत्ता लगा हुआ था शायद था उतने दिन तो सब पी रहे थे जैसे चांद निकल गया तो छत पर छत पर है क्या छत्ते में आप अपने परिवार के साथ कह दो बाकी सब भाग गए रिश्तेदार पड़ोसी पड़ोसी जानकार दोस्त नातेदार और अब आप को बदनाम करने में लगे हुए हैं लात मारने वाले क्योंकि तू इंसान को ऐसे लोगों से दूरी बनाकर रखी है इंसान को मैं तो ऐसे लोगों से रिश्ता तोड़ दीजिए बिल्कुल ना के बराबर उसे हां जी ठीक है भैया बढ़िया ऐसे लोगों से रिलेशन बनाइए जो जरूरत वक्त जरूरत पड़ने पर आपके काम आ सके आप उनका काम आते तो वह भी आपके काम आ सके क्योंकि जिन लोगों से अब रिलेशन बना रहे हैं अगर वह मतलब यह है कि आप मुझसे तो वह केवल आपको यूज़ कर रहा है लेकिन जब आपका बुरा वक्त आएगा फिर दिखा कर भाग जाएगा तो हम ऐसे गीदड़ नहीं पालने हमें शेर पालने के बराबर में साथ हमारे मुसीबत के वक्त साथ खड़ा रहे जरूरी नहीं है उनके पास पैसा हो पैसे से कभी मलेशियन नहीं होती इंसान की इंसान ऐसा होना चाहिए जो और बुरे वक्त में हिम्मत दें हमारे साथ खड़ा रहे बस पैसा जरूरी नहीं है पैसा तो अगर उसके पास नहीं है तो कहां से देगा लेकिन कम से कम इतना तो हो ना कि मोरल सपोर्ट तो करें एक इंसान ऐसा है जो मोरल सपोर्ट करने की जगह अरे यार तूने क्यों किया था पागल है तेरा ऐसा बिना बात के काम करता मैं क्या करूं तूने कर लिया तो पानी मारे तो आदमी पहले टूटा हुआ होता है वह टूट जाता है इसलिए ऐसे लोगों से दूरी बनाई है अनुभव बहुत सारे होते हैं जीवन में मेरा यह मानना है आपके घर में ऐसे लोगों की एंट्री कभी मत रखिए जो खबरें डालें क्योंकि यह बाप बेटे को मां मां बेटे को सास बहू को आपस में लड़ाने का काम करते हैं इधर की खबर उधर उधर की खबर आपके परिवार में कभी शांति सुकून नहीं होगी हिंदुस्तान में बहुत सारी घरेलू महिलाओं को इस बात की शिकायत होती है कि मेरे से परेशान करते ताने मारते मेरे को प्रॉब्लम है वह प्रॉब्लम की वजह मेरे लिए 3:00 फार्मूले आजमा लो आप आपके घर में 50% हो जाएगा फिर भी यदि आपके ससुर आपको ज्यादा तंग करते हैं परेशान करते हैं तो सबसे बढ़िया तरीका अपने बारे में जानकारी कम से कम होने दो कि आप क्या करते हो जितनी जरूरत हो उतना ही उनको जानकारी दो चुपचाप सुनने की आदत डालो मत बोलो वह जो बोले हमें मिला लो साथी के उनको ज्यादा जानकारी दो कि आपका नुकसान होगा इसलिए मेरा अनुभव भी कहता जीवन का कि अगर आपको छुट्टी रहना है तो अपने में मस्त रहो ऐसे लोगों के साथ रिलेशन रखो जो वक्त पे वो जरूरत नहीं आपके साथ काम आ सके जय राम जी

