क्या किसानों का वोट बीजेपी को दिया जाएगा 2019 के चुनाव में?...


user

Vatsal

Engineering Student

1:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन किसानों के वोट की बात करें तो निश्चित तौर पर बीजेपी की सरकार 2014 में जो रिलीज किसानों का गरीबों का उसे बहुत मेजर रोल प्ले हुआ था इन्होंने वादे झूठे वादों में आकर वोट किया कि अच्छे दिन ज़्यादा था लेकिन उनकी दुआएं हैं बीजेपी ने बीजेपी राज्य सरकारें हैं और खराब कर रही किसानों के उदाहरण के तौर पर महाराष्ट्र राजस्थान मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ यहां के किसान बहुत निश्चित तौर पर किसानों के वोट इस बार BJP को 2019 में बहुत नुकसान झेलना पड़ सकता है और अगर यह किसानों का वोट का नुकसान झेलना पड़ा तो जाहिर तौर पर निकली हुई है नुकसान होता है

lekin kisano ke vote ki baat kare toh nishchit taur par bjp ki sarkar 2014 mein jo release kisano ka garibon ka use bahut major roll play hua tha inhone waade jhuthe vaado mein aakar vote kiya ki acche din jyada tha lekin unki duaen hain bjp ne bjp rajya sarkaren hain aur kharab kar rahi kisano ke udaharan ke taur par maharashtra rajasthan madhya pradesh chattisgarh yahan ke kisan bahut nishchit taur par kisano ke vote is baar BJP ko 2019 mein bahut nuksan jhelna pad sakta hai aur agar yah kisano ka vote ka nuksan jhelna pada toh jaahir taur par nikli hui hai nuksan hota hai

लेकिन किसानों के वोट की बात करें तो निश्चित तौर पर बीजेपी की सरकार 2014 में जो रिलीज किसान

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  165
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Swati

सुनो ..सुनाओ..सीखो!

0:50
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

शुभम जी मुझे इस बात पर थोड़ा सा डाउट है कि किसान 2019 में अपना वोट मोदी सरकार को देंगे इसके पीछे रीजन यह है कि आज भी हम देख रहे हैं तू हट में किसानों के साथ दुर्व्यवहार किया जा रहा है उनको अपनी फसलों के प्रॉपर टाइम नहीं मिल रहे हैं इसके अलावा हरियाणा वगैरह में या बाकी बहुत सारे प्रदेशों में तो आज के समय में जो किसान है वह दूध और यह सब जो प्रोडक्ट से वह सड़कों पर बहा रहे हैं क्योंकि उनको प्रॉपर्टी मिल ही नहीं रहे हैं उन चीजों के और इतनी बुरी हालत हो चुकी है कि किसान आत्महत्या है उनका बढ़ता जा रहा है जो महाराष्ट्र में देखा किसानों ने जो रिकॉर्ड किया वह सब भी यही दिखाता है कि किसानों को मुंह पर सूट नहीं की है और मुझे डाउट है कि वह वोट देंगे या नहीं देंगे

subham ji mujhe is baat par thoda sa doubt hai ki kisan 2019 mein apna vote modi sarkar ko denge iske peeche reason yah hai ki aaj bhi hum dekh rahe hai tu hut mein kisano ke saath durvyavahar kiya ja raha hai unko apni fasalon ke proper time nahi mil rahe hai iske alava haryana vagera mein ya baki bahut saare pradeshon mein toh aaj ke samay mein jo kisan hai vaah doodh aur yah sab jo product se vaah sadkon par baha rahe hai kyonki unko property mil hi nahi rahe hai un chijon ke aur itni buri halat ho chuki hai ki kisan atmahatya hai unka badhta ja raha hai jo maharashtra mein dekha kisano ne jo record kiya vaah sab bhi yahi dikhaata hai ki kisano ko mooh par suit nahi ki hai aur mujhe doubt hai ki vaah vote denge ya nahi denge

शुभम जी मुझे इस बात पर थोड़ा सा डाउट है कि किसान 2019 में अपना वोट मोदी सरकार को देंगे इसक

