क्या IBPS PO IBPS SO से बेहतर है?...


play
user

Chandraprakash Joshi

Ex-AGM RBI & CEO@ixamBee.com

1:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर आपके पास दोनों ऑप्शन है आईबीपीएस स्पेशलिस्ट ऑफीसर और ibps.po तो आप पियो में जाइए क्योंकि पी ओ बैंक के अंदर जल्दी स्कैटर है अलग अलग डिपार्टमेंट में काम करने को मिलता है और ऊपर जाकर करियर प्रोग्रेशन के लिए जरूरी है कि आप जन्नत बन जाए जिसे अगर आप इस पर पुलिस ऑफिसर है मानव एग्रीकल्चर ऑफिसर ऑफिसर है मार्केटिंग ऑफिसर तू कुछ लेवल तक स्केल वन टू थ्री तक वो काम करेगा लेकिन कहीं गई स्केल फॉर भी हो सकता है बट आगे चलकर आप जनरल मैनेजमेंट मारना पड़ेगा तो पियो शुरुआत सीजन मैनेजमेंट के लोग हैं उनका करियर प्रोग्रेशन क्लियर है तो इसलिए अगर दोनों ऑप्शन है आपके पास तो आप पियो ज्वाइन कर लीजिए अगर आपके पास क्यों नहीं है तो आप ऐसे जॉइन करने में बहुत घाटे में नहीं रहेंगे क्योंकि फ्यूचर में हर बैंक के अंदर प्रमोशन जब होता है वहां पर आपको अपॉर्चुनिटी इन मिलती हैं कि आप जनरल साइड में आ जाएं प्रमोशन के अंदर तो उसमें आप सेट कर लेंगे उसमें आप स्पेस स्कैटर से जल्दी स्कैटर की ओर आ जाएंगे और वहां पर भी आप अच्छी केलर ग्रोथ पा सकते हैं कितने ही सारे बैंकों के एमडी के सीएमडी है जिन्होंने अपना कैरियर आई स्पेशलिस्ट ऑफिसर शुरू किया था मैंने अपनी एक यूट्यूब वीडियो में भी डिटेल में बताया हुआ है आप चेक कर सकते हैं एग्जाम भी के यूट्यूब चैनल पर आई एक्स ए एम बी

agar aapke paas dono option hai ibps specialist officer aur ibps po toh aap piyo mein jaiye kyonki p o bank ke andar jaldi skaitar hai alag alag department mein kaam karne ko milta hai aur upar jaakar career Progression ke liye zaroori hai ki aap jannat ban jaaye jise agar aap is par police officer hai manav agriculture officer officer hai marketing officer tu kuch level tak scale van to three tak vo kaam karega lekin kahin gayi scale for bhi ho sakta hai but aage chalkar aap general management maarna padega toh piyo shuruaat season management ke log hain unka career Progression clear hai toh isliye agar dono option hai aapke paas toh aap piyo join kar lijiye agar aapke paas kyon nahi hai toh aap aise join karne mein bahut ghate mein nahi rahenge kyonki future mein har bank ke andar promotion jab hota hai wahan par aapko opportunity in milti hain ki aap general side mein aa jayen promotion ke andar toh usmein aap set kar lenge usmein aap space skaitar se jaldi skaitar ki aur aa jaenge aur wahan par bhi aap achi kalru growth paa sakte hain kitne hi saare bankon ke MD ke CMD hai jinhone apna carrier I specialist officer shuru kiya tha maine apni ek youtube video mein bhi detail mein bataya hua hai aap check kar sakte hain exam bhi ke youtube channel par I x a imei be

अगर आपके पास दोनों ऑप्शन है आईबीपीएस स्पेशलिस्ट ऑफीसर और ibps.po तो आप पियो में जाइए क्यों

Romanized Version
Likes  74  Dislikes    views  962
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Iti Sikka

Professional Career Advisor

1:14
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखे जहां पर बात आईबीपीएस पीओ राजनीति एसएसओ के लिए बात की जाए आईबीपीएस अपने आप में क्लियर है कि यह दोनों बैंकिंग के लिए ही पेपर सोते हैं तो आपका प्रोबेशनरी ऑफिसर के लिए हो गया और वापस पर स्टेट ऑफिसर के लिए क्या आप दोनों के नाम में ही बहुत कुछ क्लियर है प्रोबेशनरी ऑफिसर दोनों ही ऑफिसर लेवल की रैंकिंग पर पेपर है बट प्रोबेशनरी ऑफिसर में आपको ग्रेजुएशन लेवल के जितने भी बच्चे हैं वह सभी आपको पेपर्स के लिए टाइम करते हैं स्पेशलिस्ट ऑफिसर जो है स्पेशलिस्ट अनडिफाइंड कर रहा है तो ऐसे रहे जो बच्चा एमबीए सेक्टर से अभी तक सेक्टर से होता है वह बंदा स्पेशलिस्ट ऑफिसर के लिए एलिजिबल होता है इसीलिए यह कहते हैं कि डिस्ट्रीब्यूशन जो हो जाता है पियो मैचों में तो डिपेंड करता है कि आपके पास एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया के अंदर अगर आप एमबीए अभी तक कैंडिडेट हैं स्पेशलिस्ट ऑफिसर के लिए भी मुंह पर से एक ऑप्शन आपके हाथ में और होता है अगर आप सिंपल ग्रेजुएट हैं तो आपके पास पी ओ के अलावा और ऑप्शन नहीं होता क्योंकि स्पष्ट टॉप 10 सेप जो बच्चा स्पेशलिस्ट होता है अपने सेक्टर्स में जिसके बेसिस पर दिमाग आती है आप लोग की बैंक की तारीख से आपसे वही बच्चे उस चीज के लिए एलिजिबल होते हैं बाकी ग्रेजुएशन वाले से पी ओ लेवल के लिए

