राहुल गांधी का इतना मजाक क्यों उड़ाया जाता है?...


user

साकेत कुमार

Senior Software Developer

2:00
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

साधारण बात तो यह है कि यह विपक्ष का प्रति घंटा है बहुत लोगों को लगता है कि विपक्ष नहीं यह सोची समझी रणनीति अपनाई है ताकि राहुल गांधी का इमेज व उनकी छवि को धूमिल की जा सके पर मैं ऐसा नहीं मानता वह आदमी कार्टून है और यह मैंने प्रत्यक्ष देखा है राहुल गांधी मेरे बाजार आए थे पटना से गया जाते वक्त और उनका कारवा मैरिज बाजार में रुका था मैं उस भीड़ में था मुश्किल से 10 मीटर की दूरी पर मैं खड़ा होऊंगा राहुल गांधी से और उस भीड़ में को संबोधित कर रहे थे लोकल कांग्रेस के नेताओं को और इसी बीच उन्हें पता नहीं क्या समझ में बोलते हैं पर क्या क्या खास है जैसा कि बिहार है तेरा लिट्टी चोखा तो हमेशा ही एक बंदा बोलता है कि लिट्टी चोखा का फेमस है तथा राष्ट्रीय राजमार्ग पर अब कांग्रेसियों ने कहा सर यहां पर यह रोड साइड है रोड साइड पर अच्छी चीजें नहीं मिलती चलिए गया गया आपको अच्छा किसी होटल में खिला देंगे लेकिन राहुल गांधी को दवाई खाना खा चुकी मां पर वोट चाहिए थे रोड साइड ढाबा पर वहां पर एक लोकल कांग्रेसी नेता था उन्होंने बोला कि सर यह लड़का दलित लड़का है और यह कई दिनों से उसका सामान नहीं दिखता यह गरमा गरमा के रखा रहता है आप यह मत खाइए और दलित तो सुना था उनको बस दलित सुनना था उसका खाएंगे दलित किया तो खाना ही है वोट मिलते हैं इससे उसे खाना नहीं गया और देखा भी नहीं गया वह जूठा लिट्टी दोनों काट ना सके एक कांग्रेसी ने अपने हाथ में पसीना इसे इतनी हंसी हुई वहां पर कितनी हंसी भी राहुल गांधी की सभा में हंसी हुई मैं आपको बता नहीं सकता कैसे-कैसे करके मीडिया का आज का कवरेज बहुत कम किया गया वह कांग्रेस का वर्ली था कि मीडिया ने किसी पेज के एक कोने में डाला

sadhaaran baat toh yah hai ki yah vipaksh ka prati ghanta hai bahut logo ko lagta hai ki vipaksh nahi yah sochi samjhi rananiti apnai hai taki rahul gandhi ka image va unki chhavi ko dhumil ki ja sake par main aisa nahi manata vaah aadmi cartoon hai aur yah maine pratyaksh dekha hai rahul gandhi mere bazaar aaye the patna se gaya jaate waqt aur unka karva marriage bazaar mein ruka tha main us bheed mein tha mushkil se 10 meter ki doori par main khada hounga rahul gandhi se aur us bheed mein ko sambodhit kar rahe the local congress ke netaon ko aur isi beech unhe pata nahi kya samajh mein bolte hain par kya kya khaas hai jaisa ki bihar hai tera litty chokha toh hamesha hi ek banda bolta hai ki litty chokha ka famous hai tatha rashtriya rajmarg par ab congressiyo ne kaha sir yahan par yah road side hai road side par achi cheezen nahi milti chaliye gaya gaya aapko accha kisi hotel mein khila denge lekin rahul gandhi ko dawai khana kha chuki maa par vote chahiye the road side dhaba par wahan par ek local congressi neta tha unhone bola ki sir yah ladka dalit ladka hai aur yah kai dino se uska saamaan nahi dikhta yah grma grma ke rakha rehta hai aap yah mat khaiye aur dalit toh suna tha unko bus dalit sunana tha uska khayenge dalit kiya toh khana hi hai vote milte hain isse use khana nahi gaya aur dekha bhi nahi gaya vaah jutha litty dono kaat na sake ek congressi ne apne hath mein paseena ise itni hansi hui wahan par kitni hansi bhi rahul gandhi ki sabha mein hansi hui main aapko bata nahi sakta kaise kaise karke media ka aaj ka coverage bahut kam kiya gaya vaah congress ka warli tha ki media ne kisi page ke ek kone mein dala

