अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है?...


Likes  199  Dislikes    views  1987
WhatsApp_icon
16 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Gopal Srivastava

Acupressure Acupuncture Sujok Therapist

0:56
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

देखो मौत का जो है ना अच्छे आदमी का बुरे आदमी का कोई नहीं था जिसका टाइम है उतना टाइम है यह कहने की बात है कि अच्छा नहीं जल्दी मर जाता है बुरा दिन बता नहीं है ऐसा नहीं बहुत अच्छे लोग हैं जो आदमी 90 साल की उम्र में जी रहे हैं उसका चल रहे हैं काम कर रहे हैं लोगों को गणेश करते हैं उनकी सेवा कर रहे हैं ऐसा नहीं क्या पता आप अकेले की नहीं जहां पर कोई आदमी बुरा हो और गुस्सा करो लोगों की निगाह बहुत अच्छा आदमी है दूसरी कोई बुरा नहीं है कोई अच्छा नहीं है सब बराबर है

dekho maut ka jo hai na acche aadmi ka bure aadmi ka koi nahi tha jiska time hai utana time hai yah kehne ki baat hai ki accha nahi jaldi mar jata hai bura din bata nahi hai aisa nahi bahut acche log hain jo aadmi 90 saal ki umar me ji rahe hain uska chal rahe hain kaam kar rahe hain logo ko ganesh karte hain unki seva kar rahe hain aisa nahi kya pata aap akele ki nahi jaha par koi aadmi bura ho aur gussa karo logo ki nigah bahut accha aadmi hai dusri koi bura nahi hai koi accha nahi hai sab barabar hai

देखो मौत का जो है ना अच्छे आदमी का बुरे आदमी का कोई नहीं था जिसका टाइम है उतना टाइम है यह

Romanized Version
Likes  114  Dislikes    views  2317
WhatsApp_icon
user

DR. I.P.SINGH

Doctorate in Literature

1:36
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका प्रश्न एक अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है एक बजा अंग्रेजी में भी कहावत है कि अच्छे आदमी जो हैं वह जवानी में कि दिवंगत हो जाते हैं या तो ऐसा होता है कि उन्हें पूरी उम्र देवदूत उसमें भी कुछ ऐसा ही लिखा गया था है हमारे जितने अच्छे रचनाकार हैं भारतीय अंतरिक्ष जयशंकर प्रसाद जी लोगों को बड़ी छोटी उम्र मिली और अभी आप देख लीजिए ra2 सिनेमा के बहुत जाने माने तो हैं हमें छोड़ गए ठीक है ना तो शायद ही कर देता है दूसरा कुछ कारण भी ऐसा होता है कि हम जब तक करते ना मांगू का तो मानक हमें ऐसे मिलते हैं जिनके देश पर हम बातें कहते हैं सामान्यता ऐसा होता हो कोई सर्वे नहीं किया गया कुछ विशेष चरित्रों को दिया गया चंद्र शेखर आजाद सुभाष चंद्र बोस है और इसके बाद है बिस्मिल रामप्रसाद जी विष्णु से झांसी की रानी बहुत सीमित रहते हैं जो बहुत कम उम्र में

aapka prashna ek accha aadmi kyon jaldi mar jata hai ek baja angrezi me bhi kahaavat hai ki acche aadmi jo hain vaah jawaani me ki divangat ho jaate hain ya toh aisa hota hai ki unhe puri umar devadut usme bhi kuch aisa hi likha gaya tha hai hamare jitne acche rachnakar hain bharatiya antariksh jaishankar prasad ji logo ko badi choti umar mili aur abhi aap dekh lijiye ra2 cinema ke bahut jaane maane toh hain hamein chhod gaye theek hai na toh shayad hi kar deta hai doosra kuch karan bhi aisa hota hai ki hum jab tak karte na maangu ka toh maanak hamein aise milte hain jinke desh par hum batein kehte hain samanyata aisa hota ho koi survey nahi kiya gaya kuch vishesh charitron ko diya gaya chandra shekhar azad subhash chandra bose hai aur iske baad hai bismil ramprasad ji vishnu se jhansi ki rani bahut simit rehte hain jo bahut kam umar me

आपका प्रश्न एक अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है एक बजा अंग्रेजी में भी कहावत है कि अच्छे

Romanized Version
Likes  140  Dislikes    views  1195
WhatsApp_icon
user

Ashok Bajpai

Rtd. Additional Collector P.C.S. Adhikari

0:56
Play

Likes  135  Dislikes    views  1296
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आत्मकथा कि आपने पूछा है कि अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है आज के साथियों ऐसा कोई मतलब नहीं बनता कि ईश्वर ने किसी अच्छे आदमी को जल्दी बुला लेता है एक अच्छा आदमी अपनी आपसे बहुत मेहनत करता है अपने आप में ही बहुत गहन अध्ययन करता है परीक्षण करता है अंदर अंदर सोचता रहता है जिसका पूरा का पूरा प्रभाव प्राण की थैली पर जाता है और जैसे-जैसे प्राण की थैली जीती जाती है और अचानक जब फट जाती है तो इंसान का मृत्यु हो जाता है दूसरा कारण यह होता है कि अच्छे इंसान को जानबूझकर के मरवा दिया जाता है या उसका एक्सीडेंट के द्वारा मर जाता है लेकिन हां यह सत्य बात है कि एक अच्छा आदमी के पीछे कोई न कोई टारगेट अवश्य होता है लेकिन अगर एक अच्छा आदमी जल्दी मर गया उसके पीछे कोई ना बीमारी कोई एक्सीडेंट और किसी का हाथ रहा और मर गया हो तो इसका मतलब यह है कि वह व्यक्ति अपने आप पर बहुत ज्यादा चिंतक सेल किया और उसके अंदर की प्राण की थैली बहुत ज्यादा गिर गई और उस थाली फटने के बाद आत्मा शरीर से बाहर हो गईल बा