dekhe jahan par baat ibps po raajneeti SSO ke liye baat ki jaaye ibps apne aap mein clear hai ki yah dono banking ke liye hi paper sote hain toh aapka probationary officer ke liye ho gaya aur wapas par state officer ke liye kya aap dono ke naam mein hi bahut kuch clear hai probationary officer dono hi officer level ki ranking par paper hai but probationary officer mein aapko graduation level ke jitne bhi bacche hain vaah sabhi aapko papers ke liye time karte hain specialist officer jo hai specialist undefined kar raha hai toh aise rahe jo baccha mba sector se abhi tak sector se hota hai vaah banda specialist officer ke liye elligible hota hai isliye yah kehte hain ki distribution jo ho jata hai piyo matchon mein toh depend karta hai ki aapke paas eligibility criteria ke andar agar aap mba abhi tak candidate hain specialist officer ke liye bhi mooh par se ek option aapke hath mein aur hota hai agar aap simple graduate hain toh aapke paas p o ke alava aur option nahi hota kyonki spasht top 10 sep jo baccha specialist hota hai apne sectors mein jiske basis par dimag aati hai aap log ki bank ki tarikh se aapse wahi bacche us cheez ke liye elligible hote hain baki graduation waale se p o level ke liye

देखे जहां पर बात आईबीपीएस पीओ राजनीति एसएसओ के लिए बात की जाए आईबीपीएस अपने आप में क्लियर

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  363
WhatsApp_icon
user

Mohit Kumar

IIT Alumnus, SBI PO Qualified

1:45
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आप ऐसा नहीं कह सकते हैं कि ibps.po आईबीपीएस इससे अच्छा है या आईबीपीएस पो आईबीपीएस पीओ से अच्छा है क्योंकि दोनों जो पोस्ट दोनों बराबर निकलकर पोस्ट है दोनों का जो रिक्वायरमेंट होता है दोनों का जो क्वालीफिकेशन रिक्वायरमेंट होता है और दोनों का जॉब प्रोफाइल होता है वह अलग अलग होता है मगर दोनों का पढ़ाई करते हैं तो उसके लिए आपके पास सिर्फ ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए क्वालिफिकेशन के लिए आप आईबीपीएस पीओ अटेम्प्ट कर सकते हैं तो वह प्रोबेशनरी ऑफिसर होता है तो एक बार आप बैंक में जाएंगे उसके बाद आपका जवाब आपको एलॉट को का का मतलब हो गया आईबीपीएस स्पेशलिस्ट ऑफीसर टो डिफरेंट डिफरेंट स्पेशलिस्ट ऑफीसर सिलेक्शन होता है एग्जांपल आईटी ऑफीसर आपके एग्रीकल्चर ऑफिसर राजभाषा अधिकारी ऑफिसर किस सेक्शन में आपके पास डिग्री है ग्रेजुएशन की तो आप आई डी ऑफिसर के लिए अप्लाई कर पाओगे अगर आपके पास आईटी की डिग्री है ग्रेजुएशन अप्लाई कीजिए आपके सेलेक्शन के वक्त मैं आपके आईडी इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी टेस्ट कर लूंगा उसके बाद आपको सिलेक्ट कर लूंगा ऑडियो आईबीपीएस पीओ है वह बोलता है कि नहीं मेरे को ऐसा कोई भी स्पेसिफिक डिग्री की जरूरत नहीं है मैं आपको यहां आने के बाद प्रेम करूंगा जिससे कि मुझे जरूरत रहेगी अभी मेरे को सिर्फ रीजनिंग क्वानटेटिव एप्टीट्यूड और इंग्लिश के नॉलेज को चेक करना है आपका तो यह अंदर होते हैं आईबीपीएस पीओ और आईपीएस के बीच में

aap aisa nahi keh sakte hain ki ibps po ibps isse accha hai ya ibps po ibps po se accha hai kyonki dono jo post dono barabar nikalkar post hai dono ka jo requirement hota hai dono ka jo qualification requirement hota hai aur dono ka job profile hota hai vaah alag alag hota hai magar dono ka padhai karte hain toh uske liye aapke paas sirf graduation ki degree honi chahiye qualification ke liye aap ibps po attempt kar sakte hain toh vaah probationary officer hota hai toh ek baar aap bank mein jaenge uske baad aapka jawab aapko elat ko ka ka matlab ho gaya ibps specialist officer toe different different specialist officer selection hota hai example it officer aapke agriculture officer rajbhasha adhikari officer kis section mein aapke paas degree hai graduation ki toh aap I d officer ke liye apply kar paoge agar aapke paas it ki degree hai graduation apply kijiye aapke selection ke waqt main aapke id information technology test kar lunga uske baad aapko select kar lunga audio ibps po hai vaah bolta hai ki nahi mere ko aisa koi bhi specific degree ki zaroorat nahi hai main aapko yahan aane ke baad prem karunga jisse ki mujhe zaroorat rahegi abhi mere ko sirf reasoning quantitative aptitude aur english ke knowledge ko check karna hai aapka toh yah andar hote hain ibps po aur ips ke beech mein

आप ऐसा नहीं कह सकते हैं कि ibps.po आईबीपीएस इससे अच्छा है या आईबीपीएस पो आईबीपीएस पीओ से अ

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  231
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!