साधारण बात तो यह है कि यह विपक्ष का प्रति घंटा है बहुत लोगों को लगता है कि विपक्ष नहीं यह

Romanized Version
Likes  21  Dislikes    views  698
WhatsApp_icon
9 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
play
user
0:22

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी का इतना मजा किस लिए उड़ाया जाता है क्योंकि वह गलत बयान बाजी गले मिलते तो कभी कार्यक्रमों में मोबाइल चलाते हुए जिससे उनके कारण से लोग

rahul gandhi ka itna maza kis liye udaya jata hai kyonki vaah galat bayan baazi gale milte toh kabhi karyakramon mein mobile chalte hue jisse unke karan se log

राहुल गांधी का इतना मजा किस लिए उड़ाया जाता है क्योंकि वह गलत बयान बाजी गले मिलते तो कभी क

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  1631
WhatsApp_icon
user

Ramesh Prajapati

||....Be....Legendary......||

0:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी का इतना मजा किस लिए उड़ाया जाता है क्योंकि वह जब बोलते हैं तो अपना जब भाषण देते हैं तो कुछ हिंदी शब्द ऐसे होते हैं कि वह बोल नहीं पाते हैं तो इसीलिए ही उस बात को लेकिन का मजाक उड़ाते हैं और भी ऐसे छोटे-मोटे रेखा ने जिसको देख साबुन का मजाक उड़ाते हैं आप सब लोग मोदी जी का भी मजाक उड़ाते हैं आपने देखा होगा जो कि नहीं होना चाहिए मैं भी किसी का मजाक नहीं उड़ा था जैसे एक बात कह रहा हूं लिखित जय मोदी हो जाए आम आदमी पार्टी से अरविंद केजरीवाल हो जय मोदी जी अब किसी का भी मजाक नहीं उड़ाना चाहिए

rahul gandhi ka itna maza kis liye udaya jata hai kyonki vaah jab bolte hain toh apna jab bhashan dete hain toh kuch hindi shabd aise hote hain ki vaah bol nahi paate hain toh isliye hi us baat ko lekin ka mazak udate hain aur bhi aise chhote mote rekha ne jisko dekh sabun ka mazak udate hain aap sab log modi ji ka bhi mazak udate hain aapne dekha hoga jo ki nahi hona chahiye main bhi kisi ka mazak nahi uda tha jaise ek baat keh raha hoon likhit jai modi ho jaaye aam aadmi party se arvind kejriwal ho jai modi ji ab kisi ka bhi mazak nahi udana chahiye

राहुल गांधी का इतना मजा किस लिए उड़ाया जाता है क्योंकि वह जब बोलते हैं तो अपना जब भाषण देत

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  375
WhatsApp_icon
user

janak

https://s3-ap-southeast-1.amazonaws.com/ok.talk.images/user_41236/b6270b44-cc95-4f56-8f72-7b3001ca6c9e_voke_img_crop_db6dcee8-14a1-4935-8fdb-698e4a8a7c84.jpg

0:01
Play

Likes  2  Dislikes    views  192
WhatsApp_icon
user

Jaswant Chaudhary

Spokeperson Rajasthan police

0:51
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी जी देश की सबसे बड़ी पार्टी और तक 70 सालों से शासन करती आ रही है उसके अध्यक्ष हैं और पक्ष नेता के तौर पर प्रधानमंत्री पद के दावेदार हैं तो उनकी हर एक बात का महीना होता है हर एक बात जो कहीं भी जाते हैं वह उनकी मां जनता के लिए मायने रखती है क्योंकि वह खुद के लिए नहीं देश पर प्रजेंट करते हैं जग्गू स्टेज पर आते हैं तो उल्टी सीधी हरकते करते थे जैसे कि किसी का हक मारना मजाक करना अपने आप जीवन में चाहे वह कैसे रहे किसी भी तरीके से मजाक करें आंख मारे कुछ भी मारे लेकिन इतने बड़े स्टेज पर जो आता है तो मीडिया के सामने और पूरे देश के सामने जो प्रजेंट होते हैं तुम पता नहीं करनी चाहिए तभी तो जनता इनका मजाक उड़ाते हैं दूसरे की उल्टी सीधी बातें करते हैं करते हैं और कहीं ना कहीं उस में आ कर के खुद ही पहुंचाते हैं

