प्यार क्या है हवस या सच्चा प्यार में अंतर?...


play
user

Dr.Nisha Joshi

Psychologist

0:50

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

यह बहुत ही अच्छा प्रश्न है आई लाइक इट क्या है यह सच्चा प्यार में अंतर क्या है जो हवा सोती है वतन का प्यार करते हैं लेकिन वह लोग प्यार का नाम देखें अपनी पूरी करते हैं बाकी जो सच्चा प्यार होता है वह सिर्फ मन का प्यार होता है उसमें कभी मन की हवस नहीं होती होती तुमसे किया हुआ पर कभी सच्चा नहीं होता तुमसे किया हुआ पर सिर्फ और सिर्फ हवस होती है अपनी जरूरत पूरी होती है और कुछ नहीं और मन से किया हुआ प्यार ही मन मन तक रहता है तब तक नहीं जाता उसे सच्चा प्यार बोलते हैं बस यही अंतर है सच्चा प्यार मन से होता है और तन का प्यारा वतन का प्यार होता है और कुछ नहीं आपका दिन शुभ हो धन्यवाद

yah BA hut hi accha prashna hai I like it kya hai yah saccha pyar mein antar kya hai jo hawa soti hai vatan ka pyar karte hai lekin vaah log pyar ka naam dekhen apni puri karte hai BA ki jo saccha pyar hota hai vaah sirf man ka pyar hota hai usme kabhi man ki hawas nahi hoti hoti tumse kiya hua par kabhi saccha nahi hota tumse kiya hua par sirf aur sirf hawas hoti hai apni zarurat puri hoti hai aur kuch nahi aur man se kiya hua pyar hi man man tak rehta hai tab tak nahi jata use saccha pyar bolte hai bus yahi antar hai saccha pyar man se hota hai aur tan ka pyara vatan ka pyar hota hai aur kuch nahi aapka din shubha ho dhanyavad

यह बहुत ही अच्छा प्रश्न है आई लाइक इट क्या है यह सच्चा प्यार में अंतर क्या है जो हवा सोती

Romanized Version
Likes  305  Dislikes    views  4356
WhatsApp_icon
5 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

आपका सवाल है प्यार क्या हवा चाहिए सच्चा प्यार में अंतर बताओ सच्चा प्यार में और हाउस वाला प्यार में अंतर यही है कि जब हम उससे प्यार करते तो हमारी हवस होता है तो हम उसकी तकलीफ को नहीं देखते हम उसकी हंसी के पीछे के दर्द को नहीं पहचान पाते नहीं देते उनके आंसू की पीछे की खुशी या गम नहीं देख पाते और नहीं देखते अगर वह तकलीफ में है तो हम उसके साथ नहीं देते किसी सिर्फ हमें उसकी विधि से मतलब है और हम उसके मतलब रखते हैं क्योंकि हमें फिर से उसे देखने से खेलना है उसके साथ खेलना है हमें उस से क्या लेना देना वह तकलीफ में वह मर रहे हो जी रे तू अगर चूहा वाला प्यार यह होता और सच्चा प्यार में हमें उसके जिसमें से कोई मतलब नहीं होता हमें उसकी वह बिना बोले हम उसके बिना बोले हुए अंदर की तकलीफ समझ जाते हैं उसके बिना देखे हुए उसकी आपको देखकर कृपया मुझसे तकलीफ को बता सकते हैं इसके हंसी के पीछे की मुस्कुराहट के पीछे का दर्द समझ जाते हैं उसकी आंखों से हमने तकलीफ होती है हमें उसकी मुसीबत मैंने तकलीफ होती हम साथ देते हैं हम उस की रिस्पेक्ट करते हम उसकी इज्जत करते हैं मुझसे छोटी बड़ी पे हर बात पर हम उसके साथ खड़े रहते हैं ना कि उसकी जिसने हमें मतलब है सच्चे प्यार करने वाला को और जो दिल से प्यार करते हैं वह उसकी तकलीफ समझता उसका दर्द समझता उसकी हर मुसीबत में साथ खड़े रहते हैं यही फर्क है सच्चा प्यार में और हवस वाला प्यार में तो बहुत आसानी तरीका हवस के प्यार में को पहचानना और सच्चा प्यार को पहचानना सच्चा प्यार आपकी दुख सुख में साथ देगा और हवस वाला प्यार आपको खुशी खुशी में साथ रहेगा पर दुख में साथ छोड़ देना धन्यवाद