atmakatha ki aapne poocha hai ki accha aadmi kyon jaldi mar jata hai aaj ke sathiyo aisa koi matlab nahi banta ki ishwar ne kisi acche aadmi ko jaldi bula leta hai ek accha aadmi apni aapse bahut mehnat karta hai apne aap mein hi bahut gahan adhyayan karta hai parikshan karta hai andar andar sochta rehta hai jiska pura ka pura prabhav praan ki theli par jata hai aur jaise jaise praan ki theli jeeti jaati hai aur achanak jab phat jaati hai toh insaan ka mrityu ho jata hai doosra karan yah hota hai ki acche insaan ko janbujhkar ke marava diya jata hai ya uska accident ke dwara mar jata hai lekin haan yah satya baat hai ki ek accha aadmi ke peeche koi na koi target avashya hota hai lekin agar ek accha aadmi jaldi mar gaya uske peeche koi na bimari koi accident aur kisi ka hath raha aur mar gaya ho toh iska matlab yah hai ki vaah vyakti apne aap par bahut zyada chintak cell kiya aur uske andar ki praan ki theli bahut zyada gir gayi aur us thali fatne ke baad aatma sharir se bahar ho gail ba

आत्मकथा कि आपने पूछा है कि अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है आज के साथियों ऐसा कोई मतलब नह

Romanized Version
Likes  66  Dislikes    views  617
WhatsApp_icon
user

Dinesh Mishra

Theosophists | Accountant

3:48
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने यह प्रश्न किया अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है नहीं यह बात गलत है कि अच्छा आदमी जल्दी मर जाता है और बुरा आदमी बाद में मरता है जो मरण का प्रश्न है चाहे वही अच्छा आदमी हो अथवा बुरा आदमी हो उसकी आयु एक निश्चित है वह एक निश्चित आयु को पूरा करने के बाद में मरता है हां अच्छा आदमी जब मरता है तो व्यक्तियों को कष्ट होता है और जब बुरा आदमी मरता है तब व्यक्तियों को कष्ट नहीं हुआ कर पता है यह बात आपकी मानी जा सकती है क्योंकि अच्छी आदमी ने रहकर कि लोगों को सुख दिए हैं तो व्यक्तियों को उसके सुकून का एहसास होता है और जो बुरा आदमी है वह यदि मरता है तो उसने लोगों को जो कष्ट दिए हैं तो उसका आदमी को एहसास होता है इसलिए इसलिए आप यह कह रहे हैं कि अच्छा आदमी जल्दी मर जाता है मरने में अच्छे आदमी और बुरे आदमी का कोई मतलब नहीं है सभी इंसान मरा करते हैं जिनका जन्म हुआ है उनका मरण भी सुनिश्चित है और इसकी समय अवधि भी सुनिश्चित है इसमें अच्छा और बुरा का कोई भेदभाव नहीं हुआ करता है हां यह सही है अच्छे आदमी क्यों लोग उसकी अच्छाइयों की तारीफ किया करते हैं और बुरे आदमी की बुराइयों की भी लोग हमेशा याद किया करती हैं इसलिए व्यक्ति को जीवन में अच्छे कार्य करना चाहिए सभी लोगों के साथ में मैत्रीपूर्ण व्यवहार करना चाहिए अपना ऐसा कोई आचरण नहीं करना चाहिए जो स्वयं के लिए दूर घर परिवार के लिए समाज के लिए हितकारी हो और सभी का शिवा का प्रयास करना चाहिए जैतून का पौधा रहना चाहिए घर परिवार में समाज में देश में उसी सहनशील होना चाहिए धन्यवाद

aapne yah prashna kiya accha aadmi kyon jaldi mar jata hai nahi yah baat galat hai ki accha aadmi jaldi mar jata hai aur bura aadmi baad mein marta hai jo maran ka prashna hai chahen wahi accha aadmi ho athva bura aadmi ho uski aayu ek nishchit hai vaah ek nishchit aayu ko pura karne ke baad mein marta hai haan accha aadmi jab marta hai toh vyaktiyon ko kasht hota hai aur jab bura aadmi marta hai tab vyaktiyon ko kasht nahi hua kar pata hai yah baat aapki maani ja sakti hai kyonki achi aadmi ne rahkar ki logo ko sukh diye hain toh vyaktiyon ko uske sukoon ka ehsaas hota hai aur jo bura aadmi hai vaah yadi marta hai toh usne logo ko jo kasht diye hain toh uska aadmi ko ehsaas hota hai isliye isliye aap yah keh rahe hain ki accha aadmi jaldi mar jata hai marne mein acche aadmi aur bure aadmi ka koi matlab nahi hai sabhi insaan mara karte hain jinka janam hua hai unka maran bhi sunishchit hai aur iski samay awadhi bhi sunishchit hai isme accha aur bura ka koi bhedbhav nahi hua karta hai haan yah sahi hai acche aadmi kyon log uski acchhaiyon ki tareef kiya karte hain aur bure aadmi ki buraiyon ki bhi log hamesha yaad kiya karti hain isliye vyakti ko jeevan mein acche karya karna chahiye sabhi logo ke saath mein maitripurn vyavhar karna chahiye apna aisa koi aacharan nahi karna chahiye jo swayam ke liye dur ghar parivar ke liye samaj ke liye hitkari ho aur sabhi ka shiva ka prayas karna chahiye jaitoon ka paudha rehna chahiye ghar parivar mein samaj mein desh mein usi sahanashil hona chahiye dhanyavad