rahul gandhi ji desh ki sabse badi party aur tak 70 salon se shasan karti aa rahi hai uske adhyaksh hain aur paksh neta ke taur par pradhanmantri pad ke davedaar hain toh unki har ek baat ka mahina hota hai har ek baat jo kahin bhi jaate hain vaah unki maa janta ke liye maayne rakhti hai kyonki vaah khud ke liye nahi desh par present karte hain jaggu stage par aate hain toh ulti seedhi harkate karte the jaise ki kisi ka haq marna mazak karna apne aap jeevan mein chahen vaah kaise rahe kisi bhi tarike se mazak kare aankh maare kuch bhi maare lekin itne bade stage par jo aata hai toh media ke saamne aur poore desh ke saamne jo present hote hain tum pata nahi karni chahiye tabhi toh janta inka mazak udte hain dusre ki ulti seedhi batein karte hain karte hain aur kahin na kahin us mein aa kar ke khud hi pahunchate hain

राहुल गांधी जी देश की सबसे बड़ी पार्टी और तक 70 सालों से शासन करती आ रही है उसके अध्यक्ष ह

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  112
WhatsApp_icon
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी का इतना मजा किस लिए उड़ाया जाता है क्योंकि यह राहुल गांधी हमारे देश में एक नासमझ इंसान माने जाते हैं जिनकी राजनीति को बिल्कुल समय राजनीति कि जिन को बिल्कुल भी समझ नहीं है और कई बार उनको हॉस्पिटल में या फिर अलग-अलग आर्टिकल्स में ऐसी बातें बोलते हुए देखा गया है जहां पर वह ऐसी बातें भूल जाते हैं जो कि कॉमन सेंस के साथ भी मैच नहीं करती हैं क्योंकि अगर आप किसी भी देश से बिलॉन्ग करते हैं तो आपको उसके बारे में सब चीजें पता होनी चाहिए आम चीजें पता होनी चाहिए लेकिन उनको यह चीज नहीं पता है जिसकी वजह से कई बार रहा वह रिलीज में स्पीच देते वक्त ऐसी चीज हम बोल देते हैं ऐसी चीजें कर देते हैं जो कि देखकर लगता है कि उनको देश के हित में देश के बारे में कुछ भी पता नहीं है बल्कि आम चीजों के बारे में कुछ पता नहीं है और यही कारण है कि लोग उनको पप्पू कह कर बुलाते हैं और उनका बिल्कुल भी सम्मान नहीं करते और इसी वजह से राहुल गांधी जी करता मजाक उड़ाया जाता है क्योंकि जब उनको इस चीज की समझ नहीं है और सिर्फ गांधी परिवार के होने की वजह से वह राजनीति में आ गए और राजनीति में नाम उन्होंने बना लिया है और नाम के बलबूते पर ही उनको कांग्रेस पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया है और उनके परिवार की वजह से उसको उनको अधिक अध्यक्ष बनाया गया है लेकिन उनको खुद की अपनी कोई भी समझ नहीं है राजनीति की कि वह आगे बढ़ सके अगर उनका गांधी परिवार में नाम नहीं जुड़ा होता तो हो सकता है वह राजनीति में इतने ऊपर कभी भी नहीं आ पाते

rahul gandhi ka itna maza kis liye udaya jata hai kyonki yah rahul gandhi hamare desh mein ek nasamajh insaan maane jaate hain jinki raajneeti ko bilkul samay raajneeti ki jin ko bilkul bhi samajh nahi hai aur kai baar unko hospital mein ya phir alag alag articles mein aisi batein bolte hue dekha gaya hai jaha par vaah aisi batein bhool jaate hain jo ki common sense ke saath bhi match nahi karti hain kyonki agar aap kisi bhi desh se Belong karte hain toh aapko uske bare mein sab cheezen pata honi chahiye aam cheezen pata honi chahiye lekin unko yah cheez nahi pata hai jiski wajah se kai baar raha vaah release mein speech dete waqt aisi cheez hum bol dete hain aisi cheezen kar dete hain jo ki dekhkar lagta hai ki unko desh ke hit mein desh ke bare mein kuch bhi pata nahi hai balki aam chijon ke bare mein kuch pata nahi hai aur yahi karan hai ki log unko pappu keh kar bulate hain aur unka bilkul bhi sammaan nahi karte aur isi wajah se rahul gandhi ji karta mazak udaya jata hai kyonki jab unko is cheez ki samajh nahi hai aur sirf gandhi parivar ke hone ki wajah se vaah raajneeti mein aa gaye aur raajneeti mein naam unhone bana liya hai aur naam ke balbute par hi unko congress party ka adhyaksh banaya gaya hai aur unke parivar ki wajah se usko unko adhik adhyaksh banaya gaya hai lekin unko khud ki apni koi bhi samajh nahi hai raajneeti ki ki vaah aage badh sake agar unka gandhi parivar mein naam nahi juda hota toh ho sakta hai vaah raajneeti mein itne upar kabhi bhi nahi aa paate