bhai zindagi me insaan ko bahut saare anubhav hote hain vaah saari batein aisi hain lekin mote roop se kuch aise anubhav hai jo main aapke saath share karta hoon pehli cheez toh yah hai ki agar aapko safalta prapt karni hai aur apne jeevan ko saral banana hai tipikal anil kam karni hai tu life me ek shabd hai dekh lenge yaar baad me is shabd ko apne jeevan se nikalakar bhar kar dijiye kyonki yah insaan ki tarakki ko mukta hai aur insano ki beech ki duriyan badha deta hai aapke rishtedaron ke aapki jankaron ke aapke samaj me logo ke prati dvesh badhata hai yah shabd kai baar kya hota hai ki meri apni soch hai main sochta hoon ki mujhe saamne waale se expectation yah hai meri aisi education hai saamne waale ki kuch aur hoti hai hum dono us cheez ko clear karne ki jagah chal dekh lenge kar lenge ab main yah sochta hoon ki aap mujhe Rs ka kaam hai aap na milne waale Rs me kar dega vaah sochta hai yaar Rs ka kaam hai yaar apna milne vala 40 ko de dega ab dono ki expectation me fark aa gaya ab aap bhi dena chahte hain aur 40 lena chahta hai phir dono aapas me khinchtan karke chalo yaar adjust kar lo Rs me karo ab is cheez ka dono me khatas aati hai yaar kaahe ka milne vala hai maine toh uske bola tha vaah 2 30 le liya lutta hai vaah mere ko yaar kya milne vala hai Rs kaam kiya Rs dekar aapas me ek dusre ka relation kharab ho jata isliye life me aapka yah jo shabd hai dekh lenge yaar baad me isko hata do doosra yah jo all india radio hote hain all india radio matlab jo baaton ko circulate karte hain kuch ladies bhi hote hain kuch gents bhi hote hain jinke paas khabarilal jisko bolte hain par saari khabar hoti hai apne mohalle me aas pados me rishtedaari me bahut saare log hote hain chugli karne ka kaam karte hain khabaro ko idhar udhar convey karte hain aise logo se doori bana lo aur apni life ka sambandh banne do kam se kam life me intarafeyar ka kaun ko aur apne ghar me unko kam se kam entry toh aap dekhoge unke pet me dard shuru ho jaega aur aadhe toh bechare dast lag lag ke pareshan ho jaenge vaah ki yaar hamein khabar nahi mili ki tum khabar chahiye sabse pehle aur vaah yah chahte hain ki hum bataye duniya ko ki sabse pehle khabar hamare paas hai apni importance jatana chahte hain vaah apni importance batana jaate hain wahan tak toh theek hai lekin vaah jis khabar ko circulate kar rahe hain usse saamne waale par kya fark padega unko usse koi matlab nahi hai unko toh apni value aur waqt banani hai duniya me apne important dikhaani hai logo ko paise kab mila yah insaan ko barbad karne ke aur badnaam karne ke alava kuch bhi nahi kar sakte hain aapke acche kaam ka kabhi aapko credit nahi denge aur aapke bure kaam ka aapko 500 1000 percent zyada credit denge teesri cheez insaan ko parakhana sikhiye agar aapko bure waqt me kabhi galti se bhi aisa na ho ki kabhi bura waqt aaye aur insaan ke saath koi khada hi na ho pata chale saare matlabi the saare chaplus aur bhag gaye chhodkar madhumakkhi ka chatta laga hua tha shayad tha utne din toh sab p rahe the jaise chand nikal gaya toh chhat par chhat par hai kya chatte me aap apne parivar ke saath keh do baki sab bhag gaye rishtedar padosi padosi janakar dost natedar aur ab aap ko badnaam karne me lage hue hain laat maarne waale kyonki tu insaan ko aise logo se doori banakar rakhi hai insaan ko main toh aise logo se rishta tod dijiye bilkul na ke barabar use haan ji theek hai bhaiya badhiya aise logo se relation banaiye jo zarurat waqt zarurat padane par aapke kaam aa sake aap unka kaam aate toh vaah bhi aapke kaam aa sake kyonki jin logo se ab relation bana rahe hain agar vaah matlab yah hai ki aap mujhse toh vaah keval aapko use kar raha hai lekin jab aapka bura waqt aayega phir dikha kar bhag jaega toh hum aise gidad nahi palne hamein sher palne ke barabar me saath hamare musibat ke waqt saath khada rahe zaroori nahi hai unke paas paisa ho paise se kabhi malaysian nahi hoti insaan ki insaan aisa hona chahiye jo aur bure waqt me himmat de hamare saath khada rahe bus paisa zaroori nahi hai paisa toh agar uske paas nahi hai toh kaha se dega lekin kam se kam itna toh ho na ki moral support toh kare ek insaan aisa hai jo moral support karne ki jagah are yaar tune kyon kiya tha Pagal hai tera aisa bina baat ke kaam karta main kya karu tune kar liya toh paani maare toh aadmi pehle tuta hua hota hai vaah toot jata hai isliye aise logo se doori banai hai anubhav bahut saare hote hain jeevan me mera yah manana hai aapke ghar me aise logo ki entry kabhi mat rakhiye jo khabren Daalein kyonki yah baap bete ko maa maa bete ko saas bahu ko aapas me ladane ka kaam karte hain idhar ki khabar udhar udhar ki khabar aapke parivar me kabhi shanti sukoon nahi hogi Hindustan me bahut saari gharelu mahilaon ko is baat ki shikayat hoti hai ki mere se pareshan karte tane marte mere ko problem hai vaah problem ki wajah mere liye 3 00 formulae ajama lo aap aapke ghar me 50 ho jaega phir bhi yadi aapke sasur aapko zyada tang karte hain pareshan karte hain toh sabse badhiya tarika apne bare me jaankari kam se kam hone do ki aap kya karte ho jitni zarurat ho utana hi unko jaankari do chupchap sunne ki aadat dalo mat bolo vaah jo bole hamein mila lo sathi ke unko zyada jaankari do ki aapka nuksan hoga isliye mera anubhav bhi kahata jeevan ka ki agar aapko chhutti rehna hai toh apne me mast raho aise logo ke saath relation rakho jo waqt pe vo zarurat nahi aapke saath kaam aa sake jai ram ji

भाई जिंदगी में इंसान को बहुत सारे अनुभव होते हैं वह सारी बातें ऐसी हैं लेकिन मोटे रूप से

Romanized Version
Likes  29  Dislikes    views  518
WhatsApp_icon
user

Manish Menghani

Health & parenting Advisor

6:26
Play

Likes  244  Dislikes    views  3053
WhatsApp_icon
user

Ranjita Arya

Engineer

1:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने अपनी जिंदगी से यह सीखा है कि आपके लाइफ में मतलब मेरी लाइफ में जो भी हुआ है वह मेरे डिसीजन की वजह से वह चाहे अच्छा हुआ हो या बुरा हुआ हो अपनी लाइफ में खुश भी अपनी वजह से होती है और प्रॉब्लम भी अपनी वजह से होती है और मैंने यह सीखा है कि लोगों को रिस्पेक्ट उतनी ही देना चाहिए जितनी उड़ीसा करते हैं लेकिन हम बहुत सी बार ऐसे लोगों को पता है या जितनी जितना वह डिस्टर्ब नहीं करते उससे ज्यादा हम उनको रिस्पेक्ट देते हैं जो कि गलत है हमेशा खुश रहना चाहिए कितनी भी बड़ी से बड़ी प्रॉब्लम हो हमसफर सुन सकते हैं और परेशान होने से कुछ नहीं होता है उसका सलूशन आपको तब भी ढूंढना ही है सबसे अच्छी चीज मैंने सीखी है मेडिटेशन मेडिटेशन आपको जोड़ता है मेडिटेशन के बहुत सारे फायदे हैं लाइव बहुत कीमती है उसका एक-एक सेकंड निक 1 मिनट एक-एक दिन बहुत इंपॉर्टेंट है इसलिए उसको फालतू चीजों में व्यस्त नहीं ना चाहिए आज का जो दिन है वह फिर कभी नहीं आएगा हम पैसा तो एक-एक के बाद में भी कमा सकते हैं लेकिन जो टाइम एक बार चला गया या व्यस्त हो गया वह कभी नहीं आता है और जिंदगी को हमेशा नदी की तरह जीना चाहिए क्योंकि नदी एक ही डायरेक्शन में बहती और आगे ही बढ़ती है पीछे पलट की कभी नहीं देखती आप भी कोई चीज में आगे बढ़ रहे हैं कोई चीज हो गई है या पास है तो उसको भूल जाइए लाइफ आगे ही बढ़ेगी पीछे नहीं होगा पिक्चर देखने से कुछ होगा भी नहीं तो इसलिए हमको नदी से यह चीज सीखना चाहिए कि लाइट को सिर्फ आगे ही बनने देना आगे ही देखना है भले आपकी लाइफ में कुछ भी अच्छा हुआ बुरा हुआ हो उसे कोई फर्क नहीं पड़ता लाइफ बहुत खूबसूरत है उसको हमें अच्छे से जीना चाहिए

