सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताये?...


play
user

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

पूछा है सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताइए कि सूर्यकांत त्रिपाठी निराला हिंदी के कवि थे जो छायावादी युग के चार स्तंभों में से एक स्तंभ माने जाते थे यह महादेव वर्मा जयशंकर प्रसाद और सुमित्रानंदन पंत इन चारों स्तंभों में से एक स्तंभ माने जाते हैं धन्य

poocha hai suryakant tripathi niraala ke bare mein bataiye ki suryakant tripathi niraala hindi ke kavi the jo chhayavadi yug ke char stambho mein se ek stambh maane jaate the yah mahadev verma jaishankar prasad aur sumitranandan pant in charo stambho mein se ek stambh maane jaate hain dhanya

पूछा है सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताइए कि सूर्यकांत त्रिपाठी निराला हिंदी के

Romanized Version
Likes  46  Dislikes    views  1148
WhatsApp_icon
6 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user
0:33
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

का सवाल है कि सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बता दो आपको बता दे सूर्यकांत त्रिपाठी निराला हिंदी कविता के छायावादी युग के चार प्रथम स्तंभों में से एक माने जाते हैं वह जयशंकर प्रसाद सुमित्रानंदन पंत और महादेव वर्मा के साथ हिंदी साहित्य के छायावाद के प्रमुख स्तंभ माने जाते हैं उनका जन्म 21 फरवरी 19 18 सो 96 में मोतीपुर में हुआ था उनकी मृत्यु 15 अक्टूबर 1961 में प्रयागराज में हो गया था

ka sawaal hai ki suryakant tripathi niraala ke bare me bata do aapko bata de suryakant tripathi niraala hindi kavita ke chhayavadi yug ke char pratham stambho me se ek maane jaate hain vaah jaishankar prasad sumitranandan pant aur mahadev verma ke saath hindi sahitya ke chaayavaad ke pramukh stambh maane jaate hain unka janam 21 february 19 18 so 96 me motipur me hua tha unki mrityu 15 october 1961 me prayagraj me ho gaya tha

का सवाल है कि सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बता दो आपको बता दे सूर्यकांत त्रिपाठी

Romanized Version
Likes  55  Dislikes    views  551
WhatsApp_icon
user
0:41
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

प्रश्न है सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताइए इसका आंसर है सूर्यकांत त्रिपाठी निराला हिंदी कविता के छायावादी युग के चार प्रमुख स्तंभों में से एक माने जाते हैं वह जयशंकर प्रसाद सुमित्रानंदन पंत और महादेवी वर्मा के साथ हैं हिंदी साहित्य में छायावाद के प्रमुख स्तंभ माने जाते हैं उनका जन्म 21 फरवरी 18 से 96 मोदी ने उनकी मृत्यु 15 अक्टूबर 1961 प्रयागराज में हुई

prashna hai suryakant tripathi niraala ke bare me bataiye iska answer hai suryakant tripathi niraala hindi kavita ke chhayavadi yug ke char pramukh stambho me se ek maane jaate hain vaah jaishankar prasad sumitranandan pant aur mahadevi verma ke saath hain hindi sahitya me chaayavaad ke pramukh stambh maane jaate hain unka janam 21 february 18 se 96 modi ne unki mrityu 15 october 1961 prayagraj me hui

प्रश्न है सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताइए इसका आंसर है सूर्यकांत त्रिपाठी निरा

Romanized Version
Likes  31  Dislikes    views  1227
WhatsApp_icon
user

User

Teacher

0:22
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अपने प्रश्न किया है सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताएं दोस्त सूर्यकांत त्रिपाठी निराला हिंदी के महान कवि थे वह हिंदी साहित्य के छायावादी युग के चार स्तंभों में से एक माने जाते हैं उनकी कई सारी कविताएं कालजई हैं जैसे तोड़ती पत्थर थैंक यू

apne prashna kiya hai suryakant tripathi niraala ke bare me bataye dost suryakant tripathi niraala hindi ke mahaan kavi the vaah hindi sahitya ke chhayavadi yug ke char stambho me se ek maane jaate hain unki kai saari kavitayen kalajai hain jaise todti patthar thank you

अपने प्रश्न किया है सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताएं दोस्त सूर्यकांत त्रिपाठी न

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  927
WhatsApp_icon
user
0:20
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में हिंदी साहित्य में से एक माना जाते हैं उनकी सारी कविताएं कालजई जैसे तोड़ती पत्थर

suryakant tripathi niraala ke bare me hindi sahitya me se ek mana jaate hain unki saari kavitayen kalajai jaise todti patthar

सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में हिंदी साहित्य में से एक माना जाते हैं उनकी सारी कवित

Romanized Version
Likes  25  Dislikes    views  1264
WhatsApp_icon
user
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताएं त्रिपाठी निराला भारत के हिंदी कवियों में से एक है इनका नाम भारत के किन देशों में हिंदी कवियों में किया जाता है इन्हें प्रकृति के सुकुमार कवि के नाम से भी जाना जाता है

suryakant tripathi niraala ke bare me bataye tripathi niraala bharat ke hindi kaviyon me se ek hai inka naam bharat ke kin deshon me hindi kaviyon me kiya jata hai inhen prakriti ke sukumar kavi ke naam se bhi jana jata hai

सूर्यकांत त्रिपाठी निराला के बारे में बताएं त्रिपाठी निराला भारत के हिंदी कवियों में से एक

Romanized Version
Likes  27  Dislikes    views  919
WhatsApp_icon
qIcon
ask

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!