राहुल गांधी का इतना मजा किस लिए उड़ाया जाता है क्योंकि यह राहुल गांधी हमारे देश में एक नास

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  172
WhatsApp_icon
user

Bhaskar Saurabh

Politics Follower | Engineer

1:42
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष हैं और एक बहुत ही बड़े लीडर हैं तो विपक्षी पार्टियां उनका मजाक इसीलिए उड़ाती है ताकि उनकी छवि खराब की जाए और जनता के बीच उनका जो मान-सम्मान है उसे घटाया जाए क्योंकि विपक्षी पार्टियां डरती है कि अगर कांग्रेस फिर से सत्ता में आई तो फिर उनका वापसी करना काफी मुश्किल हो पाएगा क्योंकि हमने देखा ही है कि जब से भारत आजाद हुआ है तब से भारतीय जनता पार्टी या फिर दूसरी विपक्षी पार्टियां जो रहती थी उनका अस्तित्व खतरे में पड़ जाता था लेकिन हाल के दिनों में कांग्रेस का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है जिसकी वजह से भारतीय जनता पार्टी केंद्र में अपनी सरकार स्थाई रूप से बनाने में सक्षम हो गई है अटल बिहारी वाजपेई जी की सरकार भी बनी थी और भारतीय जनता पार्टी या फिर एनडीए की सरकार उस समय थी लेकिन वह इस टेबल गवर्नमेंट नहीं रह पाई थी लेकिन नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारतीय जनता पार्टी ने लोकसभा चुनाव में जो 2014 में हुए थे उसमें काफी अच्छा प्रदर्शन किया और पूर्ण बहुमत लेकर आई जिसकी वजह से कांग्रेस की जो हालत है वह देश में ब्लू खराब हो गई और यही पार्टी कोशिश कर रही है भारतीय जनता पार्टी की धीरे-धीरे करके राहुल गांधी का मजाक उड़ाया जाए उनके बारे में ऐसी अफवाहें फैलाई जाएं जो सच नहीं है और लोगों को गुमराह किया जाए क्योंकि अगर किसी पार्टी का लीडर ही अच्छा नहीं होगा मुख्य जो नेता है वही अच्छा नहीं होगा उसका मजाक उड़ेगा तो हो सकता है कि जनता कांग्रेस के जो अस्तित्व है उस पर सवालिया निशान खड़े करें और उन्हें एक अच्छी पार्टी ना समझे तो यह विपक्ष की सोची समझी रणनीति है जिसके तहत सोशल मीडिया में या फिर न्यूज़ चैनल पर या फिर अन्य माध्यम से राहुल गांधी का मजाक उड़ाया जाता है क्योंकि वह कांग्रेस के बहुत बड़े लीडर हैं और राष्ट्रीय अध्यक्ष भी हैं

