महंगाई वृद्धि के कारण क्या है?...


play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

महंगाई का अर्थ होता है बाजार में बिकने वाली चीजों के दामों में भी इसके कई कारण हो सकते हैं तेल महंगा होता है तो उसका सर मार्केट के लोगों का हर वस्तु और पड़ता है क्योंकि तेल का उपयोग हर चीज के वितरण में होता है कि धन के रूप में वस्तुओं के निर्माण में महंगाई की एक और वजह आर्थिक विकास की गति से हो रहा है और मैं और कुछ समाज में सबका विकास का लाभ उठा रहा है ज्यादा पैसे खर्च करने क्षमता पा जाता है तब की बढ़ती मांग की आपूर्ति ज्यादा होगी तो दाम बढ़ते हैं महंगाई का दौर शुरू होता है कि सबसे पहले हम बात करें तो दो चीजें इंची में काम करती है एक तो प्रोडक्शन और एक डिमांड अगर किसी चीज का प्रोडक्शन कम करने और उसकी डिमांड बढ़ जाए तो जाहिर सी बात है आपकी महंगाई बढ़ जाएगी तो यहीं कहीं ज्यादा बढ़ जाती है और आज की बात करें तो जैसे जैसे हम लोग इनकम इनकम बढ़ा रहे हैं अपनी वैसे भी जरूरत होती है वैसे-वैसे मैसूर से खरीदें और ज्यादा जितना भी कर सकता है वह उतना पिक करता है अपने रिसोर्सेज पानी के लिए इसलिए महंगाई और भी बढ़ रही है धन्यवाद

mahangai ka arth hota hai bazaar mein bikne wali chijon ke daamo mein bhi iske kai karan ho sakte hain tel mehnga hota hai toh uska sir market ke logo ka har vastu aur padta hai kyonki tel ka upyog har cheez ke vitaran mein hota hai ki dhan ke roop mein vastuon ke nirmaan mein mahangai ki ek aur wajah aarthik vikas ki gati se ho raha hai aur main aur kuch samaj mein sabka vikas ka labh utha raha hai zyada paise kharch karne kshamta paa jata hai tab ki badhti maang ki aapurti zyada hogi toh daam badhte hain mahangai ka daur shuru hota hai ki sabse pehle hum baat kare toh do cheezen inchi mein kaam karti hai ek toh production aur ek demand agar kisi cheez ka production kam karne aur uski demand badh jaaye toh jaahir si baat hai aapki mahangai badh jayegi toh yahin kahin zyada badh jaati hai aur aaj ki baat kare toh jaise jaise hum log income income badha rahe hain apni waise bhi zarurat hoti hai waise waise mysore se khariden aur zyada jitna bhi kar sakta hai vaah utana pic karta hai apne resources paani ke liye isliye mahangai aur bhi badh rahi hai dhanyavad

महंगाई का अर्थ होता है बाजार में बिकने वाली चीजों के दामों में भी इसके कई कारण हो सकते हैं

Romanized Version
Likes  9  Dislikes    views  233
KooApp_icon
WhatsApp_icon
1 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!