maine apni zindagi se yah seekha hai ki aapke life me matlab meri life me jo bhi hua hai vaah mere decision ki wajah se vaah chahen accha hua ho ya bura hua ho apni life me khush bhi apni wajah se hoti hai aur problem bhi apni wajah se hoti hai aur maine yah seekha hai ki logo ko respect utani hi dena chahiye jitni odisha karte hain lekin hum bahut si baar aise logo ko pata hai ya jitni jitna vaah disturb nahi karte usse zyada hum unko respect dete hain jo ki galat hai hamesha khush rehna chahiye kitni bhi badi se badi problem ho humsafar sun sakte hain aur pareshan hone se kuch nahi hota hai uska salution aapko tab bhi dhundhana hi hai sabse achi cheez maine sikhi hai meditation meditation aapko Jodta hai meditation ke bahut saare fayde hain live bahut kimti hai uska ek ek second nick 1 minute ek ek din bahut important hai isliye usko faltu chijon me vyast nahi na chahiye aaj ka jo din hai vaah phir kabhi nahi aayega hum paisa toh ek ek ke baad me bhi kama sakte hain lekin jo time ek baar chala gaya ya vyast ho gaya vaah kabhi nahi aata hai aur zindagi ko hamesha nadi ki tarah jeena chahiye kyonki nadi ek hi direction me behti aur aage hi badhti hai peeche palat ki kabhi nahi dekhti aap bhi koi cheez me aage badh rahe hain koi cheez ho gayi hai ya paas hai toh usko bhool jaiye life aage hi badhegi peeche nahi hoga picture dekhne se kuch hoga bhi nahi toh isliye hamko nadi se yah cheez sikhna chahiye ki light ko sirf aage hi banne dena aage hi dekhna hai bhale aapki life me kuch bhi accha hua bura hua ho use koi fark nahi padta life bahut khoobsurat hai usko hamein acche se jeena chahiye

मैंने अपनी जिंदगी से यह सीखा है कि आपके लाइफ में मतलब मेरी लाइफ में जो भी हुआ है वह मेरे ड

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  73
WhatsApp_icon
play
user