aapka sawaal hai pyar kya hawa chahiye saccha pyar me antar batao saccha pyar me aur house vala pyar me antar yahi hai ki jab hum usse pyar karte toh hamari hawas hota hai toh hum uski takleef ko nahi dekhte hum uski hansi ke peeche ke dard ko nahi pehchaan paate nahi dete unke aasu ki peeche ki khushi ya gum nahi dekh paate aur nahi dekhte agar vaah takleef me hai toh hum uske saath nahi dete kisi sirf hamein uski vidhi se matlab hai aur hum uske matlab rakhte hain kyonki hamein phir se use dekhne se khelna hai uske saath khelna hai hamein us se kya lena dena vaah takleef me vaah mar rahe ho ji ray tu agar chuha vala pyar yah hota aur saccha pyar me hamein uske jisme se koi matlab nahi hota hamein uski vaah bina bole hum uske bina bole hue andar ki takleef samajh jaate hain uske bina dekhe hue uski aapko dekhkar kripya mujhse takleef ko bata sakte hain iske hansi ke peeche ki muskurahat ke peeche ka dard samajh jaate hain uski aakhon se humne takleef hoti hai hamein uski musibat maine takleef hoti hum saath dete hain hum us ki respect karte hum uski izzat karte hain mujhse choti badi pe har baat par hum uske saath khade rehte hain na ki uski jisne hamein matlab hai sacche pyar karne vala ko aur jo dil se pyar karte hain vaah uski takleef samajhata uska dard samajhata uski har musibat me saath khade rehte hain yahi fark hai saccha pyar me aur hawas vala pyar me toh bahut aasani tarika hawas ke pyar me ko pahachanana aur saccha pyar ko pahachanana saccha pyar aapki dukh sukh me saath dega aur hawas vala pyar aapko khushi khushi me saath rahega par dukh me saath chhod dena dhanyavad

आपका सवाल है प्यार क्या हवा चाहिए सच्चा प्यार में अंतर बताओ सच्चा प्यार में और हाउस वाला प

Romanized Version
Likes  6  Dislikes    views  101
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अगर प्यार में कुछ पाने की इच्छा हो तो वह सच्चा प्यार नहीं होता

agar pyar mein kuch paane ki iccha ho toh vaah saccha pyar nahi hota

अगर प्यार में कुछ पाने की इच्छा हो तो वह सच्चा प्यार नहीं होता

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  66
WhatsApp_icon
user

Shubham

Software Engineer in IBM

0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जैसा आप ने बोला कि प्यार क्या हवस है सच्चा प्यार है लेकिन प्यार तो सच्चा प्यार ही होता है और जहां तक बात रही हवस की तो काफी लोग अपने पार्टनर का सिर्फ यूज़ करते हैं और वह प्यार नहीं करते हो ना कि बोलो बोलते हैं कि कौन से प्यार करते लेकिन वह प्यार नहीं होता अगर कोई किसी को यूज कर रहा हूं सिर्फ हवस के लिए तो वह प्यार नहीं होता कि वह समाज को कितना भी बोलेगी वह प्यार करता है लेकिन प्यार नहीं होता और रही बात सच्ची प्यार की तो मेरा यह मानना क्यों होता है जिसमें एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति की हमेशा किया और उसके बारे में कभी गलत नहीं सोचता और उसके बुरे और सुख दोनों ही समय में उसके साथ रहता है हमेशा उसकी केयर करता है प्यार

jaisa aap ne bola ki pyar kya hawas hai saccha pyar hai lekin pyar toh saccha pyar hi hota hai aur jaha tak BA at rahi hawas ki toh kaafi log apne partner ka sirf use karte hai aur vaah pyar nahi karte ho na ki bolo bolte hai ki kaunsi pyar karte lekin vaah pyar nahi hota agar koi kisi ko use kar raha hoon sirf hawas ke liye toh vaah pyar nahi hota ki vaah samaj ko kitna bhi bolegi vaah pyar karta hai lekin pyar nahi hota aur rahi BA at sachi pyar ki toh mera yah manana kyon hota hai jisme ek vyakti dusre vyakti ki hamesha kiya aur uske BA re mein kabhi galat nahi sochta aur uske bure aur sukh dono hi samay mein uske saath rehta hai hamesha uski care karta hai pyar

जैसा आप ने बोला कि प्यार क्या हवस है सच्चा प्यार है लेकिन प्यार तो सच्चा प्यार ही होता है

Romanized Version
Likes  2  Dislikes    views  146
WhatsApp_icon
user
0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

जिंदगी में बताना चाहता हूं प्यार होता है दो प्यार दो तरह के लोग करते हैं एक तो लोग जो होते हैं वह प्यार करते हैं जो जिन्हे कोई बहुत ही पसंद होती है वह जिसके साथ पूरी जिंदगी बिताना चाहते थे और जो एक होते हैं वह दूसरे होते हैं जो बस प्यार करते हैं उन्हें यूज करने के लिए तो वही हवस वाले होते हैं जो यूज़ करने के लिए प्यार करते हैं

zindagi mein BA taana chahta hoon pyar hota hai do pyar do tarah ke log karte hai ek toh log jo hote hai vaah pyar karte hai jo jinhein koi BA hut hi pasand hoti hai vaah jiske saath puri zindagi bitana chahte the aur jo ek hote hai vaah dusre hote hai jo bus pyar karte hai unhe use karne ke liye toh wahi hawas waale hote hai jo use karne ke liye pyar karte hain

जिंदगी में बताना चाहता हूं प्यार होता है दो प्यार दो तरह के लोग करते हैं एक तो लोग जो होते

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  181
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
pyar kya hai ; हवस किसे कहते हैं ; sachha pyar kya hai ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!