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  193
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:05
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मुझे नहीं लगता कि आने वाले 2019 के लोकसभा चुनाव में हमारे देश के किसान फिर से वही गलती करेंगे जो उन्होंने 2014 के लोकसभा चुनाव में किया था क्योंकि हम देख ही रहे हैं कि अलग-अलग राज्यों के किसान नरेंद्र मोदी की सरकार से कितनी ज्यादा नाखुश हैं और संतुष्ट है जिसके वजह से किसानों का आंदोलन आज हमारे देश में काफी ज्यादा बढ़ गया है समय-समय पर किसान आंदोलन अलग-अलग राज्यों में हो रहे हैं और यह सब दिखाता है कि किसान नरेंद्र मोदी की सरकार से संतुष्ट नहीं हैं जिसकी वजह से मुझे तो यही लग रहा है कि 2019 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को किसानों का वोट नहीं मिल पाएगा क्योंकि आज हमारे देश में किसानों की हालत इतनी खराब है जिसकी वजह से बहुत सारे किसान आत्महत्या करने को मजबूर हैं साथ ही साथ नरेंद्र मोदी ने किसानों की आय को दोगुनी करने की बात भी कही थी जब 2014 के लोकसभा चुनाव में वह प्रचार कर रहे थे लेकिन ऐसा 4 साल बीतने के बाद भी देखने को नहीं मिला है जिसकी वजह से मुझे लगता है कि किसान इन सारी चीजों को ध्यान में रखेंगे और तभी 2019 के लोकसभा चुनाव में वोट करेंगे

mujhe nahi lagta ki aane waale 2019 ke lok sabha chunav mein hamare desh ke kisan phir se wahi galti karenge jo unhone 2014 ke lok sabha chunav mein kiya tha kyonki hum dekh hi rahe hain ki alag alag rajyo ke kisan narendra modi ki sarkar se kitni zyada nakhush hain aur santusht hai jiske wajah se kisano ka andolan aaj hamare desh mein kaafi zyada badh gaya hai samay samay par kisan andolan alag alag rajyo mein ho rahe hain aur yah sab dikhaata hai ki kisan narendra modi ki sarkar se santusht nahi hain jiski wajah se mujhe toh yahi lag raha hai ki 2019 ke chunav mein bharatiya janta party ko kisano ka vote nahi mil payega kyonki aaj hamare desh mein kisano ki halat itni kharab hai jiski wajah se bahut saare kisan atmahatya karne ko majboor hain saath hi saath narendra modi ne kisano ki aay ko doguni karne ki baat bhi kahi thi jab 2014 ke lok sabha chunav mein vaah prachar kar rahe the lekin aisa 4 saal beetane ke baad bhi dekhne ko nahi mila hai jiski wajah se mujhe lagta hai ki kisan in saree chijon ko dhyan mein rakhenge aur tabhi 2019 ke lok sabha chunav mein vote karenge

मुझे नहीं लगता कि आने वाले 2019 के लोकसभा चुनाव में हमारे देश के किसान फिर से वही गलती करे

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  243
WhatsApp_icon
user

Jyoti Mehta

Ex-History Teacher

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

कुछ समस्याएं ऐसी हैं जो बीजेपी को विरासत में मिली है जैसे भ्रष्टाचार बेरोजगारी और किसानों की समस्या ऐसा नहीं है कि सामने से कभी 2014 के बाद ही आत्महत्या की है पहले भी किसानों की आत्महत्याएं होती थी और अब भी किसानों की आत्महत्या हो रही है BJP के राज में भी फोटो कि नहीं है और यही सबसे बड़ा कारण है कि किसान बीजेपी से नाराज है लेकिन मुझे लगता है जिस तरह से मोदी सरकार ने कार्य किया है उन्होंने किसानों के लिए भी काफी सारी योजनाएं बनाई है उन्होंने किसान टीवी लांच किया है उन्होंने किसानों के लिए मौसम में जो परिवर्तन आते हैं उसकी वजह से जो नुकसान होता है उस पर भी योजना बनाई है और अभी देर से ही सही लेकिन उन्होंने गन्ना किसानों के लिए भी एक बड़ा पैकिंग अनाउंस किया है तो मुझे लगता है कि किसान उप चुनाव में मोदी जी को वोट नहीं देकर अपना रोष अपना आक्रोश दिखाया है उसे जरूर बीजेपी ने सबक लिया होगा और जरूर BJP चाहेगी कि किसानों का वह 2019 में वापस हमें मिले उसके लिए वह आगे भी काम करेगी क्योंकि किसान हमारे देश की सबसे बड़ी जनसंख्या में से आते हैं और हमारे अन्नदाता है हमारे देश को एक बहुत बड़ी तादाद में किसानों की जरूरत रहती है इसीलिए मुझे लगता है कि अगर बीजेपी को वापस सत्ता में आना है तो वह किसानों के बारे में जरूर सोचेगी उन्होंने कई ऐसी योजनाएं बनाई हुई है वह कृपया वृद्धि हुई है लेकिन फिर भी कहीं ना कहीं किसानों में असंतोष है जिसकी भरपाई अभी बीजेपी सरकार बराबर कर रही है राजस्थान में किसानों का कर्ज माफ हुआ है तो मुझे लगता है कि किसान फिर से BJP को सुनेंगे