VC. Speaks

Soft Skill Trainer

0:46

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने अपनी जिंदगी से क्या सीखा

aapne apni zindagi se kya seekha

आपने अपनी जिंदगी से क्या सीखा

Romanized Version
Likes  244  Dislikes    views  2440
WhatsApp_icon
user

Yogi Prashant Nath

Business Consultant / M D

10:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार सर्वप्रथम प्रशंसनीय हैं आपका यह प्रश्न जो अपने जीवन अस्तित्व से संबंधित है और जीवन के अपनी मूलभूत इकाई शिक्षा से क्योंकि जीवन कविता और बहुत कुछ सिखा देता है सबसे बड़ा जो विद्यालय होता है जिससे लोग सीखते हैं और उस में एडमिशन कराने की कोई चीज नहीं होती उसके पहले की तो वह है हमारा जीवन जीवन हमें बहुत कुछ सिखा देता है चलिए इस प्रसंग पर चर्चा करने से पहले मैं आपको अपना परिचय करा देना चाहता हूं मेरा नाम है योगी योगी प्रशांत नाथ और चले बढ़ते आपके प्रश्न की तरफ आपका प्रश्न है आप हमसे प्रश्न कर रहे हैं कि आपने अपनी जिंदगी में क्या सीखा है यूं तो हर व्यक्ति अपनी अपने जीवन में कोई ना कोई शिक्षा जरूर ग्रहण करता है और जीवन कभी ना कभी कुछ ऐसी शिक्षा दे जाती है अपने जीवन में जो हम अपने पूरे जीवन में उतारते हैं जिसे और कभी कार उच्च शिक्षा को पीढ़ी दर पीढ़ी भी देते जाते हैं रहा बरहाल सवाल हमारा तो हम तो यही कहेंगे कि हमने लोगों की मदद करना जरूर सीखा है जो अपने जीवन में और कहीं ना कहीं प्रैक्टिकली इसका अनुभव किया और उसका सुखद अनुभव किया है कि जब किसी व्यक्ति की मदद करते ना तो उसके बाद जो फील महसूस होता है जो एनर्जी हमें मिलती है उस व्यक्ति के ब्लेसिंग के द्वारा यह हमारी है अपने स्क्रीन नहीं सकते तो वह चीज ना बहुत ज्यादा हो जाती है और हमारे लिए पेट से होती है अकॉर्डिंग टू मनिया धनिया से क्योंकि दोस्त धन तो ऐसा होता है कि आज है कल नहीं लेकिन लेकिन लेकिन जब ब्लेसिंग होते ना और ब्लेसिंग की जो पावर होती होती कभी कार जो हमारे द्वारा जाने अनजाने में कोई की गई गलतियों के द्वारा यह कोई हमारी लाइफ में कोई प्रॉब्लम साथी तो उनको भी शॉट आउट कर देती है और हमें पता नहीं चलता कि कोई प्रॉब्लम आ रही थी उनमें आ रही थी या किस तरह से सॉर्ट आउट हुई है और हमारे जीवन की जो ट्रक ने सहज रूप से चलने लगता है तो यही मैं कहूंगा कभी भी किसी के प्रति मन में द्वेष ना रखें और जाने अनजाने में भी किसी का बुरा न करें किसी का अहित ना करें हो सके तो हित करने की कोशिश करें और इस तरह से किसी की हेल्प करें कि आपको उसका यह नहीं कि किसी प्रकार का स्वार्थ रखें कि आज मैं इसकी मदद करो तो कल को यह मेरी मदद करेगा ना बिल्कुल स्वार्थ भाव से कई बार हम गुप्त रूप से किसी की हेल्प करते हैं जैसे गधे गुप्त दान होता है तो इसी प्रकार से क्या होता क्या हम अपने आप को भी उसमें नहीं रखते बट अब आप कहेंगे कि अगर हमने किसी की मदद करी और उस व्यक्ति को पता ही नहीं कि किस व्यक्ति ने उसकी मदद करी तो उसकी अप्लाई सिंह का क्या वह कैसे वह हमें देगा लेकिन लेकिन ऊपर वाला भेज दो सब देख रहा होता है तो वह क्या है कि कहीं ना कहीं तो व्यक्ति कहता कि जिसके सोर्स के द्वारा उसको किसी आधार कार्ड पहचान कद की जरूरत नहीं पड़ती ब्लेसिंग होती ऑटोमेटिक चाहिए आप से कनेक्ट नहीं रखती है तो कहीं ना कहीं वह आप से जुड़ाव रखते हैं कोई भी आपका चाहे जितना बुरा चाहे तो भी नहीं कर सकता क्योंकि आपने कभी किसी को बुरा किया ही नहीं जब आपको लगे कभी कोई ऐसी भी जीवन में ऐसे आ जाता है कि हमने तो कभी किसी का बुरा नहीं किया होता फिर फील होता है यार हमारे साथ ऐसा क्यों इस जिंदगी है बॉस जिंदगी की एक सच्चाई बताता हूं आपको कि जीवन में ना यह सरकार से सांस जरूरी है सांस कैसे होती है आती है और जाती है हवा कहते थे धूप पानी सब चीजें जरूरी है ना तो उसी तरह से जो दुख होता ना उसको भी पॉजिटिवली लेना चाहिए क्योंकि दुख ना हो तो सुख का अनुभव नहीं होता मैं जीवन में अगर हमें कहीं चोट ना लगे और दर्द ना महसूस हो तो हमें कैसे पता चलेगा कि दिलीप की क्या जो है जो ठीक होने का जो अनुभव होता है सुखद एहसास होता वह कैसा होता है और इसका बेनिफिट भी होता है चोट लगे दुख होता है तो कष्ट पहुंचता दर्द होता है तो अगर कहीं न कहीं यह चीज ना हो तो आप कहीं जा रहे हैं बाय चांस सोचे और कोई चीज आप से टकराती आपको हर्ट करती है उसके बाद आपका ब्लड रहता है आपको पता ही नहीं चलता तो इससे आपका कोई बॉडी का अंग है जो है टिकट भी सकता है तो पता भी नहीं चलता है तो कहीं ना कहीं नुकसानदायक