आपने यह प्रश्न किया अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है नहीं यह बात गलत है कि अच्छा आदमी जल्

Romanized Version
Likes  92  Dislikes    views  742
WhatsApp_icon
user

Sonika Mishra

Research & Poetry

0:16
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है ऐसा लोग कहते हैं लेकिन ऐसा नहीं होता कि अच्छा आदमी जल्दी मर जाता है लेकिन यह कि उसमें आप से ज्यादा अच्छाई होती है कहीं ना कहीं और जब उसका समय है जिसका जिसका समय निर्धारित उतना ही जीवन जीकर जाना है

accha aadmi kyon jaldi mar jata hai aisa log kehte hain lekin aisa nahi hota ki accha aadmi jaldi mar jata hai lekin yah ki usme aap se zyada acchai hoti hai kahin na kahin aur jab uska samay hai jiska jiska samay nirdharit utana hi jeevan jeekar jana hai

अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है ऐसा लोग कहते हैं लेकिन ऐसा नहीं होता कि अच्छा आदमी जल्दी

Romanized Version
Likes  76  Dislikes    views  1782
WhatsApp_icon
play
user
0:58

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है मृत्यु पर किसी का वश नहीं है और ऐसा नहीं है कि अच्छा आदमी जल्दी मर जाता है और बुरा आदमी ज्यादा दिन तक जीता है मृत्यु का अच्छाई और बुराई से ज्यादा संबंध नहीं है लेकिन अगर एक व्यक्ति में अच्छी आदतें हैं उसका खान पान रहन सहन अनुशासन अच्छा है तो सामान्य था वह ज्यादा दिन दिखता है लेकिन कुछ एक परिस्थितियां ऐसी हो सकती हैं कोई बीमारियां वगैरह उसमें अच्छा आदमी मर सकता है बुरा आदमी मर सकता है

accha aadmi kyon jaldi mar jata hai mrityu par kisi ka vash nahi hai aur aisa nahi hai ki accha aadmi jaldi mar jata hai aur bura aadmi zyada din tak jita hai mrityu ka acchai aur burayi se zyada sambandh nahi hai lekin agar ek vyakti mein achi aadatein hai uska khan pan rahan sahan anushasan accha hai toh samanya tha vaah zyada din dikhta hai lekin kuch ek paristhiyaann aisi ho sakti hai koi bimariyan vagera usme accha aadmi mar sakta hai bura aadmi mar sakta hai

अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है मृत्यु पर किसी का वश नहीं है और ऐसा नहीं है कि अच्छा आद

Romanized Version
Likes  114  Dislikes    views  1109
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नमस्कार आपका प्रश्न है अच्छा आदमी जल्दी क्यों मर जाता है तो ऐसा कुछ भी नहीं है जो व्यक्ति अपनी जितनी आयु लेकर आया है या ईश्वर ने जितना उसका जीवन लिखा है उसके बिना कोई भी व्यक्ति नहीं मर सकता अपनी आयु के अनुसार अपना जीवन काल पूरा करने के पश्चात ही इंसान मृत्यु को प्राप्त होता है और यही सृष्टि का नियम है धन्यवाद आपका दिन शुभ हो

namaskar aapka prashna hai accha aadmi jaldi kyon mar jata hai toh aisa kuch bhi nahi hai jo vyakti apni jitni aayu lekar aaya hai ya ishwar ne jitna uska jeevan likha hai uske bina koi bhi vyakti nahi mar sakta apni aayu ke anusaar apna jeevan kaal pura karne ke pashchat hi insaan mrityu ko prapt hota hai aur yahi shrishti ka niyam hai dhanyavad aapka din shubha ho

नमस्कार आपका प्रश्न है अच्छा आदमी जल्दी क्यों मर जाता है तो ऐसा कुछ भी नहीं है जो व्यक्ति

Romanized Version
Likes  184  Dislikes    views  3235
WhatsApp_icon
user

Abhay Pratap

Advocate | Social Welfare Activist

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छा आदमी जल्दी मरता है कौन कहता है अगर वह अच्छा है कि उसकी अच्छाई पर जीवन में बहुत दिनों तक याद की जाएगी फिर वह कैसे मरा और मृत्यु तू सभी की निश्चित है अब उसे अच्छा कान्हा और बुरा करना या हम पर निर्भर है उसकी मृत्यु से कोई मतलब नहीं है

accha aadmi jaldi marta hai kaun kahata hai agar vaah accha hai ki uski acchai par jeevan mein bahut dino tak yaad ki jayegi phir vaah kaise mara aur mrityu tu sabhi ki nishchit hai ab use accha kanha aur bura karna ya hum par nirbhar hai uski mrityu se koi matlab nahi hai

अच्छा आदमी जल्दी मरता है कौन कहता है अगर वह अच्छा है कि उसकी अच्छाई पर जीवन में बहुत दिनों

