भारत का संविधान बनाने में सबसे बड़ा हाथ किसका था?...


user

Rajesh Kumar Pandey

Career Counsellor

3:46
Play

चेतावनी: इस टेक्स्ट में गलतियाँ हो सकती हैं। सॉफ्टवेर के द्वारा ऑडियो को टेक्स्ट में बदला गया है। ऑडियो सुन्ना चाहिये।

नहीं आप संविधान के बारे में पूछे हैं तो मैं आपको पूरी डिटेल से जानकारी देता हूं संविधान के बारे में इस चीज को समझने सबसे पहली बात कि मैं यह बताना चाहता हूं आपको कि संविधान कितने दिन में बनकर तैयार हुआ 2 वर्ष 11 महीने और 18 दिन में हमारा संविधान का निर्माण हुआ कुल मिलाकर 14 दिन का भाषा संविधान के प्रारूप पर और निर्माण कार्य में कुल 796729 रुपए हुआ संविधान के निर्माण में और 26 नवंबर 1949 को संविधान सभा द्वारा इसे पारित कर दिया गया पुलिस के 22 भाग 395 अनुच्छेद और अनुसूचियां थी और अनुसूचियां अब मैं यह तो हो गया संविधान कितने दिन में बना कितना भाषा और कितना रुपए लगते हैं पीछे देखे हमारे देश का संविधान बनाने के लिए इंग्लैंड से कमीशन आया था जी सनम तक कैबिनेट मिशन ठीक है क्या नाम था उसका कैबिनेट मिशन भारत के संविधान को बनाने के लिए कुछ सहारा देना जमा की आने के बाद क्या हुआ संविधान सभा का चुनाव हुआ संविधान सभा कुल सदस्यों की संख्या कितनी थी 389 मतलब कुछ लोगों का ऐसा ग्रुप बनाया जाए जो संविधान के बनाने पर फोटो पर बात करें सही है गलत तो उसी को कहते हैं संविधान सभा के सदस्यों का चुनाव कुल संख्या तीन जनवरी थी उसमें ब्रिटिश प्रांत है कुछ एक कमिशनेबल पहनते देसी देसी देसी उसमें से कुछ लोगों को चुन लिया गया छूने के बाद उसके बाद कुछ समझाने की प्रमुख समस्या का निर्माण हुआ जिसके अध्यक्ष और उनके अध्यक्ष और उनके साथ समितियां थी जिन का चुनाव हुआ तो देख समितियां बनी कौन-कौन दी संचालन समिति अध्यक्ष कौन से डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद संगीत संविधान समिति के अध्यक्ष कौन थे पंडित जवाहरलाल नेहरू चिमणी प्रांतीय संविधान समिति के अध्यक्ष सरदार बल्लभ भाई पटेल जीवनी प्रारूप समिति डॉक्टर भीमराव अंबेडकर का दलित संघ समिति पंडित ज्वाला नेहरू जैसे अध्यक्षता मौलिक अधिकार एवं अल्पसंख्यक वित्त समिति बनी सरदार वल्लभभाई पटेल सदर सदर समिति भी नहीं जिसका अध्यक्ष डॉक्टर दिन पता करके साथ में है इसमें क्या हुआ किए 11th स्मार्ट 1940 को संविधान सभा का एक अस्थाई अध्यक्ष निर्वाचित कर दीजिएगा जो डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद थे उन्होंने संविधान को बनाया जिसने समितियां सबसे बड़े हाथ के बारे में पूछ रहे हैं तो ऐसी मान्यता है कि डॉक्टर भीमराव अंबेडकर एजेंट उसके लेकर थे मतलब में बंद थे जिन्होंने संविधान बनाने का एक बड़ा झूठ है यानी कि संविधान का प्रारूप क्या होता है भाई वह प्रारूप समिति रास्ते तो उनके जिम्मे हो प्रारूप समिति का अध्यक्ष बनाया गया था अब क्या हुआ कि संविधान जो है हमारा वह विभिन्न देशों से अच्छी अच्छी चीजों को ले लिया गया जैसे नीति निदेशक तत्व आयरलैंड से मूल कर्तव्य से ऐसे करके अच्छी अच्छी चीजों को मन हमारा संविधान जो है पूरा वर्ल्ड बिजनेसमैन अच्छे-अच्छे चीजों से मिलकर बना हुआ है जो जिस देश किस देश के संविधान में जो बातें अच्छी लगी होली लेकर हमारे संविधान का निर्माण हो गया इसलिए हमारा समझा नीलगिरी 120 अच्छे अच्छे अच्छे संविधान से अच्छी बातों को लेकर हमारा संविधान का निर्माण हुआ है तो ऐसे करके हमारे संविधान का निर्णय किया गया आपको मैं पूरी डिटेल से जानकारी दे भी दिया ठीक है धन्यवाद