rahul gandhi congress ke adhyaksh hain aur ek bahut hi bade leader hain toh vipakshi partyian unka mazak isliye udati hai taki unki chhavi kharab ki jaaye aur janta ke beech unka jo maan sammaan hai use ghataya jaaye kyonki vipakshi partyian darti hai ki agar congress phir se satta mein I toh phir unka wapsi karna kaafi mushkil ho payega kyonki humne dekha hi hai ki jab se bharat azad hua hai tab se bharatiya janta party ya phir dusri vipakshi partyian jo rehti thi unka astitva khatre mein pad jata tha lekin haal ke dino mein congress ka pradarshan accha nahi raha hai jiski wajah se bharatiya janta party kendra mein apni sarkar sthai roop se banane mein saksham ho gayi hai atal bihari vajpayee ji ki sarkar bhi bani thi aur bharatiya janta party ya phir nda ki sarkar us samay thi lekin vaah is table government nahi reh payi thi lekin narendra modi ki aguvaii mein bharatiya janta party ne lok sabha chunav mein jo 2014 mein hue the usme kaafi accha pradarshan kiya aur purn bahumat lekar I jiski wajah se congress ki jo halat hai vaah desh mein blue kharab ho gayi aur yahi party koshish kar rahi hai bharatiya janta party ki dhire dhire karke rahul gandhi ka mazak udaya jaaye unke bare mein aisi afwayen failai jayen jo sach nahi hai aur logo ko gumrah kiya jaaye kyonki agar kisi party ka leader hi accha nahi hoga mukhya jo neta hai wahi accha nahi hoga uska mazak udega toh ho sakta hai ki janta congress ke jo astitva hai us par savaliya nishaan khade kare aur unhe ek achi party na samjhe toh yah vipaksh ki sochi samjhi rananiti hai jiske tahat social media mein ya phir news channel par ya phir anya madhyam se rahul gandhi ka mazak udaya jata hai kyonki vaah congress ke bahut bade leader hain aur rashtriya adhyaksh bhi hain

राहुल गांधी कांग्रेस के अध्यक्ष हैं और एक बहुत ही बड़े लीडर हैं तो विपक्षी पार्टियां उनका

Romanized Version
Likes  12  Dislikes    views  442
WhatsApp_icon
user

.

Hhhgnbhh

0:30
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

राहुल गांधी का इतना मजाक क्यों उड़ाया जाता है क्योंकि तुम क्या हरकतें हैं उतनी शोभा नहीं देती कि वैसा व्यक्ति प्रधानमंत्री बन सके बल्कि उनके पूर्वज इंदिरा गांधी सोनिया गांधी के लोग काफी अच्छे तो हैं उन्हें काफी ज्यादा देश का नाम रोशन कर आए तो नहीं पर राहुल गांधी खातून की हरकत इतनी सीधी नहीं दिखती वह इस प्रधानमंत्री के तौर पर मुझे नहीं देख पाते और उनकी स्टेटमेंट दिया उस वजह से उस वजह से उनको उनका उनकी तबीयत

rahul gandhi ka itna mazak kyon udaya jata hai kyonki tum kya harakatein hain utani shobha nahi deti ki waisa vyakti pradhanmantri ban sake balki unke purvaj indira gandhi sonia gandhi ke log kaafi acche toh hain unhe kaafi zyada desh ka naam roshan kar aaye toh nahi par rahul gandhi khatun ki harkat itni seedhi nahi dikhti vaah is pradhanmantri ke taur par mujhe nahi dekh paate aur unki statement diya us wajah se us wajah se unko unka unki tabiyat

राहुल गांधी का इतना मजाक क्यों उड़ाया जाता है क्योंकि तुम क्या हरकतें हैं उतनी शोभा नहीं द