Romanized Version
Likes  80  Dislikes    views  796
WhatsApp_icon
user

Shipra Ranjan

Life Coach

0:44
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छोले चाट निकलो जल्दी मर जाता है आपको बता देंगे आदमी को बीवी को अपने हिसाब से नहीं मरता है उसके लाइफ स्पान के ऊपर डिपेंड करता है किस आदमी की मृत्यु कब है करनी है कौन जल्दी मर रहा है कौन बाद में किसके हाथ में नहीं होता है हां यह जरूर होता है जो अच्छे लोग होते हैं एक लोग होते हैं जिनका व्यवहार आचरण हमारे प्रति ज्यादा अच्छा होता है हम उनका साथ कभी भी खोना नहीं चाहते हैं और जाता है तो हमें यह बिल्कुल लगता है कि ऐसा ही इंसान को हमसे इतनी जल्दी क्यों छीन लिया ईश्वर ने जरूर आती है लेकिन ऐसा नहीं है कि किसी के लिए किसी को जल्दी मर गया या कुछ देर से मन करता है उनकी खुद की लाइफ स्पैन पर इसको कोई अपने हाथ में कंट्रोल नहीं कर सकता आपका दिन शुभ रहे धन्यवाद

chole chat niklo jaldi mar jata hai aapko bata denge aadmi ko biwi ko apne hisab se nahi marta hai uske life span ke upar depend karta hai kis aadmi ki mrityu kab hai karni hai kaun jaldi mar raha hai kaun baad mein kiske hath mein nahi hota hai haan yah zaroor hota hai jo acche log hote hain ek log hote hain jinka vyavhar aacharan hamare prati zyada accha hota hai hum unka saath kabhi bhi khona nahi chahte hain aur jata hai toh hamein yah bilkul lagta hai ki aisa hi insaan ko humse itni jaldi kyon cheen liya ishwar ne zaroor aati hai lekin aisa nahi hai ki kisi ke liye kisi ko jaldi mar gaya ya kuch der se man karta hai unki khud ki life span par isko koi apne hath mein control nahi kar sakta aapka din shubha rahe dhanyavad

छोले चाट निकलो जल्दी मर जाता है आपको बता देंगे आदमी को बीवी को अपने हिसाब से नहीं मरता है

Romanized Version
Likes  451  Dislikes    views  5995
WhatsApp_icon
user

Pankaj Kr(youtube -AJ PANKAJ MATHS GURU)

Motivational Speaker/YouTube-AJ PANKAJ MATHS GURU

1:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छा नहीं जल्दी मर जाते ऐसी कोई बात नहीं है जन्म और मरण ईश्वर के हाथ की देने प्रकृति की देन है फिर भी लोगों को मान काम कर ना खेलो अच्छाई के रास्ते चलना चाहिए धार्मिक गाना चाहिए ईश्वर की भक्ति करना चाहिए गुणगान करना चाहिए स्वर के भक्ति भाव को बढ़ाना चाहिए भजन मेंटेनेंस बताने के लिए क्योंकि मत करना चाहिए यदि होता है कमाने कोई मरते इसके पीछे परिजनों सकते हैं हो सकता है वह किसी बीमारी से ग्रसित हो सकता है किसी एक्सीडेंट की शिकार हो जाते हैं दुर्घटना हो जाती इससे वक्त विश्वास बिल्कुल सहमत नहीं उसकी मर्जी है भारत के जितने भी अवश्य सेमापुर संजू लंबी सीवर 70 वर्ष की व्यवस्था थी इसलिए अच्छा जल्दी मजाक की बात नहीं है यह एक नेगेटिव थिंकिंग अच्छा आदमी लंबी बिजी सकते हैं हां बस अड्डे को जीने की कला बताओ और स्वस्थ में संयम रहे सरकारी बने सब का स्वास्थ्य अच्छा रहेगा प्रकृति की ओर चलें प्रकृति के साथ छेड़छाड़ ना करें हमेशा पर्यावरण को बनाने अच्छा बनाने में मदद करें लोगों ने जागरूकता लाई जहां रे लोगों की भलाई करने की बात सोचते हैं अच्छा बंद करें

accha nahi jaldi mar jaate aisi koi baat nahi hai janam aur maran ishwar ke hath ki dene prakriti ki the hai phir bhi logo ko maan kaam kar na khelo acchai ke raste chalna chahiye dharmik gaana chahiye ishwar ki bhakti karna chahiye gunagan karna chahiye swar ke bhakti bhav ko badhana chahiye bhajan Maintenance bata ke liye kyonki mat karna chahiye yadi hota hai kamane koi marte iske peeche parijanon sakte hain ho sakta hai vaah kisi bimari se grasit ho sakta hai kisi accident ki shikaar ho jaate hain durghatna ho jaati isse waqt vishwas bilkul sahmat nahi uski marji hai bharat ke jitne bhi avashya semapur sanju lambi seevar 70 varsh ki vyavastha thi isliye accha jaldi mazak ki baat nahi hai yah ek Negative thinking accha aadmi lambi busy sakte hain haan bus adde ko jeene ki kala batao aur swasthya mein sanyam rahe sarkari bane sab ka swasthya accha rahega prakriti ki aur chalen prakriti ke saath chedchad na kare hamesha paryavaran ko banane accha banane mein madad kare logo ne jagrukta lai jaha ray logo ki bhalai karne ki baat sochte hain accha band karen

अच्छा नहीं जल्दी मर जाते ऐसी कोई बात नहीं है जन्म और मरण ईश्वर के हाथ की देने प्रकृति की द

Romanized Version
Likes  54  Dislikes    views  460
WhatsApp_icon
user

Dr Anil Shalwa

Life Coach, Past Life Regression Therapist

1:10
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपने तो सवाल किया अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है यह बात बहुत ही गहरी है आपने बहुत ही गहरा सवाल किया हुआ है और अक्सर ये होता है कि देखने में आता है अच्छे लोग भी मर जाते हैं तो यह सब्जेक्ट आत्मा का विषय है असल में यह और मेरे मेरा सब्जेक्ट में इंटरेस्ट का सब्जेक्ट इसके ऊपर में बहुत काम करता हूं तो ऐसा अक्सर होता है कि जब अच्छी आदमी जमीन पर पैदा होती है तो किसी उद्देश्य को लेकर पैदा होती हैं और उनके सभी के साथ रिलेशन बहुत अच्छे होते हैं बहुत अच्छे संबंध होते हैं वह लोग लोगों की बहुत सेवा करते हैं बहुत ध्यान दान करते हैं वह प्रेम पूर्वक रहते हैं लोगों को बहुत जल्दी माफ कर देते हैं यह सब चीजें उनके अंदर होती है और वह अपनी जिम्मेदारी पूरी करके इस दुनिया को छोड़ कर जल्दी निकल जाते हैं तो अक्सर ही चीज देखने में आती है कि खेलोगे कम समय के लिए पैदा होते हैं और अपना छोटे से जीवन काल में जो बहुत अच्छी बातें हमको लोगों को शेयर करनी होती बताने होती है नया अनुभव लोगों को धन देकर देने होते हैं वह देखें जाते हैं तो ऐसा होता है और आपकी बात बिल्कुल सही है थैंक यू वेरी मच