nahi aap samvidhan ke bare mein pooche hain toh main aapko puri detail se jaankari deta hoon samvidhan ke bare mein is cheez ko samjhne sabse pehli baat ki main yah bataana chahta hoon aapko ki samvidhan kitne din mein bankar taiyar hua 2 varsh 11 mahine aur 18 din mein hamara samvidhan ka nirmaan hua kul milakar 14 din ka bhasha samvidhan ke prarup par aur nirmaan karya mein kul 796729 rupaye hua samvidhan ke nirmaan mein aur 26 november 1949 ko samvidhan sabha dwara ise paarit kar diya gaya police ke 22 bhag 395 anuched aur anusuchiyan thi aur anusuchiyan ab main yah toh ho gaya samvidhan kitne din mein bana kitna bhasha aur kitna rupaye lagte hain peeche dekhe hamare desh ka samvidhan banane ke liye england se commision aaya tha ji sanam tak cabinet mission theek hai kya naam tha uska cabinet mission bharat ke samvidhan ko banane ke liye kuch sahara dena jama ki aane ke baad kya hua samvidhan sabha ka chunav hua samvidhan sabha kul sadasyon ki sankhya kitni thi 389 matlab kuch logo ka aisa group banaya jaaye jo samvidhan ke banane par photo par baat kare sahi hai galat toh usi ko kehte hain samvidhan sabha ke sadasyon ka chunav kul sankhya teen january thi usme british prant hai kuch ek kamishnebal pehente desi desi desi usme se kuch logo ko chun liya gaya chune ke baad uske baad kuch samjhane ki pramukh samasya ka nirmaan hua jiske adhyaksh aur unke adhyaksh aur unke saath samitiyaan thi jin ka chunav hua toh dekh samitiyaan bani kaun kaun di sanchalan samiti adhyaksh kaunsi doctor rajendra prasad sangeet samvidhan samiti ke adhyaksh kaun the pandit jawaharlal nehru chimani prantiya samvidhan samiti ke adhyaksh sardar ballabh bhai patel jeevni prarup samiti doctor bhimrao ambedkar ka dalit sangh samiti pandit jwala nehru jaise adhyakshata maulik adhikaar evam alpsankhyak vitt samiti bani sardar vallabhbhai patel sadar sadar samiti bhi nahi jiska adhyaksh doctor din pata karke saath mein hai isme kya hua kiye 11th smart 1940 ko samvidhan sabha ka ek asthai adhyaksh nirvachit kar dijiyega jo doctor rajendra prasad the unhone samvidhan ko banaya jisne samitiyaan sabse bade hath ke bare mein puch rahe hain toh aisi manyata hai ki doctor bhimrao ambedkar agent uske lekar the matlab mein band the jinhone samvidhan banane ka ek bada jhuth hai yani ki samvidhan ka prarup kya hota hai bhai vaah prarup samiti raste toh unke jimme ho prarup samiti ka adhyaksh banaya gaya tha ab kya hua ki samvidhan jo hai hamara vaah vibhinn deshon se achi achi chijon ko le liya gaya jaise niti nideshak tatva ireland se mul kartavya se aise karke achi achi chijon ko man hamara samvidhan jo hai pura world bussinessmen acche acche chijon se milkar bana hua hai jo jis desh kis desh ke samvidhan mein jo batein achi lagi holi lekar hamare samvidhan ka nirmaan ho gaya isliye hamara samjha nilgiri 120 acche acche acche samvidhan se achi baaton ko lekar hamara samvidhan ka nirmaan hua hai toh aise karke hamare samvidhan ka nirnay kiya gaya aapko main puri detail se jaankari de bhi diya theek hai dhanyavad

नहीं आप संविधान के बारे में पूछे हैं तो मैं आपको पूरी डिटेल से जानकारी देता हूं संविधान के

Romanized Version
Likes  135  Dislikes    views  870
KooApp_icon
WhatsApp_icon
6 जवाब
no img
qIcon
ask
ऐसे और सवाल
Loading...
Loading...
qIcon
ask
QuestionsProfiles

Vokal App bridges the knowledge gap in India in Indian languages by getting the best minds to answer questions of the common man. The Vokal App is available in 11 Indian languages. Users ask questions on 100s of topics related to love, life, career, politics, religion, sports, personal care etc. We have 1000s of experts from different walks of life answering questions on the Vokal App. People can also ask questions directly to experts apart from posting a question to the entire answering community. If you are an expert or are great at something, we invite you to join this knowledge sharing revolution and help India grow. Download the Vokal App!