ममता बनर्जी ने बंगाल के लिए क्या क्या काम की है?...


user

Bhupendra Chugh

Business Owner

10:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ नहीं किया उन्होंने अपने वोट बैंक को पक्का करने के लिए बस जो कुछ किया वही जो उन्हें सस्ता राशन 11 जो इस तरीके से किया बाकी आप उनकी तारीफ के दो शब्द भी नहीं भूल सकते हैं उनके ही राज्य में दंगे हुए भड़का दिया गया भड़के जो उनके द्वारा ही करवाए गए सही मायने में और हिंदुओं के दुकाने मकान गाड़ियां हजारों की संख्या में फूंक दी गई ऐसा क्यों पहले वामपंथियों का शासन था उन्होंने इतने सालों तक राज किया तो हमें उम्मीद थी कि ममता बनर्जी आएंगी वह अपने राज्य के लिए बहुत अच्छा अच्छा कर जाएंगे लेकिन उन्होंने ऐसा कुछ नहीं किया आज वह मोदी जी के खिलाफ हैं हर मामले में योन की संकीर्ण राजनीति है बस वह यह चाहती है कि मैं सुन नहीं रहा हूं ममता बनर्जी जी की भी मैं अपने राज्य में बसना मुख्यमंत्री बने रहा हूं हर वक्त उन्होंने अपने को दिखाएं जैसे हमने देखा कि उन्होंने सादा दिखा अपने आपको अंदर सो गई चतुर महिलाएं तेज महिला जो सही मायने में हिंदुओं को बर्दाश्त नहीं कर पाती वह हिंदू है या क्या है इस टॉपिक पर मैं नहीं जाना चाहता जो हकीकत में मैं जानता हूं वैसे लेकिन मैं उस बात को नहीं उठाना चाह रहा तो आप कहो कि उनके राज्य में शासन प्रशासन या शासन या राज्य तरक्की करेगा तो यह ख्वाब है इसलिए जिसने भी यह सवाल पूछा है अब मुझे नहीं पता भी है आप किस शहर से हैं किस स्टेट से हैं अगर माल्या पश्चिम बंगाल के भी होते चाहा किसी भी स्टेट को लेकिन यह मान कर चलो कि पश्चिम बंगाल का विकास नहीं हो सकता अगर ममता बनर्जी है तो क्योंकि स्टेट का विकास जब भी हो सकता जब सेंटर में जिस की सरकार हो क्योंकि काफी हद तक सेंटर उस स्टेट को रेप करता है मदद करता है जिसकी सरकार स्टेट में होती है अगर विपक्षी पार्टी की सरकार स्टेट में है तो उतनी हेल्प नहीं कर पाते क्योंकि वहां की स्टेट ने उनको जताया कि उनकी जनता ने वहां उस पार्टी को अपनी स्टेट में आने ही नहीं दिया मोदी जी अगर वहां नहीं है सेंटर में मोदी जी तो मोदी जी उस स्टेट के लिए वह नहीं सोच पाने के सोचेंगे क्योंकि उन्होंने सदस्यों को जनता को अपना बताया है वह सोचेंगे लेकिन जो हो रहा है इस तरीके से नहीं सोचेंगे वह हिंसा या भगाओ भाषण देने या दूसरों पर अब तक चार उस चीज को बर्दाश्त नहीं करेंगे उसके लिए इस चीज को रोकना पड़ेगा अगर आप हम तो सब मदद चाहते हैं आपको किसी चीज में आगे तरक्की करने या भरना है और आप उसे स्टेट का विकास चाहते हैं तो आपको इन चीजों को रोकना पड़ेगा मोदी जी बिल्कुल सेट करें क्योंकि उनके मन में कोई यह भेदभाव वाली भावना नहीं है लेकिन जो वहां हिंसा हुई भड़काऊ भाषण दिए गए या लोगों को मारा गया यह मोदी जी कतई बर्दाश्त नहीं करने के और मेरी भी लोगों से यह अपील है कभी कोई