aapne toh sawaal kiya accha aadmi kyon jaldi mar jata hai yah baat bahut hi gehri hai aapne bahut hi gehra sawaal kiya hua hai aur aksar ye hota hai ki dekhne mein aata hai acche log bhi mar jaate hain toh yah subject aatma ka vishay hai asal mein yah aur mere mera subject mein interest ka subject iske upar mein bahut kaam karta hoon toh aisa aksar hota hai ki jab achi aadmi jameen par paida hoti hai toh kisi uddeshya ko lekar paida hoti hain aur unke sabhi ke saath relation bahut acche hote hain bahut acche sambandh hote hain vaah log logo ki bahut seva karte hain bahut dhyan daan karte hain vaah prem purvak rehte hain logo ko bahut jaldi maaf kar dete hain yah sab cheezen unke andar hoti hai aur vaah apni jimmedari puri karke is duniya ko chod kar jaldi nikal jaate hain toh aksar hi cheez dekhne mein aati hai ki kheloge kam samay ke liye paida hote hain aur apna chote se jeevan kaal mein jo bahut achi batein hamko logo ko share karni hoti bata hoti hai naya anubhav logo ko dhan dekar dene hote hain vaah dekhen jaate hain toh aisa hota hai aur aapki baat bilkul sahi hai thank you very match

आपने तो सवाल किया अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है यह बात बहुत ही गहरी है आपने बहुत ही गह

