वेद का प्रतीक?...


चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

ईद का प्रतीक और हमारे शास्त्रों की ज्योत यह सीखना भगवान के शिष्य पर्लेटो लक्ष्मी जी उनकी सेवा करते हैं और उनके चिल्का हम ब्रह्मास्मि बेकअप एक अहम् ब्रह्मास्मि

eid ka prateek aur hamare shastron ki jyot yah sikhna bhagwan ke shishya parleto laxmi ji unki seva karte hain aur unke chilka hum brahmasmi backup ek aham brahmasmi

ईद का प्रतीक और हमारे शास्त्रों की ज्योत यह सीखना भगवान के शिष्य पर्लेटो लक्ष्मी जी उनकी

Romanized Version
Likes  281  Dislikes    views  2819
WhatsApp_icon
3 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Anju pandey

Social Worker

2:27
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न है वेद का प्रतीक वेद का मतलब है किसी ने कोई भी ऐसा ज्ञान ज्ञाता जिसको हम जानना चाहे वह वेद कहलाता है तो फिर कमजोर शाब्दिक अर्थ अगर देखा जाए तो क्या नया ज्ञाता ही कहलायेगा और प्रति का मतलब कि ऐसा लक्षण जिससे वह समझ में आ जाए तो फिर का प्रत्येक विवाहित से सारी चीजें हमें समझ में आ जाए तो और सनातन धर्म का जो प्रतीक है वह भेद है उसको पढ़ने के बाद हमें वह सारी चीजें समझ में आ जाती हैं तो जैसे महामारी चार वेद हैं ऋग्वेद सामवेद यजुर्वेद और अथर्ववेद हरमीत में अलग-अलग चीजें हैं किसी में मंत्रों सारे दिए हुए हैं किसी में आप सब जितने भी रिश्ते हैं उनके बारे में बहुत से अच्छे से डिटेल में समझ आया हुआ है मतलब हिंदुत्व का अगर दर्शन पढ़ना है और क्या है हमारी सनातन और पुरातन संस्कृति सब कुछ दे दो महीना संग्रहित है तो भेज दूंगा अगर किसी को ज्ञान है और अगर हिंदू धर्म को अच्छे से समझना है तो वह सिर्फ उसका जो सहारा है वह बे थे तो पेट को पढ़कर ही हूं समझा जा सकता है और अब भेज दो जो चारों प्रकार के बे थे वह अलग-अलग चीजों के ऊपर लिखे हुए हैं तो जैसे कौन सा मंत्र कौन से वेद से लिया हुआ है किस वेद में कौन से नाम जैसे हमारी संस्था संगीत है म्यूजिक है यह सब भी हमारे वेदों में संग्रहित किया हुआ है औषधि है बहुत सारी चीजें हैं तो जितनी भी हमारे लाइफ में चीजें चल रही है जो भी है वह कहीं ना कहीं किसी न किसी वेद में लिखी हुई है तो इसलिए वह भेज दो भी उसको जानने का है एक तरीका है जो भी उसके जाने की इच्छा है उसको वह प्रेत पड़ सकता है तो मैथ का प्रतीक मैंने यही है कि जिस चीज को आप को ठीक से समझ में आना जो समझना चाहते हैं आप जिस भी चीज को उसके लिए आपको ज्ञान की आवश्यकता है और वह है वेद तो इसलिए कि जावेद जावेद का प्रतीक हुआ वही है कि किसी भी आरक्षण को समझने का जो तरीका है वह वेद कहलाता है यानी ज्ञान कहलाता है तो वह आपको जिस चीज के बारे में जानना है उसी का वेद आपको पढ़ना होगा धन्यवाद

aapka prashna hai ved ka prateek ved ka matlab hai kisi ne koi bhi aisa gyaan gyaata jisko hum janana chahen vaah ved kehlata hai toh phir kamjor shabdik arth agar dekha jaaye toh kya naya gyaata hi kehlayega aur prati ka matlab ki aisa lakshan jisse vaah samajh me aa jaaye toh phir ka pratyek vivaahit se saari cheezen hamein samajh me aa jaaye toh aur sanatan dharm ka jo prateek hai vaah bhed hai usko padhne ke baad hamein vaah saari cheezen samajh me aa jaati hain toh jaise mahamari char ved hain rigved samved yajurved aur atharvaved harmit me alag alag cheezen hain kisi me mantron saare diye hue hain kisi me aap sab jitne bhi rishte hain unke bare me bahut se acche se detail me samajh aaya hua hai matlab hindutv ka agar darshan padhna hai aur kya hai hamari sanatan aur puratan sanskriti sab kuch de do mahina sangrahit hai toh bhej dunga agar kisi ko gyaan hai aur agar hindu dharm ko acche se samajhna hai toh vaah sirf uska jo sahara hai vaah be the toh pet ko padhakar hi hoon samjha ja sakta hai aur ab bhej do jo charo prakar ke be the vaah alag alag chijon ke upar likhe hue hain toh jaise kaun sa mantra kaun se ved se liya hua hai kis ved me kaun se naam jaise hamari sanstha sangeet hai music hai yah sab bhi hamare vedo me sangrahit kiya hua hai aushadhi hai bahut saari cheezen hain toh jitni bhi hamare life me cheezen chal rahi hai jo bhi hai vaah kahin na kahin kisi na kisi ved me likhi hui hai toh isliye vaah bhej do bhi usko jaanne ka hai ek tarika hai jo bhi uske jaane ki iccha hai usko vaah pret pad sakta hai toh math ka prateek maine yahi hai ki jis cheez ko aap ko theek se samajh me aana jo samajhna chahte hain aap jis bhi cheez ko uske liye aapko gyaan ki avashyakta hai aur vaah hai ved toh isliye ki javed javed ka prateek hua wahi hai ki kisi bhi aarakshan ko samjhne ka jo tarika hai vaah ved kehlata hai yani gyaan kehlata hai toh vaah aapko jis cheez ke bare me janana hai usi ka ved aapko padhna hoga dhanyavad

आपका प्रश्न है वेद का प्रतीक वेद का मतलब है किसी ने कोई भी ऐसा ज्ञान ज्ञाता जिसको हम जानना

Romanized Version
Likes  15  Dislikes    views  211
WhatsApp_icon
play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

वेद का प्रतीक वह परम पुरुष है जो स्वार्थ था का प्रतीक है जो सारे संसार को अपने नियंत्रण में रखता है और हर जगह उपलब्ध होता है नहीं समझ सकता वह दुख दुख में डूबा रहता है वह जो इस अनुभव कर लेता है वह सुखी प्राप्त होती है वह है वेद जो व्यक्ति का प्रतीक है जो ऋग्वेद के लाता है

ved ka prateek vaah param purush hai jo swarth tha ka prateek hai jo saare sansar ko apne niyantran mein rakhta hai aur har jagah uplabdh hota hai nahi samajh sakta vaah dukh dukh mein dooba rehta hai vaah jo is anubhav kar leta hai vaah sukhi prapt hoti hai vaah hai ved jo vyakti ka prateek hai jo rigved ke lata hai

वेद का प्रतीक वह परम पुरुष है जो स्वार्थ था का प्रतीक है जो सारे संसार को अपने नियंत्रण मे

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  104
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!