होता है तो इसमें जो दर्द का एहसास दिया ना वह भी हमारे लिए बेनिफिट होता है वह जैसे कि अगर हमें किसी गर्म चीज पर गर्म तवे कहा था करो पटाक देनी हमारा हाथरस की तरफ से पीछे हट जाता तो रिवर तो यही चीज है कि यह भी कहीं न कहीं हमारे लिए बचाव रखते की भी तुम अब इससे ज्यादा इसे यह सीख लेनी चाहिए कि आप तो मुझसे ज्यादा क्रॉस कर रहे अपनी लिमिट नो लिमिट में है ना सिखाती हैं जैसे कई बार हम अपने मोशन के भाव में इतने वह हो जाते हैं कि हमें कुछ दिखाई नहीं देता उसे सुनाई नहीं देता समझ नहीं आता और हम बावले से हो जाते हैं तो उस चीजों को भी कहीं ना कहीं हमारा माइंड एक संकेत देता कि भाई बस रुक जा क्योंकि कई बार हम देख रहे हैं आजकल के समय में कि लोग अपनी भावना में युक्तियों के बावरे से हो जाते हैं किसी चीज को चाहते हैं तो अगर वह नहीं मिलता तो उसके प्रति बुरी भावना रखने लगते हैं और कहीं न कहीं उस कष्ट पहुंचाने लगते तो यह सब चीजें कंगने कोई गलत होते गलत इफेक्ट करते यह जीवन में हमारे प्रभावित करती हमें अपने जीवन में हावी न होने देने के लिए अपने अंदर की जो आत्मा होती है जिसे कहते अंदर की आवाज होती है उसे जरूर सुनना चाहिए उसे इग्नोर नहीं करना चाहिए क्योंकि वही हमें बताते हैं क्योंकि जब हम कभी किसी के बारे में बुरा तुझसे करते तो कहीं ना कहीं ना कहीं चोट पहुंचती हो कहीं ना कहीं भी नुकसान होता दर्द महसूस होता लेकिन हम उस दर्द को अनदेखा करते हो चोर को अनदेखा करके उस व्यक्ति के प्रति दुर्भावना रखते तो ऐसा ना कीजिए तो ही अच्छा है क्योंकि कहीं ना कहीं अगर हम किसी के बारे में सुर बुरा सोचते हैं तो कहीं ना कहीं हर एक व्यक्ति आय आपस में जुड़ा होता है तो उसका रिप्लाई हमारे पास जरूर होता है तो अच्छा कीजिए अच्छा सोचिए तो अच्छा ही होगा आपके साथ अब मैं इसको बहुत ही इंपॉर्टेंट एग्जांपल के साथ समझा सकता हूं चीजों को जैसे कि आपने सुना था कि महाभारत हुई थी द्रोपति के दर्शन मीरा की मां कहना है कि द्रोपति के कारण नहीं होती महाभारत महाभारत हुई थी जब तेजस्विता मारी के उनको अगर राजपाट नहीं दिया तो उनके साथ अन्याय होता दरअसल उनके हित के कारण क्योंकि उसने इसलिए उन्हें राजधानी बनाया था कि सोचा था कि सारी संपत्ति के मालिक यह हो जाएंगे तो हमारे दो बेटे थे उनकी जो दूसरी बीवी से जो पत्नी से पुत्र हुए उनका जो होगा वह उनका छिन जाएगा दिखा तो यह कहीं ना कहीं मक्कारी पन की वजह से फिर भी उन्होंने अपना और अखंड ब्रह्मचारी का प्रण लिया तो देखिए अगर कोई व्यक्ति का बुरा करते हैं और बदले में वह आपसे गुस्सा आया लड़ाई करता है तो तो ठीक है लेकिन अगर आप किसी व्यक्ति का बुरा करते और वह कुछ नहीं कहता उस शांत मन से आपको आपके लिए निकल जाता आपके सामने से तो बहुत बुरा होने वाला तो समझते क्योंकि जो व्यक्ति जितना शांत होता ना उसकी जो पीड़ा होती है जो उसकी कैसा कर्ज होता उसका दूसरा बताओ वह बहुत बुरा होता है मेरे दोस्त तो कहीं ना कहीं वह सामने आया जो चीज का डर उन्हें तो उस समय लग रहा तो आगे चलकर उनकी पीढ़ी अर्जुन और कौरव के बीच में हुआ है कि वह दोनों ही सगे थे तो उसके बावजूद भी हुआ ना तो पांचो पांडव अपने पांच भाइयों को ₹5 मानते थे कौरव अपने शो भाई वह प्रेमानते आपस में तेल तालमेल नहीं बनाए जबकि वह थे एक ही मां के भेज दो बेटों के मतलब अपने चाचा की लगेंगे लेकिन थे तो एक ही उसी से चले आते थे लेकिन उनके साथ अन्याय हुआ था तो उसमें जैसे ही दोनों की बुद्धि चल रही थी कूटनीति वाली आगे चल के सामने आते तो इसी प्रकार से हम जिस तरह से अपने करते वह प्रतिक्रिया से जुड़ी होती और हमारे सामने आती है तो यही कहूंगा कि आप हेल्प कीजिए लोगों की मदद कीजिए और किसी का बुरा ना कीजिए जितनी हो सके हंसकर तो यह पोस्ट आपको अच्छा लगा हो और आप इसे लाइक कर सकते हैं और फॉलो कर सकते हमारे गूगल प्रोफाइल पेज को इस तरह के सकारात्मक विचारों को सुनने के लिए और हर एक सब्जेक्ट से रिलेटेड चाहे वह स्वास्थ्य संबंधित हो कुछ अध्यापकों से संबंधित हम दिल्ली पोस्ट डालते हैं और आप अपनी जो कह सकते हैं विचार अपने आप कमेंट के माध्यम से आप अपने विचार हमारे समक्ष रख सकते हैं और हम अभी गिव में चला रहे तो आप अपना कमेंट के माध्यम से अपने विचार रखे कि आपको कैसा लगा यह पोस्ट के लिए बहुत अच्छा लगता है जब हमें पता चलता है कि हमारी मेहनत के द्वारा हमारे किए गए काम को सराहा जाता है तो हमें और अच्छा लगता कि हम उस तरह की और अच्छी पोस्ट है और आपके लिए कुछ नहीं नॉलेजेबल जानकारी आपके लिए लाए डाले इस पोस्ट में और मैं आपका