Romanized Version
Likes  57  Dislikes    views  565
WhatsApp_icon
user

Sandeep Sastri

Motivational Speaker

7:18
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भाई बहुत ही अच्छा क्वेश्चन किसी भाई ने पूछा सबसे पहले को धन्यवाद देता हूं उन भाई का जिन्होंने क्वेश्चन पूछा आभार व्यक्त करता हूं जो कि इस तरह के अक्षय क्वेश्चन आजकल नहीं पूछे जा रहे हैं लोग फालतू के क्वेश्चन ज्यादा पूछते हैं और अब जवाब चाहिए आपको आता हूं अच्छा लगेगा लिखिए कभी भी आप जैसी नोट करके रखिए कि परमात्मा को मिलने से पहले मायावती है माया उसे जो है बहुत तरह के प्रलोभन देती है लाल लेती है जीवात्मा को अब आपको मैं एक वह बताऊं कि राम रहीम आसाराम यह लोग ऐसा नहीं है कि लोग खाली थे यह चले बहुत अच्छे रास्ते पर थे लेकिन बीच में ने माया मिली माय नेम के साथ सौदा किया कि चली ले लो चली में लो आश्रम ले लो गाड़ी घोड़ा ले लो पैसे ले लो पहुंच ले लो पावर ले लो लेकिन इस रास्ते से पीछे हट जो आदमी इसी रास्ते को छोड़कर गए माया की तरफ आ जा तो माया जो है उसे वह सारी चीजें दे देती है काफी प्रसिद्धि हुई है मैं को काफी इनको ऐसो आराम मिले वैभव मिले मान मिला प्रतिष्ठा मिली लेकिन जब माया अपने वास्तविक रूप दिखाती है तब कोई रोहतक जेल में है कोई तिहाड़ जेल में है कोई-कोई मुंबई जेल में है कोई कहीं कोई कही है कोई राजस्थान में कोई जोधपुर की खबर जैसे अच्छे आदमी जो होते हैं ना बॉस हम अच्छा आदमी किस तो कहते हैं पहली बात तो यह कि जो है वह अपने काम से काम रखता है किसी को परेशान नहीं करता भगवान का भजन करता है ले कर देता है कमा के खाता है और दूसरों की सहायता करने के लिए तत्पर रहता है उसी आदमी को हम जो है अच्छा आदमी कहते हैं मित्र अब एक छोटा सा उदाहरण आप समझो कि जैसे एक घर में 10 सदस्य हैं बहुत ही कम संभावनाएं ऐसी है कि जो उन देशों की सलाह i10 ओके मत एक जैसे ही हैं एक जैसे ही पूछते हो जैसे कि काम करते हो ऐसा तो जब 10 आदमी एक घर के एक परिवार से एक दूसरे के जानकार एक-दूसरे के खून के संबंधित लोगों हैं उनके ही विचार आपस में नहीं मिल सकते तो 55 करोड़ समर्थक जिला आदमियों के जिन आदमियों के 55 कोड समर्थक दोस्त उसको और समर्थक और अंधा पैसा पैशन को कमीनी आवाज मशीन में है क्योंकि उन्होंने जो है कुछ सही रास्ते को छोड़कर के माया के बीच पिछली बार जो जो तो इसलिए मेरे मित्र अब आपका क्वेश्चन जहां पर मैं जोड़ता हूं उसको शिवकुटी क्वेश्चन को ही अच्छे आदमियों की भी परमात्मा को जरूरत है वह परम गति को पाते हैं जो नर धन परमात्मा में जाते हैं तो अच्छे आदमियों के ऊपर भी जरूरत है ऊपर ऐसा नहीं है कोई सिंहासन पर लगा हुआ है कोई दरबार है या फिर कोई आदमी बैठे हुए हैं कई बार में चर्चा करता हूं कोई लोगों से तो वह कहते हैं कि वह ऊपर जो है भगवान बैठा हुआ है एक बाबा बैठा हुआ है तो मुझे इस तरह की बातें सुनने को मिली लेकिन जो मेरा मानना यह है कि ऊपर कुछ नहीं है जीवात्मा जो है वह ब्रह्मांड में ही घूमती रहती है और जो उस तत्व को समझ गया वह कभी भी गर्भधारण नहीं करता है कोई अगर अच्छा सा क्वेश्चन पूछा जाए कि मरने के बाद क्या होता है तो उसमें मैं आपको जरूर बताऊंगा कि मरने के बाद होता क्या है और यह मेरे विचार आप लिख लेना नोट कर लेना यह परखा हुआ यह प्रयोग यूही विधि है ऐसा नहीं है कि मैं ऐसे ही बोलता जा रहा हूं और आप सुनते जा रहे हैं तो अच्छे आदमी इसलिए जल्दी मर जाते हैं क्योंकि उनकी आवश्यकता जो है ना वह खुद अपने शरीर को और फिर अपनी उसको जो है छोड़ देते हैं अगर मान लीजिए कि किसी व्यक्ति के साथ उसे पूछा जाए कि वह आदमी कैसा था उसका शत्रु उस आदमी को निश्चित तौर पर ही बुरा आदमी बताएगा अगर किसी उसके क्लोज से पूछा जाए उसका फल और उसका परम मित्र किसी से पूछा जाए तो उसका मित्र कहेगा बहुत सज्जन आदमी था बहुत अच्छा आदमी था ऐसे आदमी दुनिया में पैदा नहीं होते तो अच्छा आदमी और बुरा आदमी की परख जो है ना मुंह पर करता है किसी दूसरे के अच्छा कहने से या दूसरा करने से अच्छा नहीं होता है समाज की अवधारणा जो है कि हां भाई एक अच्छा आदमी था मैंने आज तक इतनी मैं शमशान यात्रा वह मैं गया लेकिन कभी भी मैंने कुछ नहीं अच्छे आदमी कितना ही बुरा आदमी ऐसा कभी नहीं सुना कि किसी ने यह कहा कि बहुत बुरा आदमी था निश्चित तौर पर उसी समय आप कभी अपने जीवन में प्रयोग करना मैं एक आपको प्रयोग बता रहा हूं जो व्यक्ति संसार में जाता है या कब्रिस्तान में जाता है ऐसी जगह जहां जीवन के अंत में जो क्रियाएं होती है जो रिचार्ज होते हैं उनमें आदमी कितना सीट कैसे हो जाता है इतना सज्जन कैसे बन जाता है और उनके बाहर आते ही श्मशान के उसको और चीजें माया छीन लेती है बाहर आते ही रेडी वाले को थप्पड़ मारेगा बोले भाई जिओ पर अत्याचार करेगा और उसी श्मशान के अंदर जाते ही एकदम साथ में खो जाता है यह क्या है यह माया है आज तक मैंने किसी की याद में बहुत बुरा था सकेंगे भगवान इसकी आत्मा को शांति दे उम्मीद करता हूं आप मेरा आशय समझ गए होंगे या फिर मैं आपको समझा पाऊंगा किसी दिन आप जरूर पूछना मैं आपको जरूर बता दूंगा की मृत्यु के पश्चात क्या होता है और मेरे द्वारा दिए गए हर उत्तर को बुखार उत्तर प्रमाणित है वह प्रयोग किए जा चुके हैं या बीते जन्मों के सच के बारे में पता कर सकते हैं तो मैं आपको जरूर बताऊंगा अगर ऐसा कुछ जानना चाहेंगे तो मैं आपको जरूर बताऊंगा बस अच्छा हूं नीचे पसंद करने की और सार्थक पसंद धन्यवाद बड़े भैया धन्यवाद अनेक अनेक आभार मैं आपका अपना संदीप कुमार थैंक यू