kuch samasyaen aisi hain jo bjp ko virasat mein mili hai jaise bhrashtachar berojgari aur kisano ki samasya aisa nahi hai ki saamne se kabhi 2014 ke baad hi atmahatya ki hai pehle bhi kisano ki aatmhatyayen hoti thi aur ab bhi kisano ki atmahatya ho rahi hai BJP ke raj mein bhi photo ki nahi hai aur yahi sabse bada karan hai ki kisan bjp se naaraj hai lekin mujhe lagta hai jis tarah se modi sarkar ne karya kiya hai unhone kisano ke liye bhi kaafi saree yojanaye banai hai unhone kisan TV launch kiya hai unhone kisano ke liye mausam mein jo parivartan aate hain uski wajah se jo nuksan hota hai us par bhi yojana banai hai aur abhi der se hi sahi lekin unhone ganna kisano ke liye bhi ek bada packing anauns kiya hai toh mujhe lagta hai ki kisan up chunav mein modi ji ko vote nahi dekar apna rosh apna aakrosh dikhaya hai use zaroor bjp ne sabak liya hoga aur zaroor BJP chahegi ki kisano ka vaah 2019 mein wapas hamein mile uske liye vaah aage bhi kaam karegi kyonki kisan hamare desh ki sabse badi jansankhya mein se aate hain aur hamare annadata hai hamare desh ko ek bahut badi tadad mein kisano ki zarurat rehti hai isliye mujhe lagta hai ki agar bjp ko wapas satta mein aana hai toh vaah kisano ke bare mein zaroor sochegi unhone kai aisi yojanaye banai hui hai vaah kripya vriddhi hui hai lekin phir bhi kahin na kahin kisano mein asantosh hai jiski bharpai abhi bjp sarkar barabar kar rahi hai rajasthan mein kisano ka karj maaf hua hai toh mujhe lagta hai ki kisan phir se BJP ko sunenge

कुछ समस्याएं ऐसी हैं जो बीजेपी को विरासत में मिली है जैसे भ्रष्टाचार बेरोजगारी और किसानों

Romanized Version
Likes  1  Dislikes    views  113
WhatsApp_icon
play
user

Manish Singh

VOLUNTEER

0:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

विद्युत देखने वाली बात होगी बहुत रोचक चीज़ होगी क्योंकि जिस तरह सभी किसानों का हड़ताल चल रहा है हर जगह पर पंजाब में हरियाणा में इस तरह हड़ताल चल रहा है किसानों का क्यों अब सरकार के खिलाफ तो यह देखने वाली रोचक बात होगी कि क्या होता है किसान वोट देते या नहीं देते हैं यह तो आपको अगले साल तो ही पता चलेगा लेकिन जैसे कि कुछ लोग कह रहे हैं कि यह सब जो चीजें हैं वह पेड़ है पेड़ किसानों को पैसे दिया गया है यह सब काम करने के लिए लेकिन अगर किसी को पैसा भी दिया जाता है तो इतने बड़े लेवल पर आए इस तरह का दंगा या फिर असहमति दिखाना यह पॉसिबल नहीं है तो अगले साल ही पता चल पाएगा किसान वोट देंगे कि नहीं देंगे

vidyut dekhne wali baat hogi bahut rochak cheez hogi kyonki jis tarah sabhi kisano ka hartal chal raha hai har jagah par punjab mein haryana mein is tarah hartal chal raha hai kisano ka kyon ab sarkar ke khilaf toh yah dekhne wali rochak baat hogi ki kya hota hai kisan vote dete ya nahi dete hain yah toh aapko agle saal toh hi pata chalega lekin jaise ki kuch log keh rahe hain ki yah sab jo cheezen hain vaah ped hai ped kisano ko paise diya gaya hai yah sab kaam karne ke liye lekin agar kisi ko paisa bhi diya jata hai toh itne bade level par aaye is tarah ka danga ya phir asahmati dikhana yah possible nahi hai toh agle saal hi pata chal payega kisan vote denge ki nahi denge

विद्युत देखने वाली बात होगी बहुत रोचक चीज़ होगी क्योंकि जिस तरह सभी किसानों का हड़ताल चल र

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  114
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
एक्स वड़ोस ; एक्स एक्स एक्स वड़ोस ;

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!