भारत में कितने प्रकार की GST लगाई गई है?...


play
user

Rahul kumar

Junior Volunteer

0:46

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

अभी भारत में जीएसटी लगाई गई जिससे मतलब गुड्स एंड सर्विस टैक्स दो पेज में टोटल 2 तरह के जीएसटी हैं अब जब भी कोई खरीद खरीद हमें तो वहां पर देखते हुए दो जीएसटी लगता है कि जीएसटी होता है वह तो सेंट्रल जीएसटी सेंट्रल गुड्स एंड सर्विस टैक्स और एसजीएसटी मतलब स्टेट गुड्स एंड सर्विस टैक्स जीएसटी बताता हूं आपको कि जो प्रोडक्ट है ट्रांसपोर्ट सिस्टम इन सेंट्रल गवर्नमेंट है उस पर टैक्स लगाती है उसके ट्रांसपोर्टेशन होने पर तो दोगी

abhi bharat mein gst lagayi gayi jisse matlab goods and service tax do page mein total 2 tarah ke gst hain ab jab bhi koi kharid kharid hamein toh wahan par dekhte hue do gst lagta hai ki gst hota hai vaah toh central gst central goods and service tax aur SGST matlab state goods and service tax gst batata hoon aapko ki jo product hai transport system in central government hai us par tax lagati hai uske transportation hone par toh dogi

अभी भारत में जीएसटी लगाई गई जिससे मतलब गुड्स एंड सर्विस टैक्स दो पेज में टोटल 2 तरह के जीए

Romanized Version
Likes    Dislikes    views  125
WhatsApp_icon
2 जवाब
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
user

Pragati

Aspiring Lawyer

1:04
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

भारत में जो हाल ही में जीएसटी लगाई गई है यानी कि गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स लगाया गया है और यह दो प्रकार का टैक्स है जिसमें एक टेक्स्ट सेंट्रल गवर्मेंट ले रही है जिसे सीजीएसटी कहा जाता है और वहीं दूसरी तरफ जो स्टेट गोवेर्मेंट लेगी वह जीएसटी कहा जाएगा और जीएसटी में अलग-अलग पर्सेंट के हिसाब से स्लैब्स बनाई गई है जिसमें हर हर चीज को हर रोज जो भी मटेरियल वेस्ट चीज है उसको डाला गया है और उसी परसेंटेज के हिसाब से सीजीएसटी और एसजीएसटी लिया जाता है और जो सीजीएसटी है वह सेंट्रल गवर्नमेंट के पास जाता है और एसजीएसटी स्टेट गवर्नमेंट के पास जाता जिसकी वजह से है जो टैक्स का सिस्टम है वह बहुत ही ज्यादा सिंपल पाए हो गया है और अब लोगों को कहीं जगह पर जो पहले से काफी अलग अलग तरह के टैक्स देने पड़ते थे और कुछ स्टेट गवर्नमेंट के टैक्स होते थे कुछ सेंट्रल कॉमेंट्री टैक्स होते थे वह सब बंद करके स्पेशली बैठ बंद करके और अब एक सिंगल लेअर टेक्स्ट किया जाता है जिसे जीएसटी कहा जाता है तो यह काफी लोगों के लिए आरामदायक हो गया है और काफी हद तक चीजें जीएसटी की वजह से सस्ती भी वही है

bharat mein jo haal hi mein gst lagayi gayi hai yani ki goods and services tax lagaya gaya hai aur yah do prakar ka tax hai jisme ek text central government le rahi hai jise CGST kaha jata hai aur wahin dusri taraf jo state government legi vaah gst kaha jaega aur gst mein alag alag percent ke hisab se slabs banai gayi hai jisme har har cheez ko har roj jo bhi material west cheez hai usko dala gaya hai aur usi percentage ke hisab se CGST aur SGST liya jata hai aur jo CGST hai vaah central government ke paas jata hai aur SGST state government ke paas jata jiski wajah se hai jo tax ka system hai vaah bahut hi zyada simple paye ho gaya hai aur ab logon ko kahin jagah par jo pehle se kafi alag alag tarah ke tax dene padate the aur kuch state government ke tax hote the kuch central commentary tax hote the vaah sab band karke speshli baith band karke aur ab ek singles layer text kiya jata hai jise gst kaha jata hai toh yah kafi logon ke liye aaramadayak ho gaya hai aur kafi had tak cheezen gst ki wajah se sasti bhi wahi hai

भारत में जो हाल ही में जीएसटी लगाई गई है यानी कि गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स लगाया गया है और

Romanized Version
Likes  3  Dislikes    views  138
WhatsApp_icon
qIcon
ask

Related Searches:
gst ke prakar ;

This Question Also Answers:

QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!