आपने अपनी ज़िंदगी से क्या सीखा?...


user

Vijay Sharma

Yoga Trainer (P.G.D.Y.)

0:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

हमें अपनी जिंदगी मजे सीताराम तुझे हरदम खुशियां घोषित करते हैं अगर हम अपने अंदर झांके देखें तमाम खुशियां मौसम मिल जाएगी जो हम भारतीयों के रहे हैं इसलिए अपने व्यक्ति जितनी अंतर्मुखी होंगे उतना ही सख्त का प्रकाश मिलेगा वह खुशियां प्राप्त हुई युवक बाहरी व्यक्ति या बाहरी स्थान से उड़ा दिया इसलिए अपने को पहचानो आत्मज्ञान करें ईश्वर का मेला किस जनजाति महासंघ मातेश्वरी खेलना है एक बार पहचान के लिए

hamein apni zindagi maje sitaram tujhe hardum khushiya ghoshit karte hain agar hum apne andar jhanke dekhen tamaam khushiya mausam mil jayegi jo hum bharatiyon ke rahe hain isliye apne vyakti jitni antarmukhi honge utana hi sakht ka prakash milega vaah khushiya prapt hui yuvak bahri vyakti ya bahri sthan se uda diya isliye apne ko pehchano atmagyan kare ishwar ka mela kis janjaati mahasangh mateshwari khelna hai ek baar pehchaan ke liye

हमें अपनी जिंदगी मजे सीताराम तुझे हरदम खुशियां घोषित करते हैं अगर हम अपने अंदर झांके देखें

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  795
KooApp_icon
WhatsApp_icon
20 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!