namaskar sarvapratham prashansaniya hai aapka yah prashna jo apne jeevan astitva se sambandhit hai aur jeevan ke apni mulbhut ikai shiksha se kyonki jeevan kavita aur bahut kuch sikha deta hai sabse bada jo vidyalaya hota hai jisse log sikhate hai aur us mein admission karane ki koi cheez nahi hoti uske pehle ki toh vaah hai hamara jeevan jeevan hamein bahut kuch sikha deta hai chaliye is prasang par charcha karne se pehle main aapko apna parichay kara dena chahta hoon mera naam hai yogi yogi prashant nath aur chale badhte aapke prashna ki taraf aapka prashna hai aap humse prashna kar rahe hai ki aapne apni zindagi mein kya seekha hai yun toh har vyakti apni apne jeevan mein koi na koi shiksha zaroor grahan karta hai aur jeevan kabhi na kabhi kuch aisi shiksha de jaati hai apne jeevan mein jo hum apne poore jeevan mein utarate hai jise aur kabhi car ucch shiksha ko peedhi dar peedhi bhi dete jaate hai raha barhal sawaal hamara toh hum toh yahi kahenge ki humne logo ki madad karna zaroor seekha hai jo apne jeevan mein aur kahin na kahin practically iska anubhav kiya aur uska sukhad anubhav kiya hai ki jab kisi vyakti ki madad karte na toh uske baad jo feel mehsus hota hai jo energy hamein milti hai us vyakti ke blessing ke dwara yah hamari hai apne screen nahi sakte toh vaah cheez na bahut zyada ho jaati hai aur hamare liye pet se hoti hai according to maniya dhania se kyonki dost dhan toh aisa hota hai ki aaj hai kal nahi lekin lekin lekin jab blessing hote na aur blessing ki jo power hoti hoti kabhi car jo hamare dwara jaane anjaane mein koi ki gayi galatiyon ke dwara yah koi hamari life mein koi problem sathi toh unko bhi shot out kar deti hai aur hamein pata nahi chalta ki koi problem aa rahi thi unmen aa rahi thi ya kis tarah se sort out hui hai aur hamare jeevan ki jo truck ne sehaz roop se chalne lagta hai toh yahi main kahunga kabhi bhi kisi ke prati man mein dvesh na rakhen aur jaane anjaane mein bhi kisi ka bura na kare kisi ka ahit na kare ho sake toh hit karne ki koshish kare aur is tarah se kisi ki help kare ki aapko uska yah nahi ki kisi prakar ka swarth rakhen ki aaj main iski madad karo toh kal ko yah meri madad karega na bilkul swarth bhav se kai baar hum gupt roop se kisi ki help karte hai jaise gadhe gupt daan hota hai toh isi prakar se kya hota kya hum apne aap ko bhi usme nahi rakhte but ab aap kahenge ki agar humne kisi ki madad kari aur us vyakti ko pata hi nahi ki kis vyakti ne uski madad kari toh uski apply Singh ka kya vaah kaise vaah hamein dega lekin lekin upar vala bhej do sab dekh raha hota hai toh vaah kya hai ki kahin na kahin toh vyakti kahata ki jiske source ke dwara usko kisi aadhar card pehchaan kad ki zarurat nahi padti blessing hoti Automatic chahiye aap se connect nahi rakhti hai toh kahin na kahin vaah aap se judav rakhte hai koi bhi aapka chahen jitna bura chahen toh bhi nahi kar sakta kyonki aapne kabhi kisi ko bura kiya hi nahi jab aapko lage kabhi koi aisi bhi jeevan mein aise aa jata hai ki humne toh kabhi kisi ka bura nahi kiya hota phir feel hota hai yaar hamare saath aisa kyon is zindagi hai boss zindagi ki ek sacchai batata hoon aapko ki jeevan mein na yah sarkar se saans zaroori hai saans kaise hoti hai aati hai aur jaati hai hawa kehte the dhoop paani sab cheezen zaroori hai na toh usi tarah se jo dukh hota na usko bhi positively lena chahiye kyonki dukh na ho toh sukh ka anubhav nahi hota main jeevan mein agar hamein kahin chot na lage aur dard na mehsus ho toh hamein kaise pata chalega ki dilip ki kya jo hai jo theek hone ka jo anubhav hota hai sukhad ehsaas hota vaah kaisa hota hai aur iska benefit bhi hota hai chot lage dukh hota hai toh kasht pahuchta dard hota hai toh agar kahin na kahin yah cheez na ho toh aap kahin ja rahe hai bye chance soche aur koi cheez aap se takarati aapko heart karti hai uske baad aapka blood rehta hai aapko pata hi nahi chalta toh isse aapka koi body ka ang hai jo hai ticket bhi sakta hai toh pata bhi nahi chalta hai toh kahin na kahin nukasanadayak hota hai toh isme jo dard ka ehsaas diya na vaah bhi hamare liye benefit hota hai vaah jaise ki agar hamein kisi garam cheez par garam tave kaha tha karo patak deni hamara hathras ki taraf se peeche hut jata toh river toh yahi cheez hai ki yah bhi kahin na kahin hamare liye bachav rakhte ki bhi tum ab isse zyada ise yah seekh leni chahiye ki aap toh mujhse zyada cross kar rahe apni limit no limit mein hai na sikhati hai jaise kai baar hum apne motion ke bhav mein itne vaah ho jaate hai ki hamein kuch dikhai nahi deta use sunayi nahi deta samajh nahi aata aur hum baawale se ho jaate hai toh us chijon ko bhi kahin na kahin hamara mind ek sanket deta ki bhai bus ruk ja kyonki kai baar hum dekh rahe hai aajkal ke samay mein ki log apni bhavna mein yuktiyo ke bavare se ho jaate hai kisi cheez ko chahte hai toh agar vaah nahi milta toh uske prati buri bhavna rakhne lagte hai aur kahin na kahin us kasht pahunchane lagte toh yah sab cheezen kangane koi galat hote galat effect karte yah jeevan mein hamare prabhavit karti hamein apne jeevan mein haavi na hone dene ke liye apne andar ki jo aatma hoti hai jise kehte andar ki awaaz hoti hai use zaroor sunana chahiye use ignore nahi karna chahiye kyonki wahi hamein batatey hai kyonki jab hum kabhi kisi ke bare mein bura tujhse karte toh kahin na kahin na kahin chot pohchti ho kahin na kahin bhi nuksan hota dard mehsus hota lekin hum us dard ko andekha karte ho chor ko andekha karke us vyakti ke prati durbhavana rakhte toh aisa na kijiye toh hi accha hai kyonki kahin na kahin agar hum kisi ke bare mein sur bura sochte hai toh kahin na kahin har ek vyakti aay aapas mein jinko hota hai toh uska reply hamare paas zaroor hota hai toh accha kijiye accha sochiye toh accha hi hoga aapke saath ab main isko bahut hi important example ke saath samjha sakta hoon chijon ko jaise ki aapne suna tha ki mahabharat hui thi dropati ke darshan meera ki maa kehna hai ki dropati ke karan nahi hoti mahabharat mahabharat hui thi jab tejaswita mari ke unko agar rajpat nahi diya toh unke saath anyay hota darasal unke hit ke karan kyonki usne isliye unhe rajdhani banaya tha ki socha tha ki saree sampatti ke malik yah ho jaenge toh hamare do bete the unki jo dusri biwi se jo patni se putra hue unka jo hoga vaah unka chhin jaega dikha toh yah kahin na kahin makkari pan ki wajah se phir bhi unhone apna aur akhand brahmachari ka pran liya toh dekhiye agar koi vyakti ka bura karte hai aur badle mein vaah aapse gussa aaya ladai karta hai toh toh theek hai lekin agar aap kisi vyakti ka bura karte aur vaah kuch nahi kahata us shaant man se aapko aapke liye nikal jata aapke saamne se toh bahut bura hone vala toh samajhte kyonki jo vyakti jitna shaant hota na uski jo peeda hoti hai jo uski kaisa karj hota uska doosra batao vaah bahut bura hota hai mere dost toh kahin na kahin vaah saamne aaya jo cheez ka dar unhe toh us samay lag raha toh aage chalkar unki peedhi arjun aur kaurav ke beech mein hua hai ki vaah dono hi sage the toh uske bawajud bhi hua na toh paancho pandav apne paanch bhaiyo ko Rs maante the kaurav apne show bhai vaah premanate aapas mein tel talmel nahi banaye jabki vaah the ek hi maa ke bhej do beto ke matlab apne chacha ki lagenge lekin the toh ek hi usi se chale aate the lekin unke saath anyay hua tha toh usme jaise hi dono ki buddhi chal rahi thi kootneeti wali aage chal ke saamne aate toh isi prakar se hum jis tarah se apne karte vaah pratikriya se judi hoti aur hamare saamne aati hai toh yahi kahunga ki aap help kijiye logo ki madad kijiye aur kisi ka bura na kijiye jitni ho sake hansakar toh yah post aapko accha laga ho aur aap ise like kar sakte hai aur follow kar sakte hamare google profile page ko is tarah ke sakaratmak vicharon ko sunne ke liye aur har ek subject se related chahen vaah swasthya sambandhit ho kuch adhyapakon se sambandhit hum delhi post daalte hai aur aap apni jo keh sakte hai vichar apne aap comment ke madhyam se aap apne vichar hamare samaksh rakh sakte hai aur hum abhi give mein chala rahe toh aap apna comment ke madhyam se apne vichar rakhe ki aapko kaisa laga yah post ke liye bahut accha lagta hai jab hamein pata chalta hai ki hamari mehnat ke dwara hamare kiye gaye kaam ko saraha jata hai toh hamein aur accha lagta ki hum us tarah ki aur achi post hai aur aapke liye kuch nahi knowledgeable jaankari aapke liye laye dale is post mein aur main aapka