bhai bahut hi accha question kisi bhai ne poocha sabse pehle ko dhanyavad deta hoon un bhai ka jinhone question poocha abhar vyakt karta hoon jo ki is tarah ke akshay question aajkal nahi pooche ja rahe hai log faltu ke question zyada poochhte hai aur ab jawab chahiye aapko aata hoon accha lagega likhiye kabhi bhi aap jaisi note karke rakhiye ki paramatma ko milne se pehle mayawati hai maya use jo hai bahut tarah ke pralobhan deti hai laal leti hai jivaatma ko ab aapko main ek vaah bataun ki ram rahim asharam yah log aisa nahi hai ki log khaali the yah chale bahut acche raste par the lekin beech mein ne maya mili my name ke saath sauda kiya ki chali le lo chali mein lo ashram le lo gaadi ghoda le lo paise le lo pohch le lo power le lo lekin is raste se peeche hut jo aadmi isi raste ko chhodkar gaye maya ki taraf aa ja toh maya jo hai use vaah saree cheezen de deti hai kaafi prasiddhi hui hai ko kaafi inko aiso aaram mile vaibhav mile maan mila prathishtha mili lekin jab maya apne vastavik roop dikhati hai tab koi rohatak jail mein hai koi tihad jail mein hai koi koi mumbai jail mein hai koi kahin koi kahi hai koi rajasthan mein koi jodhpur ki khabar jaise acche aadmi jo hote hai na boss hum accha aadmi kis toh kehte hai pehli baat toh yah ki jo hai vaah apne kaam se kaam rakhta hai kisi ko pareshan nahi karta bhagwan ka bhajan karta hai le kar deta hai kama ke khaata hai aur dusro ki sahayta karne ke liye tatpar rehta hai usi aadmi ko hum jo hai accha aadmi kehte hai mitra ab ek chota sa udaharan aap samjho ki jaise ek ghar mein 10 sadasya hai bahut hi kam sambhavnayen aisi hai ki jo un deshon ki salah i10 ok mat ek jaise hi hai ek jaise hi poochhte ho jaise ki kaam karte ho aisa toh jab 10 aadmi ek ghar ke ek parivar se ek dusre ke janakar ek dusre ke khoon ke sambandhit logo hai unke hi vichar aapas mein nahi mil sakte toh 55 crore samarthak jila adamiyo ke jin adamiyo ke 55 code samarthak dost usko aur samarthak aur andha paisa passion ko kamini awaaz machine mein hai kyonki unhone jo hai kuch sahi raste ko chhodkar ke maya ke beech pichali baar jo jo toh isliye mere mitra ab aapka question jaha par main Jodta hoon usko shivakuti question ko hi acche adamiyo ki bhi paramatma ko zarurat hai vaah param gati ko paate hai jo nar dhan paramatma mein jaate hai toh acche adamiyo ke upar bhi zarurat hai upar aisa nahi hai koi sinhaasan par laga hua hai koi darbaar hai ya phir koi aadmi baithe hue hai kai baar mein charcha karta hoon koi logo se toh vaah kehte hai ki vaah upar jo hai bhagwan baitha hua hai ek baba baitha hua hai toh mujhe is tarah ki batein sunne ko mili lekin jo mera manana yah hai ki upar kuch nahi hai jivaatma jo hai vaah brahmaand mein hi ghoomti rehti hai aur jo us tatva ko samajh gaya vaah kabhi bhi garbhadharan nahi karta hai koi agar accha sa question poocha jaaye ki marne ke baad kya hota hai toh usme main aapko zaroor bataunga ki marne ke baad hota kya hai aur yah mere vichar aap likh lena note kar lena yah parkha hua yah prayog yuhi vidhi hai aisa nahi hai ki main aise hi bolta ja raha hoon aur aap sunte ja rahe hai toh acche aadmi isliye jaldi mar jaate hai kyonki unki avashyakta jo hai na vaah khud apne sharir ko aur phir apni usko jo hai chod dete hai agar maan lijiye ki kisi vyakti ke saath use poocha jaaye ki vaah aadmi kaisa tha uska shatru us aadmi ko nishchit taur par hi bura aadmi batayega agar kisi uske close se poocha jaaye uska fal aur uska param mitra kisi se poocha jaaye toh uska mitra kahega bahut sajjan aadmi tha bahut accha aadmi tha aise aadmi duniya mein paida nahi hote toh accha aadmi aur bura aadmi ki parakh jo hai na mooh par karta hai kisi dusre ke accha kehne se ya doosra karne se accha nahi hota hai samaj ki avdharna jo hai ki haan bhai ek accha aadmi tha maine aaj tak itni main shamshan yatra vaah main gaya lekin kabhi bhi maine kuch nahi acche aadmi kitna hi bura aadmi aisa kabhi nahi suna ki kisi ne yah kaha ki bahut bura aadmi tha nishchit taur par usi samay aap kabhi apne jeevan mein prayog karna main ek aapko prayog bata raha hoon jo vyakti sansar mein jata hai ya kabristan mein jata hai aisi jagah jaha jeevan ke ant mein jo kriyaen hoti hai jo recharge hote hai unmen aadmi kitna seat kaise ho jata hai itna sajjan kaise ban jata hai aur unke bahar aate hi shmashan ke usko aur cheezen maya cheen leti hai bahar aate hi ready waale ko thappad marenge bole bhai jio par atyachar karega aur usi shmashan ke andar jaate hi ekdam saath mein kho jata hai yah kya hai yah maya hai aaj tak maine kisi ki yaad mein bahut bura tha sakenge bhagwan iski aatma ko shanti de ummid karta hoon aap mera aashay samajh gaye honge ya phir main aapko samjha paunga kisi din aap zaroor poochna main aapko zaroor bata dunga ki mrityu ke pashchat kya hota hai aur mere dwara diye gaye har uttar ko bukhar uttar pramanit hai vaah prayog kiye ja chuke hai ya bite janmon ke sach ke bare mein pata kar sakte hai toh main aapko zaroor bataunga agar aisa kuch janana chahenge toh main aapko zaroor bataunga bus accha hoon niche pasand karne ki aur sarthak pasand dhanyavad bade bhaiya dhanyavad anek anek abhar main aapka apna sandeep kumar thank you

भाई बहुत ही अच्छा क्वेश्चन किसी भाई ने पूछा सबसे पहले को धन्यवाद देता हूं उन भाई का जिन्हो

Romanized Version
Likes  5  Dislikes    views  86
WhatsApp_icon
user

DR OM PRAKASH SHARMA

Principal, Education Counselor, Best Experience in Professional and Vocational Education cum Training Skills and 25 years experience of Competitive Exams. 9212159179. dsopsharma@gmail.com

