अगर किसी छोटे बच्चे की पढ़ाई में मन नहीं लगे तो उसका क्या करें?...


user

Rashmin Trivedi

Motivational Speaker | Writer | Life Coach

2:47
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

छोटा बच्चा नहीं किसी का भी पढ़ाई में मन लगना मुश्किल हो जाता है पड़ेगी जो हमारी सिस्टम ऐसी है कि जिसमें बच्चों को इंप्रेस पड़े और खास करके छोटे बच्चों को इंटरेस्ट पड़े ऐसी सिस्टम नहीं है तो मॉन्टिसेली सिस्टम में ऐसा सिखाया गया है कि बच्चों को पढ़ाई के साथ-साथ खेलना कूदना और छोटी-छोटी बातों में हंसना इजीली कुछ नई नई गेम सीखना इस तरह की बातों को इकट्ठा करके मोंटेसरी सिस्टम बनाई गई थी और जो हमारी स्कूलों में यानी के लिए जूनियर केजी और प्राइमरी में बच्चों को इस तरह से पढ़ा नहीं जाता इसमें बच्चों को पढ़ाई में मन नहीं लगता है और बच्चों को खेल के साथ बढ़ाना चाहिए खूब हंसा के खूब मजाक मस्ती करके पढ़ाना चाहिए और खेल के साथ उसका भी चीजें छोड़ देनी चाहिए जैसे कि एक स्कूल में एक टीचर ने से किया था कि जितने गेम के जो खिलौने होते हैं उनके खिलौने में से एबीसीडी बनाई इस तरह से उन्होंने यह जमीन पर एक दो तीन ऐसे दूर के उसके पर पूछना सिखाया बच्चों को 23 तारीख की बहुत सारी बातें हैं जो हम घर में नहीं कर सकते इसलिए घर में बच्चों का मन नहीं लगता पढ़ने में और स्कूल में सब बच्चे साथ होते हैं तो बच्चों के साथ उनका पढ़ाई में मन लगता है तो फिर ऐसा पैदा होना चाहिए कि जिससे बच्चों को पढ़ाई में मन लगे दूसरी बात यह है कि कोई बच्चे के मेन सिस्टम यानी उसकी जो खाने-पीने की क्षमता और पाचन शक्ति के सब काम होती है तो भी बच्चे को पढ़ाई में मन नहीं लगता है बच्चों को अच्छी तरह से खाना खिलाना चाहिए उसको उधना और जो शारीरिक श्रम है वह भी कराना चाहिए तो बच्चे का मन पढ़ाई में लग सकता है और दूसरी बात है सबसे बड़ी बात है वह बच्चों को प्रेम से सिखाना कि कोई भी बच्चा ऐसा का एक आज मेरा मन नहीं है तो उस समय मत सिखाओ उसको इतने प्रेम से सिखाओ कि उसको पढ़ने का मन हो जाए स्टोरी आगे के स्टोरी में एक्टिंग से स्टोरी कहोगे तो बच्चों को इंटरेस्ट पड़ेगा इस सड़क की बहुत सारी बातें है कि जो अगर आप उसे एम्प्लीमेंट करेंगे और वह सब प्रेम से इंप्लीमेंट होना चाहिए तो बच्चे का पढ़ाई में मन लगेगा

chota baccha nahi kisi ka bhi padhai me man lagna mushkil ho jata hai padegi jo hamari system aisi hai ki jisme baccho ko impress pade aur khas karke chote baccho ko interest pade aisi system nahi hai toh mantiseli system me aisa sikhaya gaya hai ki baccho ko padhai ke saath saath khelna kudana aur choti choti baaton me hansana ijili kuch nayi nayi game sikhna is tarah ki baaton ko ikattha karke montessori system banai gayi thi aur jo hamari schoolon me yani ke liye junior KG aur primary me baccho ko is tarah se padha nahi jata isme baccho ko padhai me man nahi lagta hai aur baccho ko khel ke saath badhana chahiye khoob hansa ke khoob mazak masti karke padhana chahiye aur khel ke saath uska bhi cheezen chhod deni chahiye jaise ki ek school me ek teacher ne se kiya tha ki jitne game ke jo khilone hote hain unke khilone me se ABCD banai is tarah se unhone yah jameen par ek do teen aise dur ke uske par poochna sikhaya baccho ko 23 tarikh ki bahut saari batein hain jo hum ghar me nahi kar sakte isliye ghar me baccho ka man nahi lagta padhne me aur school me sab bacche saath hote hain toh baccho ke saath unka padhai me man lagta hai toh phir aisa paida hona chahiye ki jisse baccho ko padhai me man lage dusri baat yah hai ki koi bacche ke main system yani uski jo khane peene ki kshamta aur pachan shakti ke sab kaam hoti hai toh bhi bacche ko padhai me man nahi lagta hai baccho ko achi tarah se khana khilana chahiye usko udhna aur jo sharirik shram hai vaah bhi krana chahiye toh bacche ka man padhai me lag sakta hai aur dusri baat hai sabse badi baat hai vaah baccho ko prem se sikhaana ki koi bhi baccha aisa ka ek aaj mera man nahi hai toh us samay mat sikhao usko itne prem se sikhao ki usko padhne ka man ho jaaye story aage ke story me acting se story kahoge toh baccho ko interest padega is sadak ki bahut saari batein hai ki jo agar aap use empliment karenge aur vaah sab prem se implement hona chahiye toh bacche ka padhai me man lagega

छोटा बच्चा नहीं किसी का भी पढ़ाई में मन लगना मुश्किल हो जाता है पड़ेगी जो हमारी सिस्टम ऐसी

Romanized Version
Likes  52  Dislikes    views  1033
KooApp_icon
WhatsApp_icon
30 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!