नमस्कार सर्वप्रथम प्रशंसनीय हैं आपका यह प्रश्न जो अपने जीवन अस्तित्व से संबंधित है और जीवन

Romanized Version
Likes  42  Dislikes    views  381
WhatsApp_icon
user
2:31
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने अपनी जिंदगी से क्या सीखा नीचे हर कोई इंसान जब जिंदगी जी रहा होता है तू उस समय निभा तो रहा होता है सीखने की प्रक्रिया को उसका रोल ऐसा होता है कि वह एक आदमी की तरह हर वक्त जब पूरा जीवन जीने की प्रक्रिया पूरी हो जाती है कर्म अपने वह कर चुका होता है अंतिम क्षण के समय जब उसके हाथ पैर जवाब दे जाते हैं शुरू हो जाता है दिमाग फिर भी चलता है ताकि अच्छे कर्म किए थे उसको पता चलता है कि मैंने क्या कुछ नहीं किया जिसमें मुझे कुछ लाभ हो मैं तो हर वक्त सीखता चला गया सीखता चला गया सिक्का चला गया सीखता ही चला करता है अभी मैं जो सोच रहा हूं वह भी एक सीखी है मेरे लिए विकास मैंने उस वक्त ऐसा करम ना करके वैसा कर्म ऐसे जीवन जिया होता तो कितना सुखदाई रहता तो इसीलिए कहा गया है जीवन की जो प्रक्रिया है सीखने से शुरू होते होते होते सीखते सीखते सीखते मरते तक वह समझता और देखता ही रह जाता है अभी तक जैसा जीवन जी रहे हो जो कर्म कर रहे हो वह प्रक्रिया 117 से आपकी सीखने की हर दिन हर दिन नई चीजें हैं हर दिन नई बातें आपको सीखने को मिलती है देखने को अपने कर्म को जब आप अच्छा करते हो तो अच्छा अनुभव करते हो तो कहीं ना कहीं आपका फ्यूचर या बुढ़ापे की जो सीखे वह अच्छी औरत रहती है

aapne apni zindagi se kya seekha niche har koi insaan jab zindagi ji raha hota hai tu us samay nibha toh raha hota hai sikhne ki prakriya ko uska roll aisa hota hai ki vaah ek aadmi ki tarah har waqt jab pura jeevan jeene ki prakriya puri ho jaati hai karm apne vaah kar chuka hota hai antim kshan ke samay jab uske hath pair jawab de jaate hain shuru ho jata hai dimag phir bhi chalta hai taki acche karm kiye the usko pata chalta hai ki maine kya kuch nahi kiya jisme mujhe kuch labh ho main toh har waqt sikhata chala gaya sikhata chala gaya sikka chala gaya sikhata hi chala karta hai abhi main jo soch raha hoon vaah bhi ek sikhi hai mere liye vikas maine us waqt aisa karam na karke waisa karm aise jeevan jiya hota toh kitna sukhdayi rehta toh isliye kaha gaya hai jeevan ki jo prakriya hai sikhne se shuru hote hote hote sikhate sikhate sikhate marte tak vaah samajhata aur dekhta hi reh jata hai abhi tak jaisa jeevan ji rahe ho jo karm kar rahe ho vaah prakriya 117 se aapki sikhne ki har din har din nayi cheezen hain har din nayi batein aapko sikhne ko milti hai dekhne ko apne karm ko jab aap accha karte ho toh accha anubhav karte ho toh kahin na kahin aapka future ya budhape ki jo sikhe vaah achi aurat rehti hai

आपने अपनी जिंदगी से क्या सीखा नीचे हर कोई इंसान जब जिंदगी जी रहा होता है तू उस समय निभा

Romanized Version
Likes  20  Dislikes    views  233
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने मेरी जिंदगी से एक ही सबक सिखाएं हमेशा मुस्कुराते रहो मुस्कुराते रहो जाने कब मौत आ जाए जिंदगी सिकाई नाम में हमेशा हंसते रहो और दूसरों को हंसाते रहो दूसरों को शांति प्रदान करो अपने दुख से नहीं रखो किसी को अपने दुख मत बातें और हंसते रहो हंसते रहो हंसते रहो जय श्री राम

maine meri zindagi se ek hi sabak sikhaye hamesha muskurate raho muskurate raho jaane kab maut aa jaaye zindagi sikai naam me hamesha hansate raho aur dusro ko hansate raho dusro ko shanti pradan karo apne dukh se nahi rakho kisi ko apne dukh mat batein aur hansate raho hansate raho hansate raho jai shri ram

मैंने मेरी जिंदगी से एक ही सबक सिखाएं हमेशा मुस्कुराते रहो मुस्कुराते रहो जाने कब मौत आ ज

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  73
WhatsApp_icon
user

Ravi

Other

0:32
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एनिमल्स उम्मीद है कि मैं जिसके पास पैसे हैं तो मैं आगे बढ़ सकता नहीं कि नहीं तीन लोग भी उसे मार डालती है मदद की कॉमेडी mp3box मतलब की दुनिया में उसके पास कुछ है तो उसके पास अब कुछ भी नहीं तो कुछ नहीं

animals ummid hai ki main jiske paas paise hain toh main aage badh sakta nahi ki nahi teen log bhi use maar daalti hai madad ki comedy mp3box matlab ki duniya me uske paas kuch hai toh uske paas ab kuch bhi nahi toh kuch nahi

एनिमल्स उम्मीद है कि मैं जिसके पास पैसे हैं तो मैं आगे बढ़ सकता नहीं कि नहीं तीन लोग भी उस

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  60
WhatsApp_icon
user
Play

Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
user

D Jay

Journalist

4:35
Play

Likes  3  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user
0:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने अपनी जिंदगी में क्या सीखा तो देखें इसमें मैं अपने लाइफ का अनुभव तुम्हें बताना चाहता हूं अच्छा लगे तो लाइक जरूर करना मेरा मानना यह है कि जो आपके ऊपर विश्वास रखते हैं तो आपको उनका विश्वास कायम रखना चाहिए क्योंकि होता है ऐसा है कि जो तुम पर विश्वास करते हैं यदि किसी वजह से उनका विश्वास तुम्हारे से टूट जाए ट्यूब बहुत मुश्किल होती है दोबारा भी विश्वास कायम करना क्योंकि कहते हैं ना अगर कोई बंदा एक बार नजरों से गिर जाता है ना तो दोबारा नजरों में उठना इतना आसान नहीं होता तो मेरा अनुभव यही कहता है कि जो तुमसे प्यार करते हैं जो तुम्हें अच्छा मानते हैं तो तू उनकी नजरों में अच्छा ही रहना चाहिए अच्छे कर्म करने चाहिए घरवालों को आदर करना चाहिए दूसरों की नजरों में अच्छा रहना चाहिए थैंक यू फ्रेंड

maine apni zindagi me kya seekha toh dekhen isme main apne life ka anubhav tumhe batana chahta hoon accha lage toh like zaroor karna mera manana yah hai ki jo aapke upar vishwas rakhte hain toh aapko unka vishwas kayam rakhna chahiye kyonki hota hai aisa hai ki jo tum par vishwas karte hain yadi kisi wajah se unka vishwas tumhare se toot jaaye tube bahut mushkil hoti hai dobara bhi vishwas kayam karna kyonki kehte hain na agar koi banda ek baar nazro se gir jata hai na toh dobara nazro me uthna itna aasaan nahi hota toh mera anubhav yahi kahata hai ki jo tumse pyar karte hain jo tumhe accha maante hain toh tu unki nazro me accha hi rehna chahiye acche karm karne chahiye gharwaalon ko aadar karna chahiye dusro ki nazro me accha rehna chahiye thank you friend