1:23
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अच्छा आदमी जल्दी क्यों मैं जाता है कहना गलत है कि अच्छे इंसान की मृत्यु जल्दी होती है अच्छा इंसान कार्य करते करते इंसानियत का परिचय देते देते मानवता का परिचय देते देते और मनुष्यता का प्रमाण देते देते उसे माता सीता की तरह से कदम कदम पर परीक्षा देनी पड़ती है माता सीता ने जन्म से लेकर धरती में समाने तक मर्यादा पुरुषोत्तम के द्वारा अन्य परीक्षाओं का सामना करना पड़ा और इसी तरह एक आदर्शवादी इंसान होता है चरित्रवान इंसान होता है भौतिक संसार के लोग उच्च इतनी परीक्षाएं देते हैं उसको इतना अजमा थे उसको इतना रखते और इतना प्रताड़ित करते हैं जो गाना साथिया के इस संसार से चला जाता है जब दिल टूट जाता है तो कुछ नहीं आता है इसलिए इंसान इंसान इस संसार से जल्दी चला जाता है और उसके जाने के बाद लोगों को यह शब्द मिलता है एक अच्छा इंसान

accha aadmi jaldi kyon main jata hai kehna galat hai ki acche insaan ki mrityu jaldi hoti hai accha insaan karya karte karte insaniyat ka parichay dete dete manavta ka parichay dete dete aur manushyata ka pramaan dete dete use mata sita ki tarah se kadam kadam par pariksha deni padti hai mata sita ne janam se lekar dharti me samane tak maryada purushottam ke dwara anya parikshao ka samana karna pada aur isi tarah ek aadarshvaadi insaan hota hai charitravan insaan hota hai bhautik sansar ke log ucch itni parikshaen dete hain usko itna ajama the usko itna rakhte aur itna pratarit karte hain jo gaana sathiya ke is sansar se chala jata hai jab dil toot jata hai toh kuch nahi aata hai isliye insaan insaan is sansar se jaldi chala jata hai aur uske jaane ke baad logo ko yah shabd milta hai ek accha insaan

अच्छा आदमी जल्दी क्यों मैं जाता है कहना गलत है कि अच्छे इंसान की मृत्यु जल्दी होती है अच्छ

Romanized Version
Likes  384  Dislikes    views  5232
WhatsApp_icon
user
1:52
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

लेकिन इस वीडियो में कुछ अच्छे शब्दों का प्रयोग करके या फिर कुछ ऐसी चीज बताऊंगा अभी इंटरेस्ट होगा किसने लिखा गया कि अच्छा आदमी क्यों जल्दी मर जाता है तो मैं बता दूं देना चाहता हूं कि जिस की आवश्यकता है अनंत ना हो उसका अंत होना जल्दी या संभव होता है जिसको कर सकते हैं कि जिसकी आ सकता है अनंत ना हो उसका अंत होना जल्दी टाइप किया जाता है ईश्वर के द्वारा यह सत्य बातें हैं और इसकी आवश्यकता हेमंत होती है उसका जल्दी अंत नहीं होता है प्रकाश सड़क दीजिए तो इस वीडियो के माध्यम से शायद आप समझ गए होंगे कि आज आदमी की व जल्दी मर जाता है क्योंकि उसके सत्यानंद नहीं होती उसकी आवश्यकता नहीं होती तो उसका अंत जल्दी हो जाता है और जिसकी आवश्यकता होती हैं तो उसी मोह माया में या तमाम प्रकार समस्या को लेकर चलता रहता है चलता रहता है तो उसका ध्यान अगले एक जगह नहीं होता है और जिससे कि तमाम प्रकार की समस्याएं उनके अंदर उत्पन्न होती है जिससे उसका मृत्यु ज्योति नहीं होता और जिसकी इच्छा हेमंत नहीं होती तो वह अपने माइंड को हर एक चीज को भी लगता है जैसे कि उसका अंत ना जल्दी या संभव होता है लेकिन वीडियो के माध्यम से अपनी पूर्णता पूर्वक इस को बताया है आप तो यह न समझे की छुट्टियों में हम क्या करें तो इस वीडियो के माध्यम से नहीं करना चाहता हूं कि अगर मेरी बातें आपको अच्छा लगे तो फॉलो करिए लाइक करिए जुलाई को फॉलो करते रहिए मेरा विचार देते रहिए धन्यवाद

lekin is video mein kuch acche shabdon ka prayog karke ya phir kuch aisi cheez bataunga abhi interest hoga kisne likha gaya ki accha aadmi kyon jaldi mar jata hai toh main bata doon dena chahta hoon ki jis ki avashyakta hai anant na ho uska ant hona jaldi ya sambhav hota hai jisko kar sakte hain ki jiski aa sakta hai anant na ho uska ant hona jaldi type kiya jata hai ishwar ke dwara yah satya batein hain aur iski avashyakta hemant hoti hai uska jaldi ant nahi hota hai prakash sadak dijiye toh is video ke madhyam se shayad aap samajh gaye honge ki aaj aadmi ki va jaldi mar jata hai kyonki uske satyanand nahi hoti uski avashyakta nahi hoti toh uska ant jaldi ho jata hai aur jiski avashyakta hoti hain toh usi moh maya mein ya tamaam prakar samasya ko lekar chalta rehta hai chalta rehta hai toh uska dhyan agle ek jagah nahi hota hai aur jisse ki tamaam prakar ki samasyaen unke andar utpann hoti hai jisse uska mrityu jyoti nahi hota aur jiski iccha hemant nahi hoti toh vaah apne mind ko har ek cheez ko bhi lagta hai jaise ki uska ant na jaldi ya sambhav hota hai lekin video ke madhyam se apni purnata purvak is ko bataya hai aap toh yah na samjhe ki chhuttiyon mein hum kya kare toh is video ke madhyam se nahi karna chahta hoon ki agar meri batein aapko accha lage toh follow kariye like kariye july ko follow karte rahiye mera vichar dete rahiye dhanyavad

लेकिन इस वीडियो में कुछ अच्छे शब्दों का प्रयोग करके या फिर कुछ ऐसी चीज बताऊंगा अभी इंटरेस्

Romanized Version
Likes  14  Dislikes    views  96
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!