आपके जीवन ने अब तक आपको क्या सिखाया है?...


user

Pramod Kumar Singh

Motivator And Business

0:40
Play

Likes  178  Dislikes    views  1955
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

En Rajendra Kumar Joshi

Life Coach, Motivator

1:54
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार हमारे जीवन में अब तक हमको क्या सिखाया है साथियों पिछले 50 वर्षों के जीवन में जो मैं जान पाया हूं वह यह पता चला कि हमें कभी भी किसी से इस हद तक बात नहीं करना चाहिए कि हम बात में पश्चाताप करें और उससे आंखें ना मिला पाए कोशिश तो यही रहनी चाहिए कि ज्यादा से ज्यादा हम लोगों से प्यार पूर्वक पेश आए हम ना तो किसी को अपने किसी के प्रत्येक के ऊपर इतने आश्रित हो जाए कि उसके बिना हमारा जीवन न चल पाए और ना ही किसी के प्रति इतनी द्वेष भावना रखने की उसको देखते ही हम क्रोध से भर जाए मुख्य आशय मेरा यह है कि हमें अपने आप को किस प्रकार से रखना चाहिए कि कोई दूसरा व्यक्ति हमें नियंत्रित न कर पाए मनुष्य को लोग भाग नियंत्रण में रखने की कोशिश करते हैं कोई उसे प्यार से नियंत्रण में रखना चाहता है रखना चाहता है तो कोई उसे डरा धमका कोई उसे लालच देकर नियंत्रित करना चाहता है तो कोई उसका ब्रेनवाश तक है मनुष्य वही है जो अपने हिसाब से चले अपने विवेक से चले और अपने अंतर चेतना को जानने की कोशिश करता रहे और उसके अनुसार ही व्यवहार करता रहे मैंने अब तक तो यही सीखा है और आगे भविष्य में क्या होगा इसके बारे में अभी बताया नहीं जा सकता धन्यवाद

namaskar hamare jeevan mein ab tak hamko kya sikhaya hai sathiyo pichle 50 varshon ke jeevan mein jo main jaan paya hoon vaah yah pata chala ki hamein kabhi bhi kisi se is had tak baat nahi karna chahiye ki hum baat mein pashchaataap kare aur usse aankhen na mila paye koshish toh yahi rehni chahiye ki zyada se zyada hum logo se pyar purvak pesh aaye hum na toh kisi ko apne kisi ke pratyek ke upar itne aashrit ho jaaye ki uske bina hamara jeevan na chal paye aur na hi kisi ke prati itni dvesh bhavna rakhne ki usko dekhte hi hum krodh se bhar jaaye mukhya aashay mera yah hai ki hamein apne aap ko kis prakar se rakhna chahiye ki koi doosra vyakti hamein niyantrit na kar paye manushya ko log bhag niyantran mein rakhne ki koshish karte hain koi use pyar se niyantran mein rakhna chahta hai rakhna chahta hai toh koi use dara dhamka koi use lalach dekar niyantrit karna chahta hai toh koi uska brainwash tak hai manushya wahi hai jo apne hisab se chale apne vivek se chale aur apne antar chetna ko jaanne ki koshish karta rahe aur uske anusaar hi vyavhar karta rahe maine ab tak toh yahi seekha hai aur aage bhavishya mein kya hoga iske bare mein abhi bataya nahi ja sakta dhanyavad

नमस्कार हमारे जीवन में अब तक हमको क्या सिखाया है साथियों पिछले 50 वर्षों के जीवन में जो

Romanized Version
Likes  42  Dislikes    views  473
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है कि आपके जीवन में अब तक आपको क्या सिखाया है जिन दोस्तों अपनी जानकारी के लिए मैं बताना चाहूंगा कि हमारे जीवन में बहुत सारी घटनाएं अब तक घट चुकी हैं जो दोस्तों और बहुत सारी मुसीबतों का सामना भी मैंने किया लेकिन एक ही मैंने जीवन से सीखा है कि अगर आप उनके साथ में बहुत बड़ी मुसीबत आती है कभी भी और आपके साथ बहुत बुरा कोई हादसा होता है बहुत बड़ी मुसीबत आती है आपके साथ और आप उस समय अपना जय घबराकर मानसिक संतुलन खो बैठते हैं या फिर आप अपनी नीतियों को चेंज करते हैं या फिर आप अपने आप को बदल लेते हैं तो निश्चित रूप से मैं आपको बताना चाहूंगा कि आप से अपना पेसेंस नहीं खोया उस समय के अनुसार और आपको पेशेंस बनाकर काम करना होगा और सूझबूझ के साथ और इमानदारी के साथ ले अपने को जो है मेहनत करके और जो है बहुत मेहनत लगन से किसी काम को करना चाहिए जो दोस्तों निश्चित रूप से जो है आज आपके साथ कोई बुरा हादसा हुआ है या फिर आपकी दुख की घड़ी है उन्हें तो चाहिए गरीबी का जाएगी और आपकी सफलता जो है वह सफलता कदम चूमेगी मैं यही जानता हूं कि जो है उसका सामना करना चाहिए और हौसला अपना बनाए रखना चाहिए और पॉजिटिविटी को बनाए रखना चाहिए या दोस्तों निश्चित रूप से जो है आप उसमें से का समाधान कर पाएंगे और आपकी जो है अच्छी समझ भी जरूर आएगी