भी पार्टी का बंदा हो आप किसी भी सप्ताह से हो आप लेकिन एक बात का हमेशा ध्यान रखें कि जो पार्टी सेंटर में हूं वह अगर स्टेट में है स्टेट को तरक्की करने से कोई रोक नहीं सकता अगर विपक्षी पार्टी अगर सत्ता में है तो वह विकास नहीं कर पाने की उतना ही उनके पास आय के साधन नहीं होंगे और अगर हैं भी चलो उन्होंने थोड़ा बहुत विकास कर भी लिया लेकिन उनकी उम्मीदें फिर भी संतों की तरह होती है कि वह सेंटर से भी अपेक्षाएं रखते हैं इस मामले में गिरी सेंट्रम बार इस मामले में हेल्प करें थोड़ा फर्क तो पड़ता ही है आपने संडे को तो जीता नहीं अब आप में आने नहीं दिया बीजेपी को और आप आप उम्मीद कर रहे हैं कि वह हमारी हेल्प करें तो आप की स्थिति ऐसी क्या कमी है जो आपको हेल्प की जरूरत पड़ रही है क्या आपके स्टेट के मुख्यमंत्री काम नहीं कर रहे हैं जो वह अपने खर्चों के अलावा वहां की जनता को खुश रख सके अब उम्मीद क्यों कर लो अपने कंधे पर रखकर बंदूक क्यों नहीं चलाई जाती अपने कंधे पे रखकर बंदूक चलाएं आज की तारीख को कोई रिश्तेदार कुपोषित हेल्प करता नहीं एक-दूसरे पर यहां तो बिल्कुल घोषित हुआ पड़ा है अगर सेंट्रल में किसकी सरकार को कायदा तो यह बनता है सेंट्रल में किसकी सरकार और उसके क्योंकि उसकी सरकार अगर आप विपक्षी पार्टी से संबंधित हैदर तो यह तो आपकी इच्छा के ऊपर निर्भर है इसमें कोई जोर जबस्ती नहीं क्योंकि प्रजातंत्र है अगर आपने जानकारी चाहिए और मैं जो जानकारी आपको दे रहा हूं तो मेरा यह मानना है कि अगर जो सरकार सेंटर में हो और वही स्टेट में हो तो इस चैट को आगे बढ़ने से कोई रोक नहीं सकता अबे दूसरी पार्टी की सरकार स्टेट में है तो उसको तो जद्दोजहद करनी पड़ेगी मोदी सरकार हेल्प कर सकती है ऐसे मुंह में जब आपातकाल की स्थिति हो जैसे प्राकृतिक आपदा हो गई अगर मान लिया तो संतोष अब पूरी मदद आती है क्योंकि वह तो लोग हैं जनता है वह तो एक आम आदमी है एक जनता है तो उनके लिए तो भाई वह भी इंसान है इंसानियत इंसानियत के नाते वह काम तो किया जाता है जो कोई भी हो जो विदेशी क्यों ना हो सही मायने में और वह लोग परेशान हैं तो पूरी हेल्प की जाएगी इस मामले में क्या आप किसी भी पार्टी का हो कोई बात नहीं लेकिन इंसानियत भी तो कोई चीज है और इंसानियत के नाते तो पूरी हेल्प की जाती है इस मामले में पीछे तो हटे नहीं और ना वह अटेंड फिर भी मैं यही कहूंगा कि अगर सेंट्रम सरकार मान्य बीजेपी की पुस्तक में अगर सरकार बीजेपी की हो तो ज्यादा बढ़िया है ठीक है वहां के हो सकता मुख्यमंत्री रहे हो उन्होंने काम नहीं की इसलिए उन्हें हटाकर दूसरी सरकारों आ गई उसकी जगह गलती मुख्यमंत्री की तो है कि उन्होंने काम नहीं किया बाकी आप यह मान कर चलो कि हम सब इस प्रजा पूरा हिंदुस्तान हमारा अंदाजा सही है अगर हमारा राजा सही है तो आज नहीं तो कल प्रजा में भी किसी भी तरह की होगी वह भी आगे आएंगे निकल गई क्योंकि राजा

