GST भरने के नियम क्या है?...


user

Salman Chamadiya

Consaltant (Tax, Account, Business, Trade)

1:38
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है जीएसटी पढ़ने के नियम क्या है तो मैं आपको बताना चाहूंगा अगर आप किसी भी वस्तु एवं सेवा की खरीदी करते हैं तो उस पर जीएसटी पैक कर रहे हैं उसमें प्रोडक्ट ऐसे हैं जो कि जीएसटी बिल के साथ ही आते हैं कोई भी प्रोडक्ट आपको विदाउट जीएसटी बिल नहीं मिल सकता है अगर आपको सप्लायर बिल नहीं देता है तो वह आपका और सप्लायर का अंडरस्टैंडिंग लेकिन उसने आपके पास से जीएसटी का अमाउंट तो ले ही लिया है और अगर आपको जीएसटी पे करना है या जीएसटीडी रख लेना है और जीएसटी के ट्रांजैक्शंस करने हैं तो आपको क्या करना होगा तो उसके लिए सबसे पहला नियम यह है कि आपको जीएसटी टैक्सेबल पर्सन के तौर पर रजिस्ट्रेशन लेना अनिवार्य है उसके बाद ही अब जीएसटी में किसी भी तरह का ट्रांजैक्शन करते हैं अन्यथा अगर आप कोई भी परचेस करते हैं तो आप की कैटेगरी कंजूमर में होती है तब जो जीएसटी पर करोगे वह जीएसटी गवर्नमेंट को पे हो जाएगा आपको उसमें से कुछ भी लेस नहीं मिलेगा आपको बताया नहीं कि किसी भी वस्तु का उपयोग करने वाले की कैटेगरी में आ जाओगे अगर आप किसी भी वस्तु का बिजनेस करने की कैटेगरी में है तो आप उसको जीएसटी लेस भी ले सकते हैं और उस वस्तु के सेल्स के बाद के जीएसटी के मैच करके डिफरेंस अमाउंट आपको पे करनी होती है इसके अलावा जीएसटी के किसी भी तरह की नॉलेज के लिए अब यूट्यूब पर सर्च कर सकते हैं जियो इंटरनेट पर बहुत सारी वेबसाइट अवेलेबल है gst.gov.in पर आपको सारी इनफार्मेशन मिल सकती है और अगर आपको जीएसटी में किसी और तरह की जानकारी भी चाहिए तो मेरे प्रोफाइल पेज पर दिए गए नंबर पर आप संपर्क कर सकते हैं धन्यवाद

namaskar aapka prashna hai gst padhne ke niyam kya hai toh main aapko batana chahunga agar aap kisi bhi vastu evam seva ki kharidi karte hain toh us par gst pack kar rahe hain usme product aise hain jo ki gst bill ke saath hi aate hain koi bhi product aapko without gst bill nahi mil sakta hai agar aapko supplier bill nahi deta hai toh vaah aapka aur supplier ka understanding lekin usne aapke paas se gst ka amount toh le hi liya hai aur agar aapko gst pe karna hai ya GSTD rakh lena hai aur gst ke tranjaikshans karne hain toh aapko kya karna hoga toh uske liye sabse pehla niyam yah hai ki aapko gst Taxable person ke taur par registration lena anivarya hai uske baad hi ab gst me kisi bhi tarah ka transaction karte hain anyatha agar aap koi bhi purchase karte hain toh aap ki category consumer me hoti hai tab jo gst par karoge vaah gst government ko pe ho jaega aapko usme se kuch bhi less nahi milega aapko bataya nahi ki kisi bhi vastu ka upyog karne waale ki category me aa jaoge agar aap kisi bhi vastu ka business karne ki category me hai toh aap usko gst less bhi le sakte hain aur us vastu ke sales ke baad ke gst ke match karke difference amount aapko pe karni hoti hai iske alava gst ke kisi bhi tarah ki knowledge ke liye ab youtube par search kar sakte hain jio internet par bahut saari website available hai gst gov in par aapko saari information mil sakti hai aur agar aapko gst me kisi aur tarah ki jaankari bhi chahiye toh mere profile page par diye gaye number par aap sampark kar sakte hain dhanyavad

नमस्कार आपका प्रश्न है जीएसटी पढ़ने के नियम क्या है तो मैं आपको बताना चाहूंगा अगर आप किसी

Romanized Version
Likes  7  Dislikes    views  275
KooApp_icon
WhatsApp_icon
4 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!