किसी व्यक्ति को व्यावसायिक जीवन शैली में व्यावसायिक विकास और दिशा कैसे प्राप्त करनी चाहिए?...


play
user

Bhavin J. Shah

Life Coach

1:41

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

एक छोटी-सी शुरूआत करके कम से सभी उसमें लगा देना पड़ेगा और दूसरा जो भी में जीवन में करना चाहते हो कॉरपोरेटेज में जो भी खुले चुप करना चाहते हैं अगर वह मार्केटिंग में है तो मार के डीजीपी को हर रोज एक नया गम नहीं है कि उसकी जिंदगी तो ढक ले सकता हूं कि मैंने उस पर कोई दूसरा कहीं ना कहीं स्कूल जीवित रखना चाहिए कि मेरे में इंप्रूवमेंट का स्कूल कहां है मैं उसे मानता हूं कि इस कंपैरिजन और कंपटीशन यह जो बहुत लाइफ में नहीं होनी चाहिए होना यह चाहिए कि कल मैं कहां था आज मैं कहां हूं और कल मैं कहां जा सकता हूं साइंस की वैल्यूएशन सबसे बड़ा पुल है कॉरपोरेशन में आगे बढ़ने के लिए यह लाइफ के कोई भी है मेहंदी पढ़ने के लिए और पिंटू गुप्ता मुकेश के ऊपर शुरू कर ले काम करते रहना चाहिए दुनिया की कोई ताकत नहीं जितने भी लोग सफल हुए उसे मानसिक रूप से या कोई भी गलत मत के सपने शुरुआत छोटे से ही की थी सर कल इतना चाहती हूं कम से कम करें विजय पैसों से खुद खुद बुक पैक करके अमेजॉन वेबसाइट चेक करने के लिए और उसके बाद डिलीवरी करने के लिए तो खुद जाकर इंडिया आए थे तो उन्होंने मुंबई में एक शॉप में खुद सोचो लेकिन यह लोग छोटे-छोटे सुसाइड एनीमेशन एंड ऑप्शन इज मोस्ट इंपोर्टेंट

ek choti si shuruat karke kam se sabhi usme laga dena padega aur doosra jo bhi mein jeevan mein karna chahte ho karporetej mein jo bhi khule chup karna chahte hain agar vaah marketing mein hai toh maar ke dgp ko har roj ek naya gum nahi hai ki uski zindagi toh dhak le sakta hoon ki maine us par koi doosra kahin na kahin school jeevit rakhna chahiye ki mere mein improvement ka school kaha use manata hoon ki is kampairijan aur competition yah jo bahut life mein nahi honi chahiye hona yah chahiye ki kal main kahan tha aaj main kahan hoon aur kal main kahan ja sakta hoon science ki vailyueshan sabse bada pool hai corporation mein aage badhne ke liye yah life ke koi bhi hai mehendi padhne ke liye aur pintu gupta mukesh ke upar shuru kar le kaam karte rehna chahiye duniya ki koi takat nahi jitne bhi log safal hue use mansik roop se ya koi bhi galat mat ke sapne shuruat chote se hi ki thi sir kal itna chahti hoon kam se kam kare vijay paison se khud khud book pack karke amazon website check karne ke liye aur uske baad delivery karne ke liye toh khud jaakar india aaye the toh unhone mumbai mein ek shop mein khud socho lekin yah log chote chhote suicide animation and option is most important

एक छोटी-सी शुरूआत करके कम से सभी उसमें लगा देना पड़ेगा और दूसरा जो भी में जीवन में करना चा

Romanized Version
Likes  97  Dislikes    views  387
WhatsApp_icon
1 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
Likes    Dislikes    views  
WhatsApp_icon
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!