aapka prashna hai ki aapke jeevan mein ab tak aapko kya sikhaya hai jin doston apni jaankari ke liye main bataana chahunga ki hamare jeevan mein bahut saree ghatnaye ab tak ghat chuki hain jo doston aur bahut saree musibaton ka samana bhi maine kiya lekin ek hi maine jeevan se seekha hai ki agar aap unke saath mein bahut badi musibat aati hai kabhi bhi aur aapke saath bahut bura koi hadsa hota hai bahut badi musibat aati hai aapke saath aur aap us samay apna jai ghabarakar mansik santulan kho baithate hain ya phir aap apni nitiyon ko change karte hain ya phir aap apne aap ko badal lete hain toh nishchit roop se main aapko bataana chahunga ki aap se apna pesens nahi khoya us samay ke anusaar aur aapko patience banakar kaam karna hoga aur sujhbujh ke saath aur imaandari ke saath le apne ko jo hai mehnat karke aur jo hai bahut mehnat lagan se kisi kaam ko karna chahiye jo doston nishchit roop se jo hai aaj aapke saath koi bura hadsa hua hai ya phir aapki dukh ki ghadi hai unhe toh chahiye garibi ka jayegi aur aapki safalta jo hai vaah safalta kadam choomegi main yahi jaanta hoon ki jo hai uska samana karna chahiye aur hausla apna banaye rakhna chahiye aur positivity ko banaye rakhna chahiye ya doston nishchit roop se jo hai aap usme se ka samadhan kar payenge aur aapki jo hai achi samajh bhi zaroor aaegi

आपका प्रश्न है कि आपके जीवन में अब तक आपको क्या सिखाया है जिन दोस्तों अपनी जानकारी के लिए

Romanized Version
Likes  51  Dislikes    views  1665
WhatsApp_icon
user

Prakrati

Student, Teacher, Poetess, Writer, Reader, Explorer, Dreamer, Science Person, Literature Lover

0:53
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मेरे जीवन में मुझे अपनी ही सिखाया है सब कुछ जो मिले आपको खुले हाथों से लेना चाहिए जो भी भगवान आपको दे रहा हूं खुले हाथों से उनको लीजिए गर्मी यह करना सीखे आपके जीवन में कोई कमी नहीं रह जाएगी पैसा सब कुछ नहीं करता मेरे जीवन में यही लिखा है कि पैसा सब कुछ नहीं देता बहुत से लोग हैं जो बिजोरिया भर के पढ़े और कंजूसी इतनी कि ₹2 जलेबी खाने से पहले 200 बार सोचते हैं तो पैसे की बीजेपी की पिक्चर भेजो फिल्म दिखाएं

mere jeevan me mujhe apni hi sikhaya hai sab kuch jo mile aapko khule hathon se lena chahiye jo bhi bhagwan aapko de raha hoon khule hathon se unko lijiye garmi yah karna sikhe aapke jeevan me koi kami nahi reh jayegi paisa sab kuch nahi karta mere jeevan me yahi likha hai ki paisa sab kuch nahi deta bahut se log hain jo bijoriya bhar ke padhe aur kanjusi itni ki Rs jalebi khane se pehle 200 baar sochte hain toh paise ki bjp ki picture bhejo film dikhaen

मेरे जीवन में मुझे अपनी ही सिखाया है सब कुछ जो मिले आपको खुले हाथों से लेना चाहिए जो भी भग

Romanized Version
Likes  4  Dislikes    views  68
WhatsApp_icon
user
Play

Likes  30  Dislikes    views  479
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!