मैंने अपनी जिंदगी में क्या सीखा तो देखें इसमें मैं अपने लाइफ का अनुभव तुम्हें बताना चाहता

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  102
WhatsApp_icon
user
0:08
Play

Likes  3  Dislikes    views  128
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने अपना जिंदगी में यह सीखा कि एक दूसरे व्यक्ति को हमेशा मदद करें और अच्छे इंसान बनने की कोशिश करें हमने इससे अपने जिंदगी में हमेशा कुछ नया चीज सीखने की जिज्ञासा रहती है हम पर हमेशा किसी न किसी को अच्छी चीज बताने का भी किया साथ ही साथ में एक दूसरे को मदद करने में काफी हेल्प करता हूं मैंने अपने जिंदगी में सीखा कि कोई भी वस्तु को दुरुपयोग ना करें इसी वक्त वस्तु को उपयोग करें और सदुपयोग करें

maine apna zindagi me yah seekha ki ek dusre vyakti ko hamesha madad kare aur acche insaan banne ki koshish kare humne isse apne zindagi me hamesha kuch naya cheez sikhne ki jigyasa rehti hai hum par hamesha kisi na kisi ko achi cheez batane ka bhi kiya saath hi saath me ek dusre ko madad karne me kaafi help karta hoon maine apne zindagi me seekha ki koi bhi vastu ko durupyog na kare isi waqt vastu ko upyog kare aur sadupyog kare

मैंने अपना जिंदगी में यह सीखा कि एक दूसरे व्यक्ति को हमेशा मदद करें और अच्छे इंसान बनने की

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमारी जिंदगी ने हमें बहुत कुछ सिखाया है कहीं अपने बने हैं और उन्हें अपनों ने धोखा दिया है अभी पहचान हो चुकी है कौन से यह और गलत है लेकिन नौकरी मिलती है जितना ही व्यक्ति ज्यादा शक्ति बढ़ेगी सामने वाले को पहचान कैसा है कैसा नहीं है सब समझ सकती और आगे हम समझते चलेगा

hamari zindagi ne hamein bahut kuch sikhaya hai kahin apne bane hain aur unhe apnon ne dhokha diya hai abhi pehchaan ho chuki hai kaun se yah aur galat hai lekin naukri milti hai jitna hi vyakti zyada shakti badhegi saamne waale ko pehchaan kaisa hai kaisa nahi hai sab samajh sakti aur aage hum samajhte chalega

हमारी जिंदगी ने हमें बहुत कुछ सिखाया है कहीं अपने बने हैं और उन्हें अपनों ने धोखा दिया है

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  58
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मैंने मेरी चुंगी से यशिका किसी भी टाइम पर किसी भी समय में कोई भी आप बताइए अपने आप सुधर से कभी जीवन में कभी सुख कभी दुख इस समय में पास हो जाते तब हमने ऐसा सताए मेरी जिंदगी में इस प्रकार की शंका मिस करता तो आएगी निष्ठा को सेंड करना सीखना चाहिए यह महीने का

maine meri chungi se yashika kisi bhi time par kisi bhi samay me koi bhi aap bataiye apne aap sudhar se kabhi jeevan me kabhi sukh kabhi dukh is samay me paas ho jaate tab humne aisa sataye meri zindagi me is prakar ki shanka miss karta toh aayegi nishtha ko send karna sikhna chahiye yah mahine ka

मैंने मेरी चुंगी से यशिका किसी भी टाइम पर किसी भी समय में कोई भी आप बताइए अपने आप सुधर से

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  121
WhatsApp_icon
user

sumit sheoran

Country Lover,Nature Love, Animal Lover, Birds Lover

0:39
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आज का किचन है आपने जिंदगी में क्या सीखा तो मैं बताता हूं मेरी जिंदगी में बहुत कुछ सिखा सिखा जिंदगी बहुत अनमोल है लेकिन यह बात भी सच है कि हमें कुछ लेकर नहीं आए थे जी कुछ लेकर नहीं जाना है खाली हाथ आए थे खाली हाथ जाना है सब मोह माया है हमारे बस में कुछ नहीं है लेकिन जो मैंने सीखा वह बताता हूं मैंने सीखा दूसरों की मदद करना बेसहारों को सहारा देना प्रकृति प्रेम जी का पेड़ पौधे लगाना उनकी बड़ा करना पालना जीव जंतुओं की रक्षा करना मैंने अपनी लाइफ में किसी का ओके

aaj ka kitchen hai aapne zindagi me kya seekha toh main batata hoon meri zindagi me bahut kuch sikha sikha zindagi bahut anmol hai lekin yah baat bhi sach hai ki hamein kuch lekar nahi aaye the ji kuch lekar nahi jana hai khaali hath aaye the khaali hath jana hai sab moh maya hai hamare bus me kuch nahi hai lekin jo maine seekha vaah batata hoon maine seekha dusro ki madad karna besharon ko sahara dena prakriti prem ji ka ped paudhe lagana unki bada karna paalna jeev jantuon ki raksha karna maine apni life me kisi ka ok

आज का किचन है आपने जिंदगी में क्या सीखा तो मैं बताता हूं मेरी जिंदगी में बहुत कुछ सिखा सिख

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  105
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  3  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमने अपनी जिंदगी से ऐसी का है ना तो किसी का बुरा करना चाहिए ना किसी का बुरा सोचना चाहिए ना किसी का बुरा करना चाहिए कहते नहीं है जो पसीने जो पानी से नहाते हैं मुझे बाद बदलते हैं जो पसीने से नहा थे वह चाहत बदलते हैं धन्यवाद थैंक यू

humne apni zindagi se aisi ka hai na toh kisi ka bura karna chahiye na kisi ka bura sochna chahiye na kisi ka bura karna chahiye kehte nahi hai jo pasine jo paani se nahaate hai mujhe baad badalte hai jo pasine se naha the vaah chahat badalte hai dhanyavad thank you

हमने अपनी जिंदगी से ऐसी का है ना तो किसी का बुरा करना चाहिए ना किसी का बुरा सोचना चाहिए ना

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  70
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!