kuch nahi kiya unhone apne vote bank ko pakka karne ke liye bus jo kuch kiya wahi jo unhe sasta raashan 11 jo is tarike se kiya baki aap unki tareef ke do shabd bhi nahi bhool sakte hai unke hi rajya mein dange hue bhadaka diya gaya bhadake jo unke dwara hi karwaye gaye sahi maayne mein aur hinduon ke dukaaney makan gadiyan hazaro ki sankhya mein phoonk di gayi aisa kyon pehle vamapanthiyon ka shasan tha unhone itne salon tak raj kiya toh hamein ummid thi ki mamata banerjee aayengi vaah apne rajya ke liye bahut accha accha kar jaenge lekin unhone aisa kuch nahi kiya aaj vaah modi ji ke khilaf hai har mamle mein yon ki sankirn raajneeti hai bus vaah yah chahti hai ki main sun nahi raha hoon mamata banerjee ji ki bhi main apne rajya mein basana mukhyamantri bane raha hoon har waqt unhone apne ko dikhaen jaise humne dekha ki unhone saada dikha apne aapko andar so gayi chatur mahilaye tez mahila jo sahi maayne mein hinduon ko bardaasht nahi kar pati vaah hindu hai ya kya hai is topic par main nahi jana chahta jo haqiqat mein main jaanta hoon waise lekin main us baat ko nahi uthna chah raha toh aap kaho ki unke rajya mein shasan prashasan ya shasan ya rajya tarakki karega toh yah khwaab hai isliye jisne bhi yah sawaal poocha hai ab mujhe nahi pata bhi hai aap kis shehar se hai kis state se hai agar malya paschim bengal ke bhi hote chaha kisi bhi state ko lekin yah maan kar chalo ki paschim bengal ka vikas nahi ho sakta agar mamata banerjee hai toh kyonki state ka vikas jab bhi ho sakta jab center mein jis ki sarkar ho kyonki kaafi had tak center us state ko rape karta hai madad karta hai jiski sarkar state mein hoti hai agar vipakshi party ki sarkar state mein hai toh utani help nahi kar paate kyonki wahan ki state ne unko jataya ki unki janta ne wahan us party ko apni state mein aane hi nahi diya modi ji agar wahan nahi hai center mein modi ji toh modi ji us state ke liye vaah nahi soch paane ke sochenge kyonki unhone sadasyon ko janta ko apna bataya hai vaah sochenge lekin jo ho raha hai is tarike se nahi sochenge vaah hinsa ya bhagao bhashan dene ya dusro par ab tak char us cheez ko bardaasht nahi karenge uske liye is cheez ko rokna padega agar aap hum toh sab madad chahte hai aapko kisi cheez mein aage tarakki karne ya bharna hai aur aap use state ka vikas chahte hai toh aapko in chijon ko rokna padega modi ji bilkul set kare kyonki unke man mein koi yah bhedbhav wali bhavna nahi hai lekin jo wahan hinsa hui bhadkau bhashan diye gaye ya logo ko mara gaya yah modi ji katai bardaasht nahi karne ke aur meri bhi logo se yah appeal hai kabhi koi bhi party ka banda ho aap kisi bhi saptah se ho aap lekin ek baat ka hamesha dhyan rakhen ki jo party center mein hoon vaah agar state mein hai state ko tarakki karne se koi rok nahi sakta agar vipakshi party agar satta mein hai toh vaah vikas nahi kar paane ki utana hi unke paas aay ke sadhan nahi honge aur agar hai bhi chalo unhone thoda bahut vikas kar bhi liya lekin unki ummeeden phir bhi santo ki tarah hoti hai ki vaah center se bhi apekshayen rakhte hai is mamle mein giri sentram baar is mamle mein help kare thoda fark toh padta hi hai aapne sunday ko toh jita nahi ab aap mein aane nahi diya bjp ko aur aap aap ummid kar rahe hai ki vaah hamari help kare toh aap ki sthiti aisi kya kami hai jo aapko help ki zarurat pad rahi hai kya aapke state ke mukhyamantri kaam nahi kar rahe hai jo vaah apne kharchon ke alava wahan ki janta ko khush rakh sake ab ummid kyon kar lo apne kandhe par rakhakar bandook kyon nahi chalai jaati apne kandhe pe rakhakar bandook chalaye aaj ki tarikh ko koi rishtedar kuposhit help karta nahi ek dusre par yahan toh bilkul ghoshit hua pada hai agar central mein kiski sarkar ko kayada toh yah baata hai central mein kiski sarkar aur uske kyonki uski sarkar agar aap vipakshi party se sambandhit haider toh yah toh aapki iccha ke upar nirbhar hai isme koi jor jabasti nahi kyonki prajatantra hai agar aapne jaankari chahiye aur main jo jaankari aapko de raha hoon toh mera yah manana hai ki agar jo sarkar center mein ho aur wahi state mein ho toh is chat ko aage badhne se koi rok nahi sakta abe dusri party ki sarkar state mein hai toh usko toh jaddojahad karni padegi modi sarkar help kar sakti hai aise mooh mein jab aapatkal ki sthiti ho jaise prakirtik aapda ho gayi agar maan liya toh santosh ab puri madad aati hai kyonki vaah toh log hai janta hai vaah toh ek aam aadmi hai ek janta hai toh unke liye toh bhai vaah bhi insaan hai insaniyat insaniyat ke naate vaah kaam toh kiya jata hai jo koi bhi ho jo videshi kyon na ho sahi maayne mein aur vaah log pareshan hai toh puri help ki jayegi is mamle mein kya aap kisi bhi party ka ho koi baat nahi lekin insaniyat bhi toh koi cheez hai aur insaniyat ke naate toh puri help ki jaati hai is mamle mein peeche toh hate nahi aur na vaah attend phir bhi main yahi kahunga ki agar sentram sarkar manya bjp ki pustak mein agar sarkar bjp ki ho toh zyada badhiya hai theek hai wahan ke ho sakta mukhyamantri rahe ho unhone kaam nahi ki isliye unhe hatakar dusri sarkaro aa gayi uski jagah galti mukhyamantri ki toh hai ki unhone kaam nahi kiya baki aap yah maan kar chalo ki hum sab is praja pura Hindustan hamara andaja sahi hai agar hamara raja sahi hai toh aaj nahi toh kal praja mein bhi kisi bhi tarah ki hogi vaah bhi aage aayenge nikal gayi kyonki raja

कुछ नहीं किया उन्होंने अपने वोट बैंक को पक्का करने के लिए बस जो कुछ किया वही जो उन्हें सस्

Romanized Version
Likes  130  Dislikes    views  1295
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!