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  196
WhatsApp_icon
user

Vatsal

Engineering Student

1:58
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

मंकी राहुल गांधी का इतना मजाक क्यों उड़ाया जाता है उसका बहुत बड़ा कारण है कि राहुल गांधी ने जो कुछ भी हासिल किया है वह अपनी मेहनत और अपने दम पर नहीं किया उन्हें जो कुछ भी मिला है तो परिवार की विरासत में मिला है इन इंदिरा गांधी से लेकर राजीव गांधी से लेकर सोनिया गांधी की मेहरबानी क्योंकि उस परिवार को बिलॉन्ग करते हैं इसलिए उन्हें विरासत में राजाओं को मिलते थे उनके पुत्रों को वैसे ही मिला है बाकी कई टैलेंटेड लोग हैं वह उस पत्थर नहीं पहुंच पा रहे हैं क्योंकि वह विरासत का पद है इसलिए राहुल गांधी को मिला तो किसी भी व्यक्ति को जाओ अपने हुनर की वजह से नहीं बल्कि किसी + जुगाड़ से बारिश की वजह से कोई चीज मिलती है तो उसका स्वभाव ही का मजाक उड़ाना आता है पहली दूसरी इंदिरा गांधी राजीव गांधी और सोनिया गांधी पार्क परभणी विरासत की वजह से पहुंचे लेकिन वह अपने पद पर सर्वश्रेष्ठ सर्वश्रेष्ठ तरीके से उन्होंने की भूमिका अदा करें यानी उस विरासत को मिलने के बावजूद भी उन्होंने निभाया और अपने लोगों को अपने पास अट्रैक्ट किया लोगों को लुभाया अपने काम के तरीके से लेकिन इस विरासत के पद के बावजूद राहुल गांधी उस चीज को बनाने में नाकाम रहा है या नहीं चुनी चुनी DJ समझ जोशी कौन को मिलनी चाहिए थी आनी चाहिए थी यह सोमवार में इस एक्सपीरियंस के विश्व विरासत के बाद इतने अच्छे परिवार को बिलॉन्ग करते हैं जितने कामयाब लोग रहे हैं उसके बावजूद भी नहीं उसकी बहन को मजाक बनाया जाता है लेकिन एक चीज देखनी होगी राहुल गांधी जो पिछले एक डेढ़ साल पहले थे और राहुल गांधी का बास में जमीन आसमान का फर्क है पहले बच्चे बचपना करते थे लेकिन अब वह में चूर हो गए हैं बहुत सही बातें करते हैं तो जाहिर तौर पर वह सीख रहे हैं बहुत तेज गति से सीख रहे हैं तो यह अलार्मिंग सिचुएशन है उन सभी मजाक उड़ाने वालों और दूसरी पेपर पॉलिटिकल पार्टियों के लिए कि राहुल गांधी बेशक विरासत में मिले कितना भी मजाक बना ले ले किन चीजों को सही दिशा में सही मायने में अच्छे ढंग से अब लेना सीख गए

monkey rahul gandhi ka itna mazak kyon udaya jata hai uska bahut bada karan hai ki rahul gandhi ne jo kuch bhi hasil kiya hai vaah apni mehnat aur apne dum par nahi kiya unhe jo kuch bhi mila hai toh parivar ki virasat mein mila hai in indira gandhi se lekar rajeev gandhi se lekar sonia gandhi ki meharbani kyonki us parivar ko Belong karte hain isliye unhe virasat mein rajaon ko milte the unke putron ko waise hi mila hai baki kai talented log hain vaah us patthar nahi pohch paa rahe hain kyonki vaah virasat ka pad hai isliye rahul gandhi ko mila toh kisi bhi vyakti ko jao apne hunar ki wajah se nahi balki kisi jugaad se barish ki wajah se koi cheez milti hai toh uska swabhav hi ka mazak udana aata hai pehli dusri indira gandhi rajeev gandhi aur sonia gandhi park parabhani virasat ki wajah se pahuche lekin vaah apne pad par sarvashreshtha sarvashreshtha tarike se unhone ki bhumika ada kare yani us virasat ko milne ke bawajud bhi unhone nibhaya aur apne logo ko apne paas attract kiya logo ko lubhaya apne kaam ke tarike se lekin is virasat ke pad ke bawajud rahul gandhi us cheez ko banane mein nakam raha hai ya nahi chuni chuni DJ samajh joshi kaun ko milani chahiye thi aani chahiye thi yah somwar mein is experience ke vishwa virasat ke baad itne acche parivar ko Belong karte hain jitne kamyab log rahe hain uske bawajud bhi nahi uski behen ko mazak banaya jata hai lekin ek cheez dekhni hogi rahul gandhi jo pichle ek dedh saal pehle the aur rahul gandhi ka boss mein jameen aasman ka fark hai pehle bacche bachapana karte the lekin ab vaah mein chur ho gaye hain bahut sahi batein karte hain toh jaahir taur par vaah seekh rahe hain bahut tez gati se seekh rahe hain toh yah alarming situation hai un sabhi mazak udane walon aur dusri paper political partiyon ke liye ki rahul gandhi beshak virasat mein mile kitna bhi mazak bana le le kin chijon ko sahi disha mein sahi maayne mein acche dhang se ab lena seekh gaye

मंकी राहुल गांधी का इतना मजाक क्यों उड़ाया जाता है उसका बहुत बड़ा कारण है कि राहुल गांधी न

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  127
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
rahul gandhi kiska ladka hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!